खेल

Posted Date : 25-Nov-2017
  • नई दिल्ली, 25 नवंबर । भारतीय कप्तान विराट कोहली ने शिकायत की है कि इतने ज्यादा मैच होने की वजह से टीम इंडिया को दक्षिण अफ्रीका के दौरे जैसी बड़ी सिरीज के लिए वाजिब तैयारी करने का वक्त नहीं मिला।
    बोर्ड के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना ने कहा, विराट भारतीय टीम के कप्तान हैं और क्रिकेट के मुद्दों पर उनके नजरिए को पूरी गंभीरता से लिया जाता है। टीम के प्रदर्शन पर हमें गर्व है लेकिन अगर खिलाड़ी थकान महसूस कर रहे हैं तो हमें इस मुद्दे को गंभीरता से लेना चाहिए।
    इस शिकायत और चिंता में वाकई दम है? शायद हां। क्योंकि भारतीय खिलाड़ी इंडियन प्रीमियर लीग की शुरुआत से लगातार क्रिकेट खेल रहे हैं। चैम्पियंस ट्रॉफी, वेस्टइंडीज और श्रीलंका का दौरा, फिर उसके बाद ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और श्रीलंका से घर में सिरीज। कुल मिलाकर 23 मैच जिनमें तीन टेस्ट मैच, 11 वनडे मैच और 9 टी20 इंटरनेशनल मैच शामिल हैं। इन दिनों श्रीलंका, भारत के दौरे पर है और फिलहाल दूसरा टेस्ट जारी है।
    भारतीय टीम 24 दिसंबर को श्रीलंका से आखिरी टी 20 मैच खेलेगी और फिर उसे 27 दिसंबर को दक्षिण अफ्रीका के लिए रवाना होना है। पिछले कुछ वक्त से भारतीय टीम घर में खेल रही हैं, ऐसे में दक्षिण अफ्रीका बेहद जरूरी दौरा है। वहां उसे तीन टेस्ट मैच, छह वनडे मैच और तीन टी20 इंटरनेशनल मैच खेलने हैं। जब खिलाड़ी और क्रिकेट बोर्ड, दोनों ये बात मान रहे हैं कि खिलाडिय़ों की थकान वाली बात में दम है तो मैच होते क्यों हैं। कमाई की वजह से?
    जून 2017 में आई खबर के मुताबिक आईसीसी के रेवेन्यू शेयरिंग मॉडल के मुताबिक भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को 40.5 करोड़ डॉलर मिलेंगे, जो इंग्लैंड से 26.6 करोड़ डॉलर ज्यादा है। कमाई के मामले में भारतीय क्रिकेट बोर्ड कितना आगे है, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि इस मॉडल के तहत ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान, वेस्टइंडीज, न्यूजीलैंड, श्रीलंका और बांग्लादेश को 12.8-12.8 करोड़ डॉलर मिलने हैं। आईसीसी की कुल साझा कमाई 153.6 करोड़ डॉलर है और इसमें भारतीय टीम की हिस्सेदारी सबसे ज्यादा 22.8 फीसदी है।
    इसके अलावा मैच जितने ज्यादा होते हैं, प्रसारण और विज्ञापनों से उतनी ज़्यादा कमाई भी भारतीय बोर्ड को होती है, जो इस मॉडर में हिस्सेदारी से अलहदा है। अब बात खिलाडिय़ों की कमाई की। इसी साल की शुरुआत में बोर्ड की कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स ने भारतीय टीम के 32 सेंट्रल कॉन्ट्रेक्ट वाले खिलाडिय़ों की रिटेनरशिप फीस बढ़ाकर दोगुनी कर दी थी।
    इसमें ग्रेड ए के खिलाडिय़ों को सालाना 2 करोड़, ग्रेड बी के खिलाडिय़ों को 1 करोड़ और ग्रेड सी खिलाड़ी को 50 लाख रुपए देने का फैसला हुआ था। उसी वक्त टेस्ट मैचों के लिए मिलने वाली मैच फीस 7.50 लाख रुपए से बढ़ाकर 15 लाख रुपए कर दी गई थी। जबकि वनडे और टी20 मैचों के लिए मिलने वाली फीस 6 लाख और 3 लाख रुपए कर दी गई थी। कमाई के अलावा एक और वजह है कि 

    खिलाड़ी ज्यादा मैच मिस नहीं करना चाहते। इसका कारण है भारतीय टीम की मजबूत बेंच स्ट्रेंथ।
    टेस्ट, वनडे या टी20 मैच, भारतीय टीम में कुछ ही खिलाड़ी जो तीनों फॉर्मेट में अपनी जगह पक्की मान सकते हैं। बाकी सभी को इस बात का डर हमेशा बना रहता है कि वो कुछ मैचों से रेस्ट लेते हैं तो कोई दूसरा खिलाड़ी उनकी जगह ले या भर ना दे। ये किसी भी टीम के लिए शुभ संकेत है, लेकिन इसकी अपनी परेशानियां भी हैं। (बीबीसी)

    ...
  •  


Posted Date : 25-Nov-2017
  • नई दिल्ली, 25 नवंबर, केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) का नाम बदला जाएगा और इसे पुनर्गठित करके अधिक पेशेवर बनाया जाएगा जिसमें सरकार का लक्ष्य 2022 तक कर्मचारियों की संख्या 50 प्रतिशत तक घटाने का है. ओलंपिक पदक विजेता राठौड़ ने कहा कि खेलों की इस शीर्ष संस्था के नाम से प्राधिकरण शब्द हटाया जाएगा क्योंकि इस क्षेत्र में इसके लिए कोई जगह नहीं है.

    राज्यवर्धन का कहना है कि खेल सेवा से जुड़ा है, फिलहाल SAI के बजट का अधिकांश हिस्सा खेल के इतर के कार्यों पर खर्च होता है. राठौड़ ने कहा कि केंद्र इस तरह के कार्यों को आउटसोर्स करेगा जिससे कि वह खेल प्रतिभा को निखारने के अपने मुख्य काम पर ध्यान दे सके.

    एथेंस ओलंपिक के रजत पदक विजेता राठौड़ ने बताया कि खेल प्रतिभा को खोजने के आधार को विस्तृत बनाने के लिए सरकार कई कदम उठाने वाली है और स्कूली छात्रों के बीच खेल संस्कृति विकसित करना चाहती है.

    तय होगा खिलाड़ियों का कोटा

    खेल मंत्री ने बताया कि 8 से 18 साल की उम्र की युवा प्रतिभा को चुनने के लिए अगले साल पूरे देश में प्रतिभा खोज अभियान लांच किया जाएगा. इन्हें विशेष तौर पर चुने गए स्कूलों में खेल और शिक्षा सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी.

    केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह खेलों को सरकार से पेशेवर लोगों की तरफ स्थानांतरित करने पर काम कर रहे हैं. खेल मंत्री ने साथ ही कहा कि उनका मंत्रालय नौकरियों में खिलाड़ियों के लिए कोटा तय करवाने का भी प्रयास करेगा.

    ग्रेड ए की नौकरी में हो आरक्षण

    राठौड़ के मुताबिक नियम खिलाड़ियों के लिए पांच प्रतिशत तक आरक्षण मुहैया कराते हैं. राठौड़ ने कहा, हम चाहते हैं कि खिलाड़ियों के लिए न्यूनतम कोटा तय किया जाए. उन्होंने कहा कि अगर कोई ओलंपिक में पदक जीतता है तो उन्हें ग्रेड ए की नौकरी में भी आरक्षण दिया जाना चाहिए.(आजतक)

    ...
  •  


Posted Date : 25-Nov-2017
  • नागपुर टेस्ट का पहला दिन भारतीय गेंदबाजों के नाम रहा जहां टीम इंडिया ने महज २०५ रनों पर श्रीलंकाई टीम को ढेर कर दिया और पहले ही दिन मैच में अपनी पकड़ बना ली है. लेकिन इस मैच में एक ऐसा वाकया हुआ जिसने दर्शकों का ध्यान अपनी तरफ खींचा था.

    दरअसल, भुवनेश्वर कुमार की जगह अतिरिक्त बल्लेबाज के रूप में टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने वाले च्हिटमैनज् रोहित शर्मा मैदान पर स्पाइडर कैमरे के साथ मस्ती करते हुए देखे गए. मैच के समय फील्डिंग के दौरान रोहित शर्मा ने उछल कर स्पाइडर कैमरे को पकड़ने की कोशिश की.  (आजतक)

    ...
  •  


Posted Date : 25-Nov-2017
  • नई दिल्ली, 25 नवंबर, टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने बताया कि उनके लिए साल 2002 में इंग्लैंड को उनकी ही सरजमीं पर नेटवेस्ट सीरीज हराकर लॉर्ड्स की बालकनी में टी-शर्ट उतार कर लहराने वाला पल बेहद खास रहा था. गांगुली ने इंडिया टुडे कान्क्लेव ईस्ट 2017 के कार्यक्रम में इस बात का जिक्र किया था.

    इस कार्यक्रम में सौरव गांगुली अपनी पत्नी डोना गांगुली के साथ पहुंचे थे. इस कार्यक्रम में डोना गांगुली ने बताया कि जब लॉर्ड्स के मैदान में सौरव ने अपनी टी-शर्ट निकाली थी, तो उन्हें कैसा लगा था. डोना ने बताया कि सौरव का वह अंदाज किसी भी लड़की की तरह मुझे भी बेहद अच्छा लगा था.

    इसके बाद गांगुली ने भी अपनी टी-शर्ट वाले वाकये पर कहा कि वह कभी यह (टी-शर्ट निकाल कर लहराना) दोबारा नहीं कर सकते. उन्होंने कहा, कि 'स्पोर्ट्स चैनल' मेरी यह फुटेज बार-बार दिखाते रहते हैं, एक बार मैंने प्रोडूसर को फोन कर कहा कि मेरे इंटरनेशनल रन और शतक भी दिखाने के लिए ही हैं. लेकिन उन्होंने कहा, यही वह चीज है जो वे दिखाना चाहते हैं.'

    गांगुली ने कहा, 'लॉर्ड्स में टी-शर्ट वाला पल वह कभी नहीं भूल सकते और यह काफी संतुष्टि देता है. मेरे लिए डेब्यू टेस्ट में शतक के बाद लॉर्ड्स स्टेडियम के रिकार्ड्स बोर्ड पर अपना नाम लिखा होना बेहद खास था.'

    बता दें कि 13, जुलाई 2002 को सौरव गांगुली की अगुवाई में भारतीय टीम ने क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स में इंग्लैंड को मात दी थी. भारत ने फाइनल में इंग्लैंड को हराकर नेटवेस्ट सीरीज अपने नाम की थी. 15 साल पहले खेले गए इस मैच में भारतीय क्रिकेट को कई नए हीरो मिले थे, जिसमें युवराज सिंह, मोहम्मद कैफ और जहीर खान हीरो बनकर उभरे थे. (आजतक)।

    ...
  •  


Posted Date : 24-Nov-2017
  • स्‍टंप्‍स के समय टीम इंडिया की पहली पारी का स्‍कोर 11/1
    नागपुर, 24 नवम्बर: नागपुर टेस्‍ट में भारतीय टीम मजबूत स्थिति में है. भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए दूसरे टेस्‍ट के पहले दिन श्रीलंका टीम को 79.1 ओवर में 205  रन पर समेट दिया. श्रीलंका की ओर से कप्‍तान दिनेश चंदीमल (57) और ओपनर दिमुथ करुणारत्‍ने (51) ही उल्‍लेखनीय पारी खेल सके. मैच में श्रीलंका टीम ने टॉस जीता और पहले बल्‍लेबाजी करने का फैसला किया. पारी के पांचवें ओवर से ही श्रीलंका के विकेट गिरने का सिलसिला शुरू हो गया जो लगातार जारी रहा. भारत की ओर से ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने सर्वाधिक चार विकेट लिए. रवींद्र जडेजा और तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने तीन-तीन हासिल किए. जवाब में पहले दिन स्‍टंप्‍स के समय टीम इंडिया का स्‍कोर एक विकेट खोकर 11 रन था. मुरली विजय और चेतेश्‍वर पुजारा 2-2 रन बनाकर नाबाद हैं.  कोलकाता में हुआ पहला टेस्‍ट मैच रोमांचक उतार-चढ़ाव के बाद ड्रॉ समाप्‍त हुआ था.

    भारत की पारी की शुरुआत केएल राहुल और मुरली विजय की जोड़ी ने की. सुरंगा लकमल की पहली ही गेंद पर राहुल ने चौका जमा दिया. पहले ओवर में 5 रन बने. पारी के चौथे ओवर में भारतीय टीम को केएल राहुल (7 रन, 13 गेंद, एक चौका) का विकेट गंवाना पड़ा. उन्‍हें तेज गेंदबाज लाहिरु गमागे ने बोल्‍ड किया. विजय और पुजारा ने इसके बाद खेल समाप्ति तक स्‍कोर 11 रन तक पहुंचा दिया,

    चायकाल के बाद समाप्‍त हुई श्रीलंका की पारी
    भारत की ओर से पहला ओवर ईशांत शर्मा ने फेंका जिसकी तीसरी ही गेंद पर समरविक्रमा ने चौका जमा दिया. ओवर में 5 रन बने. उमेश यादव की ओर से फेंके गए पारी के दूसरे ओवर में भी 5 रन बने. पारी के 5वें ओवर में ईशांत शर्मा टीम इंडिया के लिए पहली सफलता लेकर आए जब उन्‍होंने सदीरा समरविक्रमा (13 रन, 15 गेंद, एक चौका) को पहली स्लिप में चेतेश्‍वर पुजारा से कैच कराया. पहला विकेट गिरने के बाद श्रीलंका की रनगति में धीमी हो गई.12 ओवर के बाद ईशांत के स्‍थान पर ऑफ स्पिनर आर. अश्विन को गेंदबाजी के लिए लाया गया. श्रीलंका का दूसरा विकेट अश्विन के ही खाते में गया. उन्‍होंने लाहिरु तिरिमाने (9 रन, 58 गेंद) को बोल्‍ड किया. सीरीज में किसी भी भारतीय स्पिनर को मिला यह पहला विकेट थे. इससे पहले कोलकाता टेस्‍ट में सभी विकेट भारत के तेज गेंदबाजों ने हासिल किए थे. भारतीय टीम को जल्‍द ही तीसरा विकेट भी मिल सकता था. रवींद्र जडेजा की गेंद पर विकेटकीपर साहा ने करुणारत्‍ने को स्‍टंप आउट कर दिया था लेकिन यह गेंद नो बॉल होने के कारण मौका हाथ से जाता रहा. लंच के समय श्रीलंका का स्‍कोर दो विकेट खोकर 47 रन था.

    लंच के बाद तीसरे विकेट के लिए भारतीय टीम को ज्‍यादा इंतजार नहीं करना पड़ा. रवींद्र जडेजा ने एंजेलो मैथ्‍यूज (10रन, 20 गेंद) को एलबीडब्‍ल्‍यू कर भारत को यह सफलता दिलाई. श्रीलंकाई पारी बेहद धीमी रफ्तार से बढ़ रही थी. इस बीच ओपनर दिमुथ करुणारत्‍ने ने अपना अर्धशतक पूरा किया. उन्‍होंने इस दौरान 132 गेंदों का सामना करते हुए छह चौके लगाए. करुणारत्‍ने अर्धशतक पूरा करने के बाद ज्‍यादा देर नहीं टिके और 51 रन बनाकर ईशांत की गेंद पर एलबीडब्‍ल्‍यू हो गए.चाय के समय श्रीलंका का स्‍कोर चार विकेट पर 151 रन था.

    चायकाल के बाद चंदीमल ने अपना अर्धशतक पूरा किया.उन्‍होंने 97 गेंदों का सामना करते हुए चार चौके और एक छक्‍का लगाया. टीम का 5वां विकेट निरोशन डिकवेला (24) के रूप में गिरा जिन्‍हें रवींद्र जडेजा की गेंद पर ईशांत शर्मा ने कैच किया. नए बल्‍लेबाज दासुन शनाका (2) भी ज्‍यादा देर नहीं टिके, उन्‍हें अश्विन ने बोल्‍ड किया. कप्‍तान चंदीमल के आउट होते ही श्रीलंका टीम की रही सही उम्‍मीदें भी खत्‍म हो गईं. चंदीमल (57रन, 122 गेंद, चार चौके, एक छक्‍का) को अश्विन ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया. श्रीलंका के अगले दो विकेट सुरंगा लकमल (17)और रंगना हेराथ (4) के रूप में गिरे. लकमल को ईशांत ने विकेटकीपर साहा से कैच कराया जबकि रंगना का कैच अश्विन की गेंद पर अजिंक्‍य रहाणे ने लपका. भारत की ओर से अश्विन ने सर्वाधिक चार विकेट लिए. रवींद्र जडेजा और ईशांत शर्मा के खाते में तीन-तीन विकेट आए.

    विकेट पतन: 20-1 (समरविक्रमा, 4.5), 44-2 (तिरिमाने, 24.6),  60-3 (मैथ्‍यूज, 29.6), 122-4 (करुणारत्‍ने, 50.6),,160-5 (डिकेवला, 60.6), 165-6 (शनाका, 65.2), 184-7 (परेरा, 70.4), 184-8 (चंदीमल, 71.3), 205-9 (लकमल, 78.6), 205-10(हेराथ, 79.1)

    भारतीय टीम ने अपनी प्‍लेइंग इलेवन में तीन बदलाव किए हैं. मांसपेशियों में खिंचाव के कारण शमी मैच में नहीं खेल रहे हैं. उनकी जगह ईशांत शर्मा टीम में शामिल किए गए हैं. भुवनेश्‍वर कुमार के स्‍थान पर रोहित शर्मा और शिखर धवन के स्‍थान पर मुरली विजय को टीम में जगह मिली है. (ndtv)

    ...
  •  


Posted Date : 24-Nov-2017
  • मेरठ, गुरुवार को टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार अपनी गर्लफ्रेंड नूपुर के हो जाएंगे. भुवी पूरे धूमधाम के साथ घोड़ी चढ़ बारात लेकर निकले. कोलकाता टेस्ट में धूम मचाने के बाद भुवनेश्वर ने अपनी शादी के लिए टीम इंडिया से छुट्टी ले ली है.

    घुड़चढ़ी के बाद बारात गुरुवार सुबह करीब 11 बजे  मेरठ बाइपास स्थित होटल ब्राउरा पहुंची. इस दौरान उनके करीबी दोस्तों के अलावा मेरठ, बागपत और बुलंदशहर में रहने वाले रिश्तेदारों ने जमकर जश्न मनाया. इस मौके पर मीडिया को दूर रखा गया था.
    बताया जाता है कि दोपहर में चुनिंदा लोगों की मौजूदगी में शादी की रस्म पूरी होगी. शाम में ही इसी होटल में भुवनेश्वर की ओर से रिशेप्सन का आयोजन किया गया है. 3 अक्टूबर को भुवी ने अपनी 'बेटर हाफ' की फोटो शेयर की थी.

    रिसेप्शन में शहर के प्रमुख लोगों को न्योता दिया गया है. भुवनेश्वर के पिता किरणपाल के मुताबिक 23 नवंबर को भुवनेश्वर के पैतृक गांव बुलंदशहर के लुहारली गांव में दूसरा रिशेप्सन होगा. 4 दिसंबर को दिल्ली के ताज होटल में एक और पार्टी होगी, जिसमें भारत -श्रीलंका की टीमें शिरकत करेंगी. साथ ही राजनीति, क्रिकेट और फिल्म जगत से जुड़ी बड़ी हस्तियों को भी आमंत्रित किया गया है. (आजतक)।

    ...
  •  


Posted Date : 24-Nov-2017
  • कोलकाता, 24 नवंबर , भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को मच्छरों ने मुश्किल में डाल दिया है. अब उनको जल्द ही नगर निगम का नोटिस भी जारी होने वाला है. दरअसल, कोलकाता नगर निगम ने टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली के घर डेंगू फैलाने वाले मच्छरों का लार्वा पाया है, जिसके बाद उन्हें नोटिस भेजने का फैसला किया है.

    सौरभ के बड़े भाई और पूर्व रणजी खिलाड़ी स्नेहाशीष को डेंगू होने का पता चला है और उनका अभी शहर के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है. कोलकाता नगर निगम की मेयर परिषद (स्वास्थ्य) के सदस्य अतिन घोष ने बताया, च्च्हमें 19 नवंबर को जांच के दौरान बेहाला में गांगुली के घर से डेंगू के मच्छरों का लार्वा मिला था और हमने उनसे जगह को साफ रखने को कहा था.ज्ज्

    घोष ने बताया कि गुरुवार को हुए निरीक्षण में कोलकाता नगर निगम के अधिकारियों ने गांगुली के घर के बड़े परिसर में डेंगू के मच्छरों के लार्वा देखे. उन्होंने इस संबंध में जारी सुझाव का पालन तक नहीं किया, जिसके चलते मच्छरों के लार्वा मिले हैं.  घोष ने बताया कि अब नियमों के मुताबिक सौरभ गांगुली को नोटिस भेजा जाएगा.

    क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल के अध्यक्ष गांगुली के भाई स्नेहाशीष गांगुली को बुधवार को ही कोलकाता के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है. फिलहाल उनका  इलाज चल रहा है. अस्पताल के एक सीनियर अधिकारी ने इस बात की पुष्टि की है.

    उन्होंने बताया, ''स्नेहाशीष गांगुली को शरीर में दर्द और बुखार के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जांच के बाद उनको डेंगू होने की पुष्टि हुई थी, जिसके बाद से उनका इलाज चल रहा है. फिलहाल उनकी हालत पहले से बेहतर है.''(आजतक)।

    ...
  •  


Posted Date : 24-Nov-2017
  • नागपुर, 24 नवंबर, टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली अपने करियर के व्यस्ततम दौर से गुजर रहे हैं. पिछले एक साल में ऐसा एक ही मैच रहा, जिसमें वह नहीं खेले. टीम इंडिया के लगातार सीरीज खेलने का मामला इन दिनों सुर्खियों में है. आंकड़े बताते हैं विराट हर चौथे दिन मैच खेलते हैं. तो क्या 29 साल के विराट को क्रिकेट से एक ब्रेक की जरूरत है? एक रिपोर्ट के मुताबिक, विराट ने लगातार 90,000 किमी. से ज्यादा का सफर तय कर लिया है. पृथ्वी की पूरी परिधि इस आंकड़े के आधे से भी कम बैठती है. उनकी यह यात्रा जुलाई 2016 के वेस्टइंडीज दौरे से शुरू हुई थी.

    विराट ने लगातार उठाया थकान का मसला

    लगातार क्रिकेट सीरीज कराने और खराब प्लैनिंग को लेकर कोहली ने नागपुर में बीसीसीआई को भी कोसा है. टीम इंडिया फिलहाल श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेल रही है. इसके बाद भारत और श्रीलंका के बीच 3 मैचों की वनडे और 3 टी-20 मैच खेले जाएंगे. कोहली कह चुके है कि अधिक क्रिकेट से खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर असर पड़ रहा है. इससे पहले कोलकाता में विराट ने कहा था, ' मुझे भी रेस्ट की जरूरत होती है. क्यों मुझे रेस्ट की जरूरत नहीं होगी? मैं रोबोट नहीं हूं. आप मेरी चमड़ी को काट कर देख सकते हैं, इससे खून आएगा.'
    गुरुवार को नागपुर टेस्ट में उतरते ही विराट इस साल ४५ इंटरनेशनल मुकाबले खेलने वाले क्रिकेटर बन गए. साथ ही इस साल उन्होंने आईपीएल के 10 मुकाबले भी खेले. यानी इस साल उनके अब तक 91 दिन मैदान पर क्रिकेट खेलते बीते (मौजूदा नागपुर टेस्ट के 5 दिन भी शामिल हैं). अन्य भारतीय खिलाड़ी इस साल मैच खेलने में उनके आसपास भी नहीं ठहरते. देखिए आंकड़े-

    -45 इंटरनेशनल मैच - विराट कोहली

    (9 टेस्ट, 26 वनडे, 10 टी-20 इंटरनेशनल)

    -36 इंटरनेशनल मैच- महेंद्र सिंह धोनी

    -36 इंटरनेशनल मैच- हार्दिक पंड्या (तीन टेस्ट मैच शामिल)

    -31 इंटरनेशनल मैच- भुवनेश्वर कुमार (तीन टेस्ट मैच शामिल)

    -29 इंटरनेशनल मैच- शिखर धवन (4 टेस्ट मैच शामिल)

    -29 इंटरनेशनल मैच- जसप्रीत बुमराह

    -29 इंटरनेशनल मैच- केदार जाधव

    -25 इंटरनेशनल मैच- रोहित शर्मा (1 टेस्ट मैच शामिल)

    -22 इंटरनेशनल मैच- अजिंक्य रहाणे (10 टेस्ट मैच शामिल)

    -20 इंटरनेशनल मैच- यजुवेंद्र चहल

    इस साल सितंबर से दिसंबर के दौरान रिकॉर्ड 23 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले ( 3 टेस्ट, 11 वनडे और 9 टी-20) का शेड्यूल जारी है. जबकि जनवरी में भारतीय टीम द. अफ्रीका के दौरे पर रहेगी.

    चोटिल होने के बाद दो हफ्ते में की थी वापसी

    इस साल मार्च में विराट एक ही मैच से बाहर रहे. दरअसल, विराट कंधे में चोट की वजह से ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध धर्मशाला टेस्ट में नहीं खेल पाए थे. उन्हें रांची टेस्ट में फील्डिंग के दौरान कंधे में गंभीर चोट लगी थी. विराट ने जिम में लगातार पसीना बहाया और महज दो हफ्ते में खुद को फिट कर दिखाया. आईपीएल-2017 में खेलने के बाद उन्होंने चैंपियंस ट्रॉफी जैसे आईसीसी के अहम टूर्नामेंट में भाग लिया.(आजतक)।

    ...
  •  


Posted Date : 24-Nov-2017
  • नई दिल्ली , 24  नवंबर , दो रन पर किसी टीम का ऑल आउट होना क्रिकेट प्रेमियों को बेहद चौंकानेवाला है. लेकिन यह सच है, केरल स्थित गुंटूर के जेकेसी कॉलेज मैदान पर खेले गए बीसीसीआई के अंडर-19 वनडे सुपर लीग मैच में नगालैंड की महिला टीम महज २ रन पर ढह गई. केरल की गेंदबाजों ने यह कारनामा किया.

    नगालैंड के ये दो रन 17 ओवर की बल्लेबाजी में बने. जिसमें बल्ले से एक रन आया, जबकि एक रन एक्स्ट्रा का था. पूरी पारी के दौरान 9 बल्लेबाज शून्य पर लौटीं. और जब केरल की टीम जवाबी पारी खेलने आई, तो पहली ही गेंद पर, जो वाइड थी, चौका ठोंककर मैच जीत लिया.
    इसका मतलब है कि चेज करते हुए सबसे कम गेंदों में जीत हासिल करने का रिकॉर्ड केरल की टीम ने बना डाला. इससे पहले नेपाल की टीम ने म्यांमार के खिलाफ अगस्त 2006 में एशियन क्रिकेट काउंसिल (एसीसी) ट्रॉफी मुकाबले में दो गेंदों में मैच जीता था. तब म्यांमार की टीम 10  रन पर सिमट गई थी.(आजतक)।

    ...
  •  


Posted Date : 24-Nov-2017
  • गुवाहाटी, 24 नवंबर , एआईबीए महिला यूथ विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में शुक्रवार को चार भारतीय मुक्केबाज सेमीफाइनल में अपनी किस्मत आजमाने उतरेंगी. इनमें से शशि और अंकुशिता पर खासतौर पर सभी की निगाहें होंगी, क्योंकि इन दोनों ने अपने-अपने भारवर्ग में अब तक बेहतरीन प्रदर्शन किया है. फ्लाई, फेदर, वेल्टर, मिडिल और हैवी कटेगरी में शुक्रवार को कुल 10मुकाबले होने हैं. भारत के अलावा रूसी खिलाड़ियों ने भारत की बराबरी करते हुए सेमीफाइनल में जगह बनाई है.

    कजाकिस्तान की दो मुक्केबाज अंतिम चार की चुनौती पेश करेंगी, जबकि चीन, मंगोलिया, थाईलैंड, ताइपे, आयरलैंड, जापान, पोलैंड, तुर्की, इंग्लैंड और वियतनाम की एक-एक खिलाड़ी सेमीफाइनल में अपनी किस्मत आजमाएंगी. भारत और रूस की मुक्केबाज शुक्रवार को किसी भी भारवर्ग में एक-दूसरे के सामने नहीं उतरेंगी. भारत की ज्योति को फ्लाईवेट में कजाकिस्तान की अबराएमोवा झानसाया से भिड़ना है. झानसाया ने इससे पहले अमेरिका की हेवन गार्सिया को हराया है और उन्हें खिताब का दावेदार माना जा रहा है.

    शशि चोपड़ा को मंगोलिया की मोंघोर नामुन से भिड़ना है. नामुन को एक कड़ा विपक्षी माना जाता है. वह न सिर्फ आक्रामक हैं बल्कि तेज भी हैं तथा उनके पास कई अच्छे पंच हैं. इसके बाद बारी भारत की सबसे प्रतिभाशाली मुक्केबाज अंकुशिता बोरो की होगी. बोरो को स्थानीय लोगों का जबरदस्त समर्थन मिलेगा और वह थाईलैंड की साकश्री थानचानोक को हराने का प्रयास करेंगी. थाई खिलाड़ी ने बीते मुकाबले में पोलैंड की बोरेस पेट्रिका को हराया था.

    सेमीफाइनल मे जगह बनाने वाली भारत की चौथी मुक्केबाज नेहा यादव हैं. नेहा को फाइनल में जगह बनाने के लिए कजाकिस्तान की इस्लामबेकोवा डिना से भिड़ना है. कजाक खिलाड़ी काफी हार्ड हिटिंग और प्रतिभाशाली हैं। नेहा को जीत हासिल करने के लिए अपना श्रेष्ठ खेल दिखाना होगा. भारत के पदक जीतने की सम्भावनाओं पर भारतीय मुक्केबाजी महासंघ के हाई परफारमेंस निदेशक राफेल बेगार्मास्को ने कहा, 'मैं अच्छे प्रदर्शन पर जोर देता हूं और इसी कारण मैं कभी पदक नहीं गिनता. अगर आप अच्छा खेलेंगे तो पदक आएंगे. मैंने सात पदकों का लक्ष्य रखा था और मुझे गर्व है कि मैंने यह लक्ष्य हासिल कर लिया.' (आजतक)।

    ...
  •  


Posted Date : 23-Nov-2017
  • कॉव्लून (हांगकांग), 23 नवम्बर । भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधु हांगकांग ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई हैं। पिछली बार की उपविजेता सिंधु ने गुरुवार को जापान की वल्र्ड नंबर-14 अया ओहोरी को 21-14, 21-17 से मात दी। सिंधु ने अपने करियर में लगातार तीसरी बार ओहोरी को शिकस्त दी है। रियो ओलंपिक की सिल्वर मेडलिस्ट वल्र्ड नंबर-2 सिंधु ने पहले दौर में भी आसान जीत दर्ज की थी। तब उन्होंने 786वीं रैंकिंग वाली हांगकांग की यूट यी लुंग को 26 मिनट में 21-18, 21-10 से हराया था।
    उधर, दुनिया की 11वें नंबर की खिलाड़ी साइना नेहवाल दूसरे दौर में 8वीं वरीयता प्राप्त चीन की चेन युफेइ से खेलेंगी, जिन्होंने अगस्त में ग्लास्गो में हुई विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था। साइना ने पहले दौर में 44वें नंबर की खिलाड़ी डेनमार्क की मेट्टे पोलसेन को 21-19, 23-21 से हराया था।
    पुरुष सिंगल्स में आज ही वल्र्ड नंबर-16 एचएस प्रणॉय दूसरे दौर में अपनी चुनौती पेश करेंगे। उनका मुकाबला वल्र्ड नंबर-25 जापान के कुजुमासा सकाई से होगा। पहले दौर में प्रणॉय ने हांगकांग के हु युन को 21-17, 21-15 से मात दी थी। पारुपल्ली कश्यप, सौरभ वर्मा और बी। साई प्रणीत पहले दौर की बाधा पार नहीं कर पाए थे।(आज तक)

     

    ...
  •  


Posted Date : 23-Nov-2017
  • नई दिल्ली, 23 नवंबर 2017,  भारत सरकार पाकिस्तान के साथ टेस्ट क्रिकेट खेलने के पक्ष में नहीं है. सूत्रों का कहना है कि दोनों देशों के बीच फिलहाल सीरीज मुश्किल है. आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के तहत भारत-पाकिस्तान के बीच सीरीज खेली जानी है. इस संबंध में बीसीसीआई के अधिकारियों ने खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ से मुलाकात की थी. जल्दी ही बीसीसीआई इस पर फैसला करेगा.

    बोर्ड के एक अधिकारी ने कहा,च्यह शिष्टाचार भेंट थी और काफी पहले से तय थी. राठौड़ के पदभार संभालने के बाद से वे उनसे मिलना चाहते थे. उनसे पाकिस्तान से क्रिकेट संबंध के बारे में भी बात की गई. उन्होंने कहा, पाकिस्तान के साथ खेलने या नहीं खेलने का मामला खेल मंत्रालय का ही नहीं, बल्कि पीएमओ और गृह मंत्रालय का फैसला होगा.'

    बीसीसीआई ने 2014 में पीसीबी के साथ सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए थे. जिसके तहत 2015 से 2023 के बीच उन्हें छह द्विपक्षीय सीरीज खेलनी है. भारत ने हालांकि आपसी संबंधों में आई तल्खी के बाद पाकिस्तान के साथ खेलने से इनकार कर दिया था. भारत ने 2012-13 में अपनी धरती पर दो टी-20 और तीन वनडे मैचों की सीरीज के बाद से पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेली है.(आजतक)।

    ...
  •  


Posted Date : 23-Nov-2017
  • गुवाहाटी, 23 नवंबर 2017,  भारतीय महिला मुक्केबाज एआईबीए महिला युवा विश्व चैंपियनशिप में अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की ओर बढ़ रही हैं. भारत ने क्वार्टर फाइनल के दिन पांच पदक अपने सुनिश्चित दो पदकों में जोड़ लिए. भारत ने इस प्रतियोगिता के पिछले चरण में महज एक कांस्य पदक जीता था और 2011 के बाद से एक भी स्वर्ण पदक नहीं जीता है.

    ज्योति गुलिया (51 किग्रा), शशि चोपड़ा (57 किग्रा), अंकुशिता बोरो (64 किग्रा), नीतू (48 किग्रा) और साक्षी चौधरी (54 किग्रा) ने अपनी अपनी क्वार्टर फाइनल बाउट जीतकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया.नेहा यादव (प्लस 81 किग्रा) और अनुपमा (81 किग्रा) ने अपने वजन वर्गों में ड्रॉ में कम मुक्केबाजों के कारण अंतिम चार में पहुंचकर पदक पक्का किया था.

    हालांकि निहारिका गोनेला (75 किग्रा) इंग्लैंड की जार्जिया ओकोनोर से और आस्था पहवा (69 किग्रा) तुर्की की कानसेर ओल्टु से क्वार्टर फाइनल में हारकर पदक की दौड़ से बाहर हो गईं.अंतरराष्ट्रीय स्तर की स्वर्ण पदकधारी ज्योति रिंग पर उतरने वाली पहली भारतीय थी, जिन्होंने इटली की जियोवाना मार्चेसे को 5-0 से शिकस्त दी. वह तीनों दौर में आक्रामक रहीं और उनका बाउट में दबदबा रहा.

    अगली मुक्केबाज शशि थीं, जिन्होंने दसवीं वरीय कजाखस्तान की संदुगाश अबिखान को 5-0 से ही पराजित किया. हालांकि यह स्कोर की तरह इतना आसान मुकाबला नहीं रहा.दो बार की अंतरराष्ट्रीय रजत पदकधारी अंकुशिता को इटली की रेबेका निकोली के खिलाफ अन्य बाउट के मुकाबले कड़ी मशक्कत करनी पड़ी. लेकिन फिर भी यह भारतीय जीत दर्ज करने में सफल रही.

    शाम के सत्र में शीर्ष वरीय और मौजूदा राष्ट्रीय चैंपियन नीतू को जर्मनी की मैक्सी क्लोट्जर को हराने में जरा भी दिक्कत नहीं हुई, साक्षी के साथ भी ऐसा ही हुआ, उन्होंने भी चीन की लु जिया को हराकर अंतिम चार में प्रवेश किया. (आजतक)।

    ...
  •  


Posted Date : 23-Nov-2017
  • कोलकाता, 23 नवंबर 2017, किसी कप्तान के लिए विदेशी धरती पर सीरीज पर कब्जा करना बड़ी बात होती है. इतना ही नहीं उस दौरान के वाकये हमेशा याद रहते हैं. ऐसा ही कुछ सौरव गांगुली के साथ हुआ. 2004 में गांगुली की कप्तानी में भारत ने पाकिस्तान का दौरा किया था. इस दौरान टीम इंडिया ने टेस्ट सीरीज और वनडे सीरीज में अपनी श्रेष्ठता साबित करते हुए पाकिस्तान को धूल चटाई थी. लेकिन कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के चलते गांगली उस जीत का जश्न नहीं मना पाए थे.

    डेक्कन क्रॉनिकल के मुताबिक सौरव ने कोलकाता में उस वाकये को याद करते हुए कहा, च्कड़ी सुरक्षा की वजह से हमलोग उस जीत को सेलीब्रेट भी नहीं कर पाए. मैं होटल के पिछले दरवाजे से बाहर निकला और अपने दोस्तों के साथ बाजार में कबाब खाने पहुंच गया. तभी राजदीप सरदेसाई (वरिष्ठ पत्रकार) की नजर मुझ पर पड़ी. उन्होंने मुझे दूर से ही पहचान लिया और कहा- भारत के कप्तान पाकिस्तान के फूड स्ट्रीट में अपने दोस्तों के साथ ये क्या कर रहे हैं..?'

    गांगुली ने कहा,'मैं समझ गया कि मेरे डिनर का मजा किरकिरा हो चुका है. एक मिनट के भीतर ही मेरे पास इंटेलिजेंस का फोन आया और मुझे तुरंत होटल लौटना पड़ा. चूंकि मैं कप्तान के तौर पर सीरीज जीत चुका था, इसलिए मुझे किसी ने डांटा नहीं... लेकिन दूसरी ही सुबह मेरे पास पाकिस्तान के राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को फोन आया. उन्होंने मुझसे कहा. 'अगली बार जब आप ऐसे बाहर गए और यदि कुछ अनहोनी हो गई, तो दोनों देशों के बीच युद्ध छिड़ जाएगाज्.(आजतक)।

    ...
  •  


Posted Date : 23-Nov-2017
  • ब्रिस्बेन,23 नवंबर 2017,  गुरुवार को ऑस्ट्रेलिया इंग्लैंड के बीच ७०वीं एशेज सीरीज की शुरुआत हो चुकी है. ब्रिस्बेन में खेले जा रहे पहले टेस्ट में इंग्लैंड ने टॉस जीता और पहले खेलने का फैसला किया. उनकी शुरुआत खराब रही. सलामी बल्लेबाज एलेस्टेयर कुक (2 रन) को मिशेल स्टार्क ने चलता किया.

    ऑस्ट्रेलिया की टीम ने डेविड वॉर्नर और शॉन मार्श दोनों खेल रहे हैं. वॉर्नर-मार्श के अभ्यास के दौरान चोटिल हो गए थे. बारिश की वजह से 29 ओवर फेंके जाने के बाद मैच रुक गया था. उस वक्त इंग्लैंड का स्कोर 59/1 था.

    फिलहाल 32-32 टेस्ट जीतकर सीरीज में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड बराबरी पर हैं. लेकिन एशेज सीरीज शुरुआती टेस्ट में सबसे ज्यादा जीत हासिल करने की बात करें, तो ऑस्ट्रेलिया आगे है. ऑस्ट्रेलिया ने अब तक एशेज सीरीज का पहला टेस्ट 27 बार जीता है. इंग्लैंड के हिस्से 23 जीत आई. जबकि19 टेस्ट ड्रॉ रहे.

    ऑस्ट्रेलिया की धरती पर एशेज सरीज के पहले टेस्ट में सर्वाधिक जीत की बात करें, तो एक बार फिर कंगारू टीम आगे हैं. उसने 16 टेस्ट जीते, इंग्लैंड ने 12 में जीत पाई, जबकि ६ मैच ड्रॉ रहे. उधर, इंग्लैंड की धरती पर एशेज सीरीज का पहला टेस्ट जीतने में दोनों 11-11 से बराबर हैं, 13 टेस्ट ड्रॉ रहे.

    एशेज सीरीज : ओपनिंग टेस्ट में सर्वाधिक जीत

    ओवरऑल: ऑस्ट्रेलिया 27, इंग्लैंड 23, ड्रॉ 19

    ऑस्ट्रेलिया में : ऑस्ट्रेलिया 16, इंग्लैंड 12, ड्रॉ 6

    इंग्लैंड में : इंग्लैंड 11, ऑस्ट्रेलिया 11, ड्रॉ 13 आजतक)।

    ...
  •  


Posted Date : 23-Nov-2017
  • मुंबई,23 नवंबर 2017, । मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर एक बार फिर सुर्खियों में हैं. अर्जन ने अंडर-19 मुकाबले में शानदार प्रदर्शन किया है. मुंबई के लिए खेलते हुए उन्होंने कूच बिहार ट्रॉफी में मध्य प्रदेश के खिलाफ पांच विकेट हासिल किए.

    यह मुकाबला एमसीए के बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स में खेला गया. बाएं हाथ के तेज गेंदबाज अर्जुन ने मैच की दूसरी पारी में 26 ओवर में 95 रन देकर 5 विकेट चटकाए. जबकि पहली पारी में अर्जुन को एक सफलता मिली. उन्होंने 42 रन देक एक विकेट हासिल किया था.

    मध्य प्रदेश की अंडर-19 टीम ने पहली पारी में 361 रन बनाए थे. मुंबई ने 506 रन बनाकर मध्य प्रदेश पर बढ़त हासिल की. इसके बाद दूसरी पारी में मध्य प्रदेश ने 411/8 रन के स्कोर पर अपनी पारी घोषित कर दी. मैच ड्रॉ घोषित किए जाने के वक्त मुंबई ने अपनी दूसरी पारी में 47/1 रन बनाए थे.(आजतक)

    ...
  •  


Posted Date : 22-Nov-2017
  • नई दिल्ली, 22 नवंबर। पाकिस्तान के दिग्गज तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का मानना है कि विराट कोहली 40 वर्ष की उम्र के बाद भी खेल सकते हैं। अख्तर ने कहा कि सिर्फ कोहली ही सचिन तेंडुलकर के 100 इंटरनैशनल सेंचुरी के रेकॉर्ड को तोड़ सकते हैं। पूर्व पाकिस्तानी तेज गेंदबाज ने कोहली की दिल खोलकर तारीफ की। अख्तर ने हालांकि यह भी कहा कि सचिन के साथ विराट की तुलना ठीक नहीं है। 
    अख्तर ने संयुक्त अरब अमीरात के अखबार खलीज टाइम्स से बातचीत में कहा, 'विराट कोहली, आधुनिक युग के महान बल्लेबाज हैं। बात जब लक्ष्य का पीछा करने की आती है तो किसी ने भी पारी को रफ्तार देने की बेहतर समझ नहीं दिखायी है। हां, अब उनके नाम 50 इंटरनैशनल सेंचुरी हैं। मुझे लगता है कि वह एकमात्र खिलाड़ी हैं जो सचिन तेंडुलकर के रेकॉर्ड को तोड़ सकते हैं। लेकिन उन पर कोई दबाव नहीं है। उन्हें सिर्फ अपने खेल का आनंद उठाना चाहिए। उन्हें अपना ख्याल रखना चाहिए।' 

    अख्तर ने कहा, 'अगर मिसबाह-उल-हक 43 साल की उम्र तक खेल सकते हैं तो मुझे यकीन है कि कोहली 44 साल की आयु तक खेल सकते हैं। अगर वह इतने समय तक खेल लेते हैं और मौजूदा रफ्तार से रन बनाते रहते हैं तो मुझे पूरा यकीन है कि वही सचिन के रेकॉर्ड को पीछे कर सकते हैं बल्कि मुझे लगता है कि वह 120 सेंचुरी लगा सकते हैं। लेकिन सचिन से उनकी तुलना करना सही नहीं है। सचिन सर्वकालिक महान बल्लेबाज हैं। आज के दौर में विराट कोहली महानतम बल्लेबाज हैं।' 

    इससे पहले श्री लंका के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट मैच में विराट कोहली ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपना 50वां शतक लगाया था। वह ऐसा करने वाले दुनिया के 8वें बल्लेबाज थे। कोहली ने सिर्फ रेकॉर्ड 348वीं पारी में यह मुकाम हासिल कर लिया। इस साल उन्होंने अभी तक कुल शतक लगाए हैं। बतौर कप्तान यह एक वर्ष में लगायी गईं सबसे ज्यादा सेंचुरी है। इससे पहले रिकी पोंटिंग ने दो बार और साउथ अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ ने एक बार कैलेंडर इयर में 9 शतक लगाए हैं। (नवभारतटाइम्स)

    ...
  •  


Posted Date : 22-Nov-2017
  • ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर गले की चोट के बावजूद इंग्लैंड के खिलाफ कल से शुरू हो रहा पहला टेस्ट खेलेंगे. 31 साल के उपकप्तान वॉर्नर को इस सप्ताह अभ्यास के दौरान कैच लपकते हुए गर्दन में चोट लगी थी.

    ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ ने कहा कि उनकी स्थिति में सुधार आया है. उन्होंने कहा, 'वह आत्मविश्वास से ओतप्रोत हैं और खेलने को तत्पर भी. चोट लगना खेल का हिस्सा है. उनकी हालत में सुधार आया है और उम्मीद है कि मैच के समय तक वह शत प्रतिशत फिट हो जाएंगे.'

    एक दिन पर वॉर्नर ने कहा था,च्मेरे गले में जकड़न है. मैंने ऊंचा कैच लपका और मेरे गले में चोट लग गई. ऐसी जकड़न पहले कभी महसूस नहीं हुई.ज् उन्होंने कहा,च्मुझे नहीं लगता कि गले में सूजन के कारण मैं मैच से बाहर रहूंगा. यह चोट अगले एक-दो दिन में ठीक हो जाएगी. मुझे अपनी तकनीक पर कुछ काम करना होगा.'(आजतक)।

    ...
  •  


Posted Date : 22-Nov-2017
  • कोलकाता, 22 नवंबर। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने ट्विटर पर भारतीय कप्तान विराट और कोच रवि शास्त्री का एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में विराट और कोच रवि शास्त्री के बीच इशारों-इशारों में पारी डिक्लेयर करने को लेकर बात हो रही है। अब बीसीसीआई ने लोगों से विराट और शास्त्री के बीच होने वाली इन इशारों का मतलब पूछा है। बता दें कि भारत-श्रीलंका के बीच पहला टेस्ट मैच ड्रॉ रहा। भारत इस मुकाबले में जीत से सिर्फ 3 ही विकेट दूर था। हालांकि दिन के काफी ओवर शेष बचे थे मगर समय निकलने और खराब रोशन के कारण मैच को समाप्त घोषित कर दिया। चौथी पारी के दौरान श्रीलंकाई बल्लेबाजों ने भी वक्त खराब करने की पूरी कोशिश की। इसके चलते अंपायर्स ने उन्हें चेताया भी मगर अंगुली बाद में भारतीय कप्तान विराट कोहली पर भी उठी। क्रिकेट पंडितों ने दलील दी कि अगर विराट कोहली अपने शतक का लोभ ना करते हुए पारी जल्द घोषित कर देते तो भारतीय टीम मैच जीत सकती थी।
    इस वीडियो के साथ बीसीआईआई ने एक कैप्शन भी लिखा है जिसमें उन्होंने खेल प्रेमियों से दोनों के बीच ‘साइन इन लैंग्वेज’ में होने वाली चर्चा को लेकर सवाल किया है। दरअसल, ड्रिंक्स ब्रेक के दौरान जब विराट कोहली बल्लेबाजी कर रहे थे तो कोहली ने रवि शास्त्री से इशारों में कुछ कहा। इस पर अभी तक क्रिकेट पंडितों ने तरह-तरह के दलीलें दीं हैं। कुछ का कहना है कि कोच रवि शास्त्री ड्रेसिंग रूम से विराट कोहली को जल्द पारी घोषित करने की सलाह दे रहे थे? तो वहीं कुछ ने माना कि वो कोहली को शतक पूरा कर पारी घोषित करने के लिए कह रहे थे।
    उस समय कोहली 86 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे और अपने अर्धशतक से केवल 14 रन दूर थे। क्रिकेट पंडितों की माने तो अगर कोहली अपने शतक के बारे में नहीं सोचते और टीम को जल्द ही घोषित कर देते तो शायद भारत ये मैच आसानी से जीत सकता था। क्योंकि चौथी पारी में श्रीलंका के बल्लेबाजों के लिए 200 रन बनाना आसान नहीं था। खैर कोहली और रवि शास्त्री के बीच हुए इशारेबाजी को लेकर फैंस अलग-अलग तरह की प्रतिक्रियाएं जाहिर की है। (जनसत्ता)

     

    ...
  •  


Posted Date : 22-Nov-2017
  • नई दिल्ली, 22 नवंबर। भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री ने लंबे समय से उनकी प्रेमिका रही सोनम भट्टाचार्य से सगाई कर ली। मोहन बागान के महान खिलाड़ी सुब्रत भट्टाचार्य की बेटी सोनम और छेत्री की शादी 4 दिसंबर को कोलकाता में होगी। बता दें कि भारतीय क्रिकेटर गुरुवार को (23 नवंबर को) गर्लफ्रेंड नूपुर नागर को शादी कर रहे हैं। 
    गुड़गांव के एक होटल में मंगलवार रात को संगीत कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इंडियन सुपर लीग के चौथे सत्र में बेंगलुरु एफसी की ओर से खेल रहे 33 साल के छेत्री रविवार को बेंगलुरु में मुंबई सिटी के खिलाफ मैच के बाद दिल्ली पहुंचे थे। 
    इन दोनों का विवाह कोलकाता में 4 दिसंबर को होगा, जबकि रिसेप्शन 24 दिसंबर को बेंगलुरु में होगा। सोनम ने स्कॉटलैंड से बिजनेस मैनेजमेंट में स्नातक की डिग्री ली है। 

     

    ...
  •