राजनीति

मोदी ने बताया, सुप्रीम कोर्ट में ट्रिपल तलाक की सुनवाई के दौरान वह क्यों थे खामोश

Posted Date : 06-Dec-2017



अहमदाबाद, 6 दिसंबर । गुजरात के धंधुका में पीएम मोदी ने चुनावी रैली के दौरान ट्रिपल तलाक पर अपनी खमोशी की वजह भी बताई। मोदी ने कहा, जब ट्रिपल तलाक मामला सुप्रीम कोर्ट में था तो सरकार ने कोर्ट में शपथ पत्र दिया था तो अखबारों ने टिप्पणी की कि उत्तर प्रदेश चुनावों के कारण मोदी चुप रहेंगे। लोगों ने मुझसे कहा कि इस मामले पर बात न करें और चुनावों में घाटा होगा। ट्रिपल तलाक मामले में मैं खामोश नहीं था। यह सब कुछ चुनावों के बारे में नहीं है यह मुद्दा महिलाओं के अधिकारों के लिए है। मानवता पहले आती है और चुनाव बाद में आते हैं। 
कोई आपत्ति नहीं है कि कपिल सिब्बल मुस्लिम समुदाय की तरफ से लड़ रहे हैं लेकिन वह कैसे कह सकते हैं कि अगले चुनावों तक (अयोध्या मुद्दे) का कोई समाधान नहीं मिल सकता है? यह लोकसभा चुनावों से कैसे जुड़ा है? 
गुजरात में भाजपा ने टैंकर राज को समाप्त कर दिया है। टैंकर का कारोबार कांग्रेस के नेताओं और उनके परिवारों के हाथ में था।
एक परिवार ने डॉ.बाबा साहेब अम्बेडकर और सरदार पटेल के साथ सबसे बड़ा अन्याय किया है। उन्होंने कहा कि जब पंडित नेहरू का कांग्रेस पर प्रभाव बढ़ा तो कांग्रेस ने यह सुनिश्चित किया कि डॉ.अम्बेडकर को संविधान सभा में शामिल होने में कठिनाई हुई।
भाजपा के प्रयासों से यह सुनिश्चित हुआ कि गुजरात में युवाओं की पहुंच टेक्नोलॉजी तक पहुंच गई है और उन्हें पढऩे के लिए और अधिक शैक्षिक संस्थान मिले। पिछले दो दशकों में बीजेपी सरकार के तहत कानून और व्यवस्था की स्थिति में काफी सुधार हुआ है। (एनडीटीवी)

 




Related Post

Comments