खेल

Posted Date : 14-Jan-2018
  • नई दिल्ली: दक्षिण अफ्रीका दौरे में टेस्ट सीरीज के बाद खेली जाने वाले वनडे सीरीज के लिए अनदेखा किए गए और पिछले काफी लंबे समय से आउट ऑफ फॉर्म चल रहे दिल्ली के युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत ने रविवार को सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लीग मुकाबले में हिमाचल प्रदेश के खिलाफ अपने चिरपरिचित अंदाज में 'बम' फोड़ा. ऋषभ ने ऐसी मार हिमाचल के गेंदबाजों को लगाई कि मैच करीब-करीब आधे ही ओवरों में खत्म हो गया. और दिल्ली ने 11.4 ओवरों में ही जीत का 145 रन का लक्ष्य हासिल कर लिया. नाबाद 116 रन बनाने के साथ ही ऋषभ ने एक बड़ा रिकॉर्ड भी अपने खाते में जमा कर लिया. 
    दिल्ली से पहले बैटिंग की दावत पाते हुए हिमाचल प्रदेश ने तय 20 ओवरों में 8 विकेट पर 144 रन बनाए.  उसकी तरफ से निखिल गंगटा ने सबसे ज्यादा 40 रन बनाए. जवाब में हिमाचल प्रदेश ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि ऋषभ पंत उसके गेंदबाजों पर इतनी बुरी तरह कहर बनकर टूटेंगे. ऋषभ पंत की मार का हाल ऐसा रहा जहां उन्होंने नाबाद शतक जड़ डाला, तो दूसरे ओपनर गौतम गंभीर दूसरे छोर पर नाबाद 30 रन ही बना सके. ऋषभ पंत ने सिर्फ 38 गेंदों पर ही बिना आउट हुए 116 रन बनाए. और उनकी इस पारी की बदौलत दिल्ली ने 11.4 ओवरों में ही मैच अपनी झोली में डालते हुए मैच में हिमाचल को पूरे दस विकेट से रौंद दिया.  
    ऋषभ के इस नाबाद शतक में सबसे बड़ा धमाका उनके चौकों से ज्यादा छक्कों का होना रहा. जहां उन्होंने 8 चौके जड़े, तो वहीं उन्होंने 12 छक्के अपनी झोली में डाले. एक ऐसी मार, जो लंबे समय तक हिमाचल के खिलाड़ियों को याद रहेगी. इस पारी के साथ ही ऋषभ घरेलू टी-20 में सबसे तेज शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए. ऋषभ ने सिर्फ 32 गेंदों में ही इस कारनामे को अंजाम दे डाला. (एनडीटीवी)

    ...
  •  


Posted Date : 14-Jan-2018
  • सेंचुरियन, 13 Jan : दक्षिण अफ्रीका और भारत के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा मैच सेंचुरियन में खेला जा रहा है। दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग का फैसला लिया। इस दौरान दक्षिण अफ्रीका ने पहले दिन का खेल खत्म होने तक 6 विकेट खोकर 269 रन बनाये। दक्षिण अफ्रीका की ओर से मार्करम ने 92 रन और हाशिम अमला ने 82 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली। भारत की ओर से रविचन्द्नन अश्विन ने 3 अहम विकेट झटके।
    दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी :
    टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरे दक्षिण अफ्रीका के ओपनर बल्लेबाजों ने टीम को अच्छी शुरुआत दी। इस दौरान डीन एल्गर 31 रन बनाकर रविचन्द्नन अश्विन की गेंद पर मुरली विजय को कैच थमा बैठे। वहीं एडिन मार्करम शतक बनाने से चूके। वो 94 रन के निजी स्कोर पर अश्विन की गेंद पर आउट हुए। उन्हें पार्थिव पटेल ने कैच किया। टीम का तीसरा विकेट एबी डी विलियर्स के रूप में गिरा। डीविलियर्स 20 रन बनाकर ईशांत शर्मा की गेंद पर आउट हुए। 
    इसके बाद अमल और फाफ डू प्लेसी के बीच साझेदारी बन रही थी। लेकिन फिर अमला 82 रन बनाकर आउट हो गये। उन्होंने हार्दिक पांड्या ने रन आउट कर दिया। क्विंटन डी कॉक भी बेहद लापरवाही से बिना रन बनाये रविचन्द्रन अश्विन की गेंद पर आउट हुए। वर्नोन फिलैंडर भी बिना रन बनाये रन आउट हो हुए।
    भारतीय गेंदबाजी :
    टीम के बेहतरीन स्पिन गेंदबाज रविचन्द्नन अश्विन 3 महत्वपूर्ण विकेट झटके। उन्होंने 31 ओवर में 90 रन दिये और 8 मेडन ओवर निकाले। दूसरे टेस्ट मैच में भुवनेश्वर कुमार की जगह ईशांत को शामिल किया गया। उन्होेंने 1 विकेट लिया। वहीं हार्दिक पांड्या का भी बेहतरीन प्रदर्शन देखने को मिला। पांड्या ने अमला और फिलैंडर को रन आउट किया। इनके अलावा किसी भी भारतीय गेंदबाज को सफलता नहीं मिली।
    भारत को 2018-19 में विदेशी धरती पर 12 टेस्ट खेलने हैं और यह उनमें से दूसरा ही टेस्ट है। भारत को सीरीज में बने रहने के लिए यह टेस्ट हर हालत में जीतना होगा। दक्षिण अफ्रीका अगर 2-0 की बढ़त बना भी लेता है तो भारत की नंबर वन टेस्ट रैंकिंग पर असर नहीं पड़ेगा। 
    प्लेइंग इलेवन-
    भारत : मुरली विजय, लोकेश राहुल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, पार्थिव पटेल (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, रविचंद्रन अश्विन, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा 
    साउथ अफ्रीका : डीन एल्गर, एडिन मार्करम, हाशिम आमला, एबी डी विलियर्स, फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर),वानोर्न फिलेंडर, केशव महाराज, कगीसो रबादा, लुंगिसनी नगिड़ी, मॉर्ने मोर्कल
    (लाइव हिन्दुस्तान)

    ...
  •  


Posted Date : 13-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 13 जनवरी । आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स की कप्तानी कर चुके युवा भारतीय खिलाड़ी करुण नायर फॉर्म में लौट आए हैं। सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी में उन्होंने तमिलनाडु के खिलाफ तूफानी शतक जड़ एक बार फिर सबका ध्यान अपनी तरफ खींच लिया है। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी वीरेंद्र सहवाग के बाद करुण नायर ही इकलौते ऐसे भारतीय बल्लेबाज हैं जिन्होंने टेस्ट मैच में तिहरा शतक लगाया है। करुण नायर के फॉर्म पर पिछले कुछ समय से सवालिया निशान लगाए जा रहे थे, आईपीएल में भी अभी तक वो अपनी छाप छोडऩे में नाकाम रहे हैं। शायद यही एक वजह रही होगी कि दिल्ली की टीम ने उन्हें रिटेन करना सही नहीं समझा। करुण नायर ने कर्नाटक की तरफ से खेलते हुए 111 रनों की धमाकेदार पारी खेलकर अपनी टीम को एक अहम जीत दिलाई। सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी में कर्नाटक और तमिलनाडु के बीच खेले गए मैच में करुण नायर की पारी की बदौलत कर्नाटक जीतने में सफल रही।
    तमिलनाडु को 78 रनों से हराकर कर्नाटक ने इस लीग में एक अहम जीत हासिल की। नायर ने विस्फोटक अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 48 गेंदों में अपना सौ रन पूरा किया। उन्होंने 213.46 की स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करते हुए 111 रन बनाए। कर्नाटक की पूरी टीम 20 ओवर में 9 विकेट खोकर 179 रन बनाने में कामयाब रही।
    लक्ष्य का पीछा करने उतरी तमिलनाडु की शुरुआत खराब रही और पूरी टीम महज 101 रन पर ही ऑलआउट हो गई। करुण नायर की इस पारी को देखते हुए फ्रेंचाइजियों की नजर एक बार फिर इस युवा बल्लेबाज पर आकर ठहर गई होगी। नायर अगर टूर्नामेंट के बचे हुए मैचों में भी इसी तरह का प्रदर्शन जारी रखते हैं तो आईपीएल नीलामी के दौरान उन पर बड़ी बोली लगाई जा सकती है। (जनसत्ता)

     

    ...
  •  


Posted Date : 13-Jan-2018
  • मुंबई, 13 जनवरी । महाराष्ट्र के सांगली जिले में हुई एक सड़क दुर्घटना में 6 लोगों की मौत और पांच लोग घायल हो गए हैं। मृतकों में 4 पहलवान शामिल हैं। बताया जा रहा है ये सभी पुणे में आयोजित एक प्रतियोगिता में हिस्सा लेकर वापस लौट रहे थे। जिस चार पहिया वाहन में ये लोग सवार थे वह सामने आ रहे एक ट्रक से टकरा गया। टक्कर इतनी तेज थी कि गाड़ी के परखच्चे उड़ गए। (एनडीटीवी)

     

    ...
  •  


Posted Date : 13-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 13 जनवरी। आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स की कप्तानी कर चुके युवा भारतीय खिलाड़ी करुण नायर फॉर्म में लौट आए हैं। सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी में उन्होंने तमिलनाडु के खिलाफ तूफानी शतक जड़ एक बार फिर सबका ध्यान अपनी तरफ खींच लिया है। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी वीरेंद्र सहवाग के बाद करुण नायर ही इकलौते ऐसे भारतीय बल्लेबाज हैं जिन्होंने टेस्ट मैच में तिहरा शतक लगाया है। करुण नायर के फॉर्म पर पिछले कुछ समय से सवालिया निशान लगाए जा रहे थे, आईपीएल में भी अभी तक वो अपनी छाप छोडऩे में नाकाम रहे हैं। शायद यही एक वजह रही होगी कि दिल्ली की टीम ने उन्हें रिटेन करना सही नहीं समझा। करुण नायर ने कर्नाटक की तरफ से खेलते हुए 111 रनों की धमाकेदार पारी खेलकर अपनी टीम को एक अहम जीत दिलाई। सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी में कर्नाटक और तमिलनाडु के बीच खेले गए मैच में करुण नायर की पारी की बदौलत कर्नाटक जीतने में सफल रही।
    तमिलनाडु को 78 रनों से हराकर कर्नाटक ने इस लीग में एक अहम जीत हासिल की। नायर ने विस्फोटक अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 48 गेंदों में अपना सौ रन पूरा किया। उन्होंने 213.46 की स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करते हुए 111 रन बनाए। कर्नाटक की पूरी टीम 20 ओवर में 9 विकेट खोकर 179 रन बनाने में कामयाब रही।
    लक्ष्य का पीछा करने उतरी तमिलनाडु की शुरुआत खराब रही और पूरी टीम महज 101 रन पर ही ऑलआउट हो गई। करुण नायर की इस पारी को देखते हुए फ्रेंचाइजियों की नजर एक बार फिर इस युवा बल्लेबाज पर आकर ठहर गई होगी। नायर अगर टूर्नामेंट के बचे हुए मैचों में भी इसी तरह का प्रदर्शन जारी रखते हैं तो आईपीएल नीलामी के दौरान उन पर बड़ी बोली लगाई जा सकती है।(जनसत्ता)

    ...
  •  


Posted Date : 13-Jan-2018
  • नोएडा, 13 जनवरी । अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज जितेंद्र मान की ग्रेटर नोएडा की एवीजे हाइट्स सोसायटी में गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या के बाद 48 घंटे तक शव फ्लैट में पड़ा रहा। उनके सिर और पीठ में 4 गोलियों के निशान मिले हैं। मोबाइल ऑफ होने के कारण शुक्रवार दोपहर में जितेंद्र का चचेरा भाई फ्लैट पर पहुंचा तो वारदात का पता चला। कमरे से शराब और कोल्ड ड्रिंक की बोतल, एक खाली ग्लास बरामद हुआ है। फ्लैट की चाबी और मृतक का मोबाइल गायब है। एक युवती व कुछ लोगों पर शक जताया गया है। परिजनों ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस कुछ संदिग्धों से पूछताछ कर रही है।
    पुलिस ने बताया कि मूलरूप से अलीपुर (दिल्ली) निवासी जितेंद्र मान (27) जीटा-1 स्थित एवीजे हाइट्स सोसायटी के एच-606 नंबर के फ्लैट में रहते थे। वह जूनियर व सीनियर कैटिगरी में रसिया, क्यूबा, फ्रांस व उज्बेकिस्तान में मेडल जीत चुके हैं। फिलहाल वह एयरफोर्स में तैनात थे। इन दिनों छुट्टी पर थे। वह अल्फा-1 कमर्शल बेल्ट स्थित कसाना टावर में अल्टीमेट फिटनेस अकैडमी में जिम ट्रेनर भी थे। 
    पुलिस के अनुसार, जांच में पता चला है कि वह 10 जनवरी को जिम गए थे, लेकिन उसके बाद से नहीं पहुंचे। वह सुबह और शाम जिम जाते थे। जिम संचालक नितिन ने पुलिस को बताया कि 11 जनवरी को भी जब वह जिम नहीं आए, तब उन्होंने उन्हें कॉल किया, लेकिन मोबाइल बंद था। शुक्रवार सुबह उन्होंने जितेंद्र मान के जिम न आने की बात उनके चचेरे भाई प्रीतम को बताई। 
    प्रीतम ने शुक्रवार दोपहर करीब 1 बजे सोसायटी में जा देखा तो फ्लैट पर ताला लगा था। प्रीतम के पास भी एक चाबी थी, जिसकी मदद से दरवाजा खोल कर देखा तो जितेंद्र का शव बेड पर पड़ा मिला। कपड़ों की हालत से लग रहा है कि गोली मारने से पहले हाथापाई भी हुई होगी। (नवभारत टाईम्स)

    ...
  •  


Posted Date : 12-Jan-2018
  • सेंचुरियन, 12 जनवरी : भारत और साउथ अफ्रीका के बीच 3 मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला सेंचुरियन के सुपरस्पोर्ट्स पार्क स्टेडियम में खेला जाएगा. यह मैच कल दोपहर 1:30 बजे से शुरू होगा. पहला मैच हारने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम की मुश्किलें बढ़ गई हैं, क्योंकि सेंचुरियन की पिच पर उसे एक्स्ट्रा बाउंस का सामना करना होगा. ऐसे में अगर भारत को साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में हार से बचना है, तो उसे सेंचुरियन के टेस्ट को हर हाल में पास करना होगा.

    केपटाउन के न्यूलैंड्स क्रिकटे मैदान पर खेले गए पहले टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 72 रनों से हराकर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल की थी. पिछले मैच में भारत के तेज गेंदबाजों ने अपनी भूमिका बखूभी निभाई थी, लेकिन उसके बल्लेबाज दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाजों का सामना नहीं कर पाए.
    टीम इंडिया
    भारतीय टीम को दूसरा टेस्ट मैच जीतने के लिए अपनी बल्लेबाजी मजबूत करनी होगी, ताकि वह 208 रनों जैसे लक्ष्य को हासिल करने में चूके न. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के लिए भारत को अजिंक्य रहाणे को उतारना होगा. इसके अलावा कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा और चेतेश्वर पुजारा को भी बड़ी भूमिका निभानी होगी.

    भारत के पास भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और हार्दिक पंड्या जैसे तेज गेंदबाज हैं, जो दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों को बड़ा स्कोर बनाने से रोक सकते हैं. उन्होंने यह काम पहले टेस्ट मैच में बखूबी किया था. हालांकि, भारत के स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन पहली पारी में दो विकेट लेने में सफल रहे, लेकिन दूसरी पारी में किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया.

    साउथ अफ्रीका
    साउथ अफ्रीका के खिलाड़ियों की बात की जाए, तो भारतीय बल्लेबाजों के लिए पिछले टेस्ट मैच में नौ विकेट लेने वाले वर्नोन फिलेंडर दूसरे टेस्ट में भी सबसे बड़ी मुसीबत बन सकते हैं. इसके अलावा, कैगिसो रबाडा, मोर्ने मोर्केल भी भारत की सीरीज की हार से बचने की कोशिश में पानी फेर सकते हैं. दक्षिण अफ्रीका अपने चौथे तेज गेंदबाज के रूप में क्रिस मॉरिस को मैदान पर उतार सकती है और स्पिन गेंदबाज केशव महाराज को एक और मौका दे सकती है.

    भारत के खिलाफ अगर टेस्ट सीरीज की जीत का सिलसिला कायम रखना है, तो दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों को भी दूसरे टेस्ट मैच में थोड़ी और मेहनत करनी होगी. कप्तान फाफ डु प्लेसिस, एबी डिविलियर्स और क्विंटन डी कॉक के अलावा हाशिम अमला को भी अहम भूमिका निभानी होगी. अमला पहले टेस्ट मैच में कुछ खास कमाल नहीं कर पाए थे. इसके अलावा, डीन एल्गर और एडेन मर्करम को भी मेहनत करनी होगी.
    दक्षिण अफ्रीका ने दूसरे टेस्ट मैच के लिए टीम में दो खिलाड़ियों को शामिल किया है. टीम में 21 वर्षीय नए खिलाड़ी लुंगी नगीदी और तेज गेंदबाज डुआने ओलिवर को जगह मिली है.

    टीम:
    भारत: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा, ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा, जसप्रीत बुमराह, पार्थिव पटेल, उमेश यादव, भुवनेश्वर कुमार, हार्दिक पंड्या, लोकेश राहुल.

    दक्षिण अफ्रीका: फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), हाशिम अमला, टेम्बा बावुमा, थ्युनिस डे ब्रूयेन, क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), एबी डिविलियर्स, डीन एल्गर, केशव महाराज, एडेन मर्करम, मोर्ने मोर्केल, क्रिस मोरिस, एंडिले पेलक्वायो, वर्नोन फिलेंडर, कैगिसो रबाडा, लुंगी नगीदी और डुआने ओलिवर. (Aajtak)

    ...
  •  


Posted Date : 12-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 12 जनवरी । लद्दाख में इन दिनों तापमान शून्य से 20 डिग्री तक नीचे जा रहा है और ऐसे मौसम में वहां के युवा बर्फ पर हॉकी खेल रहे हैं। लद्दाख क्षेत्र में अंडर 20 बॉयज के लिए आइस हॉकी टूर्नामेंट का आयोजन बर्फीली पहाडिय़ों के बीच आज शुरू हुआ। यह टूर्नामेंट 16 जनवरी तक चलेगा।
    भारत-तिब्बत सीमा पुलिस की 37वीं वाहिनी और 24वीं वाहिनी लद्दाख के चुगलमसर में आइस हॉकी रिंग में यह आयोजन कर रही हैं। इस टूर्नामेंट में स्थानीय युवकों की कुल आठ टीमें भाग ले रही हैं। टूर्नामेंट के उद्घाटन समारोह में एलएएचडीसी के सीईसी डॉ.सोनम दवा लोनपो बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। इस अवसर पर आईटीबीपी के उप महानिरीक्षक जयपाल यादव, जवान और स्थानीय लोग मौजूद थे।
    अपने तरह का यह पहला टूर्नामेंट गृह मंत्रालय के सौजन्य से आईटीबीपी के सिविक एक्शन प्रोग्राम के तहत आयोजित किया जा रहा है। 
    इसमें भाग लेने वाले प्रतिभावान चयनित खिलाडिय़ों को प्रशिक्षण के लिए विदेश भेजे जाने की सम्भावना है।
    इस टूर्नामेंट का उद्देश्य खेल गतिविधियों को बढ़ावा देना, युवाओं में टीम भावना जागृत करना, उनके व्यक्तित्व का विकास करना और हॉकी जैसे खेलों को लोकप्रिय बनाना है।
    इस टूर्नामेंट के अंतिम मैच और समापन समारोह का आयोजन 16 जनवरी को किया जाएगा। टूर्नामेंट की शुरुआती संयमू बनाम सेकमॉल एवं डोमखर बनाम ललोक के बीच खेले गए मैचों से हुई। इसमें संयमू ने 21-0 से सेकमॉल को और डोमकर ने ललोक को 5-2 गोल से हराया।(एनडीटीवी)

     

    ...
  •  


Posted Date : 12-Jan-2018
  • सिडनी, 12 जनवरी। टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर ऑस्ट्रेलिया में एक मैच में बैट और बॉल से कमाल करके चर्चा में हैं। हाल ही में कूच बिहार ट्रॉफी में पांच विकेट लेने वाले अर्जुन ने स्पिरिट ऑफ ग्लोबल चैलेंज में हिस्सा लिया और तेज 48 रन ठोकने के अलावा चार विकेट भी झटके।
    सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर हुए इस मैच में अर्जुन टीम इंडिया के क्रिकेटर्स क्लब की ओर से खेल रहे थे। टी20 मैच में हांगकांग के खिलाफ अर्जुन ने 27 गेंद पर 48 रन बनाए और चार अहम विकेट भी झटके। इस मैच के बाद अर्जुन से जब उनके आदर्श खिलाड़ी के बारे में पूछा गया, तो उनका जवाब काफी चौंकाने वाला था।
    अर्जुन के आदर्श खिलाडिय़ों की लिस्ट में उनके पिता सचिन तेंदुलकर और पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज वसीम अकरम का नाम नहीं था। अर्जुन ने अकरम से तेज गेंदबाजी सीखी है, जबकि सचिन उन्हें बल्लेबाजी के टिप्स देते रहते हैं।
    अर्जुन ने कहा, मुझे बचपन से ही तेज गेंदबाजी करना बहुत पसंद है। मिशेल स्टार्क और बेन स्टोक्स मेरे रोल मॉडल हैं। मैं कभी दबाव नहीं लेता हूं, जब गेंदबाजी करता हूं तो उसमें अपना सबकुछ अपना झोंक देता हूं और जब बल्लेबाजी करनी होती है, तो इस पर ध्यान देता हूं कि किस गेंद पर शॉट खेलना है और किसे छोडऩा है।
    मिशेल स्टार्क ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज हैं, जबकि बेन स्टोक्स इंग्लैंड की ओर से खेलते हैं और मौजूदा समय में दुनिया के सबसे अच्छे ऑलराउंडर्स में शुमार हैं। (लाइव हिन्दुस्तान)

    ...
  •  


Posted Date : 11-Jan-2018
  • नई दिल्‍ली, 11 जनवरी: सेंचुरियन का सुपर स्पोर्ट्स ग्राउंड भारत-दक्षिण अफ्रीका सीरीज़ के दूसरे टेस्ट के लिए तैयार है. साल 2016 में इस मैदान को नए सिरे से बनाया गया. विराट कोहली की टीम इंडिया के लिहाज से चिंता की बात यह है कि इस मैदान की पिच और आउट फ़ील्ड तेज़ है. पिच पर घास छोड़े जाने की तैयारी है ताकि दक्षिण अफ्रीका यहां भी केपटाउन की तरह जीत को दोहरा पाए. वैसे भी ये मैदान दक्षिण अफ़्रीका के लिए बेहद भाग्यशाली रहा है. केपटाउन टेस्‍ट में वेर्नोन फिलेंडर, मोर्ने मोर्कल, कागिसो रबाडा और डेल स्‍टेन ने केपटाउन की पिच पर भारतीय बल्लेबाज़ी को बिखेर दिया था. डेल स्टेन के अनफ़िट होने के बाद भी टीम इंडिया को राहत नहीं मिलने वाली. दक्षिण अफ़्रीका के कोच ऑटिस गिब्सन ने कहा है कि सेंचुरियन में भी दक्षिण अफ्रीका की टीम चार तेज़ गेंदबाज़ों के साथ मैदान में उतरेगी.

    वैसे भी सेंचुरियन मैदान दक्षिण अफ़्रीका के लिए भाग्यशाली रहा है. यहां खेले गए 22 टेस्ट में 17 में दक्षिण अफ्रीका को जीत हासिल हुई है. दो में दक्षिण अफ्रीका की टीम हारी है जबकि  में प्रोटियाज़ हारे हैं जबकि 3 मैच ड्रॉ रहे हैं. दूसरी ओर, भारत ने यहां एक टेस्ट मैच खेला है. दिसंबर 2010 में खेले गए उस टेस्ट में टीम इंडिया को एक पारी और 25 रन से हार का सामना करना पड़ा था.

    वेर्नोन फिलेंडर, मोर्ने मोर्कल और कागिसो रबाडा का सेंचुरियन में रिकॉर्ड शानदार रहा है. रबाडा ने यहां 2 टेस्ट मैच में 18, मार्कल ने 7 में 28 जबकि फिलेंडर ने 5 मैच में 22 विकेट लिए हैं. पहले टेस्‍ट में बुरी तरह नाकाम रहे हाशिम अमला के लिए सेंचुरियन ग्राउंड भाग्‍यशाली रहा है. अमला ने सेंचुरियन में 11 टेस्ट मैच में 80.13 की औसत से 1202 रन बनाए हैं जिसमें 5 शतक और 6 अर्धशतक शामिल हैं. ज़ाहिर है पहला टेस्ट गंवाने के बाद विराट कोहली और कंपनी के सेंचुरियन में वापसी आसान नहीं होगी. वैसे भी वीरेंद्र सहवाग जैसे पूर्व दिग्गज़ बल्‍लेबाज को टीम की वापसी की संभावना सिर्फ़ 30 फ़ीसदी नज़र आ रही है. (ndtv)

    ...
  •  


Posted Date : 10-Jan-2018
  • रतलाम, 10 जनवरी । मध्य प्रदेश के रतलाम में विराट कोहली के एक प्रशंसक द्वारा आत्महत्या का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि 63 साल के बाबूलाल बरिया ने यह कदम दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में विराट कोहली के सस्ते में आउट होने के बाद उठाया। खबरों के मुताबिक इस टेस्ट की पहली पारी में जैसे ही विराट कोहली पांच रन बनाकर आउट हुए, रेलवे की नौकरी से रिटायर हुए बाबूलाल ने खुद पर केरोसीन छिड़ककर आग लगा ली। गंभीर हालत में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां मंगलवार को उन्होंने दम तोड़ दिया।
    मौत से पहले अपने बयान में बाबूलाल बरिया ने कहा कि वे विराट कोहली की नाकामी से परेशान थे। परिवार का भी कहना है कि बाबूलाल क्रिकेट के बहुत शौकीन थे। हालांकि पुलिस ने संभावना जताई है कि हो सकता है हादसे के वक्त वे नशे में रहे हों। कप्तान विराट कोहली सहित लगभग सभी बल्लेबाजों के लचर प्रदर्शन के चलते पहले टेस्ट में भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका से 72 रन से हार गई थी। इसके साथ ही तीन मैचों की सीरीज में दक्षिण अफ्रीका ने 1-0 से बढ़त बना ली है।(सत्याग्रह)
    भोपाल में पहले भी...
    इसके पहले जनवरी 2013 में भोपाल में 18 बरस की एक इंजीनियरिंग छात्रा ने आत्महत्या कर ली थी, और उसने जो चि_ी लिखकर छोड़ी थी, उसमें विराट कोहली के लिए अपने मन की प्रशंसा जाहिर की थी और कहा था कि वे भविष्य में बहुत से रिकॉर्ड बनाएंगे और उसने अपने परिवार के लोगों के लिए लिखा था कि अगर कभी विराट कोहली से उनकी मुलाकात हो तो उन्हें जरूर बताएं कि वह, उनकी बहुत बड़ी फैन है।

     

    ...
  •  


Posted Date : 10-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 10 जनवरी । हिमाचल प्रदेश के मनाली की रहने वाली आंचल ठाकुर ने देश को स्कीइंग में पहला अंतरराष्ट्रीय पदक दिलाया है। उन्होंने 'अल्पाइन एडर-3200 कपÓ टूर्नामेंट में कांस्य पदक जीता है। यह टूर्नामेंट एफआईएस (फेडरेशन इंटरनेशनल डि स्की) की ओर से आयोजित किया जाता है। 
    एफआईएस स्कीइंग के क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय प्रशासकीय संस्था है। इसकी ओर से यह टूर्नामेंट तुर्की में आयोजित किया गया था। यहां आंचल ने स्लैलम रेस वर्ग में पदक जीता। आंचल के पिता रोशन ठाकुर विंटर गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के महासचिव हैं। उन्होंने कहा- जो लोग शीतकालीन खेलों में हिस्सा लेते हैं उन्हें सरकार का समर्थन-सहयोग भी न के बराबर ही मिलता है। ऐसे में अंचल की उपलब्धि निश्चित ही बड़ी मानी जा सकती है। (टाईम्स ऑफ इंडिया)

     

    ...
  •  


Posted Date : 09-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 9 जनवरी: केपटाउन टेस्ट में भारतीय बल्लेबाज़ी पूरी तरह से फ़्लॉप साबित हुई एक हार्दिक पांड्या की पारी को छोड़ कोई मुख्य बल्लेबाज़ कुछ खास नहीं कर सका. ऐसे में टीम के उपकप्तान और विदेशी जमी पर भारत के सबसे सफल बल्लेबाजों में से एक अजिंक्य रहाणे को ड्रॉप कर रोहित शर्मा के चयन पर सवाल उठना लाजमी था. रोहित केपटाउन टेस्ट उछाल भरी पिच पर दोनो पारियों में असहज दिखे और मैच की 2 पारियों में कुल 21 रन ही जोड़ सके लेकिन कप्तान का कहना है कि चयन मौजूदा फॉर्म पर हुआ. भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने कहा, 'हमने मौजूदा फॉर्म के साथ जाने का फैसला किया. रोहित ने पिछले 3 टेस्ट में बेहतरीन प्रदर्शन किया और वो श्रीलंका सीरीज़ में अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे'

    वैसे दोनो खिलाड़ियों की तुलना करें तो रहाणे बेहद आगे दिखाई देते हैं. रोहित शर्मा ने विदेशी ज़मीं पर खेले 15 टेस्ट मैचों में 653 रन 25.11 की औसत से बनाए हैं. वहीं खासतौर पर दक्षिण में किए गए देखें तो वह 3 टेस्ट की 6 पारियों में महज 66 रन ही जोड़ सके हैं. मात्र 11 रन की औसत से. इसकी तुलना में अजिंक्य रहाणे के रिकॉर्ड को देखें तो  उन्होंने विदेशी जमीं पर खेले 24 टेस्ट में 1,817 रन 53.44 की औसत से बनाए हैं. इसमें 6 शतक और 9 अर्धशतक शामिल हैं. वहीं दक्षिण अफ्रीका में खेले 2 टेस्ट में उन्होंने 209 रन 69.66 की औसत से बनाए हैं. इसके बावजूद इस प्रदर्शन को नजरअंदाज कर अजिंक्य रहाणे को ड्रॉप कर दिया गया

    कप्तान विराट कोहली कहते हैं, 'ये सभी बातें हाइंडसाइट में मैच के बाद देखी जा सकती हैं. और सोचा जा सकता है कि ऐसा होता तो क्या होता. यह फैसला लिया जा सकता था, लेकिन हमने इस कॉम्बिनेशन के साथ जाने का फैसला मौजूदा फॉर्म को देखते हुए किया' बता दें कि श्रीलंका के खिलाफ रहाणे ने 3 टेस्ट की 5 पारियों में महज 17 रन बनाए थे. लेकिन उस प्रदर्शन के विदेशी जमी पर क्या मायने हैं? ठीक उसी तरह जब भारत के फ्लैट ट्रैक पर शतक और दोहरे शतक बनाने वाले बल्लेबाज दक्षिण अफ्रीका के उछाल और स्विंग लेते हालात में फिसड्डी साबित हो रहे हैं.

    वास्तव में विराट कोहली और टीम मैनेजमेंट पर दूसरे टेस्ट में अजिंक्य रहाणे को खिलाने को लेकर बहुत ही ज्यादा दबाव है. अब देखने की बात यह होगी कि क्या विराट केपटाउन टेस्ट की टीम के साथ ही मैदान पर उतरेंगे, या फिर फाइनल इलेवन में कोई बदलाव होगा. (ndtv)

    ...
  •  


Posted Date : 09-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 9 जनवरी। टीम इंडिया के दिग्गज खिलाड़ी सुरेश रैना फिलहाल टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं। सुरेश रैना ने बिटिया रानी के लिए गाना गाया है। जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। उनको सिंगिंग करते देख उनके साथी खिलाड़ी भी हैरान रह गए। हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है। हरभजन सिंह ने वीडियो डालते हुए लिखा- सुरेश रैना ने अपनी शानदार आवाज में बहुत खूबसूरत गाना गाया है। बहुत ही अच्छे लिरिक्स हैं। वहीं उनके साथी खिलाड़ी इरफान पठान ने भी वीडियो ट्विटर पर पोस्ट किया है। उन्होंने लिखा- वुमन हमारे परिवार, हमारी सोसायटी और हमारे राष्ट्र का पिलर हैं। सपोर्ट करने के लिए द प्रियंका रैना शो को सुनें।
    गौतम गंभीर ने भी सुरेश रैना की जमकर तारीफ की है। जिसके लिए सुरेश रैना ने उनका धन्यवाद किया और लिखा- धन्यवाद गौतम गंभीर, आप ऐसा करके गर्ल चाइल्ड एजुकेशन को सपोर्ट कर रहे हैं। इसके लिए मुझे आपके प्रयास पर गर्व है। फैन्स भी उनके गाने को काफी पसंद कर रहे हैं। वीडियो सॉन्ग में रोहित शर्मा गाना गा रहे हैं वहीं साथ में उनकी पत्नी प्रियंका रैना और बेटी नजर आ रही हैं।
    सुरेश रैना पिछले साल गुजरात लायंस के कप्तान थे। लेकिन चेन्नई और राजस्थान टीम आने के बाद गुजरात और पुणे बाहर हो गई है। चेन्नई ने एमएस धोनी के साथ-साथ सुरेश रैना को रिटेन किया है। वो अब चेन्नई की टीम में वापस लौट गए हैं। साल 2018 का सीजन वो चेन्नई के साथ खेलेंगे। जिसके लिए वो भी काफी एक्साइटिड हैं।  (एनडीटीवी)

    ...
  •  


Posted Date : 08-Jan-2018
  • केपटाउन, 8 जनवरी : भारतीय गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन पर बल्‍लेबाजों के शर्मनाक प्रदर्शन ने पानी फेर दिया. बल्‍लेबाजों की इस नाकामी के कारण विराट कोहली की टीम इंडिया को केपटाउन टेस्‍ट के चौथे दिन ही 72 रन की शर्मनाक हार झेलने पर मजबूर होना पड़ा है. यह स्थिति तब है जब मैच के तीसरे दिन का खेल पूरी तरह से बारिश की भेंट चढ़ गया था. भारतीय गेंदबाजों ने आज चौथे दिन दक्षिण अफ्रीका को दूसरी पारी में 130 रन के छोटे स्‍कोर पर आउट करके टीम को जीत हासिल करने का सुनहरा मौका दिया था. पहली पारी के आधार पर मेजबान टीम को मिली 77 रन की बढ़त को शामिल करने के बाद जीत के लिए 208 रन बनाने का लक्ष्‍य था, लेकिन घरेलू मैदानों पर रनों का अंबार लगाने वाले भारतीय बल्‍लेबाज न्‍यूलैंड्स के विकेट पर भीगी बिल्‍ली बने नजर आए. पूरी टीम  42.4 ओवर में 135 रन पर ढेर हो गई. दूसरी पारी में 6 विकेट लेने वाले दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज वेर्नोन फिलेंडर मैन ऑफ द मैच रहे.
    भारतीय बल्‍लेबाजों का प्रदर्शन मैच में किस कदर खराब रहा, इसका अंदाज इसी बात से लगाया जा सकता है कि दोनों ही पारियों में भारतीय टीम 100 रन के पहले ही सात विकेट गंवा चुकी थी. 37 रन बनाने वाले विराट कोहली दूसरी पारी में भारत के टॉप स्‍कोरर रहे. दक्षिण अफ्रीका के लिए वेर्नोन फिलेंडर ने सर्वाधिक 6 विकेट लिए.इस जीत के सहारे दक्षिण अफ्रीका ने तीन टेस्‍ट की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है. मैच में दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए अपनी पहली पारी में 286 रन बनाए थे. जिसके जवाब में भारतीय टीम की पहली पारी दूसरे दिन 209 रन बनाकर समाप्‍त हुई थी और उसे 77 रन की महत्‍वपूर्ण बढ़त मिली थी.
    पहला सेशन: गेंदबाजों ने द. अफ्रीका को 130 रन पर समेटा
    मैच के चौथे दिन भारत की ओर से पहला ओवर भुवनेश्‍वर कुमार ने फेंका जो मेडन रहा. दूसरे ओवर की तीसरी गेंद पर मोहम्‍मद शमी भारत के लिए अहम सफलता लेकर आए. उन्‍होंने हाशिम अमला (4रन,15 गेंद, एक चौका) को रोहित शर्मा से कैच करा दिया.शमी ने जल्‍द ही कागिसो रबाडा (5 रन, 33 गेंद) को भी पेवेलियन लौटाकर भारत को चौथी सफलता दिलाई. कैच स्लिप में विराट कोहली ने लपका. रबाडा के स्‍थान पर कप्‍तान फाफ डु प्‍लेसिस बल्‍लेबाजी के लिए आए जिन्‍होंने पहली पारी में डिविलियर्स के साथ पारी के संकट से उबारा था. हालांकि दूसरी पारी में ऐसा नहीं हो सका. बुमराह फाफ डु प्‍लेसिस (0) को आउट करने में सफल रहे. दक्षिण अफ्रीकी कप्‍तान का कैच विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा ने लपका.जल्‍द ही बुमराह टीम इंडिया के लिए एक और कामयाबी लेकर आए, उन्‍होंने क्विंटन डिकॉक (8 रन, 9 गेंद ) को विकेटकीपर साहा से कैच करा दिया. पहले घंटे में ही दक्षिण अफ्रीका के चार विकेट गिरा भारतीय टीम ने जोरदार अंदाज में मैच में वापसी कर ली थी. दक्षिण अफ्रीका के विकेट चौथे दिन लगातार गिर रहे थे. मेजबान टीम का 7वां विकेट वेर्नोन फिलेंडर (0) के रूप में गिरा जिन्‍हें शमी ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया.
    पहली पारी में भारतीय गेंदबाजों को परेशान करने वाले फिलेंडर दूसरी पारी में खाता भी नहीं खोल पाए. दूसरी पारी का स्‍कोर 100 रन पर पहुंचने के पहले ही द. अफ्रीका के सात विकेट गिर चुके थे भुवनेश्‍वर टीम इंडिया के लिए आठवीं कामयाबी लेकर आए. उन्‍होंने केशव महाराज (15रन) को विकेटकीपर साहा से कैच कराया. 122 रन तक दक्षिण अफ्रीका के आठ बल्‍लेबाज पेवेलियन लौट चुके थे.यह स्थिति तब थी जब पहले विकेट के लिए एडेन मार्कराम और डीन एल्‍गर के बीच 52 रन की साझेदारी हुई थी.दक्षिण अफ्रीका का 9वां विकेट मोर्ने मोर्केल (2)के रूप में गिरा, जिन्‍हें भुवनेश्‍वर ने साहा से कैच कराया. आखिरी विकेट एबी डिविलियर्स (35रन, 50 गेंद, दो चौके, दो छक्‍के) के रूप में गिरा जो छक्‍का उड़ाने की कोशिश में बुमराह की गेंद पर भुवनेश्‍वर के हाथों कैच किए गए. भारत के लिए मो. शमी और जसप्रीत बुमराह ने तीन-तीन विकेट लिए. भुवनेश्‍वर और हार्दिक पंड्या के खाते में दो-दो विकेट आए.दक्षिण अफ्रीका की दूसरी पारी समाप्‍त होते ही लंच घोषित कर दिया गया.
    विकेट पतन: 52-1 (मार्कराम, 14.6),  59-2 (एल्‍गर, 16.4),,66-3 (अमला, 21.3), 73-4 (रबाडा, 25.5), 82-5 (डु प्‍लेसिस, 28.4), 92-6 (डिकॉक, 30.4), 95-7 (फिलेंडर, 33.4), 122-8 (महाराज, 38.4), ,130-9 (मोर्केल, 40.2), 130-10 (डिविलियर्स, 41.2)
    चायकाल के समय तक भारत के गिर चुके थे 7 विकेट
    दक्षिण अफ्रीका के लिए पहला ओवर वेर्नोन फिलेंडर ने फेंका जिसमें एक रन बना. मोर्ने मोर्केल की ओर से फेंके गए पारी के दूसरे ओवर में भी एक रन आया. पारी के तीसरे ओवर में अम्‍पायर ने फिलेंडर की गेंद पर विजय को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट दे दिया था लेकिन रिव्‍यू में विजय बचने में सफल रहे.भारतीय पारी का पहला चौका पारी के चौथे ओवर में विजय ने मोर्केल की गेंद पर जमाया.धवन ने इसके बाद अगले दो ओवरों में भी चौके लगाए.किस्‍मत आज मुरली विजय पर मेहरबान थी. पारी के सातवें ओवर में उन्‍हें फिलेंडर की गेंद पर अम्‍पायर ने विकेट के पीछे आउट दे दिया था लेकिन रिव्‍यू में वे फिर बचने में सफल रहे. पारी के 8वें और 9वें ओवर में भारत को दो झटके लगे और दोनों ओपनर शिखर धवन (16) और मुरली विजय (13) पेवेलियन लौट गए. धवन को जहां मोर्ने मोर्केल ने अतिरिक्‍त खिलाड़ी क्रिस मॉरिस से कैच कराया, वहीं विजय का कैच फिलेंडर की गेंद पर एबी डिविलियर्स ने लपका.भारत का तीसरा विकेट चेतेश्‍वर पुजारा (4 रन, 13 गेंद) के रूप में गिरा, जिन्‍हें मोर्केल ने विकेटकीपर डिकॉक से कैच कराया. तीन विकेट गिरने से मुश्किल में फंसी भारतीय टीम को विराट कोहली और रोहित शर्मा की जोड़ी ने 50 रन के पार पहुंचाया.दक्षिण अफ्रीका टीम ने दूसरी पारी में प्रमुख तेज गेंदबाज डेल स्‍टेन की कमी बेहद खली.वे मैच के दौरान चोटिल होकर पूरी सीरीज से बाहर हो गए हैं.
    टीम इंडिया को सबसे बड़ा झटका पारी के 22वें ओवर में वेर्नोन फिलेंडर ने कप्‍तान विराट कोहली (28रन, 40 गेंद, चार चौके) को एलबीडब्‍ल्‍यू करके दिया. अगले ही ओवर में दक्षिण अफ्रीका को रोहित शर्मा का विकेट भी मिल सकता था लेकिन रबाडा की गेंद पर केशव महाराज ने उनका बेहद आसान कैच छोड़ दिया.टीम इंडिया को सबसे बड़ा झटका पारी के 22वें ओवर में वेर्नोन फिलेंडर ने कप्‍तान विराट कोहली (28रन, 40 गेंद, चार चौके) को एलबीडब्‍ल्‍यू करके दिया. अगले ही ओवर में दक्षिण अफ्रीका को रोहित शर्मा का विकेट भी मिल सकता था लेकिन रबाडा की गेंद पर केशव महाराज ने उनका बेहद आसान कैच छोड़ दिया.बहरहाल, रोहित (10 रन, 30 गेंद)ने इसके बाद अपना विकेट गंवाने में ज्‍यादा देर नहीं लगाई और अगले ही ओवर में फिलेंडर की गेंद पर बोल्‍ड हो गए.टीम इंडिया के अगले दो विकेट हार्दिक पंड्या (1)और ऋद्धिमान साहा (8) के रूप में गिरे.चाय के समय तक ही 82 रन पर सात विकेट गंवाते हुए टीम इंडिया हार के बेहद करीब पहुंच गई थी.
    135 रन पर ढेर हुई भारत की 'मजबूत' बल्‍लेबाजी
    चाय के बाद अश्विन और भुवनेश्‍वर ने भारतीय टीम के स्‍कोर को किसी तरह 100 रन के पार पहुंचाया. 35 ओवर के बाद स्पिनर केशव महाराज को गेंदबाजी के लिए लाया गया.उनका ओवर मेडन रहा.पारी के 43वें ओवर में तीन विकेट गिरने के साथ ही भारतीय टीम 135 रन पर ढेर हो गई. चाय के बाद भारत का पहला विकेट अश्विन (37रन, 53 गेंद, पांच चौके) के रूप में गिरा जिन्‍हें फिलेंडर ने डिकॉक से कैच कराया. इसी ओवर की तीसरी और चौथी गेंद पर मो. शमी (4) और जसप्रीत बुमराह (8) आउट हो गए. दक्षिण अफ्रीका के लिए वेर्नोन फिलेंडर ने 42 रन देकर सर्वाधिक 6 विकेट लिए. मोर्केल और रबाडा के खाते में दो-दो विकेट आए.
    विकेट पतन: 30-1 (धवन, 7.5), 30-2 (विजय, 8.5), ,39-3 (पुजारा, 12.2), ,71-4 (कोहली, 21.4), 77-6 (पंड्या, 24.1), 82-7 (साहा, 28.6),  ,131-8 (अश्विन, 42.1), 135-9 (शमी, 42.3), 135-10 (बुमराह, 42.4)
    गौरतलब है कि दुनिया की नंबर एक टीम भारत ने दूसरे स्थान की टीम दक्षिण अफ्रीका पर मजबूत बढ़त बना रखी है और अगर टीम को टेस्ट सीरीज में 0-3 से क्लीन स्वीप का सामना करना पड़ता है तो भी वह अपनी शीर्ष रैंकिंग नहीं गंवाएगी.
    दक्षिण अफ्रीका में हालांकि भारत का रिकॉर्ड काफी खराब है जहां उसने छह में से पांच सीरीज गंवाई हैं जबकि एक ड्रॉ रही. भारत ने 1992 से दक्षिण अफ्रीका की सरजमीं पर खेले 17 टेस्ट में से सिर्फ दो में जीत दर्ज की है. टीम ने एक जीत 2006-07 में राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में जबकि एक 2010-11 में महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में दर्ज की.भारत ने हालांकि पिछले दो दौरों पर दक्षिण अफ्रीका में बेहतर प्रदर्शन किया है. टीम ने 2010-11 में सीरीज ड्रॉ कराई जबकि 2013-14 में उसे कड़ी टक्कर देने के बावजूद हार का सामना करना पड़ा.
    दोनों टीमें इस प्रकार थीं
    दक्षिण अफ्रीका: फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), डीन एल्गर, एडेन मार्कराम, हाशिम अमला, एबी डिविलियर्स, क्विंटन डिकॉक, वर्नोन फिलेंडर, केशव महाराजा, डेल स्‍टेन, कागिसो रबाडा और मोर्ने मोर्केल.
    भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, रोहित शर्मा, ऋद्धिमान साहा, हार्दिक पंड्या, आर. अश्विन, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह. (एनडीटीवी)

    ...
  •  


Posted Date : 08-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 8 जनवरी : दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्ट के दिन भारतीय सीमरों ने झंडे गाड़े, तो दक्षिण अफ्रीकियों को सिमटने में विकेट के पीछे विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा ने भारतीय क्रिकेट इतिहास का सबसे बड़ा कारनामा कर कर डाला. साहा का कारनामा तो बड़ा रहा ही, इसके पीछे वजह भी बड़ी रही.
    यह विकेट के पीछे साहा और गेंदबाजों को मिला-जुला योगदान ही रहा कि दक्षिण अफ्रीकी दूसरी पारी में 130 रन पर ही ढेर हो गए. ऋद्धिमान साहा विकेट के पीछे धोनी के सर्वाधिक शिकार को पीछे छोड़कर इस मामले में भारत के पहले विकेटकीपर बन गए. लेकिन यह रिकॉर्ड एक खास बात के चलते वेरी-वेरी स्पेशल बन गया. 
    ऋद्धिमान साहा से पहले यह कारनामा पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने किया था. और यह उन्होंने किया था साल 2014-15 के ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान. तब धोनी ने विकेट के पीछे नौ शिकार किए थे, लेकिन ऋद्धिमान साहा न केवल केपटाउन में उनसे आगे निकल गए, बल्कि उन्होंने एक ऐसे खास अंजाम में यह रिकॉर्ड बनाया, जो किसी भी विकेटकीपर के लिए तोड़ना आसान नहीं होगा. साहा धोनी के रिकॉर्ड को पार करते हुए विकेट के पीछे दस शिकार करने वाले पहले भारतीय विकेटकीपर बन गए. चलिए अब इस  रिकॉर्ड की सबसे खास बात भी जान लीजिए.
    दरअसल ऋद्धिमान साहा के विकेट के पीछ किए गए दस शिकारों की सबसे खास बात यह रही कि उन्होंने सभी शिकार कैच के रूप में किए. वास्तव में मैच में ग्यारह कैच लेकर साहा को पीछे छोड़ना किसी भारतीय विकेटकीपर के लिए आसान नहीं होगा. (एनडीटीवी)

    ...
  •  


Posted Date : 08-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 8 जनवरी । दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर की बेटी सारा को परेशान करने के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है, 32 साल का देवकुमार मैती पश्चिम बंगाल के पूर्वी मिदनापुर जिले का रहने वाला है। पुलिस के मुताबिक उसने सचिन तेंदुलकर के घर में कई बार फोन किए और सारा के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणियां कीं। यही नहीं, उसने सारा के अपहरण की भी धमकी दी।
    पुलिस के मुताबिक देवकुमार का कहना है कि उसने सारा तेंदुलकर को टीवी पर एक मैच के दौरान देखा था। इसके बाद से वह सचिन तेंदुलकर के घर पर फोन करने लगा। इसके बाद सारा ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस के मुताबिक अभी यह साफ नहीं है कि इस शख्स को सचिन तेंदुलकर के घर का फोन नंबर कैसे मिला।
    उधर, देवकुमार के घरवालों का कहना है कि वह मानसिक रूप से अस्थिर है। रिश्तेदारों के मुताबिक बीते आठ साल से उसका इलाज चल रहा है। दूसरी तरफ, मुंबई पुलिस ने कहा है कि इस दावे की सच्चाई जानने के लिए ट्रांजिट रिमांड पर लेने के बाद उसकी मानसिक जांच की जाएगी। (इंडियन एक्सप्रेस)

     

    ...
  •  


Posted Date : 07-Jan-2018
  • रतनाम, 7 जनवरी : भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच शुरू हुए पहले टेस्ट में विराट कोहली सिर्फ 5 रन बनाकर पवेलियन वापस लौट गए, जो कि उनके फैंस को बिल्कुल पसंद नहीं आया। इसे लेकर सोशल मीडिया पर भी फैंस का गुस्सा देखने को मिला। इनमें से एक फैन ने तो विराट के जल्दी आउट होने की बाद पर खुद को केरोसिन डालकर आग ही लगा दी। दरअसल, पहले दिन मेजबान टीम 286 रनों पर ऑलआउट हो गई थी। इसके बाद इंडिया की शुरुआत काफी खराब रही। टीम इंडिया पहले दिन के खेल खत्म होने तक 11 ओवर में तीन विकट खोकर 28 रन बना चुके थे। टीम के कप्तान विराट कोहली भी 5 रन बनाकर आउट हो गए। ऐसे में पहले दिन का मैच खत्म होने तक रोहित शर्मा और चेतेश्वर पुजारा क्रीज पर मौजूद थे। कोहली का जल्दी आउट होना उनके फैन को बहुत खला और गुस्से में खुद को मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी। हालांकि उन्हें बचा लिया गया। 
    खबरों की मानें तो घटना रतनाम की है, जहां आंबेडकर नगर निवासी डीजल शेड के सेवानिवृत्त कर्मचारी बाबूलाल बैरवा (63) ने अपने शरीर पर मिट्टी का तेल छिड़क कर आग लगा ली। दरअसल, विराट के प्रति उनकी इतनी दीवानगी थी कि वो विराट के जल्दी आउट होने के चलते खुद को रोक नहीं पाए। हालांकि, थोड़ा बहुत झुलसने के बाद उनको पास के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया।
    ता दें कि केपटाउन में चल रहा मैच बैरवा घर पर देख रहे थे, तभी कोहली का अचानक आउट होना उन्हें अच्छा नहीं लगा। उसके बाद ही उन्होंने ऐसी घटना को अंजाम दिया। हालांकि उनकी पत्नी और घर के बाहर खड़े लोगों ने आग बुझाई। जानकारी के मुताबिक आग बुझाने तक बैरवा का चेहरा, सिर और हाथ झुलस गए थे। हालांकि, मामले की जांच की जा रही है। (लाइव हिन्दुस्तान)  

    ...
  •  


Posted Date : 07-Jan-2018
  • चेन्नई, 7 जनवरी । एक समय भारत के सफलतम विकेटकीपर रहे सैयद किरमानी ने शनिवार को अपने एक फैसले से पलटकर लोगों को चौंका दिया। दरअसल, किरमानी ने एक कार्यक्रम में अपनी आंखें दान करने का संकल्प लिया था, लेकिन बाद में उन्होंने अपना फैसला बदल लिया। आंखें दान करने के लिए जागरुकता फैलाने को रोटरी राजन आइ-बैंक और रोटरी क्लब ऑफ मद्रास द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में भारत के पूर्व विकेटकीपर ने अपनी आंखें दान करने का संकल्प लिया था।
    जागरुकता कार्यक्रम के दौरान किरमानी ने कहा, मैं अपनी आंखें दान कर रहा हूं, आप भी आंखें दान करें। 
    इसके अलावा आंखें दान करने के बारे में उन्होंने कहा, एक उम्र के बाद ही आपके अंदर आंखें दान करने का विचार आता है। अगर हमारी तरह और भी जानेमाने चेहरे इसके लिए आगे आएं तो यह काफी मददगार साबित होगा। 
    किरमानी ने कहा कि आंखें दान करने का उनका फैसला क्षणिक उत्साह का नतीजा था। किरमानी के मुताबिक, वह अपनी धार्मिक मान्यताओं के सम्मान में इस फैसले को अंजाम तक नहीं पहुंचा सकते। उन्होंने कहा, मैं एक भावुक इंसान हूं। उस वक्त मैं इतना भावुक हो गया था कि मैंने अपनी आंखें दान करने का संकल्प ले लिया। हालांकि, अपनी धार्मिक मान्यताओं के सम्मान में मेरे लिए ऐसा करना संभव नहीं है।(टाईम्स न्यूज)

     

    ...
  •  


Posted Date : 07-Jan-2018
  • केपटाउन, 7 जनवरी। दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर गई भारतीय क्रिकेट टीम को केपटाउन में रहने के दौरान दो मिनट से अधिक न नहाने की हिदायत दी गई है। केपटाउन में पानी की काफी कमी होने के चलते ऐसा किया गया है। पानी के इस्तेमाल को लेकर नए नियम एक जनवरी से लागू हुए हैं। इसी दिन भारतीय टीम पहले टेस्ट मैच के लिए यहां पहुंची।
    शुक्रवार को स्थानीय तापमान 27 डिग्री था। भारतीय क्रिकेटर दिन का खेल खत्म होने के बाद जब होटल में लौटे तो उन्हें पानी कम इस्तेमाल करने को लेकर कई बार आधिकारिक तौर पर संदेश दिए गए।
    भारतीय टीम में शामिल कई खिलाड़ी भारत के उन इलाकों से आते हैं जहां पानी की कमी है इसलिए वो इस आग्रह को समझते हैं। लेकिन खिलाड़ी नहाने का समय तय नहीं कर रहे हैं।
    केपटाउन में रहने वाले लोगों को हर महीने 10,500 लीटर या हर रोज प्रति व्यक्ति 87 लीटर पानी इस्तेमाल करने की सीमा निर्धारित है। पानी की कमी के चलते इसी सप्ताह ये नियम लागू किया गया है।
    शहर में लगातार कम हो रही पानी की सप्लाई की वजह से एक दिन पानी न होने का संकट मंडरा रहा है। शहर की मेयर पैट्रिसिया डे लिले ने आशंका जताई है कि जिस रफ्तार से पानी खर्च किया जा रहा है, अप्रैल या मई में लोगों को बिल्कुल भी पानी नहीं मिल पाएगा।
    तीन साल के सूखे की वजह से बांध एक तिहाई से भी कम भरे हैं। रेडियो फ्रांस इंटरनेशनल का कहना है कि डे जीरो तब होगा जब रिजर्व पानी का 14 फीसदी खत्म हो जाएगा। इससे शहर के लोगों को 200 कलेक्शन प्वाइंट पर जाकर पानी लाना होगा।
    आई विटनेस न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, संकट से बचने के लिए जहां अधिकतर लोग पाबंदियों का पालन कर रहे हैं वहीं, दो लाख घरों में अभी भी 10,500 लीटर की सीमा से अधिक पानी इस्तेमाल हो रहा है। अगर उन्होंने नियम तोडऩा जारी रखा तो उन पर करीब 50 हजार रुपये तक जुर्माना लगाया जा सकता है।
    शहर की मेयर का कहना है कि अगर लोगों ने नियम तोडऩा जारी रखा तो पानी इस्तेमाल की सीमा और घटाई जा सकती है। दक्षिण अफ्रीकियों को हो रही इस मुश्किल के बीच इंडियन एक्सप्रेस ने एक अच्छी खबर निकाली है।
    पानी का स्तर नीचे होने और पिच में नमी कम होने का फायदा भारतीय टीम को मिलेगा क्योंकि वो ऐसी पिच पर खेलने के आदी हैं। टेस्ट मैच के पहले ही दिन पिच ने भारत का साथ दिया और दक्षिण अफ्रीकी टीम बड़ा स्कोर नहीं खड़ा कर सकी। हालांकि भारतीय टीम भी पहली पारी में लडख़ड़ा गई। (इंडियन एक्सप्रेस)

    ...
  •