खेल

Posted Date : 08-Dec-2017
  • नागपुर, 8 दिसंबर। नागपुर की कंचनमाला पांडे ने गुरुवार को इतिहास रच दिया। नेत्रहीन कंचनमाला वल्र्ड पैरा स्विमिंग चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने वाली भारत की पहली तैराक बनी। मैक्सिको में चल रही इस प्रतियोगिता में कंचनमाला ने यह कीर्तिमान हासिल किया। एस-11 श्रेणी में 200 मीटर के मेडली इवेंट में यह खिताब जीता। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया में काम करने वालीं कंचनमाला को मैक्सिको में पदक जीतने की तो उम्मीद थी लेकिन गोल्ड मेडल के बारे में उन्होंने विचार नहीं किया था। 
    उन्होंने पदक जीतने के बाद कहा, मैंने वल्र्ड चैंपियनशिप की अच्छी तैयारी की थी। मुझे मैक्सिको में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद थी। लेकिन गोल्ड मेडल जीतकर मैं हैरान हूं। मैं बहुत खुश हूं। मैं अपनी खुशी को लफ्जों में बयान नहीं कर पा रही हूं।
    26 वर्षीय कंचनमाला भारत की ओर से क्वॉलिफाइ करने वाली इकलौती महिला तैराक थीं। वह हालांकि अन्य इवेंट्स में पोडियम तक नहीं पहुंच पाईं, 100 मीटर फ्रीस्टाइल में वह पदक से चूक गईं। ब्रेस्टस्ट्रोक और बैकस्ट्रोक में वह पांचवें स्थान पर रहीं। (टाईम्स न्यूज)

    ...
  •  


Posted Date : 07-Dec-2017
  • नई दिल्ली, 7 दिसंबर। भारत की टेनिस स्टार सानिया मिर्जा को क्रिकेट किस हद तक पसंद है यह तो सब जानते हैं। स्टेडियम में बैठकर क्रिकेट मैच देखते हुए सानिया मिर्जा को कई बार देखा गया है। वह टेनिस तो खेलती ही हैं, लेकिन क्रिकेट को भी खासा एन्जॉय करती हैं। पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से शादी करने वाली सानिया मिर्जा ने अपने फैन्स के कुछ सवालों के जवाब देते हुए एक बार फिर यह साबित कर दिया है कि उन्हें क्रिकेट कितना पसंद है। ट्विटर के माध्यम से पूछे गए सवालों का जवाब टेनिस स्टार सानिया ने इस अंदाज में दिया है जिसे जानकर आपका दिल खुश हो जाएगा।
    दरअसल उनके फैन्स ने ट्विटर पर उनसे क्रिकेट से संबंधित कुछ दिलचस्प सवाल पूछे थे, सानिया ने वक्त निकालकर उन सभी सवालों के जवाब दिए और बहुत ही उम्दा तरीके से दिए। सानिया ने अपने पसंदीदा इंडियन क्रिकेटर्स के नाम तो बताए ही, साथ ही उन्होंने फेवरेट श्रीलंकन क्रिकेटर का नाम भी लोगों को बताया। इसके अलावा फुरसत के पलों में सानिया क्या करती हैं, इसके बारे में भी उन्होंने ट्विटर के माध्यम से बताया।
    भारतीय टेनिस स्टार से जब उनके एक फैन ने सवाल किया कि वह खाली समय में क्या करना पसंद करती हैं। तब सानिया ने मजाकिया जवाब देते हुए कहा, ‘कुछ भी नहीं’। इसके अलावा जब उनसे पसंदीदा इंडियन क्रिकेटर का नाम पूछा गया, तब उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी’। वहीं सानिया के एक अन्य फैन ने उनके पसंदीदा श्रीलंकन क्रिकेटर के बारे में पूछा तो जवाब मिला, ‘कुमार सांगाकारा’। इसके बाद उनसे एक अन्य ट्विटर यूजर ने विराट कोहली के बारे में एक शब्द में कुछ बताने का आग्रह किया, तब सानिया ने ‘चैम्पियन’ लिखकर जवाब दिया। (जनसत्ता)

    ...
  •  


Posted Date : 07-Dec-2017
  • नई दिल्ली, 7 दिसंबर । श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में सबसे सफल बल्लेबाज विराट कोहली आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में दूसरे स्थान पर पहुंच गए हैं। बुधवार को जारी टेस्ट बल्लेबाजों की रैंकिंग में विराट पांचवें से दूसरे स्थान पर आ चुके हैं। जबकि ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ शीर्ष पर बरकरार हैं।
    कोहली ने टेस्ट सीरीज में 152.50 की बेहतरीन औसत से कुल 610 रन जुटाए और मैन ऑफ द सीरीज रहे। जबर्दस्त फॉर्म में चल रहे विराट ने दो लगातार दोहरे शतक (213, 243 ) के अलावा एक नाबाद शतक (104*) भी जमाया। इसके साथ ही विराट 3 मैचों  मैचों की टेस्ट सीरीज में 600+ रन बनाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बने।
    1. स्टीव स्मिथ, रेटिंग 938, 2. विराट कोहली, रेटिंग 893, 3. जो रूट, रेटिंग 879, 4. चेतेश्वर पुजारा, रेटिंग 873, 5. केन विलियमसन, रेटिंग 865 है। (आज तक)

    ...
  •  


Posted Date : 07-Dec-2017
  • राजनांदगांव, 7 दिसंबर। 63वीं राष्ट्रीय शालेय बास्केटबॉल में छत्तीसगढ़ राज्य की चारों टीमों ने शानदार प्रदर्शन करते पदक प्राप्त किए हैं। यह प्रतिस्पर्धा गत् दिवस 1 से 5 दिसंबर तक नई दिल्ली में आयोजित की गई थी। जिसमें सीबीएसई डब्ल्यूएसओ की बालक एवं बालिका तथा छत्तीसगढ़ की बालक-बालिका टीमों ने भाग लिया। गत् 5 दिसंबर को प्रतिस्पर्धा का समापन समारोह आयोजित किया गया। जिसमें छत्तीसगढ़ की बालक टीम को कांस्य पदक, बालिका टीम को रजत पदक, सीबीएसई डब्ल्यूएसओ की बालक टीम को रजत पदक और सीबीएसई डब्ल्यूएसओ बालिका टीम को कांस्य पदक प्राप्त हुए हैं।
    ज्ञात हो कि छत्तीसगढ़ राज्य की टीम को छत्तीसगढ़ शासन तथा सीबीएसई डब्ल्यूएसओ की टीम को सीबीएसई की मान्यता प्राप्त विद्यालय युगांतर पब्लिक स्कूल ने भेजा। सीबीएसई डब्ल्यूएसओ की टीम में सीबीएसई मान्यता प्राप्त स्कूलों के विद्यार्थी शामिल रहे। उल्लेखनीय है कि प्रतिस्पर्धा में सीबीएसई डब्ल्यूएसओ की टीम को कनवीनर टीम बनाने की जिम्मेदारी सीबीएसई ने युगांतर पब्लिक स्कूल राजनांदगांव को सौंपी थी। जिसके तहत विद्यालय में प्रशिक्षण शिविर लगाकर खिलाडिय़ों का चयन किया गया।
    प्रतिस्पर्धा में भाग लेने के लिए सीबीएसई डब्ल्यूएसओ की टीम को युगांतर पब्लिक स्कूल के द्वारा भेजा गया। सीबीएसई डब्ल्यूएसओ की बालक एवं बालिका तथा छत्तीसगढ़ की बालक-बालिका टीमों के साथ अंतर्राष्ट्रीय बास्केटबॉल प्रशिक्षक के राजेश्वर राव, विद्यालय के खेल अधिकारी दिनेश प्रताप सिंह, बास्केटबॉल प्रशिक्षक उमेभा सिंह ठाकुर एवं टीम मैनेजर किशोर मेहरा एवं निकिता आडिल गए हुए हैं। प्रतिस्पर्धा में शानदार प्रदर्शन करने के लिए विद्यालय के प्राचार्य, चेयरमैन विनय डड्ढा, प्रबंध समिति, एकेडमिक हेड शैलजा एम नायर एवं शिक्षक-शिक्षिकाओं ने बधाई दी है।

     

     

    ...
  •  


Posted Date : 06-Dec-2017
  • 5वें दिन की समाप्ति पर श्रीलंका का स्‍कोर 5 विकेट पर 299 रन था
    धनंजय डिसिल्‍वा ने जमाया शतक, रोशन सिल्‍वा ने 44 रन बनाए

    तीन मैचों की सीरीज टीम इंडिया ने 1-0 से जीती

    नई दिल्‍ली, 6 दिसम्बर: जीत के साथ टेस्‍ट सीरीज का समापन करने की टीम इंडिया की हसरत यहां अधूरी रह गई. श्रीलंका टीम ने सीरीज के तीसरे टेस्‍ट के अंतिम दिन आज जबर्दस्‍त संघर्ष क्षमता दिखाई और दूसरा टेस्‍ट ड्रॉ कराकर अपने सम्‍मान को एक हद तक बचा लिया. पांचवें दिन का खेल जब समाप्‍त घोषित किया गया, उस समय श्रीलंका की दूसरी पारी का स्‍कोर 103 ओवर में 5 विकेट पर 299 रन था. रोशन सिल्‍वा 74 और निरोशन डिकवेला 44 रन बनाकर नाबाद थे. इन दोनों बल्‍लेबाजों के अलावा धनंजय डिसिल्‍वा के शतक का भी मैच ड्रॉ कराने में खास योगदान रहा. डिसिल्‍वा 119 रन बनाकर रिटायर हुए. टीम इंडिया तीन टेस्‍ट की सीरीज 1-0 से जीतने में सफल रही. भारतीय टीम ने नागपुर में हुआ दूसरा टेस्‍ट जीता था जबकि कोलकाता का पहला और दिल्‍ली का तीसरा टेस्‍ट ड्रॉ रहा. मैच के अंतिम दिन भारतीय गेंदबाज श्रीलंका के केवल दो विकेट ही गिरा पाए. टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली और मैच और सीरीज का सर्वश्रेष्‍ठ खिलाड़ी घोषित किया गया. 

    भारतीय टीम ने पहली पारी सात विकेट पर 536 रन बनाकर घोषित की थी जिसमें जवाब में श्रीलंका की पहली पारी 373 रन पर समाप्‍त हुई थी. भारत ने दूसरी पारी पांच विकेट पर 246 रन बनाने के बाद घोषित कर श्रीलंका को मैच में जीत के लिए 410 रन का लक्ष्‍य दिया था.

    पहला सेशन: श्रीलंका टीम ने गंवाया केवल एक विकेट
    पांचवें दिन का पहला ओवर तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने फेंका जिसमें तीन रन बने. भारतीय टीम को आज चौथी सफलता के लिए ज्‍यादा इंतजार नहीं करना पड़ा. लेग स्पिनर रवींद्र जडेजा ने पारी के 22वें ओवर में एंजेलो मैथ्‍यूज (1) को पहले स्लिप में कैच करा दिया. पहली पारी के शतक जमाने वाले मैथ्‍यूज के आउट होने से श्रीलंका की मैच बचाने की उम्‍मीदों को करारा झटका लगा. ईशांत और जडेजा से गेंदबाजी की शुरुआत कराने वाले विराट कोहली ने पारी के 27वें ओवर में शमी को वापस आक्रमण पर लगाया.

    पांचवें दिन शानदार बल्‍लेबाजी कर रहे युवा धनंजय डिसिल्‍वा ने जल्‍द ही टेस्‍ट करियर का अपना तीसरा अर्धशतक पूरा किया. उनके 50 रन 92 गेंद पर आठ चौकों और एक छक्‍के की मदद से पूरे हुए. इसी दौरान धनंजय ने चंदीमल के साथ पांचवें विकेट के लिए अर्धशतकीय साझेदारी पूरी की. श्रीलंका टीम के 100 रन 38.4 ओवर में पूरे हुए.पहला सेशन श्रीलंका के लिए इस लिहाज से महत्‍वपूर्ण रहा कि उसने 35 के स्‍कोर पर मैथ्‍यूज के रूप में चौथा विकेट गंवाने के बाद और कोई नुकसान नहीं उठाया. लंच के ठीक पहले जडेजा की गेंद पर दिनेश चंदीमल के खिलाफ जोरदार अपील हुई थी लेकिन नोबॉल के कारण यह मौका हाथ से जाता रहा. लंच के समय श्रीलंका का स्‍कोर चार विकेट पर 119 रन था.

    दूसरा सेशन: शतक बनाने के बाद रिटायर हुए डिसिल्‍वा
    दूसरे सेशन में टीम इंडिया को जल्‍दी विकेट की जरूरत थी और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन टीम के लिए यह सफलता लेकर आए. उन्‍होंने पहली पारी में 164 रन की बेहतरीन पारी खेलने वाले श्रीलंका के कप्‍तान दिनेश चंदीमल (36 रन, 90 गेंद, दो चौके) को बोल्‍ड कर दिया. दूसरे छोर से धनंजय डिसिल्‍वा की शानदार बल्‍लेबाजी जारी थी, मुश्किल वक्‍त में श्रीलंका के लिए धनंजय डिसिल्‍वा ने जुझारू पारी खेली. लंच के बाद उन्‍होंने अपना तीसरा टेस्‍ट शतक पूरा किया. इस दौरान धनंजय ने 188 गेंदों का सामना करते हुए 13 चौके और एक छक्‍का लगाया.

    शतक पूरा करने के बाद डिसिल्‍वा को मुश्किल जीवनदान मिला जब रविचंद्रन अश्विन अपनी ही गेंद पर उनका कैच लपकने से चूक गए. हालांकि धनंजय का यह शॉट बेहद तेज था लेकिन इसकी ऊंचाई ऐसी थी कि यह लपका जा सकता था.श्रीलंका के 200 रन 73.2 ओवर में पूरे हुए. श्रीलंका का स्‍कोर जब 205 रन था तब डिसिल्‍वा ने हर किसी को हैरान करते हुए रिटायर होने का फैसला किया. चाय के समय 81 ओवर में श्रीलंका की दूसरी पारी का स्‍कोर पांच विकेट पर 226 रन था.

    तीसरे सेशन में कोई विकेट नहीं गिरा पाए भारतीय गेंदबाज
    चायकाल के बाद रोशन सिल्‍वा और निरोशन डिकवेला ने शानदार बल्‍लेबाजी जारी रखी. समय गुजरने के साथ भारत की जीत की उम्‍मीदें कम होती जा रही थीं. रोशन सिल्‍वा ने अपने पहले ही टेस्‍ट में अर्धशतक जमाया. उनके 50 रन 105 गेंद पर 9 चौकों की मदद से पूरे हुए. 103 ओवर के बाद जब श्रीलंका का स्‍कोर 5 विकेट पर 299 रन था तब दोनों कप्‍तान की सहमति से खेल समाप्‍त घोषित कर दिया गया. भारत के लिए रवींद्र जडेजा ने सर्वाधिक तीन विकेट लिए. शमी और अश्विन को एक-एक विकेट मिला.

    इससे पहले, विशाल लक्ष्‍य के बोझ तले दबी श्रीलंका टीम की दूसरी पारी की शुरुआत मंगलवार को खराब हुई. पारी के छठे ओवर में मोहम्‍मद शमी ने सदीरा समरविक्रमा (5) को विकेटकीपर साहा से कैच कराकर भारत को पहली कामयाबी दिलाई. पारी के 16वें ओवर में लेग स्पिनर रवींद्र जडेजा ने दिमुथ करुणारत्‍ने (13) और नाइट वाचमैन सुरंगा लकमल (0) को आउट कर श्रीलंका की हालत खस्‍ता कर दी. तीसरे दिन का खेल जब समाप्‍त घोषित किया गया उस समय धनंजय डिसिल्‍वा 13 और एंजेलो मैथ्‍यूज बिना कोई रन बनाए क्रीज पर थे.

    विकेट पतन: 14-1 (समरविक्रमा, 5.5), 31-2 (करुणारत्‍ने, 15.1), 31-3 (लकमल, 15.4), 35-4 (मैथ्‍यूज, 21.6), 147-5 (चंदीमल, 54.6)

    दूसरी पारी में भारत के धवन, विराट और रोहित ने जमाए थे अर्धशतक
    दूसरी पारी में भारतीय टीम ने पांच विकेट पर 246 रन बनाने के बाद पारी घोषित कर दी थी. टीम इंडिया के इस स्‍कोर में उसके तीन बल्‍लेबाजों शिखर धवन, विराट कोहली और रोहित शर्मा ने अर्धशतक जमाए थे.धवन ने 67, कोहली ने 50 और रोहित ने नाबाद 50 रन की पारी खेली थी जबकि चेतेश्‍वर पुजारा ने 49 रन बनाए थे.

    ...
  •  


Posted Date : 06-Dec-2017
  • नई दिल्ली, 6 दिसंबर। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने श्री लंका के खिलाफ सीरीज के बाद कहा कि वह पिछले करीब दो साल से लगातार खेल रहे हैं और इस वजह से वह काफी थक गए है। कोहली ने कहा कि इसी वजह से वह श्री लंका के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज में नहीं खेल रहे हैं। लेकिन सूत्रों की मानें तो विराट के आराम करने की वजह कुछ और ही है।
    अगर खबरों पर यकीन करें तो विराट इस खाली समय में फिल्म अभिनेत्री अनुष्का शर्मा जल्द ही शादी कर सकते हैं। खबरों के मुताबिक विराट और अनुष्का 9, 10 या 11 दिसंबर को शादी कर सकते हैं। खबरों मुताबिक विराट और अनुष्का इटली के मिलान शहर में शादी कर सकते हैं। अनुष्का के प्रवक्ता ने हालांकि इन खबरों का खंडन किया है। 
    भारत को श्रीलंका के बाद 5 जनवरी से साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भाग लेना है।  हालांकि विराट या अनुष्का की ओर से इस बारे में अभी आधिकारिक रूप से कोई बयान नहीं दिया गया है। पर इंडिया टुडे का कहना है कि 9 से 11 दिसंबर तक फैशन डिजाइनर बुक कर लिए गए हैं। 
    विराट और अनुष्का पिछले काफी समय से रिलेशनशिप में हैं। दोनों अपने रिश्ते को लेकर काफी खुलकर बात करते रहे हैं लेकिन शादी को लेकर दोनों ने ज्यादा बात नहीं की है। 
    हालांकि अनुष्का शर्मा के प्रवक्ता ने इन खबरों का खंडन किया है। उन्होंने पीटीआई से कहा कि 11-13 दिसंबर के बीच अनुष्का शर्मा और विराट कोहली की शादी की खबरों में कोई सच्चाई नही है। उन्होंने कहा, इन खबरों में कोई सच्चाई नहीं है। ये बातें कोरी अफवाह हैं। 
    हालांकि विराट कोहली ने श्री लंका के खिलाफ सीमित ओवरों की सीरीज से आराम लेने के बाद इन खबरों को बल मिला था कि विराट और अनुष्का शादी करने वाले हैं।   (नवभारत टाईम्स)

    ...
  •  


Posted Date : 06-Dec-2017
  • नई दिल्ली, 6 दिसंबर। अफशां आशिक जहां असंतुष्ट छात्रा के रूप में श्रीनगर की गलियों में पुलिस पर पत्थर फेंकने वाली लड़कियों के गुट की अगुवाई करती थीं, लेकिन पत्थर फेंकने वालों छात्रों की यह पोस्टर गर्ल अब जम्मू कश्मीर महिला फुटबॉल टीम की कप्तान बन गयी हैं जो एक स्वप्निल बदलाव है और यह एक तरह से कश्मीरियों के दिलों को जीतने की सरकारी दास्तां भी बयां करता है।
    इस 21 वर्षीय खिलाड़ी ने बीते दिन यहां केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात करके उन्हें राज्य में खिलाडिय़ों के सामने आने वाली समस्याओं से अवगत कराया और मदद की गुहार लगायी और कहा कि वह वापस मुड़कर नहीं देखना चाहतीं।
    अफशां की जिंदगी पर जल्द ही फिल्म बनायी जा सकती है। उन्होंने कहा, मेरी जिंदगी हमेशा के लिये बदल गयी। मैं विजेता बनना चाहती हूं और राज्य और देश को गौरवान्वित करने के लिये कुछ करना चाहती हूं। बालीवुड के मशहूर फिल्मकार अफशां की कहानी पर फिल्म बनाने की योजना बना रहे हैं लेकिन अपने नाम का खुलासा नहीं करना चाहते। वह 22 सदस्यीय फुटबॉल टीम को लेकर गृहमंत्री से मिलने पहुंची। सिंह ने टीम को मिलने के लिये बुलाया था।
    आधे घंटे तक चली बैठक में गृहमंत्री से कहा कि अगर जम्मू कश्मीर में उचित खेल आधारभूत ढांचा तैयार किया जाता है तो युवा आतंकवाद और अन्य गैरकानूनी 
    गतिविधियों से इतर अपने कौशल को निखारने के लिये प्रेरित होंगे और राज्य का नाम चमकाएंगे।
    टीम की कप्तान अफशां ने कहा कि जब हमने गृहमंत्री से कहा कि जम्मू कश्मीर में खेल आधारभूत ढांचे की कमी है उन्होंने तुरंत मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से फोन पर बात की और उनसे जरूरी मदद करने का आग्रह किया। उन्होंने हमें बताया कि (प्रधानमंत्री के विशेष पैकेज के तहत) राज्य के लिये पहले ही 100 करोड़ रूपये आवंटित किये जा चुके हैं।
    श्रीनगर की रहने वाली अफशां अभी मुंबई के एक क्लब के लिये खेल रही है। वह मानती हैं कि उनकी जिंदगी और करियर ने जब 'यू टर्नÓ लिया तब उनकी फोटो 'पत्थर फेंकने वालीÓ के तौर पर राष्ट्रीय मीडिया में आ गयी थी। (पीटीआई)

     

    ...
  •  


Posted Date : 05-Dec-2017
  • टीम इंडिया ने दूसरी पारी 5 विकेट पर 246 रन बनाकर घोषित की
    शिखर धवन, विराट कोहली और रोहित शर्मा ने जमाए अर्धशतक
    श्रीलंका की पहली पारी 373 रन पर सिमटी, चंदीमल ने बनाए 164 रन
    नई दिल्‍ली, 5 दिसम्बर: तीसरे टेस्‍ट में टीम इंडिया ने जीत की ओर मजबूती से कदम बढ़ा दिए हैं. मैच में श्रीलंका टीम के सामने जीत के लिए 410 रन का विशाल लक्ष्‍य है. चौथे दिन स्‍टंप्‍स के समय 16 ओवर के बाद श्रीलंका की दूसरी पारी का स्‍कोर तीन विकेट खोकर 31 रन है. धनंजय डिसिल्‍वा 13 और  एंजेलो मैथ्‍यूज बिना कोई रन बनाए क्रीज पर हैं. इससे पहले, टीम इंडिया ने आज अपनी दूसरी पारी पांच विकेट पर 246 रन बनाकर घोषित की. शिखर धवन (67), विराट कोहली (50) और रोहित शर्मा (नाबाद 50) ने अर्धशतक बनाए. इससे पहले श्रीलंका की टीम आज सुबह, पहली पारी में 373 रन बनाकर आउट हो गई.कप्‍तान दिनेश चंदीमल (164) आउट होने वाले आखिरी बल्‍लेबाज रहे. पहली पारी के आधार पर भारत को 163 रन की बढ़त हासिल हुई थी.

    विशाल लक्ष्‍य के बोझ तले दबी श्रीलंका टीम की दूसरी पारी की शुरुआत भी खराब हुई. पारी के छठे ओवर में मोहम्‍मद शमी ने सदीरा समरविक्रमा (5) को विकेटकीपर साहा से कैच कराकर भारत को पहली कामयाबी दिलाई. पारी के 16वें ओवर में लेग स्पिनर रवींद्र जडेजा ने दिमुथ करुणारत्‍ने (13) और नाइट वाचमैन सुरंगा लकमल (0) को आउट कर श्रीलंका की हालत खस्‍ता कर दी. तीसरे दिन का खेल जब समाप्‍ता घोषित किया गया उस समय धनंजय डिसिल्‍वा 13 और एंजेलो मैथ्‍यूज बिना कोई रन बनाए क्रीज पर थे.

    विकेट पतन: 14-1 (समरविक्रमा, 5.5), 31-2 (करुणारत्‍ने, 15.1), 31-3 (लकमल, 15.4)

    दूसरी पारी में भारत के धवन, विराट और रोहित ने जमाए अर्धशतक
    दूसरी पारी में भारतीय टीम को तीसरे ही ओवर में पहला झटका लग गया. पहली पारी में शतकीय पारी खेलने वाले मुरली विजय दूसरी पारी में महज 9 रन बना पाए. उन्‍हें तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल ने विकेटकीपर डिकवेला से कैच कराया. दक्षिण अफ्रीका दौरे को ध्‍यान में रखते हुए भारतीय टीम प्रबंधन ने चेतेश्‍वर पुजारा के स्‍थान पर आउट ऑफ फॉर्म चल रहे अजिंक्‍य रहाणे को पहले क्रम पर बैटिंग के लिए भेजा, हालांकि वे दूसरी पारी में भी नाकाम रहे. रहाणे (10 रन, 37 गेंद, दो चौके) को दिलरुवान परेरा की गेंद पर लक्षन संदाकन ने आउट किया. भारत का दूसरा विकेट 29 के स्‍कोर पर गिरा. इसके बाद धवन और पुजारा ने मिलकर स्‍कोर लंच तक 50 के पार पहुंचा दिया.

    लंच के बाद आश्‍चर्यजनक रूप से भारतीय पारी को तेजी से बढ़ाने की जिम्‍मेदारी शिखर धवन की जगह चेतेश्‍वर पुजारा ने संभाली. पारी के 25वें ओवर में श्रीलंकाई कप्‍तान चंदीमल ने दिलरुवान परेरा की गेंद पर चेतेश्‍वर पुजारा के खिलाफ एलबीडब्‍ल्‍यू का रिव्‍यू लिया लेकिन टीवी अम्‍पायर का फैसला भारतीय बल्‍लेबाज के पक्ष में रहा. भारतीय टीम के 100 रन  29.3ओवर में पूरे हुए. टीम इंडिया का तीसरा विकेट चेतेश्‍वर पुजारा (49 रन, 66 गेंद, पांच चौके) के रूप में गिरा, जिन्‍हें स्पिनर धनंजय सिल्‍वा ने मैथ्‍यूज से कैच कराया. पुजारा के आउट होने के बाद शिखर धवन ने अपनी बैटिंग का अंदाज बदला और आक्रामक स्‍ट्रोक खेले. मंगलवार को ही 32 वर्ष के हुए धवन का पांचवां टेस्‍ट अर्धशतक 83 गेंदों पर तीन चौकों की मदद से पूरा हुआ. वे चौथे विकेट के रूप में आउट हुए. धवन को 67 रन के निजी स्‍कोर (पांच चौके, एक छक्‍का) पर लक्षन संदाकन ने विकेटकीपर डिकवेला से स्‍टंप कराया.चाय के समय टीम इंडिया का स्‍कोर चार विकेट पर 192 रन था.

    चाय के बाद विराट कोहली (50 रन, 58 गेंद, तीन चौके) ने अर्धशतक पूरा किया. हालांकि इसके तुरंत बाद वे तेज गेंदबाज लाहिरु गमागे की गेंद पर लकमल को कैच दे बैठे. रोहित शर्मा (50 रन 49 गेंद, पांच चौके) का अर्धशतक पूरा होते ही कप्‍तान विराट कोहली ने 246 के स्‍कोर पर पारी घोषित कर दी. रवींद्र जडेजा चार रन बनाकर नाबाद रहे. श्रीलंका के लकमल, गमागे, परेरा, डिसिल्‍वा और संदाकन को एक-एक विकेट मिला.

    विकेट पतन: 10-1 (मुरली विजय, 2.1), 29-2 (रहाणे, 13.4), 106-3 (पुजारा, 30.6),144-4 (धवन, 35.2), 234-5 (विराट, 50.4)

    श्रीलंका की पहली पारी 373 रन पर सिमटी 
    चौथे दिन का पहला ओवर तेज गेंदबाज मो. शमी ने फेंका जिसमें दिनेश चंदीमल ने 150 रन पूरे किए. 9 विकेट गिरने के बाद स्‍कोर को बढ़ाने की पूरी जिम्‍मेदारी श्रीलंका टीम के कप्‍तान ही ने निभाई. चंदीमल के 150 रन 345 गेंदों पर 18 चौके और एक छक्‍के की मदद से पूरे हुए. दिनेश चंदीमल आखिरकार 164 रन (21 चौके, एक छक्‍का) बनाने के बाद ईशांत शर्मा की गेंद पर आउट हुए. उनका कैच शिखर धवन ने लपका. लक्षन संदाकन बिना कोई रन बनाए नाबाद रहे. भारत के लिए ईशांत शर्मा और रविचंद्रन अश्विन ने तीन-तीन विकेट लिए.मैच के तीसरे दिन श्रीलंका के लिए एंजेलो मैथ्‍यूज और कप्‍तान दिनेश चंदीमल ने जोरदार बल्‍लेबाजी की और फॉलोआन के खतरे को टालने में अहम भूमिका निभाई. तीसरे दिन मैथ्‍यूज ने 111 रन बनाए जबकि दिनेश चंदीमल 147 रन बनाकर नाबाद थे.एक समय श्रीलंका टीम भारतीय स्‍कोर के आसपास पहुंचने की ओर बढ़ती नजर आ रही थी लेकिन आखिरी सेशन में जल्‍दी-जल्‍दी पांच विकेट गिरने से उसके कदमों पर ब्रेक लग गया.

    विकेट पतन: 0-1 (करुणारत्‍ने, 0.1), 14-2 (डिसिल्‍वा, 5.1), 75-3 (परेरा, 18.4), ,256-4 (मैथ्‍यूज, 97.6), ,317-5 (समरविक्रमा, 116.4), 318-6 (रोशन सिल्‍वा, 117.4), 322-7 (डिकवेला, 119.2),,343-9 (गमागे, 126.5),,373-10 (चंदीमल, 135.3)

    भारत ने पहली पारी 536 रन पर घोषित की थी
    भारतीय टीम ने अपनी पहली पारी 7 विकेट पर 536 रन बनाने के बाद घोषित की थी. कप्‍तान विराट कोहली के दोहरे शतक (243) और ओपनर मुरली विजय के 155 रन की बेहतरीन पारी की बदौलत भारत इस स्‍कोर तक पहुंचा था. रोहित शर्मा ने 65 रन का योगदान दिया था.

    फ़िरोज़शाह कोटला पर वैसे भी भारत का पलड़ा भारी रहा है.  कोटला पर खेले गए 33 टेस्ट मैचों में, भारत को 13 टेस्टों में जीत हासिल हुई है जबकि 6 में उसे हार का सामना करना पड़ा. यहां 14 टेस्ट ड्रॉ रहे. निजी तौर पर भी कप्तान विराट के लिए अपने करियर का 21वां टेस्ट, जीत हासिल करने का यह शानदार मौक़ा है. भारत कोटला का नतीजा ड्रॉ भी रखता है तो इस टीम की ये लगातार 9वीं टेस्ट सीरीज़ जीत होगी. इस तरह भारत के सामने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के साथ वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी करने का अच्छा मौक़ा है. कप्तान विराट के निजी तौर पर 21वें टेस्ट में जीत हासिल करने का मौक़ा होगा जो उन्हें कप्तान सौरव गांगुली के रिकॉर्ड की बराबरी का मौक़ा दे सकता है.(एनडीटीवी)

    ...
  •  


Posted Date : 04-Dec-2017
  • नई दिल्ली,  4 दिसम्बर: दक्षिण अफ्रीका में अगले महीने शुरू होने वाली तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए 17 सदस्यीय भारतीय टीम का ऐलान कर कर दिया गया है. अतिरिक्त तेज गेंदबाज के रूप में जसप्रीत बुमराह को जगह मिली, तो दूसरे विकेटकीपर के रूप में पार्थिव पटेल को भी टीम में शामिल किया गया है. वहीं फिलहाल आराम कर रहे हार्दिक पंड्या को भी उम्मीद के मुताबिक टीम में जगह दी गई है. इसके अलावा श्रीलंका के खिलाफ खेले जाने वाले तीन 20 मैचों के लिए भी भारतीय टीम का ऐलान कर दिया गया गया है.

    पहले दक्षिण अफ्रीका दौरे की बात करें, तो सुबह से ही क्रिकेटप्रेमियों के बीच लोकेश राहुल और अंजिक्य रहाणे को लेकर चर्चा थी. चर्चा इस बात की भी थी कि घरेलू सत्र में अच्छा कर रहे कुछ खिलाड़ियों को टीम में जगह मिलेगी. लेकिन सेलेक्टरों ने तमाम कयासों पर विराम लगाते हुए राहुल और रहाणे दोनों को ही टीम में बरकरार रखा है. शादी के लिए श्रीलंका के खिलाफ बीच सीरीज से हट गए तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार भी 17 सदस्यीय टीम का हिस्सा होंगे. इसके अलावा श्रीलंका के खिलाफ तीन टी-20 मैचों के लिए भी भारतीय टीम की घोषणा कर दी गई है.

    दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए भारतीय टीम
    विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उप-कप्तान), मुरली विजय, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, रोहित शर्मा, रिद्धिमान साहा, आर. अश्विन. आर. जडेजा, पार्थिव पटेल, हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा, उमेश यादव और जसप्रीत बुमराह.
     
    श्रीलंका के खिलाफ टी-20 टीम
    रोहित शर्मा (कप्तान), केएल. राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे्य, दिनेश कार्तिक, एमएस धोनी, हार्दिक पंड्या, वॉशिंगटन सुंदर, यजुवेंद्र चहल, कुलदीव यादव, दीपक हुड्डा, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद सिराज, बासिल थंपी, जयदेव उनादकत

    अगले महीने से भारतीय टीम का दक्षिण अफ्रीका दौरा शुरू हो रहा है. शुरू में दो अभ्यास मैच खेले जाएंगे, जबकि पहला टेस्ट मैच 5 से नौ जनवरी तक केपटाउन में खेला जाएगा. (ndtv)

    ...
  •  


Posted Date : 04-Dec-2017
  • तीसरे दिन स्‍टंप्‍स के समय श्रीलंका का स्‍कोर 9 विकेट पर 356 रन
    कप्‍तान चंदीमल 145 पर नाबाद, एंजेलो मैथ्‍यूज ने बनाए 111 रन
    भारत ने पहली पारी 6 विकेट पर 536 रन बनाकर घोषित की थी
    नई दिल्‍ली,  4 दिसम्बर: कप्‍तान दिनेश चंदीमल (नाबाद 147) और एंजेलो मैथ्‍यूज (111)  के शतकों की मदद से श्रीलंका टीम तीसरे टेस्‍ट मैच में फॉलोआन टालने में तो सफल हो गई लेकिन टीम इंडिया अभी भी मजबूत स्थिति में है. तीसरे दिन मैथ्‍यूज-चंदीमल की जोड़ी ने भारतीय गेंदबाजों का डटकर सामना किया और चौथे विकेट के लिए 181 रन की साझेदारी की. मैथ्‍यूज के आउट होने के बाद स्‍कोर बढ़ाने की जिम्‍मेदारी चंदीमल ने बखूबी निभाई. एक समय मेहमान टीम का स्‍कोर चार विकेट पर 317 रन था लेकिन सदीरा समरविक्रमा के रूप में पांचवां विकेट गिरने के बाद आगे के बल्‍लेबाजों ने विकेट पर रुकने की इच्‍छाशक्ति नहीं दिखाई. तीसरे दिन का खेल समाप्‍त घोषित किए जाते समय श्रीलंका का स्‍कोर 9 विकेट पर 356 रन था.अंतिम बल्‍लेबाज लक्षण संदाकन बिना कोई रन बनाए चंदीमल के साथ विकेट पर थे. अभी भी दबाव श्रीलंका टीम पर ही है. पहली पारी के आधार पर भारतीय टीम उससे 180 रन आगे है. टीम इंडिया ने पहली पारी सात विकेट पर 536 रन बनाकर घोषित की थी.

    तीसरे दिन का पहला सेशन श्रीलंका के नाम रहा 
    तीसरे दिन का पहला ओवर तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने फेंका जिसमें दो रन बने. इसके बाद मो. शमी गेंदबाजी के लिए आए जिसमें मैथ्‍यूज ने दिन का पहला चौका जमाया. ओवर में 6 रन बने.इस दौरान शमी का सामना करने में दोनों ही श्रीलंकाई बल्‍लेबाजों को कुछ मुश्किल पेश आई.जल्‍द ही ईशांत शर्मा के स्‍थान पर रवींद्र जडेजा को आक्रमण पर लाया गया. सोमवार को भी श्रीलंका के खिलाड़ी स्‍मॉग को लेकर असहज दिखे. पहले सेशन के दौरान दिनेश चंदीमल को ड्रेसिंग रूप में ओर इस बारे में इशारा करते देखा गया. श्रीलंका टीम के 150 रन 53.2 ओवर में पूरे हुए. मेहमान टीम के लिहाज से अच्‍छी बात यह रही कि उसने शुरुआती घंटे में कोई विकेट नहीं गंवाया. श्रीलंका के दो अनुभवी बल्‍लेबाजों मैथ्‍यूज और चंदीमल की साझेदारी टीम इंडिया के लिए परेशानी बनती जा रही थी.दोनों बल्‍लेबाजों के बीच की शतकीय साझेदारी 267 गेंदों पर पूरी हुई. चंदीमल का 16वां टेस्‍ट अर्धशतक 145 गेंदों पर सात चौकों की मदद से बना.

    श्रीलंका टीम के 150 रन 53.2 ओवर में पूरे हुए. मेहमान टीम के लिहाज से अच्‍छी बात यह रही कि उसने शुरुआती घंटे में कोई विकेट नहीं गंवाया. श्रीलंका के दो अनुभवी बल्‍लेबाजों मैथ्‍यूज और चंदीमल की साझेदारी टीम इंडिया के लिए परेशानी बनती जा रही थी. दोनों बल्‍लेबाजों के बीच की शतकीय साझेदारी 267 गेंदों पर पूरी हुई.तीसरे दिन का पहला सेशन श्रीलंका टीम के नाम रहा. इस दौरान श्रीलंका टीम ने कोई विकेट नहीं गंवाया. लंच के समय श्रीलंका का स्‍कोर तीन विकेट पर 192 रन था.

    आर. अश्विन ने दिलाई तीसरे दिन की पहली सफलता
    लंच के बाद भी मैथ्‍यूज और चंदीमल की शानदार बल्‍लेबाजी जारी रही.श्रीलंका टीम के 200 रन 76.4 ओवर में पूरे हुए. मैथ्‍यूज के करियर का आठवां शतक 231 गेंदों पर 12 चौकों और दो छक्‍कों की मदद से पूरा हुआ. हालांकि मैथ्‍यूज को आज 98 रन पर उस समय जीवनदान मिला जब ईशांत शर्मा की गेंद पर स्लिप पर रोहित शर्मा ने उनका लगभग आसान कैच छोड़ दिया. मैच के दूसरे दिन भी मैथ्‍यूज को जीवनदान मिला था उस समय विराट कोहली उनका कैच नहीं लपक पाए थे. भारत की फील्डिंग इस मैच में बेहद खराब रही. शतक पूरा करने के बाद मैथ्‍यूज को फिर जीवनदान मिला जब सबस्‍टीट्यूट फील्‍डर विजय शंकर उनका कैच नहीं पकड़ पाए. गेंदबाज थे रवींद्र जडेजा.दूसरे सेशन में टीम इंडिया आखिरकार मैथ्‍यूज (111 रन, 268 गेंद, 14 चौके, दो छक्‍के) का विकेट लेने में सफल हो गई. उन्‍हें आर. अश्विन ने विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा से कैच कराया.मैथ्‍यूज ने चंदीमल के साथ चौथे विकेट के लिए 181 रन की साझेदारी की.चाय के समय श्रीलंका का स्‍कोर चार विकेट पर 270 रन था.

    आखिरी सेशन में टीम ने गंवाए पांच विकेट
    चाय के बाद श्रीलंका के कप्‍तान दिनेश चंदीमल ने भी अपना 10वां टेस्‍ट शतक पूरा किया. मैथ्‍यूज और उनका शतक श्रीलंका टीम के लिए ऐसे वक्‍त पर आया जब भारतीय टीम टेस्‍ट पर हावी थी. श्रीलंकाई कप्‍तान के 100 रन 265 गेंदों पर 13 चौकों की मदद से पूरे हुए. आखिरी सेशन में लगातार विकेट गिरने से खेल में रोमांच लौट आया. श्रीलंका का 5वां विकेट सदीरा समरविक्रमा (33 रन, 61 गेंद, सात चौके) के रूप में गिरा जिन्‍हें ईशांत शर्मा ने विकेटकीपर साहा से कैच कराया. साहा ने गजब का पूर्वानुमान दिखाते हुए एक हाथ से इस कैच को लपका. अगले ओवर में नए बल्‍लेबाज रोशन सिल्‍वा (0) भी चलते बने. पहला टेस्‍ट खेल रहे रोशन सिल्‍वा को ऑफ स्पिनर अश्विन ने शिखर धवन से कैच कराया. विकेटकीपर बल्‍लेबाज निरोशन डिकेवला आज नाकाम रहे. वे बिना कोई रन बनाए आर. अश्विन की गेंद पर बोल्‍ड हुए. जल्‍दी-जल्‍दी श्रीलंका के तीन विकेट गिरने के बाद कोटला मैदान पर दर्शकों का उत्‍साह चरम पर पहुंच गया था. मेहमान टीम का 8वां विकेट सुरंगा लकमल (5)के रूप में गिरा जिन्‍हें तेज गेंदबाज मोहम्‍मद शमी ने विकेटकीपर साहा से कैच कराया. नौवें विकेट के रूप में लाहिरु गमागे (1)आउट हुए. उन्‍हें रवींद्र जडेजा ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया. भारत के लिए आर. अश्विन ने अब तक सर्वाधिक तीन विकेट लिए हैं. शमी, ईशांत और जडेजा को दो-दो विकेट हासिल हुए हैं.

    विकेट पतन: 0-1 (करुणारत्‍ने, 0.1), 14-2 (डिसिल्‍वा, 5.1), 75-3 (परेरा, 18.4), ,256-4 (मैथ्‍यूज, 97.6), ,317-5 (समरविक्रमा, 116.4), 318-6 (रोशन सिल्‍वा, 117.4), 322-7 (डिकवेला, 119.2),,343-9 (गमागे, 126.5)

    मैच के दूसरे दिन, कल श्रीलंका टीम तीन विकेट गंवा चुकी थी.भारत के विशाल स्‍कोर के जवाब में श्रीलंका को पहली ही गेंद पर दिमुथ करुणारत्‍ने (0) का विकेट गंवाना पड़ा. उन्‍हें तेज गेंदबाज मोहम्‍मद शमी ने विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा से कैच कराया.दूसरा विकेट धनंजय डिसिल्‍वा (1 ) के रूप में गिरा जिन्‍हें ईशांत ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया.लेग स्पिनर रवींद्र जडेजा टीम के लिए तीसरी कामयाबी लेकर आए. उन्‍होंने दिलरुवान परेरा (42 रन, 54 गेंद, 9 चौके) को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट किया. इसके बाद मैथ्‍यूज ने कप्‍तान दिनेश चंदीमल के साथ मिलकर टीम का स्‍कोर 100 रन के पार पहुंचाया. इसी दौरान मैथ्‍यूज ने अर्धशतक पूरा किया. दूसरे दिन स्‍टंप्‍स के समय मैथ्‍यूज और कप्‍तान चंदीमल क्रीज पर थे.

    भारत ने पहली पारी 536 रन पर घोषित की
    भारतीय टीम ने अपनी पहली पारी 7 विकेट पर 536 रन बनाने के बाद घोषित की थी. कप्‍तान विराट कोहली के दोहरे शतक (243) और ओपनर मुरली विजय के 155 रन की बेहतरीन पारी की बदौलत भारत इस स्‍कोर तक पहुंचा था. रोहित शर्मा ने 65 रन का योगदान दिया था.

    फ़िरोज़शाह कोटला पर वैसे भी भारत का पलड़ा भारी रहा है.  कोटला पर खेले गए 33 टेस्ट मैचों में, भारत को 13 टेस्टों में जीत हासिल हुई है जबकि 6 में उसे हार का सामना करना पड़ा. यहां 14 टेस्ट ड्रॉ रहे. निजी तौर पर भी कप्तान विराट के लिए अपने करियर का 21वां टेस्ट, जीत हासिल करने का यह शानदार मौक़ा है. भारत कोटला का नतीजा ड्रॉ भी रखता है तो इस टीम की ये लगातार 9वीं टेस्ट सीरीज़ जीत होगी. इस तरह भारत के सामने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के साथ वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी करने का अच्छा मौक़ा है. कप्तान विराट के निजी तौर पर 21वें टेस्ट में जीत हासिल करने का मौक़ा होगा जो उन्हें कप्तान सौरव गांगुली के रिकॉर्ड की बराबरी का मौक़ा दे सकता है. (एनडीटीवी)

    ...
  •  


Posted Date : 04-Dec-2017
  • पटना, 4 दिसंबर: बिहार ने विजय मर्चेंट ट्राफी अंडर-16 के मुकाबले में अरूणाचल प्रदेश को पारी और 870 रन से करारी शिकस्त देकर इतिहास रच दिया है. यह क्रिकेट हिस्ट्री का सबसे बड़ा विनिंग मार्जिन है. बिहार ने सात विकेट पर 1007 रन पर पारी घोषित करने के बाद दूसरी पारी में अरूणाचल को महज 54 रन पर समेट दिया.

    इससे पहले अरूणाचल की टीम पहली पारी में 83 रन पर आल आउट हो गई थी. पटना के राजवंशीनगर स्थित इनर्जी क्रिकेट स्टेडियम में खेले जा गए मुकाबले में पहली पारी के आधार पर 914 रन की बढ़त लेने के बाद बिहार ने अरूणाचल प्रदेश की दूसरी पारी में महज 54 रन पर ढेर कर दिया.

    पहली पारी में सात विकेट लेने वाले रेशु राय ने दूसरी पारी में 23 रन पर छह विकेट चटकाए. बिहार की ओर से बल्लेबाज बलजीत सिंह बिहारी 380 गेंद में नाबाद 358 रन बनाए. उन्होंने अपनी पारी में 36 चौके लगाये. बिहारी के अलावा प्रकाश बाबू ने 220 रन और कप्तान अर्णव किशोर ने 169 रन की धुआंधार पारी खेली.

    इससे पहले क्रिकेट में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड पाकिस्तान रेलवे के नाम था. पाकिस्तान रेलवे ने 1964 में लाहौर में डेरा इस्माइल खान टीम को एक पारी और 851 रनों से हराया था. इस मैच में पाकिस्तान रेलवे ने पहली पारी में 910 रनों का स्कोर खड़ा किया था, जिसके जवाब में डेरा इस्माइल खान टीम टीम पहली पारी में 32 और दूसरी पारी में महज 27 रनों पर ऑलआउट हो गई थी.(आजतक)

    ...
  •  


Posted Date : 03-Dec-2017
  • इंडिया ने पहली पारी 6 विकेट पर 536 रन बनाकर घोषित की
    विराट कोहली ने 243 रन की बेहतरीन पारी खेली
    स्‍टंप्‍स के समय श्रीलंका की पहली पारी का स्‍कोर 3 विकेट पर 131 रन

    नई दिल्‍ली, 3 दिसम्बर: तीसरे टेस्‍ट मैच में भारतीय टीम के विशाल स्‍कोर के जवाब में श्रीलंका का संघर्ष जारी है. कप्‍तान विराट कोहली के दोहरे शतक (243) और ओपनर मुरली विजय के 155 रन की बेहतरीन पारी की बदौलत भारतीय टीम ने दिल्‍ली टेस्‍ट में अपनी पहली पारी सात विकेट पर 536 रन बनाकर घोषित की. मैच के दूसरे दिन लंच के बाद का खेल श्रीलंका टीम के खिलाड़ि‍यों की ओर से स्‍मॉग की 'बेफिजूल' की शिकायत के कारण बार-बार बाधित हुआ. मेहमान टीम के खिलाड़ी लंच के बाद मॉस्‍क पहनकर फील्डिंग के लिए मैदान में उतरे. कोहली और विजय के अलावा भारत के लिए रोहित शर्मा ने भी 65 रन की पारी खेली.जवाब में दूसरे दिन स्‍टंप्‍स के समय श्रीलंका का स्‍कोर तीन विकेट पर 131 रन था. एंजेलो मैथ्‍यूज 57 और कप्‍तान दिनेश चंदीमल 25 रन बनाकर क्रीज पर थे. टीम इंडिया के लिए मो. शमी, ईशांत शर्मा और रवींद्र जडेजा ने एक-एक विकेट लिया है.

    श्रीलंका टीम को पहली ही गेंद पर लग गया था झटका
    भारत के विशाल स्‍कोर के जवाब में श्रीलंका टीम को पारी की पहली ही गेंद पर दिमुथ करुणारत्‍ने (0) का विकेट गंवाना पड़ा. उन्‍हें तेज गेंदबाज मोहम्‍मद शमी ने विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा से कैच कराया.पारी का दूसरा ओवर ईशांत शर्मा ने फेंका जिसमें दिलरुवान परेरा ने दो चौके जमाए.श्रीलंका का दूसरा विकेट धनंजय डिसिल्‍वा (1 ) के रूप में गिरा जिन्‍हें ईशांत ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया. चाय के समय श्रीलंका का स्‍कोर दो विकेट पर 14 रन था. चाय के बाद भारतीय टीम को दिलरुवान परेरा का विकेट भी मिल सकता था लेकिन शमी की गेंद पर दूसरी स्लिप में शिखर धवन कैच नहीं पकड़ सके. गेंद उनके हाथ से छिटककर हेलमेट पर लगी जिसके कारण श्रीलंका को पेनल्‍टी के रूप में पांच रन मिल गए. पारी के 10वें ओवर में एंजेलो मैथ्‍यूज को जीवनदान मिला जब विराट कोहली स्लिप में उनका कैच नहीं पकड़ पाए.

    श्रीलंका के 50 रन 13 ओवर में पूरे हुए. दिलरुवान परेरा और एंजेलो मैथ्‍यूज की साझेदारी जब भारतीय टीम के लिए परेशानी का कारण बन रही थी जब लेग स्पिनर रवींद्र जडेजा टीम के लिए तीसरी कामयाबी लेकर आए. उन्‍होंने दिलरुवान परेरा (42 रन, 54 गेंद, 9 चौके) को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट किया. रिव्‍यू लेने के बाद टीवी अम्‍पायर ने यह फैसला भारत के पक्ष में दिया.परेरा और मैथ्‍यूज ने तीसरे विकेट के लिए 61 रन की साझेदारी की.इसके बाद मैथ्‍यूज ने कप्‍तान दिनेश चंदीमल के साथ मिलकर टीम का स्‍कोर 100 रन के पार पहुंचाया. इसी दौरान मैथ्‍यूज ने अर्धशतक पूरा किया. उन्‍होंने इसके लिए 72 गेंदों का सामना करते हुए आठ चौके और दो छक्‍के लगाए. जल्‍द ही दन दोनों बल्‍लेबाजों ने अर्धशतकीय साझेदारी पूरी की. दूसरे दिन स्‍टंप्‍स के समय श्रीलंका की पहली पारी का स्‍कोर तीन विकेट खोकर 131 रन था.

    विकेट पतन: 0-1 (करुणारत्‍ने, 0.1), 14-2 (डिसिल्‍वा, 5.1), 75-3 (परेरा, 18.4)

    इससे पहले, दूसरे दिन का खेल जब शुरू हुआ तो श्रीलंका के लिए पहला ओवर दिलरुवान परेरा ने फेंका जिसमें एक रन बना.लक्षन संदाकन की ओर से फेंके गए दूसरे ओवर में भारत के खाते में चार रन जुड़े.पारी के 93वें ओवर में रोहित शर्मा ने छक्‍का जमाया, इस ओवर में 9 रन बने. अगले दो ओवर में भी उन्‍होंने चौके लगाकर स्‍कोर तेजी से बढ़ाने की अपनी मंशा साफ कर दी.भारतीय टीम के 400 रन 96.1 ओवर में पूरे हुए.विराट ने भी कुछ बेहतरीन शॉट खेले.पारी के 108वें ओवर में लकमल की आखिरी गेंद पर दो रन देते हुए विराट ने अपना लगातार दूसरा दोहरा शतक पूरा किया. यह उनका कुल मिलाकर टेस्‍ट का छठा दोहरा शतक और इस साल का तीसरा दोहरा शतक है. अपने दोहरे शतक के लिए विराट कोहली ने 238 गेंदों का सामना किया और 20 चौके लगाए.इसके थोड़ी देर बाद रोहित शर्मा ने भी टेस्‍ट क्रिकेट में अपना आठवां अर्धशतक पूरा किया. दिलरुवान परेरा की गेंद पर छक्‍का जमाते हुए वे 50 रन तक पहुंचे. इस दौरान उन्‍होंने 88 गेंदों का सामना करते हुए पांच चौके और दो छक्‍के लगाए.दूसरे दिन के पहले सेशन में भारतीय टीम ने अपना एकमात्र विकेट रोहित शर्मा (65 रन, 102 गेंद, सात चौके, दो छक्‍के) के रूप में गंवाया. उन्‍हें संदाकन ने विकेटकीपर डिकेवला से कैच कराया, पांचवां विकेट 500 के स्‍कोर पर गिरा. इसी स्‍कोर पर लंच घोषित कर दिया. लंच के समय विराट कोहली 225 रन बनाकर नाबाद थे.

    दूसरे सेशन के दौरान उस समय नाटकीय स्थिति निर्मित हुई जब श्रीलंका टीम के खिलाड़ी स्‍मॉग के कारण मॉस्‍क पहनकर क्रीज पर उतरे. श्रीलंका टीम प्रबंधन ने स्‍मॉग को लेकर मैदान पर मौजूद अम्‍पायरों से भी शिकायत की. विराट कोहली का साथ देने रविचंद्रन अश्विन क्रीज पर आए. जल्‍द ही विराट टेस्‍ट के अपने सर्वोच्‍च स्‍कोर 235 रन के पार पहुंच गए. यह स्‍कोर उन्‍होंने इंग्‍लैंड के खिलाफ वर्ष 2014 में मुंबई में बनाया था. थोड़ी देर बाद खेल दोबारा शुरू होते ही टीम इंडिया को रविचंद्रन अश्विन (4 रन, 16 गेंद) के रूप में छठा विकेट गंवाना पड़ा. शायद खेल रुकने के कारण अश्विन की एकाग्रता भंग हो गई थी.अश्विन को गमागे की गेंद पर दिलरुवान परेरा ने कैच किया. विराट कोहली की मैराथन पारी का अंत चाइनामैन लक्षन संदाकन ने किया. विराट (243 रन, 287 गेंद, 25 चौके) को उन्‍होंने एलबीडब्‍ल्‍यू किया. भारतीय टीम का स्‍कोर जब सात विकेट पर 536 रन था तब कप्‍तान कोहली ने पारी समाप्ति की घोषणा कर दी.इस समय ऋद्धिमान साहा 9 और रवींद्र जडेजा 5 रन बनाकर नाबाद थे. श्रीलंका की ओर चाइनामैन बॉलर लक्षन संदाकन ने सर्वाधिक चार विकेट लिए.

    विकेट पतन: 42-1 (धवन, 9.6), 78-2 (पुजारा, 20.2),,361-3 (मुरली, 85.6), 365-4 (रहाणे, 87.3), 500-5 (रोहित शर्मा, 117.5), 519-6 (अश्विन, 122.4), ,523-7 (विराट, 125.3)

    पहले दिन विजय-विराट ने की थी 283 रन की साझेदारी 
    इससे पहले,मैच के पहले दिन भारतीय कप्‍तान विराट कोहली ने टॉस जीता और बल्‍लेबाजी करने का फैसला किया.भारतीय टीम का पहला विकेट शिखर धवन (23 रन) के रूप में गिरा. उन्‍हें दिलरुवान परेरा ने सुरंगा लकमल से कैच कराया.दूसरे विकेट के रूप में पुजारा (23 रन) आउट हो गए. उन्‍हें तेज गेंदबाज लाहिरु गमागे ने समरविक्रमा से कैच कराया. इसके बाद ओपनर विजय ने नए बल्‍लेबाज विराट कोहली के साथ तीसरे विकेट के लिए 283 रन की साझेदारी की. श्रीलंका के गेंदबाज इन दोनों बल्‍लेबाजों के सामने असहाय नजर आ रहे थे.तीसरा विकेट मुरली विजय (155 रन) के रूप में गिरा जिन्‍हें संदाकन की गेंद पर विकेटकीपर निरोशन डिकवेला ने स्‍टंप किया. अजिंक्‍य रहाणे (1) फिर नाकाम हुए. उन्‍हें संदाकन ने डिकेवला से स्‍टंप कराया था.


    फ़िरोज़शाह कोटला पर वैसे भी भारत का पलड़ा भारी रहा है.  कोटला पर खेले गए 33 टेस्ट मैचों में, भारत को 13 टेस्टों में जीत हासिल हुई है जबकि 6 में उसे हार का सामना करना पड़ा. यहां 14 टेस्ट ड्रॉ रहे. निजी तौर पर भी कप्तान विराट के लिए अपने करियर का 21वां टेस्ट, जीत हासिल करने का यह शानदार मौक़ा है. भारत कोटला का नतीजा ड्रॉ भी रखता है तो इस टीम की ये लगातार 9वीं टेस्ट सीरीज़ जीत होगी. इस तरह भारत के सामने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के साथ वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी करने का अच्छा मौक़ा है. कप्तान विराट के निजी तौर पर 21वें टेस्ट में जीत हासिल करने का मौक़ा होगा जो उन्हें कप्तान सौरव गांगुली के रिकॉर्ड की बराबरी का मौक़ा दे सकता है.


    दोनों टीमें इस प्रकार हैं...
    भारत: विराट कोहली (कप्‍तान), शिखर धवन, मुरली विजय, चेतेश्‍वर पुजारा, अजिंक्‍य रहाणे, रोहित शर्मा, रविचंद्रन अश्विन, ऋद्धिमान साहा, रवींद्र जडेजा, मो. शमी और ईशांत शर्मा.

    श्रीलंका: दिनेश चंदीमल (कप्‍तान), सदीरा समरविक्रमा, दिमुथ करुणारत्‍ने, धनंजय डिसिल्‍वा, एंजेलो मैथ्‍यूज, निरोशन डिकवेला, रोशन सिल्‍वा, दिलरुवान परेरा, सुरंगा लकमल, लक्षन संदाकन और लाहिरु गमागे.

    ...
  •  


Posted Date : 03-Dec-2017
  • नई दिल्ली, 3 दिसंबर । भारतीय कप्तान विराट कोहली ने श्री लंका के खिलाफ दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट के दूसरे दिन दोहरा शतक जड़ दिया है। यह उनका लगातार दूसरा दोहरा शतक है। उन्होंने नागपुर टेस्ट की पहली पारी में भी दोहरा शतक जड़ा था। लगातार 2 टेस्ट मैच में 2 दोहरे शतक लगाने वाले वह दूसरे भारतीय बने हैं। इससे पहले विनोद कांबली यह कारनामा कर चुके हैं। विराट के दोहरे शतकों की कुल संख्या अब 6 हो गई है और बतौर कप्तान सर्वाधिक दोहरे शतक जडऩे वाले खिलाड़ी बन गए हैं। पिछले टेस्ट में उन्होंने वेस्ट इंडीज के दिग्गज बल्लेबाज ब्रायन लारा की बराबरी की थी। 
    विराट ने दिल्ली टेस्ट के पहले दिन 156 रन बनाए थे। दूसरे दिन जब वह बल्लेबाजी करने उतरे तो सभी को कोहली के दूसरे शतक का ही इंतजार था। कप्तान ने अपने फैंस को अधिक इंतजार नहीं कराया। उन्होंने 238 गेदों पर दोहरा शतक पूरा किया। इस दौरान उन्होंने 20 चौके लगाए। क्रिकेट फैंस अब इस बात पर नजर टिकाए हुए हैं कि क्या विराट पहला तिहरा शतक लगाएंगे?   सर्वाधिक दोहरे शतकों के मामले में विराट ने सचिन और सहवाग की बराबरी कर ली है। खास बात यह है कि विराट ने 5 दोहरे शतक पिछले 15 महीनों में बनाए हैं। सचिन और सहवाग भी टेस्ट क्रिकेट में 6-6 दोहरे शतक लगा चुके हैं। वल्र्ड क्रिकेट की बात करें तो सर्वाधिक दोहरे शतक ऑस्ट्रलिया के महान बल्लेबाज सर डॉन ब्रैडमैन ने लगाए हैं। उनके नाम 12 दोहरे शतक हैं। ग्यारह दोहरे शतकों के साथ श्री लंका के कुमार संगाकारा दूसरे नंबर पर हैं। 
    विराट कोहली से पहले विनोद कांबली लगातार 2 टेस्ट मैच में 2 दोहरे शतक लगा चुके हैं। उन्होंने 1992-93 में इंग्लैंड (224) और जिम्बावे (227) के खिलाफ दोहरे शतक लगाए थे। सर डॉन ब्रैडमैन 3 बार यह कारनामा कर चुके हैं। इसके अलावा इंग्लैंड के खिलाड़ी वेली हैमंड 2 बार ऐसा कर चुके हैं। 
    इससे पहले विराट ने शनिवार को टेस्ट क्रिकेट में 5 हजार रन पूरे किए और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे तेज 16 हजार रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए। विराट 63 टेस्ट मैचों में 20 शतक और 13 अर्धशतक लगाए हैं, जबकि उनका औसत 52 से अधिक का है। वनडे क्रिकेट की बात करें तो विराट ने 202 मैच में 9030 रन बना चुके हैं, जिसमें 32 सेंचुरी और 45 हाफ सेंचुरी शामिल हैं। 
    सीरीज के अंतिम टेस्ट मैच में भारत की स्थिति शुरुआत से ही बेहद मजबूत है। दूसरे दिन के पहले सेशन में ही भारत का स्कोर 450 रन के पार जा चुका है। भारतीय बल्लेबाज हर ओवर में औसतन 4 से अधिक रन जुटा रहे हैं। मुरली विजय ने भी पहले दिन शानदार 155 रन बनाए। (नवभारत टाईम्स)

     

    ...
  •  


Posted Date : 03-Dec-2017
  • पटना, 3 दिसंबर । बलजीत सिंह बिहारी के तिहरे शतक के दम पर मेजबान बिहार ने आज यहां विजय मर्चेंट अंडर 16 ट्रॉफी में अरुणाचल प्रदेश के खिलाफ मैच के दूसरे दिन स्टंप तक छह विकेट पर 961 रन का विशाल स्कोर खड़ा कर लिया। पटना के राजवंशीनगर स्थित इनर्जी क्रिकेट स्टेडियम में खेले जा रहे मुकाबले में कल के नाबाद बल्लेबाज बलजीत सिंह बिहारी ने 356 गेंद का सामना कर 334 रन बनाए जिसमें 32 चौके शामिल हैं जबकि प्रकाश बाबू ने 222 गेंद पर 220 रन की पारी में एक छक्का और 23 चौके लगाए।
    अरुणाचल के गेंदबाज मैच में बिहार के बल्लेबाजों पर कोई खास असर नहीं डाल पाए और यही कारण रहा कि बिहार की टीम में मैच में रनों का पहाड़ खड़ा कर दिया। 
    अरुणाचल के गेंदबाजों में अमरजीत शर्मा ने तीन विकेट लिए। हालांकि इसके लिए उन्हें 38 ओवरों में 248 रन खर्च करने पड़े।
    दूसरे दिन स्टंप तक बिहार ने अरुणाचल पर 878 रन की बढ़त बना ली। 
    गौरतलब है कि मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए अरुणाचल प्रदेश की टीम 83 रन पर सिमट गई थी। (एजेंसी)

    ...
  •  


Posted Date : 03-Dec-2017
  • पटना, 3 दिसंबर । बलजीत सिंह बिहारी के तिहरे शतक के दम पर मेजबान बिहार ने आज यहां विजय मर्चेंट अंडर 16 ट्रॉफी में अरुणाचल प्रदेश के खिलाफ मैच के दूसरे दिन स्टंप तक छह विकेट पर 961 रन का विशाल स्कोर खड़ा कर लिया। पटना के राजवंशीनगर स्थित इनर्जी क्रिकेट स्टेडियम में खेले जा रहे मुकाबले में कल के नाबाद बल्लेबाज बलजीत सिंह बिहारी ने 356 गेंद का सामना कर 334 रन बनाए जिसमें 32 चौके शामिल हैं जबकि प्रकाश बाबू ने 222 गेंद पर 220 रन की पारी में एक छक्का और 23 चौके लगाए।
    अरुणाचल के गेंदबाज मैच में बिहार के बल्लेबाजों पर कोई खास असर नहीं डाल पाए और यही कारण रहा कि बिहार की टीम में मैच में रनों का पहाड़ खड़ा कर दिया। 
    अरुणाचल के गेंदबाजों में अमरजीत शर्मा ने तीन विकेट लिए। हालांकि इसके लिए उन्हें 38 ओवरों में 248 रन खर्च करने पड़े।
    दूसरे दिन स्टंप तक बिहार ने अरुणाचल पर 878 रन की बढ़त बना ली। 
    गौरतलब है कि मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए अरुणाचल प्रदेश की टीम 83 रन पर सिमट गई थी। (एजेंसी)

    ...
  •  


Posted Date : 02-Dec-2017
  • विजय ने बनाए 155 रन, विराट कोहली 156 रनों पर नाबाद
    स्‍टंप्‍स के समय टीम इंडिया का स्‍कोर 4 विकेट पर 371 रन

    नई दिल्‍ली,  2 दिसम्बर: ओपनर मुरली विजय और कप्‍तान विराट कोहली के 'बड़े' शतकों की मदद से टीम इंडिया ने श्रीलंका के खिलाफ दिल्‍ली टेस्‍ट के पहले ही दिन अपनी स्थिति बेहद मजबूत कर ली है. मैच के पहले दिन मुरली विजय ने 155 रन की बेहतरीन पारी खेली जबकि कप्‍तान विराट 156 रन बनाकर नाबाद हैं. विराट ने जहां सीरीज में लगातार तीसरा शतक जमाया जबकि विजय का यह लगातार दूसरा शतक रहा. पहले दिन स्‍टंप्‍स के समय टीम इंडिया की पहली पारी का स्‍कोर 4 विकेट पर 371 रन था. कप्‍तान कोहली के साथ रोहित शर्मा 6 रन बनाकर नाबाद हैं. विजय और कोहली ने तीसरे विकेट के लिए 283 रन की साझेदारी की. मैच के दूसरे दिन कल देखने वाली बात यह होगी कि क्‍या विराट नागपुर टेस्‍ट की तरह दोहरा शतक जमाने में सफल होते हैं या नहीं.

    भारतीय पारी : विजय और विराट के बीच हुई 283 रन की साझेदारी 
    श्रीलंका के लिए पहला ओवर तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल ने फेंका जिसकी तीसरी और चौथी गेंद पर विजय ने चौके जमा दिए. लाहिरु गमागे की ओर से फेंके गए पारी के दूसरे ओवर में भी विजय ने चौका जमाया. नागपुर टेस्‍ट में शतक जमाने वाले विजय पारी की शुरुआत से ही विश्‍वास से भरे नजर आ रहे थे. पारी के छठे ओवर में शिखर धवन ने गमागे की गेंद पर चौका लगाया. पारी के आठवें ओवर से स्पिनर दिलरुवान परेरा को आक्रमण पर लगाया गया. भारतीय टीम का पहला विकेट शिखर धवन (23 रन, 35 गेंद, चार चौके) के रूप में गिरा. उन्‍हें दिलरुवान परेरा ने स्‍क्‍वेयर लेग पर सुरंगा लकमल से कैच कराया. यह दिलरुवान परेरा का 100वां टेस्‍ट विकेट रहा. पारी के 21वें ओवर में पुजारा (23 रन, 39 गेंद, चार चौके) आउट हो गए. उन्‍हें तेज गेंदबाज लाहिरु गमागे ने समरविक्रमा से कैच कराया. नए बल्‍लेबाज विराट कोहली और विजय ने मिलकर स्‍कोर को 100 रन के पार पहुंचाया. लंच के पहले मुरली विजय ने अपना अर्धशतक पूरा किया. उन्‍होंने इसके लिए 67 गेंदों का सामना करते हुए सात चौके लगाए. लंच के समय टीम इंडिया का स्‍कोर दो विकेट पर 116 रन था.

    लंच के बाद भी विजय और कोहली ने शानदार बल्‍लेबाजी जारी रखी. 25 रन के निजी स्‍कोर पर पहुंचते ही विराट कोहली टेस्‍ट क्रिकेट में 5 हजार रन पूरे करने वाले भारत के 11वें खिलाड़ी बन गए. कोहली ने सुरंगा लकमल की गेंद पर चौका जमाते हुए यह उपलब्धि हासिल की. जल्‍द ही विराट कोहली ने अपना 15वां अर्धशतक भी पूरा किया. इसके लिए उन्‍होंने केवल 52गेंदें खेलीं और 10 चौके लगाए. इन दोनों बल्‍लेबाजों ने तीसरे विकेट के लिए शतकीय साझेदारी भी पूरी की. लगभग पूरे दिन भारतीय बल्‍लेबाजों ने तेज गति से बैटिंग की और रन गति हर समय चार रन प्रति ओवर या इसके ऊपर ही बनी रही. श्रीलंका ने चाइनामैन बॉलर संदाकन को प्‍लेइंग इलेवन में स्‍थान दिया था लेकिन वे भी भारतीय बल्‍लेबाजों के लिए मुश्किल खड़ी नहीं कर पा रहे थे. जल्‍द ही दोनों बल्‍लेबाजों ने 150 रन की साझेदारी पूरी कर ली. चायकाल के पहले विजय ने संदाकन की गेंद पर चौका लगाते हुए अपना 11वां टेस्‍ट शतक पूरा किया. विजय ने शतक के लिए 163 गेंदों का सामना किया और 9 चौके जमाए. विजय का यह लगातार दूसरा शतक था. नागपुर टेस्‍ट में भी उन्‍होंने शतकीय पारी खेली थी.चाय के समय टीम इंडिया का स्‍कोर दो विकेट पर 245 रन बनाए थे.

    मुरली विजय के 150 रन 251 गेंदों पर 13 चौकों की मदद से पूरे हुए. इसके थोड़ी देर बाद विराट ने भी अपने 150 रन पूरे किए. उन्‍होंने इसके लिए 178 गेंदों का सामना किया और 16 चौके जमाए. खेल समाप्ति के थोड़ी देर पहले टीम इंडिया का तीसरा विकेट मुरली विजय (155 रन, 267 गेंद, 13 चौके) के रूप में गिरा जिन्‍हें चाइनामैन संदाकन की गेंद पर विकेटकीपर निरोशन डिकवेला ने स्‍टंप किया. विजय और कोहली के बीच तीसरे विकेट के लिए 283 रन की साझेदारी हुई.मुरली विजय के स्‍थान पर खेलते आए अजिंक्‍य रहाणे (1) फिर नाकाम हुए. उन्‍हें चाइनामैन बॉलर संदाकन ने विकेटकीपर डिकेवला से स्‍टंप कराया. श्रीलंका के गेंदबाज आज पूरे दिन संघर्ष करते नजर आए. लक्षण संदाकन ने सर्वाधिक दो विकेट लिए. लाहिरु गमागे और दिलरुवान परेरा को एक-एक विकेट मिला.

    विकेट पतन: 42-1 (धवन, 9.6), 78-2 (पुजारा, 20.2),,361-3 (मुरली, 85.6), 365-4 (रहाणे, 87.3)

    भारतीय टीम की प्‍लेइंग इलेवन में केएल राहुल और उमेश यादव को स्‍थान नहीं मिला. पिछले मैच में नहीं खेले शिखर धवन और मो. शमी को टीम में स्‍थान दिया गया.दूसरी ओर, श्रीलंका के लिए रोशन सिल्‍वा अपने टेस्‍ट करियर का आगाज कर रहे हैं.

    फ़िरोज़शाह कोटला पर वैसे भी भारत का पलड़ा भारी रहा है.  कोटला पर खेले गए 33 टेस्ट मैचों में, भारत को 13 टेस्टों में जीत हासिल हुई है जबकि 6 में उसे हार का सामना करना पड़ा. यहां 14 टेस्ट ड्रॉ रहे. निजी तौर पर भी कप्तान विराट के लिए अपने करियर का 21वां टेस्ट, जीत हासिल करने का यह शानदार मौक़ा है. भारत कोटला का नतीजा ड्रॉ भी रखता है तो इस टीम की ये लगातार 9वीं टेस्ट सीरीज़ जीत होगी. इस तरह भारत के सामने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के साथ वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी करने का अच्छा मौक़ा है. कप्तान विराट के निजी तौर पर 21वें टेस्ट में जीत हासिल करने का मौक़ा होगा जो उन्हें कप्तान सौरव गांगुली के रिकॉर्ड की बराबरी का मौक़ा दे सकता है. भारतीय फ़ैन्स श्रीलंका से बेहतर चुनौती के साथ मैच में रोमांच की उम्मीद ज़रूर करेंगे. लेकिन ये भी चाहेंगे कि टीम इंडिया कोटला पर एक और इतिहास रचे.

    दोनों टीमें इस प्रकार हैं...
    भारत: विराट कोहली (कप्‍तान), शिखर धवन, मुरली विजय, चेतेश्‍वर पुजारा, अजिंक्‍य रहाणे, रोहित शर्मा, रविचंद्रन अश्विन, ऋद्धिमान साहा, रवींद्र जडेजा, मो. शमी और ईशांत शर्मा.

    श्रीलंका: दिनेश चंदीमल (कप्‍तान), सदीरा समरविक्रमा, दिमुथ करुणारत्‍ने, धनंजय डिसिल्‍वा, एंजेलो मैथ्‍यूज, निरोशन डिकवेला, रोशन सिल्‍वा, दिलरुवान परेरा, सुरंगा लकमल, लक्षन संदाकन और लाहिरु गमागे. (ndtv)

    ...
  •  


Posted Date : 02-Dec-2017
  • नई दिल्ली, 2 दिसंबर। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टेस्ट क्रिकेट में 5 हजार रन पूरे कर लिए हैं। दिल्ली में श्री लंका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच के पहले दिन 25 रन बनाते ही विराट 5000 क्लब में शामिल हो गए। वह ऐसा करने वाले 11वें भारतीय बल्लेबाज हैं। उन्होंने 63वें मैच में यह उपलब्धि हासिल की है। नागपुर टेस्ट में दोहारा शतक लगा चुके कप्तान इस मैच में भी बेहतरीन बल्लेबाजी कर रहे हैं। उन्होंने महज 52 गेंदों पर शानदार अर्धशतक लगाया। 
    सबसे तेज 5000 रन बनाने वाले भारतीय खिलाडिय़ों में वह तीसरे नंबर पर हैं। सुनील गावस्कर ने 53 और वीरेंद्र सहवाग ने 59 मैचों में यह मुकाम हासिल किया था, जबकि सचिन तेंडुलकर 67वें मैच में यहां तक पहुंचे थे। हालांकि इनिंग की बात करें तो सचिन विराट से आगे हैं। 
    विराट ने टेस्ट मैचों में करीब 52 की औसत से रन जुटाए हैं। क्रिकेट के सबसे पुराने फॉर्मेट में वह 19 शतक और 14 अर्धशतक लगा चुके हैं। वहीं वनडे क्रिकेट में विराट 202 मैच में 9030 रन बना चुके हैं, जिसमें 32 शतक और 45 अर्धशतक शामिल हैं। 
    विराट से पहले भारत की ओर से सचिन तेंडुलकर, राहुल द्रविड़, सुनील गावस्कर, वीवीएस लक्ष्मण, वीरेंद्र सहवाग, सौरव गांगुली। दिलीप वेंगेसकर, मोहम्मद अजरुद्दीन, जीआर विश्वनाथ और कपिल देव 5000 से अधिक टेस्ट रन बना चुके हैं। 
    दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाजों में शुमार विराट कोहली ने टेस्ट करियर में 63 मैच खेले हैं। इनमें से उन्होंने 32 मैच भारतीय मैदान पर जबकि 31 मैच विदेशी मैदान पर खेले। विराट ने भारतीय मैदान पर 50 टेस्ट पारियों में 59.72 की औसत से कुल 2600 से अधिक रन बनाए जिसमें 9 बार शतकीय पारी खेलीं और 2 पारियों नें शून्य पर भी आउट हो गए। विदेशी जमीन पर विराट ने 54 टेस्ट पारियों में 45.13 की औसत से 2347 रन बनाए और 4 बार शून्य पर पविलियन लौटे।  (नवभारत टाईम्स)

    ...
  •  


Posted Date : 02-Dec-2017
  • नई दिल्ली, 2 दिसंबर। पांच बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम ने मुक्केबाजी में राष्ट्रीय पर्यवेक्षक के पद से इस्तीफा दे दिया। यह फैसला उन्होंने खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ के यह स्पष्ट करने के बाद लिया कि कोई भी सक्रिय खिलाड़ी खेलों में राष्ट्रीय पर्यवेक्षक नहीं हो सकता।
    पिछले महीने पांचवां एशियाई चैंपियनशिप स्वर्ण पदक जीतने वाली मैरीकॉम ने कहा, मैंने दस दिन पहले खेल मंत्री से बात करने के बाद राष्ट्रीय पर्यवेक्षक के पद से इस्तीफा दे दिया। मैंने यह पद मांगा नहीं था, मुझसे इस पद को ग्रहण करने के लिए कहा गया था। मैंने तत्कालीन खेल सचिव इंजेती श्रीनिवास से उस समय पूछा भी था कि सक्रिय खिलाडिय़ों को पर्यवेक्षक नहीं बनाने के बारे में क्या नियम है। उस समय मुझे बताया गया कि मैं यह पद स्वीकार कर लूं। मैंने मंत्रालय के आग्रह पर ऐसा किया और मैं किसी अनावश्यक विवाद में नहीं पडऩा चाहती, जब मैने वह पद मांगा ही नहीं था। मेरी इसमें कभी भी रुचि नहीं थी, लेकिन मैने मंत्रालय के आग्रह पर इसे स्वीकार किया। मेरे पास करने के लिए बहुत कुछ है। मुझे यह पद छोडऩे का कोई मलाल नहीं है।
    तत्कालीन खेल मंत्री विजय गोयल ने मार्च में 12 राष्ट्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त किए थे, जिनमें मैरीकॉम भी थीं। इनमें ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता निशानेबाज अभिनव बिंद्रा, दो बार के ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार और मुक्केबाज अखिल कुमार भी शामिल थे। (पीटीआई)

    ...
  •  


Posted Date : 01-Dec-2017
  •  टीम इंडिया ने 2014-15 में गंवाई थी अपनी पिछली सीरीज

    नई दिल्ली, 1 दिसम्बर: भारत और श्रीलंका के बीच तीन टेस्‍ट मैच की सीरीज का अंतिम मैच कल से यहां के फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेला जाएगा. विजय रथ पर सवार विराट कोहली ब्रिगेड लगातार नौवीं सीरीज जीतकर इतिहास रचने के इरादे से उतरेगी. नागपुर में दूसरे टेस्ट में पारी और 239 रन की जीत के साथ मौजूदा सीरीज में 1-0 से आगे चल रही टीम इंडिया ने कोहली की अगुआई में पिछली आठ सीरीज  में जीत दर्ज की है और अगर टीम कल से शुरू हो रहे तीसरे टेस्ट को ड्रॉ भी करा लेती है तो लगातार नौ टेस्ट सीरीज जीतने के ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेगी. भारत ने पिछली सीरीज वर्ष 2014-15 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसी की सरजमीं पर गंवाई थी. टीम इंडिया को तब चार मैचों की सीरीज में 2-0 से शिकस्त का सामना करना पड़ा. इसके बाद से भारत ने नौ सीरीज खेलीं और लगातार आठ सीरीज जीतकर इतिहास रचने की दहलीज पर खड़ा है. टीम इंडिया ने इस दौरान स्वदेश में पांच, श्रीलंका में दो और वेस्टइंडीज में एक सीरीज जीती.

    दुनिया की नंबर एक टीम भारत के स्वदेश में दबदबे का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि 2012-13 में इंग्लैंड के खिलाफ चार मैचों की सीरीज 2-1 से गंवाने के बाद से वह अपनी मेजबानी में लगातार सात सीरीज जीत चुका है. टीम इंडिया ने इस दौरान 23 मैचों में से 19 में जीत दर्ज की जबकि एकमात्र मैच उसने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गंवाया. दक्षिण अफ्रीका के कड़े दौरे से पहले यह भारत के लिए अंतिम टेस्ट मैच होगा और ऐसे में टीम प्रबंधन की इच्छा के अनुरूप कोटला में भी कोलकाता के ईडन गार्डन्स और नागपुर के वीसीए स्टेडियम की तरह घसियाली पिच पर मैच हो सकता है. ईडन गार्डन्स पर तेज गेंदबाजों ने कहर बरपाया था जबकि नागपुर में स्पिनर अधिक प्रभावी रहे थे. टीम प्रबंधन के सामने यह भी सवाल होगा कि इस मैच में कोलकाता की तरह पांच गेंदबाजों के साथ उतरा जाए या नागपुर की तरह चार गेंदबाजों के साथ उतरकर अतिरिक्त बल्लेबाज को खिलाया जाए. अगर भारत पांच गेंदबाजों के साथ उतरने का फैसला करता है तो उप कप्तान अजिंक्य रहाणे को बाहर बैठाना पड़ सकता है. वह मौजूदा सीरीज की तीन पारियों में एक बार भी दोहरे अंक तक नहीं पहुंचे हैं.

    दूसरी तरफ रोहित शर्मा ने एक साल से भी अधिक समय बाद टीम में वापसी करते हुए नागपुर में शतक जड़ा था जिसके कारण उन्हें बाहर करना आसान फैसला नहीं होगा. भारत पिछले 30 साल से कोटला पर अजेय है. यहां पिछले 11 मैचों में से 10 में टीम इंडिया ने जीत दर्ज की है और एक मैच बराबरी पर छूटा. इस मैदान पर भारत ने कुल 33 टेस्ट खेले हैं और उनमें से उसे 13 में जीत और छह में हार मिली जबकि 14 मैच ड्रॉ छूटे.

    निजी कारणों से पिछले मैच में बाहर रहने वाले शिखर धवन और लोकेश राहुल में से एक को अंतिम एकादश से बाहर रहना पड़ सकता है क्योंकि मुरली विजय नागपुर में शतक जड़कर सलामी बल्लेबाज के रूप में अपना दावा मजबूत कर चुके हैं. मध्यक्रम में कोहली का साथ बेहतरीन फॉर्म में चल रहे चेतेश्वर पुजारा, रोहित और विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा निभा सकते हैं. रहाणे को अगर मौका मिलता है तो वह कोटला पर अपने पिछले प्रदर्शन को दोहराना चाहेंगे. उन्होंने इस मैदान पर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दिसंबर 2015 में हुए पिछले मैच की दोनों पारियों में शतक जड़े थे. रहाणे इसके अलावा 3000 टेस्ट रन की उपलब्धि भी हासिल कर सकते हैं जिसके लिए उन्हें 185 रन की दरकार है. नागपुर में भारत की जीत में अहम भूमिका निभाने वाली ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा की जोड़ी एक बार फिर मैदान पर दिख सकती है. तेज गेंदबाजों में ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और उमेश यादव दावेदार होंगे.

    कोहली के पास इस मैच में जीत के साथ भारत के दूसरे सबसे सफल कप्तान के रूप में सौरव गांगुली की बराबरी करने का मौका होगा. गांगुली की अगुआई में भारत ने 49 मैचों में 21 जीत दर्ज की जबकि कोहली की अगुआई में भारत अब तक 31 मैचों में 20 जीत दर्ज कर चुका है. कप्तान के रूप में इन दोनों से अधिक जीत सिर्फ धोनी (60 मैचों में 27 जीत) के नाम दर्ज हैं.दूसरी तरफ श्रीलंका को बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों विभागों में जूझना पड़ा है. कप्तान दिनेश चंदीमल (दो मैचों में 166 रन) के अलावा टीम का कोई बल्लेबाज सीरीज में 100 रन के आंकड़े को भी पार नहीं कर पाया है. गेंदबाजी में तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल के अलावा टीम के अन्य गेंदबाजों ने निराश किया है.

    दोनों टीमें इस प्रकार हैं...
    भारतः विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, रविचंद्रन अश्विन, शिखर धवन, रविंद्र जडेजा, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, चेतेश्वर पुजारा, ऋद्धिमान साहा, लोकेश राहुल, इशांत शर्मा, विजय शंकर, रोहित शर्मा, मुरली विजय और उमेश यादव.

    श्रीलंकाः दिनेश चंदीमल (कप्तान), दिमुथ करुणारत्ने, सदीरा समरविक्रमा, एंजेलो मैथ्यूज, लाहिरु तिरिमाने, निरोशन डिकवेला, लाहिरु गमागे, जेफ्रे वांडरसे, सुरंगा लकमल, दासुन शनाका, धनंजय डिसिल्वा, विश्व फर्नांडो, दिलरुवान परेरा, लक्षण संदाकन और रोशन सिल्वा. (इनपुट: एजेंसी)

    ...
  •  


Posted Date : 01-Dec-2017
  • नई दिल्ली, 1 दिसंबर। भारतीय महिला क्रिकेट टीम की पूर्व सदस्य और कोच श्रीरूपा मुखर्जी का गुरूवार को सुबह दिल का दौरा पडऩे से निधन हो गया। वह 65 वर्ष की थी। उनके परिवार में पति परेशनाथ मुखर्जी और पुत्री अमृता है।
    श्रीरूपा ने भारत की तरफ से न्यूजीलैंड के खिलाफ दो एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेले थे। इसके अलावा वह बंगाल की कप्तान भी रही। वह तीन विश्व कप 1993, 1997 और 2000 में तीन विश्व कप में भारतीय महिला टीम की मैनेजर भी रही थी। जबकि वह दूरदर्शन और आकाशवाणी की कमेंटेटर भी थीं।  (भाषा)

     

    ...
  •