Editors' Choice

  • फोर्ब्स पत्रिका के एडिटर-इन-चीफ स्टीव फोर्ब्स ने भारत के नोटबंदी अभियान को अनैतिक करार देते हुए कहा है कि यह लोगों की संपत्ति की चोरी के समान है। पत्रिका ने कहा है कि बीते आठ नवंबर को 500 रुपये तथा 1,000 रुपये के नोटों को अमान्य करार देने से भारत की अर्थव्यवस्था व भविष्य में होने वाले निवेश को नुकसान पहुंचा है तथा सरकार के अधिकाधिक नियंत्रण से आम आदमी की निजता को आघात पहुंचा है।

    फोर्ब्स ने कहा, "भारत ने एक ऐसी अप्रत्याशित घटना को बढ़ावा दिया है, जो न केवल उसकी अर्थव्यवस्था और पहले से गरीब करोड़ों नागरिकों को तबाह कर रहा है, बल्कि उसकी अनैतिकता को भी बढ़ा रहा है।"

    नोटबंदी से पूरे देश में नकदी की अप्रत्याशित कमी हो गई है, जिसके कारण करोड़ों लोगों को अपने पैसे निकालने के लिए एटीएम के बाहर घंटों कतार में खड़ा होना पड़ रहा है।

    पत्रिका ने कहा, "बिना किसी चेतावनी के भारत ने अचानक देश की 85 फीसदी करेंसी को अवैध घोषित कर दिया। इस फैसले से हैरान देशवासियों को बैंकों में पुराने नोट जमा करने और उन्हें बदलकर नए नोट लेने के लिए केवल कुछ सप्ताह का वक्त दिया।"

    फोर्ब्स ने इशारा किया कि संसाधन का निर्माण सरकार नहीं लोग करते हैं।

    पत्रिका के मुताबिक, "भारत ने जो भी किया वह गैरकानूनी और लोगों की संपत्ति की व्यापक तौर पर चोरी है। लोकतांत्रिक तरीके से चुनी हुई सरकार द्वारा यह हैरान करने वाला कदम है।"

    फोर्ब्स ने नोटबंदी की तुलना सन् 1975-77 के आपातकाल के दौरान तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की नसबंदी के कदम से की।

    ...
  •  


  • ग्राम पंचायतों में हर वर्ष होने वाले ऑडिट में पंचायत विभाग को लगभग 100 ग्राम पंचायतों में गंभीर अनियमितता मिली है इसके लिए पंचायत को खर्च की गई राशि का ब्यौरा देने को कहा गया है। वहीं पंचायत विभाग ने फरमान जारी किया है कि जिन ग्राम पंचायत का ऑडिट नही हो पाया है वे 31 दिसम्बर 2016 तक ऑडिट करवाएं अन्यथा पंचायत सचिव को निलंबित किया जा सकता है। क्रय नियम का पालन नहीं किया जाना, शासन की गाईड लाईन के अनुसार कार्य नहीं होना व अन्य फिजूल खर्चे जैसी अनियमितता सामने आई है।
    गौरतलब है कि जिले में 645 ग्राम पंचायतें हैं जिनका सालाना आय-व्यय व अन्य कार्यों में की गई खर्च का ऑडिट किया जाता है। इस वर्ष अब तक 90 फीसदी ग्राम पंचायतो की ऑडिट हो चुकी है जिसमें करीब 100 पंचायतों में कई प्रकार की गड़बड़ी सामने आई है और शासन पालन प्रतिवेदन लेकर सिर्फ खानापूर्ति में ही जुटा है। क्रय-विक्रय संबंधित कोटेशन भी पंचायत नहीं लगाती है। साथ-साथ निर्धारित राशि से भी ज्यादा खर्च की जाती है। कई पंचायत पदाधिकारियों ने बताया कि कई शासकीय आयोजन पर किए खर्च में भी ऑडिट आपत्ति आती है जिसे हमें किसी तरह समायोजन करना पड़ता है। वहीं पंचायत विभाग द्वारा 31 दिसम्बर को जिले में ऑडिट पूर्ण कर लेने का लक्ष्य रखा गया है।
    कर वसूली पर जोर
    जिला पंचायत द्वारा ग्राम पंचायतों में कर वसूली पर विशेष जोर दिया जा रहा है। वर्ष 2012-13 से लेकर वर्ष 2015-16 तक लगभग 5 करोड़ 80 लाख रूपए से भी अधिक की वसूली की जा चुकी है जिसमें सम्पत्ति, प्रकाश, बाजार पशु, पंजी, भवन किराया व अन्य खर्च शामिल है। यह भी समस्या सामने आ रही है कि लोग कर देने से आनाकानी कर रहे हैं। हालांकि वसूल की गई राशि पंचायत खाते में ही जमा करना होता है जो गांव के विकास में खर्च की जाती है।
    ये हैं नियम
    पंचायत राज अधिनियम 1993 की धारा 29 के तहत सभी ग्राम पंचायतों में वर्षवार ऑडिट की जाती है। वर्तमान में पंचायत विभाग द्वारा आंतरिक ऑडिट की जाती है। गंभीर आपत्ति पर पालन प्रतिवेदन सहित कई अन्य अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाती है। छोटी-मोटी गड़बड़ी पर पंचायत स्तर में भी निराकरण करवाने का प्रावधान है। मूल अंकेक्षण भी शासन के निर्देशानुसार किया जाता है।
    प्रशिक्षण की जरुरत
    ग्राम पंचायतों के सचिवों को ऑडिट व अन्य क्रियाकलापों से संबंधित अभी और भी प्रशिक्षण देने की आवश्यकता है। अनियमितता पाए जाने पर पालन प्रतिवेदन लिया जाता है।
    जे पी मौर्य
    सीईओ जिला पंचायत
    4 नोटिस के बाद कार्रवाई

    ऑडिट का मुख्य उद्देश्य अभिलेख को दुरुस्त करना होता है, गड़बड़ी पर लगातार चार नोटिस देने के बाद ही शासन के निर्देशानुसार कार्रवाई की जाती है।
    अशोक धीरही
    जिला अधिकारी अंकेक्षण
    नियमानुसार कार्य

    पंचायत राज अधिनियम के अनुसार ही कार्य करवाए जाते हैं। सभी प्रकार के दस्तावेज सचिव के जिम्मे में रहते हैं। पंचायत के सभी कार्यों का मूल्यांकन सत्यापन होता है। इसमें कोई गड़बड़ी नहीं होती है।
    राजकुमार पटेल
    सरपंच, खाड़ा (बिल्हा)
    बैठक में निराकरण
    ऑडिट आपत्ति जब
     गंभीर होती है तब ग्रामसभा व पंचायत की बैठक आयोजित कर निराकरण किया जाता है। फिर पालन प्रतिवेदन जनपद में जमा कर दिया जाता है।

    ...
  •  


  • मुंबई।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुंबई और पुणे के एक दिवसीय दौरे पर आज यहां पहुंच गये।  मोदी अरब सागर में बने छत्रपति शिवाजी स्मारक समेत कई परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे।
    प्रधानमंत्री सबसे पहले रायगढ़ जिले के पातालगंगा क्षेत्र में बनाये गये सेबी के राष्ट्रीय प्रतिभूति बाजार संस्थान के नवनिर्मित परिसर का उद्घाटन करेंगे।

    बाद में वे राज्य के 36 जिलों से लाये गये जल और मिट्टी से गेटवे ऑफ इंडिया के समीप अरब सागर में छत्रपति शिवाजी स्मारक का भूमिपूजन करेंगे। प्रधानमंत्री इसके बाद बांद्रा- कुर्ला परिसर में मेट्रो परियोजना का उद्घाटन करेंगे जिसके बाद वह पुणे रवाना हो जाएंगे जहां वह पुणे मेट्रो परियोजना का उद्घाटन करेंगे।

    ...
  •  


  • सीबीआई ने कालेधन को सफेद करने के आरोप में डॉक्टर सुरेश आडवाणी के खिलाफ केस दर्ज किया है। उनका नाम देश के नामी कैंसर स्पेशलिस्टों में गिना जाता है। आडवाणी को प्रतिष्ठित पद्मश्री और पद्मभूषण अवॉर्ड भी मिल चुका है। घाटकोपर में एक कार से 10 करोड़ की पुरानी करंसी मिलने के बाद सीबीआई ने डॉक्टर के अलावा बीजेपी सांसद की को-ऑपरेटिव बैंक के 4 अफसरों को भी आरोपी बनाया है। आरोपियों के 11 ठिकानों पर हुई छापेमारी...
     
     
    - मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एफआईआर में आडवाणी के अलावा योगेश बी. शिरोय, धर्म राज थिगले, कृष, गजानंद सोमनाथ, बीएम शाह के नाम शामिल हैं।
    - सीबीआई स्पोक्सपर्सन ने कहा, ''4 आरोपी वैद्यनाथ को-ऑपरेटिव अरबन बैंक लिमिटेड के अफसर हैं। जिसकी डायरेक्टर दिवंगत बीजेपी नेता गोपीनाथ मुंडे की बेटी प्रीतम मुंडे हैं. वे बीजेपी सांसद हैं।''
    - ''पूछताछ में मिली जानकारियों के आधार पर शुक्रवार को आरोपियों के 11 ठिकानों पर पुणे, मुंबई, औरंगाबाद और बीड़ में छापेमारी की गई।''
    - ''डॉक्टर को कैश डिपॉजिट में गड़बड़ी का आरोपी बनाया है। जांच के बाद ही उनका असली रोल सामने आएगा। वह औरंगाबाद के CIIGMA हॉस्पिटल से जुड़े हैं।''
     
    घाटकोपर में 9 दिन पहले पकड़ी गई कार
     
    - सीबीआई के मुताबिक, 15 दिसंबर को केस के तीन आरोपियों को मुंबई पुलिस ने घाटकोपर इलाके में चेकिंग के दौरान पकड़ा था। उनकी कार से 10 करोड़ के पुराने नोट मिले थे। 
    - पूछताछ में उन्होंने खुद को बैंक अफसर बताया और कहा कि ये करंसी बैंक के बीड़ स्थित हेड ऑफिस ले जाई जा रही है। जांच एजेंसियों का दावा है कि ये रकम मनी लॉन्ड्रिंग में इस्तेमाल होने वाली थी।
    - अफसरों ने कहा कि आरोपियों ने करीब 15 करोड़ रुपए महाराष्ट्र स्टेट अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक में जमा कराए। बाकी 10 करोड़ वापस बैंक के बीड़ हेडक्वार्टर ले जाए जा रहे थे।
     
    को-ऑपरेटिव बैंक ने क्या कहा?
    - को-ऑपरेटिव बैंक के एक सीनियर अफसर ने सीबीआई के दावे को खारिज किया।
    - उन्होंने कहा, ''जांच एजेंसी को गलत जानकारी मिली। कार से मिले 10 करोड़ रुपए 25 करोड़ का हिस्सा है, जिसे घाटकोपर ब्रांच में जमा कराना था। पूरा मामला सीबीआई के गलत मैनेजमेंट का नतीजा है।
     
    कौन हैं आडवाणी?
    - सुरेश का नाम देश के नामी कैंसर स्पेश्लिस्ट में गिना जाता है। उन्हें 2002 में पद्मश्री और 2012 में पद्मभूषण अवॉर्ड से नवाजा जा चुका है। 
    - भारत में पहली बार बोन मेरो ट्रांसप्लांट करने का श्रेय भी डॉक्टर आडवाणी को ही जाता है।
    ...
  •  


  • मुंबई। बॉलीवुड के मिस्टर पर्फेक्शनिस्ट आमिर खान की मोस्ट अवेटेड मूवी 'दंगल' रिलीज हो चुकी है। रिपोर्ट्स के मुताबिक दंगल देशभर में करीब 4300 स्क्रीन्स पर रिलीज की गई है। हालांकि यूएस-कनाडा में दंगल दो दिन पहले ही रिलीज की जा चुकी है और फिल्म का फर्स्ट डे कलेक्शन भी बेहतरीन रहा है। ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्श ने दंगल के फर्स्ट डे कलेक्शन को लेकर ट्वीट किया है। इसके मुताबिक फिल्म ने यूएस, यूएई और यूके समेत ओवरसीज में करीब 11.41 करोड़ की कमाई की है। इंडिया में कर सकती है 400 करोड़ की कमाई...

     
     

    ट्रेड एनालिस्ट कोमल नाहटा के मुताबिक, अच्छी ओपनिंग की बदौलत यह फिल्म इंडिया में 400 करोड़ रुपए तक की कमाई कर सकती है। एक और ट्रेड एनालिस्ट अमूल मोहन के मुताबिक, फिल्म की शानदार ओपनिंग से लगता है कि यह ‘सुल्तान’ की कमाई को पीछे छोड़ देगी। बता दें कि इससे पहले आमिर की गजनी इंडिया में 100 करोड़ क्लब, 3 इडियट्स ने 300 करोड़ क्लब और पीके ने 400 करोड़ क्लब में एंट्री ली थी।
     
    भारत में फर्स्ट डे कमा सकती है 30 करोड़...
    ओवरसीज में दंगल करीब 1000 स्क्रीन्स पर रिलीज की गई। यूएस और कनाडा में फिल्म बुधवार को ही रिलीज हो गई थी। एक अनुमान के मुताबिक भारत में फिल्म का फर्स्ट डे बॉक्स ऑफिस कलेक्शन 25 से 30 करोड़ रुपए तक हो सकता है। हालांकि अभी इसके आंकड़े नहीं आए हैं। इससे पहले आमिर की फिल्म 'पीके' भी 2014 में दिसंबर में ही रिलीज हुई थी। 'पीके' ने वर्ल्डवाइड करीब 735 करोड़ रुपए की कमाई की है। बता दें कि दंगल हरियाणवी पहलवान महावीर सिंह फोगाट की बायोपिक है। इसमें महावीर सिंह अपनी बेटियों को इंटरनेशनल लेवल का रेसलर बनाते हैं।
    ...
  •