ब्रेकिंग न्यूज़

Previous12Next










  • कैंडी, 13 अगस्त. भारत और श्रीलंका के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का आखिरी टेस्ट कैंडी के पल्लेकेले स्टेडियम में खेला जा रहा है. पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने अपनी पहली पारी में 487 रन बनाए. जिसके जवाब में श्रीलंका की टीम ने अपनी पहली पारी में 4 विकेट गंवा कर 38 रन बना लिए हैं.
    इससे पहले भारत ने शिखर धवन और हार्दिक पंड्या के शतकों की मदद से पहली पारी में 487 का स्कोर खड़ा कर दिया. हार्दिक पंड्या ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए अपने टेस्ट करियर का पहला शतक जड़ दिया. उन्होंने अपना शतक 86 गेंदों में पूरे किया. इससे पहले शिखर धवन और लोकेश राहुल ने टीम इंडिया को अच्छी शुरुआत देते हुए पहले विकेट के लिए 188 रन जोड़ दिए.  शिखर धवन ने 119 रनों की शानदार पारी खेली. जबकि लोकेश राहुल ने लगातार 7वीं बार टेस्ट मैच में अर्धशतक जड़ा. राहुल ने 85 रन बनाए  इसके अलावा विराट कोहली ने 42 रन बनाए. श्रीलंका की ओर से लक्षण रंगीका ने 5, मलिंडा पुष्पाकुमारा ने 3, और विश्वा फर्नांडो ने 2 विकेट झटका.

     

    ...
  •  



  • कैंडी: अब बारी फाइनल 'पंच' की है. टीम इंडिया के खिलाड़ी सीरीज़ के तीसरे और अं‍तिम टेस्‍ट मैच में मेजबान श्रीलंका टीम से लोहा लेने के लिए तैयार है. पल्लेकेल में टीम इंडिया का ये पहला टेस्ट मैच होगा. सीरीज़ में 2-0 की बढ़त हासिल करने के बाद विराट की सेना आत्मविश्वास से इतनी भरी हुई है कि पिच और विरोधी टीम की चुनौती उनके लिए नहीं मायने नहीं रखती. खिलाड़ि‍यों की इस 'चौकड़ी' की श्रीलंका के खिलाफ अब तक शानदार प्रदर्शन में अग्रणी भूमिका रही है. कोलंबो टेस्‍ट में टीम इंडिया की जीत के नायक रहे रवींद्र जडेजा निलंबन के कारण इस मैच में नहीं खेल रहे हैं. खिलाड़ियों की इस ज़बरदस्त फ़ॉर्म के चलते विराट कोहली को भी यकीन होगा कि वे तीसरा टेस्ट मैच जीतकर इतिहास रच सकते हैं.मैच में टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली ने टॉस जीता और पहले बल्‍लेबाजी करने का फैसला लिया है. पहले दिन लंच के बाद टीम इंडिया का स्‍कोर 33 ओवर में बिना विकेट खोए 161 रन है. शिखर धवन 78 और लोकेश राहुल 79  रन बनाकर क्रीज पर हैं.(एनडीटीवी)

    ...
  •  




  • गॉल। भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने गुरुवार को पहले टेस्ट मैच में श्रीलंका को तीसरा झटका दिया जब उन्होंने कुशल मेंडिस को खाता भी नहीं खोलने दिया। श्रीलंका ने दूसरे दिन समाचार लिखे जाने तक पहली पारी में 18 अोवरों में 3 विकेट पर 74 रन बना लिए हैं। उपुल थरंगा 53 और एंजेलो मैथ्यूज 1 रन बनाकर क्रीज पर हैं। इससे पहले भारत की पहली पारी 133.1 अोवरों में 600 रनों पर समाप्त हुई।
    श्रीलंका को मजबूत शुरुआत की दरकार थी, लेकिन उमेश यादव ने दिमुथ करूणारत्ने को मात्र 2 के स्कोर पर एलबीडब्ल्यू कर दिया। गुणतिलका (16) भी ज्यादा देर तक नहीं टिक पाए और शमी की गेंद पर शिखर धवन को कैच थमा बैठे। शमी ने इसके बाद मेंडिस को खाता भी नहीं खोलने दिया, वे भी धवन के हाथों लपके गए।
    भारत ने दूसरे दिन सुबह 3 विकेट पर 399 रनों से आगे खेलना शुरू किया। चेतेश्वर पुजारा 153 रन बनाने के बाद नुवान प्रदीप की गेंद पर विकेटकीपर डिकवेला को कैच थमा बैठे। अजिंक्य रहाणे ने अर्द्धशतक पूरा किया, लेकिन वे भी ज्यादा देर नहीं टिक पाए। रहाणे 57 रन बनाकर कुुमार की गेंद पर करूणारत्ने द्वारा लपके गए। रिद्धिमान साहा 16 रन बनाकर कप्तान रंगना हैराथ के शिकारा बने। इसके बाद रविचंद्रन अश्विन (47) और हार्दिक पांड्‍या (50) ने छठे विकेट के लिए 49 रन जोड़े। अश्विन फिफ्टी से चूके और प्रदीप के पांचवें शिकार बने।
    प्रदीप ने रवींद्र जडेजा (15) को बोल्ड कर छठा शिकार किया। पांड्‍या और मोहम्मद शमी (30) ने नौवें विकेट के लिए 62 रन जोड़कर श्रीलंका की मुश्किलें बढ़ाई। पांड्‍या अपने डेब्यू टेस्ट मैच में 49 गेंदों में 6 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 50 रन बनाकर आउट हुए। प्रदीप ने 132 रनों पर 6 विकेट लिए। कुमार ने 131 रनों पर 3 विकेट अपने नाम किए। (एजेंसी)

     

    ...
  •  



  • नई दिल्ली। महिला विश्व कप का फाइनल मैच भारत और इंग्लैंड के बीच लॉर्ड्स के एतिहासिक मैदान पर खेला जा रहा है। इस मैच में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में 7 विकेट पर 228 रन बनाए। भारत को महिला विश्व कप फाइनल मुकाबला जीतने के लिए 229 रन का लक्ष्य मिला है। भारत ने खबर लिखे जाने तक दूसरी पारी में 34 ओवर में 3 विकेट पर 138 रन बना लिए हैं। 
    दूसरी पारी में जीत के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। मैच के पहले ही ओवर में आन्या सुरुबसोल ने भारतीय ओपनर बल्लेबाज स्मृति मानधाना को बिना खाता खोले ही क्लीन बोल्ड कर दिया। कप्तान मिताली राज 17 रन बनाकर रन आउट हो गईं। सेमीफाइनल में शतक लगाने वाली हरमनप्रीत ने फाइनल में 51 रनों की शानदार पारी खेली। वो ब्यूमॉन्ट की गेंद पर कैच आउट हो गईं। उन्होंने तीसरे विकेट के लिए पूनम के साथ मिलकर 95 रन की साझेदारी की। 

    ...
  •  


  • लंदन, 23 जुलाई| आईसीसी महिला विश्व कप का खिताब पहली बार जीतने के लिए भारतीय टीम को 229 रन बनाने होंगे। लॉर्ड्स मैदान पर खेले जा रहे इस खिताबी मैच में रविवार को इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट खोकर 228 रन बनाए। 
    इंग्लैंड की तरफ से नताली स्काइवर ने सर्वाधिक 51 रन बनाए जबकि सारा टेलर 45 रनों का योगदान देने में सफल रहीं। इन दोनों ने चौथे विकेट के लिए अहम समय 83 रनों की साझेदारी की। 
    पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड को लॉरेन विनफील्ड (24) और टैमी बेयुमोंट (23) ने सधी हुई शुरुआत दी और पहले विकेट के लिए 47 रन जोड़े। मजबूत दिख रही इंग्लैंड अचानक से बिखर गई और उसने 63 के कुल स्कोर तक अपने तीन अहम विकेट खो दिए थे। 
    भारत को पहली सफलता राजेश्वरी गायकवाड़ ने दिलाई। उन्होंने विन्फील्ड को पांव के पीछे से गेंद को घूमाते हुए बोल्ड मारा। टैमी को 60 के कुल स्कोर पर पूनम यादव ने झूलन गोस्वामी के हाथों लपकवाया। इंग्लैंड की कप्तान हीथर नाइट एक रन ही बना सकी थीं कि पूनम ने उन्हें पगबाधा करवाते हुए भारत को तीसरी और अहम सफलता दिलाई।
    यहां से सारा और नताली ने टीम के लिए संघर्ष किया और विकेट पर जमी रहीं। इन दोनों ने संयम से खेलते हुए इंग्लैंड को दबाव से बाहर निकाला, लेकिन भारत की सबसे अनुभवी तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने भारत को एक बार फिर मैच में वापस ला दिया। उन्होंने कुछ ही ंअंतराल में इंग्लैंड के तीन विकेट गिरा दिए। 
    सारा अपने अर्धशतक से दूर थीं तबी झूलन ने उन्हें विकेट के पीछे सुषमा वर्मा के हाथों लपकवाया। झूलन ने फ्रान विल्सन को खात भी नहीं खोलने दिया और अगली ही गेंद पर उन्हें पवेलियन भेज दिया। यह दोनों 146 के कुल स्कोर पर आउट हुईं।
    अर्धशतक पूरा करने के बाद नताली भी पवेलियन लौट गईं। वह झूलन की गेंद पर पगबाधा करार दे दी गईं। नताली 164 के कुल स्कोर पर आउट हुईं। उन्होंने अपनी पारी में 68 गेंदों का सामना करते हुए पांच बार गेंद को सीमा रेखा के पार पहुंचाया।
    लग रहा था कि इंग्लैंड 200 का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाएगी, लेकिन कैथरीन ब्रंट (34) और जैनी गन (नाबाद 25) ने टीम को 200 के पास पहुंचाया। 196 के कुल स्कोर पर ब्रंट, दीप्ति शर्मा की सीधी थ्रो शिकार हो कर पवेलियन लौट लीं। 
    गन ने इसके बाद लॉरा मार्श (14) के साथ मिलकर टीम को 228 के स्कोर तक पहुंचाया। 
    भारत की तरफ से झूलन ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए। पूनम यादव दो विकेट लेने में सफल रहीं। अलावा राजेश्वरी गायकवाड़ के हिस्से एक सफलता आई।(आईएएनएस)

    ...
  •  


  • भारत की तेज गेंदबाज झूलन गोस्‍वामी ने लगातार दो गेंदों पर दो विकेट लिए
    लंदन: आईसीसी महिला वर्ल्‍डकप जीतने से भारतीय टीम महज एक मैच की दूरी पर है. भारतीय टीम का सामना मेजबान इंग्‍लैंड से हो रहा है. फाइनल में दूसरी बार जगह बनाने वाली भारतीय टीम आज इतिहास रचने के इरादे से खिताबी जंग के लिए मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स मैदान पर है. इस मैच में जीत हासिल करते ही भारतीय टीम इतिहास रचकर वर्ल्‍डकप अपने नाम कर लेगी.भारत टूर्नामेंट के लीग दौर के अपने पहले मैच में इंग्लैंड को हरा चुकी है. साल 2005 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वर्ल्‍डकप के फाइनल में हारने वाली भारतीय टीम के लिए रविवार का दिन विशेष है. इस मैच में 2005 विश्व कप टीम की सदस्य झूलन गोस्वामी चार रन बनाते ही एक हजार रन और सौ विकेट लेने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन जाएंगी.फाइनल में इंग्‍लैंड टीम की कप्‍तान ने टॉस जीता है आैर पहले बैटिंग करने का निर्णय लिया. भारतीय टीम ने अपनी सेमीफाइनल में खेलने वाली टीम में कोई बदलाव नहीं किया है. 44 ओवर के बाद इंग्‍लैंड का स्‍कोर छह विकेट खोकर 188 रन है. लॉरेन विनफील्‍ड (24), टैमी ब्‍युमोंट (23), हीथर नाइट (1), सारा टेलर (45 ), फ्रेन विल्‍सन (0)और नताली शिवर (51) आउट होने वाली बल्‍लेबाज हैं.  कैथरीन ब्रंट 30  और जेनी गुन 4  रन बनाकर क्रीज पर हैं.(एनडीटीवी)

    ...
  •  




Previous12Next