खेल

विराट का साथी आज सड़क पर बेच रहा छोले

Posted Date : 13-Nov-2017



नई दिल्ली, 13 नवम्बर। क्रिकेट ने किसी को भगवान बना दिया तो किसी को फर्श पर लाकर पटक दिया। भारत में क्रिकेट को पूजा जाता है। गली मुहल्ले में भी कोई मैच खेला जाता है तो देखने वालों की भीड़ जमा हो जाती है। जिसने नेशनल भी खेल लिया तो करियर सेट है। क्रिकेट ने किसी को शोहरत दे दी तो किसी की जिंदगी बर्बाद कर दी। क्रिकेट में जिसका परफॉर्मेंस ठीक नहीं उसको जगह मिलना मुश्किल हो जाता है। ऐसा ही एक खिलाड़ी है जिसका एक समय सिक्का चला करता था, लेकिन अब वो सड़कों पर छोले-भटूरे बेच रहा है। वो विराट के साथ खेलकर हीरो साबित हुए थे।
साल 2008 को कौन भूल सकता है। ये वो साल था जब टीम इंडिया ने टी20 वल्र्ड कप जीता था और युवराज सिंह ने 6 गेंद पर 6 छक्के जड़े थे। लेकिन ये साल विराट कोहली के लिए शानदार साबित हुआ था। क्योंकि उसी साल टीम इंडिया ने अंडर-19 वल्र्ड कप जीता था और बता दिया था कि आने वाले समय में टीम इंडिया को विराट कोहली जैसा शानदार खिलाड़ी मिलने वाला है। इसी टीम में रविंद्र जडेजा भी थे जो टीम इंडिया के शानदार बॉलर बने। लेकिन 2008 में अंडर-19 टीम के विकेटकीपर पैरी गोयल आज कल गुमनामी की जिंदगी जी रहे हैं। ये वही खिलाड़ी है जो चैम्पियन टीम का हिस्सा था। 
साल 2008 वो दौर था जब टीम इंडिया को नए-नए खिलाड़ी मिल रहे थे और कप्तान धोनी वल्र्ड कप टीम तैयार कर रहे थे। ऐसे में कॉम्पिटीशन काफी था। खिलाडिय़ों का फोकस टीम इंडिया में शामिल होने का था। उस वक्त पैरी गोयल का नाम भी जोरों पर था। 
लेकिन वल्र्ड कप जिताने के बाद पैरी गोयल की फॉर्म ने उनका साथ नहीं दिया। उन्होंने अंडर-19 वल्र्ड कप में शानदार प्रदर्शन किया। लेकिन घरेलू क्रिकेट में वो फ्लॉप साबित हुए। वो पंजाब की तरफ से खेलते थे। लेकिन लगातार गिरती फॉर्म ने उनको टीम से बाहर कर दिया गया और उनका करियर खत्म हो गया। 
वल्र्ड कप भले ही उनको हीरो बना दिया हो लेकिन उनका करियर वहीं खत्म हो गया। खराब प्रदर्शन के बाद उनके पास कोई चारा नहीं था। क्योंकि एक या दो मैच में अच्छा परफॉर्म करने वाले को भला कौन जानता है। वो भी अंडर-19 वल्र्ड कप में, जो बहुत कम लोग देख पाते हैं। ऐसे में पैरी लुधियाना में फास्ट फूड बेचने का फैसला किया। वो लुधियाना नगर निगम के बाहर छोले-भटूरे, चाउमीन बेचकर गुजारा कर रहे हैं। उनकी ये कहानी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। लेकिन उनके फेसबुक अकाउंट को देखें तो वो आरएसजी ग्रुप के डायरेक्टर हैं। ऐसे ही एक और खिलाड़ी हैं अजितेश अरगल जो अंडर-19 वल्र्ड कप के फाइनल मुकाबले में मैन ऑफ द मैच रहे थे। लेकिन उसके बाद उनकी फॉर्म ने भी साथ नहीं दिया और वो अब आयकर विभाग में इंस्पेक्टर हैं। (एनडीटीवी)

 




Related Post

Comments