राजनीति

पुलवामा हमले की गूंज लोकसभा में, कांग्रेस ने कहा- पीएम मोदी पांच जवानों की शहादत पर चुप क्यों

Posted Date : 02-Jan-2018



नई दिल्ली, 2 जनवरी। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में स्थित सीआरपीएफ कैंप पर हुए आतंकी हमले में शहीद हुए पांच जवानों को लोकसभा में श्रद्धांजलि दी गई। सदस्यों ने कुछ पल का मौन रखकर सम्मान प्रकट किया। वहीं इस हमले के विरोध में कई सदस्यों ने पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए। इसके बाद कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि एक सिर के बदले दस सिर लाने का बयान देने वाले पीएम नरेंद्र मोदी शहीदों की शहादत पर चुप क्यों हैं। इतना ही नहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि बीजेपी को अपने सांसद के बयान पर माफी मांगनी चाहिए। 
इस पर संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने कहा कि हमने पिछले एक साल में 200 से ज्यादा आतंकियों को ढेर किया है। वहीं इस हमले में शामिल तीनों आतंकियों को भी सुरक्षाबलों ने मार गिराया है। अनंत कुमार ने कहा कि इस मामले में राजनीति नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि गृहमंत्री राजनाथ सिंह सदन में मौजूद हैं और वह इस पर बयान नहीं देंगे। 
संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने पिछले तीन वर्षों में सर्जिकल स्ट्राइक से लेकर सड़क के कई प्रयास किए हैं। 
सदन की कार्यवाही शुरू होने पर लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने पुलवामा में सीआरपीएफ शिविर पर आतंकी हमले का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि कायरतापूर्ण आतंकवादी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के पांच सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए। हथियारों से लैस आतंकवादियों ने 31 दिसंबर, 2017 को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षा शिविर पर हमला किया।
सुमित्रा महाजन ने कहा कि यह सभा इस कायरतापूर्ण हमले के मृतकों के परिवार के प्रति गहरा दुख व्यक्त करती है। इसके बाद सदस्यों ने शहीदों के सम्मान में थोड़ी देर के लिए मौन रखा। (एनडीटीवी)




Related Post

Comments