सोशल मीडिया

गुजरातियों ने भाजपा को 150 सीटें ही दी हैं, लेकिन 28 फीसदी का जीएसटी और थोड़ा बहुत सेस काटकर!

Posted Date : 19-Dec-2017



गुजरात और हिमाचल प्रदेश में सभी सीटों की मतगणना तकरीबन पूरी हो चुकी है। इसके साथ यह भी तय हो गया है कि दोनों ही राज्यों में भाजपा सरकार बनाने जा रही है। गुजरात में सत्ताधारी भाजपा ने कुल 182 सीटों में से 99 जीतकर बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है। हालांकि यहां 79 सीटें हासिल करने वाली कांग्रेस ने उसे कड़ी टक्कर दी थी। वहीं दूसरी तरफ हिमाचल प्रदेश में सत्ताधारी कांग्रेस की सरकार चली गई है। यहां कुल 68 सीटों में से भाजपा को 44 और कांग्रेस को 21 सीटें मिली हैं। सोशल मीडिया पर ये नतीजे शाम से ही लगातार चर्चा में हैं।
आज मतगणना शुरू होते ही, नतीजों पर यहां लगातार अपडेट आने लगी थीं। आज से पहले भी मुख्यधारा के मीडिया में गुजरात चुनाव ही छाया हुआ था तो इसी तर्ज सोशल मीडिया में भी हिमाचल चुनाव के मुकाबले इसके नतीजों पर ही सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है। यहां कांग्रेस की हार का लोगों ने अपनी-अपनी तरह से विश्लेषण किया है। वरिष्ठ पत्रकार शिवम विज का ट्वीट है, कांग्रेस के पास अगर मुख्यमंत्री पद का अच्छा उम्मीदवार होता वह गुजरात चुनाव जीत भी सकती थी। वहीं फेसबुक पर अमित तिवारी ने तंज किया है, इस एटीट्यूड के साथ कांग्रेसियों को गद्दी सिर्फ स्लीपवेल के शोरूम में ही मिल सकती है!
गुजरात चुनाव की शुरुआती मतगणना में कुछ देर तक कांग्रेस की भाजपा पर बढ़ रही है। इस खबर पर सोशल मीडिया में खूब मजेदार टिप्पणियां आई हैं। कार्टूनिस्ट कीर्तीश भट्ट का ट्वीट है, वर्षों बाद कांग्रेस को रुझान में बहुमत मिल गया था। कांग्रेस कार्यालय में दो सुतली बम तो इस बात पर भी फोड़े जा सकते हैं। वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद जोशी ने चुटकी ली है, कांग्रेस अब बड़े गर्व से कह सकती है कि 9.37 बजे हम बहुमत में थे। साढ़े सात मिनट तक हम बहुमत में रहे।
गुजरात चुनाव नतीजों को लेकर सोशल मीडिया में आई कुछ और प्रतिक्रियाएं- 
वसूली भाई- रिपोर्टर- आपकी पार्टी के पक्ष में कौन सा मुद्दा कारगर साबित हुआ?
मोदी- विकास, विकास, विकास
रिपोर्टर- अब अगला चुनाव कर्नाटक में है। आप क्या कहना चाहेंगे?
मोदी- मंदिर वहीं बनाएंगे
शकुनि मामा- गुजरातियों ने भाजपा को 150 सीटें ही दी हैं, लेकिन 28 फीसदी का जीएसटी और थोड़ा बहुत सेस काटकर।
आदित्य तिवारी- कांग्रेस तीन स्टेट खो चुकी है। गुजरात, हिमाचल और मेंटल स्टेट।
पीएचडी इन बक-बक- भाजपा में आज सिर्फ एक ही व्यक्ति नाखुश है और वो है, शत्रुघ्न सिन्हा।
गॉडमैन चिकना- गुजरात में भाजपा का जीतना वैसा ही है जैसे कांग्रेस में राहुल गांधी का अध्यक्ष चुनाव जीतना... सबको पता था कि वहां कौन जीतने जा रहा है, हालांकि राहुल गांधी को इस पर कुछ दुविधा थी।
मैथुन (दिल से)- मैं अपना नाम बदल कर विकास रख लूंगा, फिर देखते हैं कि मोदीजी कैसे बोलते हैं, विकास को वोट दो।
परेश रावल- एक पहुंचे हुए सूत्र के मुताबिक राहुल गांधी पहले से ही कर्नाटक के सभी मंदिरों की सूची मंगा चुके हैं।
ध्यानेंद्र सिंह चौहान- गुजरात चुनाव में जहां भाजपा विकास के मुद्दे से खुद को बचाती रहीतो वहीं पार्टी अब जीत के बाद इसे विकास की जीत बता रही है। (खोया हुआ विकास मिल गया) (सत्याग्रह)




Related Post

Comments