गैजेट्स

Previous1234Next
  • अभय शर्मा
    नई दिल्ली, 23 सितंबर। फेसबुक और व्हाट्सएप दोनों के यूजर्स के लिए ही अच्छी खबर है। जल्द ही यूजर्स को फेसबुक ऐप में ही व्हाट्सएप का शॉर्टकट बटन मिलने वाला है। खबरों के मुताबिक फेसबुक अपने एप पर एक ऐसे नए फीचर की टेस्टिंग कर रही है जिसकी मदद से यूजर तेजी से फेसबुक और व्हाट्सएप के बीच स्विच कर पाएंगे।
    इस खबर का खुलासा तकनीक से जुड़ी चर्चित अमरीकी वेबसाइट द नेक्स्ट वेब ने किया है। उसके अनुसार फेसबुक एप के मेन्यू एरिया में यह शॉर्टकट बटन दिया गया है। फिलहाल यह टेस्टिंग के चरण में है। वेबसाइट ने यह भी बताया है कि यह बटन अभी केवल डेनिस भाषा में फेसबुक के एंड्रॉयड एप का इस्तेमाल करने वाले कुछ यूजर्स के लिए ही उपलब्ध कराया गया है। हालांकि, फेसबुक की तरफ से इस फीचर के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं दी गई है।
    अगर, यूजर के नजरिये से देखें तो इस बटन का सबसे बड़ा फायदा यह है कि वह फेसबुक एप को छोड़े बिना ही व्हाट्सएप पर पहुंच जाएगा। जबकि, कंपनी के नजरिये से इसके दो मकसद समझ में आते हैं।
    एक तो वह ऐसा करके फेसबुक और अपनी सहयोगी कंपनी व्हाट्सएप के यूजर को जोडऩा चाहती है। जबकि, उसका दूसरा मकसद व्हाट्सएप के यूजर्स की संख्या बढ़ाने को लेकर माना जा रहा है।
    दरअसल, कंपनी का मानना है कि अमरीका और अन्य पश्चिमी देशों में ऐसे लोगों की संख्या बहुत ज्यादा है जो फेसबुक का इस्तेमाल तो कर रहे हैं लेकिन, व्हाट्सएप से दूरी बनाए हुए हैं। इन देशों में लोग व्हाट्सएप की जगह गूगल के एलो एप, स्नैपचैट, वीचैट और स्काइप को ज्यादा तरजीह देना पसंद करते हैं। (सत्याग्रह)

     

    ...
  •  


  • मोबाइल फोन कंपनी शाओमी ने भारत में अपना एक नया फोन लॉन्च किया है एमआई ए1, साथ ही बुधवार से कंपनी का नया फोन एमआई मैक्स2 बिक्री के लिए उपलब्ध हो जाएगा।
    मंगलवार को भारत में लॉन्च किया गया एमआई ए1 14,999 रुपये का फोन है और ये कंपनी का पहला फोन है जो ड्यूअल कैमरे के साथ बाजार में उतारा गया है, यानी फोन में पीछे की तरफ दो कैमरे हैं बारह मेगापिक्सल के।
    कैमरे की बात करें तो फोन का कैमरा स्लोमोशन वीडियो बनाने में सक्षम है और साथ ही 4के में भी शूटिंग कर सकता है। कैमरे में 2एक्स ऑप्टिकल जूम है जो इसे एप्पल आईफोन 7 प्लस के साथ तुलना करने लायक बनाता है।
    ये कंपनी का पहला फोन है जिसके लिए कंपनी ने गूगल से एंड्रायड वन के तहत साझेदारी की। इस पार्टनरशिप के तहत फोन बनाने वाली कंपनी एंड्रॉएड ऑपरेटिंग सिस्टम को अपने फोन में बिना अतिरिक्त फीचर्स के इस्तेमाल करती है। एमआई ए1 में एंड्रायड नोगट 7.1.2 ऑपरेटिंग सिस्टम है।
    जानकारों के अनुसार गूगल ऑपरेटिंग सिस्टम को शुद्ध रूप में इस्तेमाल करने वाले इसे पसंद करते हैं। हालांकि ये भारत में लांच होने वाला ये पहला ऐसा फोन नहीं हैं। इससे पहले एचटीसी, माइक्रोमैक्स, कार्बन और स्पाइस एंड्राएड वन के साथ अपने फोन लांच कर चुके हैं।
    5.5 इंच का ये फोन फुल एचडी डिस्प्ले के साथ है और कोर्निंग गोरिल्ला ग्लास की सुरक्षा के साथ आता है। फोन में पीछे की तरफ फिंगरप्रिंट स्कैनर है। कंपनी अपने नोट सिरीज के फोन में पहले भी फिंगरप्रिंट स्कैनर देती आई है और इसके फोन इस्तेमाल करने वालों को अब तक इस फीचर की आदत पड़ गई है और उनके लिए ये फायदेमंद फीचर है।
    ये फोन ऑक्टाकोर स्नैपड्रैगन 625 प्रोसेसर पर आधारित है जो एड्रेनो 506 ग्राफिक्स प्रोसेसर के साथ है। ये दोनों मिल कर इसे एक फास्ट डिवाइस बनाते हैं, कंपनी के अनुसार इस फोन में ऊपर और नीचे दोनों तरफ माइक्रोफोन हैं जो नॉयस रिडक्शन फीचर्स के साथ हैं।
    एक फास्ट प्रोसेसर को उचित मदद देने के लिए कंपनी ने इसमें 4एमबी रैम के इस्तेमाल किया है और साथ ही इसमें 64जीबी का स्टोरेज भी दिया है। मेमरी कम पड़ जाए तो कभी भी इसे 128जीबी तक बढ़ाया जा सकता है।
    आजकल बाजार में आने वाले अधिकतर फ्लैगशिप फोन फुल मेटल बॉडी के साथ होते हैं, इसे ध्यान में रखते हुए इस फोन में भी पूरे मेटल बॉडी का इस्तेमाल हुआ है।
    फोन की सबसे बढिय़ा बात है इसमें इस्तेमाल होने वाला टाइप सी यूएसबी कनेक्टर जो फास्ट चार्जिंग के लिए जाना जाता है। साल 2015 में इस चार्जिंग पिन को पहली बार इंटरनेशल कन्जयूमर इलेक्ट्रोनिक शो सीईएस में प्रदर्शित किया गया था।
    6.44 इंच के डिस्प्ले के साथ लांच किया गया ये फोन बुधवार से भारत में बिक्री के लिए उपलब्ध हो रहा है। फोन ऑक्टाकोर स्नैपड्रेगन 625 प्रोसेसर के साथ है और इसमें स्टीरियो इफेक्ट के लिए दो स्पीकर इस्तेमाल किए गए हैं।
    फुल मेटल बॉडी के साथ आने वाले ये फोन 4जीबी रैम के साथ है और दो मेमरी ऑप्शन्स में उपलब्ध होगा- 32जीबी और 64जीबी। जरूरत पडऩे पर इसकी मेमरी को 128जीबी तक बढ़ाया जा सकता है।
    कंपनी का दावा है कि फोन का 5300एमएएच की बैटरी 18 घंटों तक वीडियो चलाने में सक्षम है और इस पर एक बार चार्ज करने पर आप10 दिन तक ऑडियो सुन सकते हैं।
    फोन के अन्य फीचर्स है सोनी के सेंसर वाला 12 मेगापिक्सल का रीयर कैमरा, फिंगरप्रिंट सेंसर और फास्ट चार्जिंग के लिए टाइप सी यूएसबी कनेक्टर। (बीबीसी)

    ...
  •  


  • नई दिल्ली, 20 सितंबर। मोबाइल फोन का ब्लूटूथ ऑन रखना खतरनाक साबित हो सकता है। सिक्योरिटी कंपनी अर्मिस के शोधकर्ताओं के समूह ने बीते मंगलवार को एक ऐसे मैलवेयर का पता लगाया है जो ब्लूटूथ से जुड़े डिवाइस पर हमला कर सकता है। यह स्मार्टफोन ही नहीं, बल्कि स्मार्ट टीवी, टैबलेट, लैपटॉप, लाउडस्पीकर और कारों पर भी हमला कर सकता है।
    दुनिया में कुल मिलाकर 5.3 अरब डिवाइस हैं जो ब्लूटूथ का इस्तेमाल करते हैं। इस मैलवेयर का नाम ब्लूबॉर्न है। इसके जरिए हैकर उन डिवाइस को अपने नियंत्रण में ले सकता है जिनका ब्लूटूथ ऑन होगा। इसके जरिए आपके मोबाइल का डाटा आसानी से चोरी किया जा सकता है। अर्मिस का कहना है कि हमलोगों को लगता है कि ब्लूटूथ डिवाइस से जुड़े कई और ऐसे मैलवेयर हो सकते हैं, जिनकी पहचान की जानी बाकी है।
    इसके मैलवेयर के हमले काफी गंभीर हो सकते हैं। ये बग ब्लूटूथ का फायदा उठाकर हमला करता है। ब्लूबॉर्न इसी श्रेणी में आता है। इसके जरिए हमलावर आपके डिवाइस में वायरस भेज कर आपका डेटा चुरा सकते है।
    ब्लूबॉर्न को यूजर की सहमति की जरूरत नहीं होती है और वो किसी लिंक पर क्लिक करने को भी नहीं कहता। सिर्फ दस सेकंड में वो किसी एक्टिव ब्लूटूथ डिवाइस को नियंत्रित कर सकता है।
    आर्मिस ने एक ऐसा एप्लीकेशन बनाया है जो यह पता लगा सकता है कि आपका डिवाइस सुरक्षित है या नहीं। इस एप्लीकेशन का नाम है ब्लूबॉर्न वलनरब्लिटी स्कैनर। ये ऐप गूगल के ऑनलाइन स्टोर पर उपलब्ध है।
    दूसरा खतरा है ब्लूजैकिंग। यह ब्लूटूथ से जुड़े कई डिवाइस को एक साथ स्पैम भेज सकता है। यह वीकार्ड (पर्सनल इलेक्ट्रॉनिक कार्ड) के जरिए मैसेज भेजता है, जो एक नोट या फिर कॉनटैक्ट नंबर के रूप में होता है। आम तौर पर यह ब्लूटूथ डिवाइस के नाम से स्पैम भेजता है।
    यह ब्लूजैकिंग से ज्यादा खतरनाक है। इसके जरिए सूचनाओं की चोरी होती है। इसका इस्तेमाल मुख्य रूप से फोनबुक और डाटा चुराने के लिए किया जाता है। इसके जरिए निजी मैसेज और तस्वीर भी चुराए जा सकते हैं। लेकिन इसके लिए हैकर को यूजर से 10 मीटर के दायरे में होना जरूरी होता है।
    माइक्रोसॉफ्ट, गूगल और लिनक्स ने ब्लूबॉर्न से यूजर को बचाने के लिए पैच रिलीज की है, जिसे इंस्टॉल कर लें। आधुनिक उपकरणों में ब्लूटूथ कनेक्टिविटी के लिए कंफर्मेशन कोड जरूरी होता है, इसका इस्तेमाल करें। मोड 2 ब्लूटूथ का इस्तेमाल करें, यह ज्यादा सुरक्षित होता है। अपने डिवाइस ब्लूटूथ नाम को हिडेन मोड में ही रखें। इस्तेमाल नहीं किए जाने पर ब्लूटूथ को ऑफ रखें।  (बीबीसी)

     

    ...
  •  


  • अभय शर्मा
    गूगल अपने यूजर्स को एक बड़ी सहूलियत देने वाला है। कंपनी अपने बहुचर्चित क्रोम ब्राउजर में एक ऐसा फीचर लाने वाली है जो ऑटो प्ले होने वाले वीडियो से निजात दिलाएगा। गूगल ने यह फैसला क्रोम के यूजर्स की परेशानी को देखते हुए लिया है। बीते समय में लोग यह शिकायत करते रहे हैं कि जब वे ब्राउजर पर एक से ज्यादा वेबसाइट खोल कर रखते हैं तो कई वेबसाइटों में मौजूद वीडियो अपने आप चलने लगते हैं।
    गूगल ने अपने यूजर्स की इस परेशानी को क्रोम के अगले अपडेट में दूर करने का निर्णय लिया है। गूगल के आधिकारिक ब्लॉग में कहा गया है कि वह अपने वेब ब्राउजर में उन ऑटो प्ले वीडियो को ही चलने की अनुमति देगा जिनमें साउंड म्यूट होता है या फिर जिनमें यूजर की दिलचस्पी होती है।
    गूगल के मुताबिक यदि कोई यूजर ऐसी वेबसाइट खोलता है जिस पर ऑटो प्ले वीडियो मौजूद हैं और अगर वह उस वेबसाइट पर मौजूद वीडियोज को बार-बार देखता है तो गूगल इस वेबसाइट को रजिस्टर कर लेगा और इस वेबसाइट पर किसी ऑटो प्ले वीडियो को ब्लॉक नहीं किया जाएगा। जबकि, इसके अलावा अन्य वेबसाइट के ऑटो प्ले वीडियो को तब तक प्ले नहीं किया जाएगा जब तक यूजर उस पर क्लिक नहीं करेगा। कंपनी के मुताबिक यह नया फीचर जनवरी, 2018 से क्रोम ब्राउजर में जोड़ा जाएगा। हालांकि, गूगल क्रोम ऐसा पहला ब्राउजर नहीं है जिसने यह सुविधा देने का वादा किया है। इससे पहले बीते जून में एपल भी अपने सफारी ब्राउजर में यह फीचर देने का ऐलान कर चुका है जो इसी महीने की 25 तारीख से सफारी यूजर के लिए उपलब्ध हो जाएगा। (सत्याग्रह)

    ...
  •  


  • अगर आप भी CCleaner सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर रहे हैं तो सावधान हो जाएं.  हैकर्स ने CCleaner की सिक्युरिटी को तोड़कर इसमें वायरस इजेक्ट कर दिया है. ये वायरस CCleaner के जरिए करोड़ों यूजर्स के एंड्रॉएड फोन और पीसी को नुकसान पहुंचा सकता है.

    ब्रिटेन की सिक्युरिटी कंपनी पिरिफॉर्म ने इसे लेकर वार्निंग जारी की है. कंपनी के मुताबिक, CCleaner पर वायरस का अटैक हुआ है. यह वायरस इस सॉफ्टवेयर को यूज करने वाले यूजर्स के कम्प्यूटर और एंड्रॉएड स्मार्टफोन को नुकसान पहुंचा सकता है. कंपनी का कहना है कि यूजर्स अब सिर्फ सितंबर तक ही CCleaner का यूज कर पाएंगे.
    2 अरब डाउनलोड हुआ है CCleaner
    CCleaner सॉफ्यवेयर को 2 अरब यूजर्स ने डाउनलोड किया है. CCleaner की ऑनर कंपनी Avast का कहना है कि इस वायरस अटैक में  22 लाख यूजर्स प्रभावित हुए हैं. हालांकि,  Avast के प्रवक्ता का कहना है कि CCleaner के यूजर्स सुरक्षित हैं. वायरस के नुकसान पहुंचाने से पहले ही इसके खतरे को खत्म कर दिया गया है.

    CCleaner क्लिनिंग ऐप है. इसके जरिए एड्रॉएड फोन यूजर्स और विंडो पीसी यूजर्स अनावश्यक  जंक फाइलों को क्लीन करते हैं. इसका यूज एंट्री-वायरस के तौर पर किया जाता है.  टेकक्रंच के मुताबिक, CCleaner  का 5.33.6162  और CCleaner Cloud 1.07.3191 वर्जन पर वायरस अटैक हुआ है. (News18Hindi )

    ...
  •  


  • नई दिल्ली, 18 सितंबर। यूं तो दुनिया में सबसे ज्यादा इंटरनेट यूजर चीन में हैं, और भारत का नंबर उसके बाद आता है, लेकिन अगर यह पूछा जाए कि इंटरनेट यूजरों में से कितने लोगों का गुजारा उसके बिना चल ही नहीं सकता, तो भले ही आप यकीन करें या न करें, भारतीयों को इंटरनेट सबसे ज्यादा पसंद है। दुनियाभर में करवाए गए एक सर्वे के मुताबिक भारतीय इंटरनेट यूजरों का सबसे बड़ा हिस्सा ऐसा रहा, जिसका कहना था कि उनका गुजारा इंटरनेट के बिना चल ही नहीं सकता।
    स्टैटिस्टा द्वारा 23 देशों के 18,180 लोगों के बीच करवाए गए इस सर्वे के मुताबिक, सिर्फ 18 फीसदी भारतीयों का काम इंटरनेट के बिना चल पाता है, जबकि 82 फीसदी इंटरनेट के अभाव में जिन्दगी की कल्पना ही नहीं कर पाते हैं। इंटरनेट यूजरों के मामले में दुनिया में दूसरे स्थान पर मौजूद चीन की 77 प्रतिशत आबादी इंटरनेट के बिना गुजारा करने में अक्षम है, जबकि यूके में यह प्रतिशत 78 है।
    इसके बाद चौथे और पांचवें स्थान पर जर्मनी और अमरीका हैं, जहां की 73 फीसदी जनसंख्या इंटरनेट के बिना रह ही नहीं सकती है। अमरीका के पीछे इस सूची में रूस, स्पेन और फ्रांस हैं, जहां के क्रमश: 66, 65 और 64 फीसदी लोगों के मुताबिक उनका गुजारा इंटरनेट के बिना मुमकिन नहीं हो पाएगा। इटली और जापान इस सूची में नौवें और 10वें पायदान पर हैं, जहां की 62 फीसदी आबादी इंटरनेट के बिना जीवन की कल्पना नहीं कर पाती है।
    सर्वे का यह भी कहना है कि वर्ष 2022 तक भारत में इंटरनेट यूजरों की संख्या 54 फीसदी बढ़ोतरी के साथ 51 करोड़ को पार कर जाएगी, जबकि आज की तारीख में यह आंकड़ा 33 करोड़ से कुछ ज़्यादा है। दिलचस्प तथ्य यह है कि भारत में फिलहाल मोबाइल फोन इंटरनेट यूजरों का प्रतिशत लगभग 24 है, जिसके 2022 में लगभग 35 फीसदी हो जाने का अनुमान लगाया गया है।  (एनडीटीवी)

     

    ...
  •  


  • नई दिल्ली, 17 सितंबर। फेसबुक के जरिए हम एक-दूसरे से बहुत आसानी से जुड़ जाते हैं। रोजाना होने वाली घटनाओं को सोशल मीडिया पर अपडेट करते रहते हैं। लेकिन क्या कभी सोचा है कि यही फेसबुक पोस्ट हमारे लिए मुश्किलें भी पैदा कर सकती है, मुश्किल भी कोई छोटी-मोटी नहीं बल्कि सीधे जेल की सैर कराने जितनी बड़ी। जानिए ऐसे ही कुछ मामले जिनकी वजह से फेसबुक यूजर को जाना पड़ा जेल।
    फ्रेंड रिक्वेस्ट ने जज को पहुंचाया जेल
    छह साल पहले ब्रिटेन की एक जज जोआना फ्रेल ने एक आरोपी को फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी। उनका किसी आरोपी को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजना उन्हें भारी पड़ गया और फ्रेल को इस वजह से 8 महीने जेल की सजा सुनाई गई। जैमी स्टीवर्ट नाम के अभियुक्त पर ड्रग्स का मामला चल रहा था। ब्रिटेन में ऐसा पहली बार हुआ था जब किसी को फेसबुक की वजह से जेल जाना पड़ा।
    पूर्व पत्नी को फेसबुक पोस्ट में किया टैग
    अमरीका के मारिया गोन्जालेज ने जनवरी 2016 में अपनी पूर्व पत्नी मेरिबेल काल्ड्रेन की बेइज्जती करते हुए एक फेसबुक पोस्ट लिखा और उसमें मेरिबेल को टैग भी कर दिया।
    गोन्जालेज ने अपनी पोस्ट में अपनी पूर्व पत्नी को बेवकूफ और उनके परिवार को हमेशा दुखी रहने वाला बताया था। न्यूयॉर्क पोस्ट में छपी खबर के अनुसार वेस्टचेस्टर काउंटी के जज ने गोन्जालेज को तलाक से जुड़े नियम तोडऩे का दोषी पाया और उन्हें 1 साल जेल की सजा सुनाई गई।
    लाइक पाने के लिए बच्चे को खिड़की के बाहर लटकाया
    इसी साल जून के महीने में अल्जीरिया में एक शख्स को उसकी फेसबुक पोस्ट की वजह से दो साल जेल की सजा सुनाई गई।
    इस आदमी ने एक बच्चे को खिड़की के बाहर लटकाते हुए फोटो पोस्ट किया जिसमें उसने कैप्शन लिखा कि मुझे 1000 लाइक चाहिए नहीं तो मैं इसे नीचे गिरा दूंगा। फेसबुक पर बहुत लोगों ने इस आदमी के खिलाफ चाइल्ट एब्यूज का मामला दर्ज करने की बात कही।
    कमेंट ने करवाया राजद्रोह का मामला दर्ज
    यह मामला थाईलैंड का है। मई 2016 में 40 साल की पटनारी चंकीज पर राजद्रोह का मामला दर्ज किया गया था। उन्होंने थाईलैंड की राजतंत्रिक सरकार के खिलाफ लिखने वाली एक्टिविस्ट के साथ फेसबुक के प्राइवेट मैसेज पर सहमति जताने वाले शब्द जेए का प्रयोग किया था, इस शब्द का अर्थ होता है ओके या यस।
    इसी साल जनवरी महीने में थाई सरकार के खिलाफ फेसबुक पर कुछ अपमानजनक कमेंट करने पर एक और व्यक्ति को 11 साल की सजा सुनाई गई थी।
    बाल ठाकरे पर पोस्ट की वजह से लड़कियां गिरफ्तार
    साल 2012 में शिवसेना नेता बाल ठाकरे की मृत्यु के बाद मुंबई बंद पर फेसबुक पर सवाल उठाने वाली पालघर इलाके की दो लड़कियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। लेकिन मीडिया में हल्ला मचने के बाद मामले में जांच के आदेश दिए गए और शाहीन ढाडा और रिनु श्रीनिवासन को जमानत पर छोड़ दिया गया था।
    फेसबुक पर की देवी-देवताओं की बेइज्जती
    उत्तर प्रदेश पुलिस ने फेसबुक पर हिंदू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया था। यह मामला साल 2015 का था।
    पुलिस ने अपने विभाग के फेसबुक पेज पर इस मामले की जानकारी दी थी और बताया था कि हिंदू देवी-देवताओं की आपत्तिजनक फोटो पोस्ट करने की वजह से मुस्तकिन नाम के युवक को गौतम बुद्ध नगर से गिरफ्तार किया गया।
    फेसबुक पोस्ट करने से पहले यह सावधानियां हैं जरूरी
    अगर आपके किसी दोस्त पर कोर्ट में कोई मामला चल रहा है तो फेसबुक के जरिए उससे उस मामले की जानकारी बिलकुल ना मांगे। किसी मामले से जुड़े न्यायधीशों से भी संपर्क करने की कोशिश या उस मामले से जुड़ी जानकारी न मांगे।
    फेसबुक पर किसी भी व्यक्ति को आरोपी साबित करने जैसी बातें न लिखें, क्योंकि जब तक आरोप साबित नहीं हो जाता तब तक सभी बेगुनाह होते हैं। किसी के पक्ष या विपक्ष में बेवजह की बातें ना लिखें
    (बीबीसी)

    ...
  •  



  • नई द‍िल्‍ली : इन दिनों ऐप्‍पल के नए iPhone X की चर्चा ज़ोरों पर है. हालांकि iPhone X के अलावा ऐप्‍पल ने iPhone 8 और iPhone 8 Plus भी लॉन्‍च किया है. iPhone 7 और iPhone 7 Plus की तुलना में iPhone 8 और iPhone Plus दोनों की ही कीमत थोड़ी ज्‍यादा है. लेकिन iPhone X पूरी तरह से नया और खास है. यह कितना खास है इस बात का अंदाजा आप इसकी कीमत से ही लगा सकते हैं. जैसा कि पहले से उम्‍मीद थी iPhone X की कीमत भारत में बहुत ज्‍यादा है. भारत में iPhone X की बिक्री तीन नवंबर से शुरू होगी. 64 GB वाले iPhone X के लिए आपको 89 हजार रुपये चुकाने होंगे वहीं 256 GB की कीमत 1 लाख 2 हजार रुपये है. यह iPhone का अब तक का सबसे महंगा फोन है. 

    इस बार भी iPhone कुछ देशों में सस्‍ता बिकेगा. अंदाजा लगाया जा रहा है कि हर बार की इस बार भी हांगकांग के बाज़ार में ऐप्‍पल का नया  iPhone X सस्‍ता होगा. आपके लिए खुशखबरी यह है कि iPhone X भारत में बहुत महंगा बिकेगा लेकिन हांगकांग में कम दामों में मिलेगा. इसे आप कुछ इस तरह से समझ सकते हैं कि जितने पैसों में आप भारत में iPhone X खरीदेंगे उतने पैसों में आप हांगकांग जाकर वहां से iPhone X खरीद भी लाएंगे और तब भी आपके पास पैसे बच जाएंगे. इस पूरे कैलकुलेशन में हांगकांग आने-जाने की फ्लाइट भी शामिल है. क्‍या हुआ? बात कुछ समझ नहीं आई? चलिए हम आपकी मदद करते हैं.

    इसे कुछ इस तरह समझ‍िए. भारत में 256 GB iPhone X की कीमत है 1 लाख 2 हजार रुपये.  जबकि हांगकांग डॉलर में यह 9,888 में मिलेगा. वर्तमान एक्‍सचेंज रेट के मुताब‍िक भारतीय करंसी में इसकी कीमत होगी 80,999 रुपये. तो अगर आप नवंबर के पहले हफ्ते में हांगकांग जाने के लिए आज दिल्‍ली से टिकट बुक कराते हैं तो आपको 20 हजार रुपये में आने-जाने का टिकट मिल जाएगा. यही नहीं कोलकाता और बेंगलुरु से टिकट बुक कराने पर आपको क्रमश: 17,800 और 19 हजार रुपये खर्च करने होंगे. हालांकि मुंबई में आपको थोड़ी ज्‍यादा कीमत देनी होगी.

    इस हिसाब से अगर आप कोलकाता से जाने का फैसला करते हैं तो टिकट में खर्च होंगे 17,800 रुपये और 80,999 रुपये में आएगा 256 GB वाला iPhone X.यानी कि कुल खर्च आएगा 98,799 रुपये और फिर भी बच जाएंगे 3201 रुपये. बहरहाल, iPhone खरीदने के लिए आपको हांगकांग जाना चाहिए या नहीं? इसका फैसला तो आप ही करेंगे. हमने तो बस आपको सस्‍ते में इस महंगे फोन को खरीदने का तरीका बता दिया है. इसी बहाने घूमना भी हो जाएगा.

    ...
  •  


  • एप्पल ने मंगलवार को स्मार्टफोन एक्स की झलक पेश की जिसमें कोई होम बटन नहीं होगा। साथ ही कंपनी ने बहु प्रतिक्षित आईफोन 8 से पर्दा भी उठा दिया है। आईफोन एक्स यानी आईफोन 10 चेहरा पहचानने यानी फेस आईडी फीचर से लैस होगा। इसके टॉप पर इन्फ्रारेड कैमरा है जो अंधेरे में भी यूजर का चेहरा पहचान सकता है।
    ये एप्पल का अब तक का सबसे महंगा फोन है। इसकी कीमत 999 डॉलर से शुरू होगी और इसकी बिक्री 3 नवंबर से शुरू होगी। क्यूपर्टिनो के स्टीव जॉब्स थिएटर में आईफोन लॉन्च की 10वीं सालगिरह भी मनाई गई।
    इससे पहले कंपनी ने आईफोन 8 और आईफोन 8 प्लस लॉन्च किया, जो बिना तार के चार्ज हो सकेगा। यानी पहली बार किसी फोन में इन बिल्ट वायरलेस चार्जिंग सिस्टम है।
    आईफोन 8 और आईफोन 8 प्लस का ग्लास अब तक का सबसे ड्यूरेबल ग्लास है। वॉटर और डस्ट रेजिस्टेंस की खूबियों से लैस है। इसमें 3डी टच और ट्रू टोन डिस्प्ले भी है।
    83 परसेंट ज्यादा लाइट और ज्यादा पावर एफिशंसी के साथ नया 12एमपी सेंसर ज्यादा और ज्यादा फास्ट है। ये फोन मार्केट में 22 सितंबर से उपलब्ध होंगे। आईफोन 8 प्लस की कीमत 799 डॉलर (लगभग 51163 रुपये) से शुरू होगी।
    आईफोन 8 64 जीबी और 256 जीबी मॉडल्स में आएगा। इसकी कीमत 699 डॉलर (लगभग 44760 रुपये) से शुरू होगी।
    इसमें टच आईडी की बजाए फेस आईडी का फीचर होगा। फेस आईडी की खासियत ये है कि वो अंधेरे में भी काम कर सकती है। आईफोन एक्स की तरफ देखने भर से आप उसे अनलॉक कर सकते हैं।
    इमोजी से कम्यूनेट कर सकते हैं। मसलन आप हसेंगे तो इमोजी भी हसेंगे। आप सर हिलाएंगे तो इमोजी भी सर हिलाएंगे। इसे फेशियल ट्रैकिंग फीचर के जरिए किया गया है। (बीबीसी)

    ...
  •  


  • अभिजीत श्रीवास्तव
    नई दिल्ली, 13 सितंबर। साल 2016 में सैमसंग स्मार्टफोन नोट 7 की बैटरी के अधिक गर्म होने और इसमें आग लगने की घटनाओं के बाद कंपनी को लॉन्च के दो महीने बाद ही इसकी बिक्री रोकनी पड़ी थी। अमरीका और दक्षिण कोरिया में चार्ज करने के दौरान कई नोट 7 फोन में धमाका हो गया। इस फोन को हवाई जहाज तक में ले जाने से प्रतिबंधित कर दिया गया। कंपनी को करीब 25 लाख नोट 7 बाजार से वापस बुलाने पड़े।
    इससे कंपनी को जहां 5.3 अरब डॉलर का नुकसान हुआ वहीं इसकी छवि को भी काफी नुकसान हुआ। कंपनी ने जांच के बाद नोट 7 में आग के लिए बैटरी की खामियों को जिम्मेदार ठहराया।
    अब बैटरी को 8 सुरक्षा चक्रों से गुजारे जाने के दावे के साथ मंगलवार को सैमसंग ने अपना नया स्मार्टफोन नोट 8 भारतीय बाजार में उतारा है।
    सैमसंग इंडिया मोबाइल बिजनेस के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट असीम वारसी ने बताया कि सैमसंग ने एक नया गुणवत्ता परीक्षण 8-पॉइंट बैटरी चेक को लागू किया है। ये मोबाइल उद्योग का मानक नहीं है। लेकिन यह गुणवत्ता जांच मापदंड बहुत कठिन है। इस प्रक्रिया से होकर ही गैलेक्सी एस 8 को लॉन्च किया गया था जो दुनिया भर के साथ ही भारत में भी काफी सफल रहा है।
    एप्पल के अगले आईफोन के आस-पास सैमसंग ने अपने फोन के लॉन्च की तारीख क्यों रखी यह पूछने पर असीम वारसी ने कहा कि हम मार्च-अप्रैल के महीने में सैमसंग गैलेक्सी सिरीज का स्मार्टफोन लॉन्च करते हैं। सितंबर में हम नोट सिरीज लॉन्च करते हैं। तारीख का टकराना महज संयोग है।
    भारतीय बाजार में सैमसंग नोट 8, 6 जीबी रैम और 64 जीबी इंटरनल मेमरी के साथ 67,900 रुपये में उतारा गया है। नोट 8 की खासियत इसका बड़ा डिस्प्ले, डुअल रियर कैमरा, इंटेलिजेंट एस-पेन, 10 नैनोमीटर प्रोसेसर और बिक्सबी वॉयस असिस्टेंट है।
    क्या है नोट 8 की खासियत?
    डिस्प्ले: सैमसंग ने नोट 8 को अब तक के सबसे बड़े डिस्प्ले के साथ उतारा है। इसमें 6.3 इंच का क्वॉड एचडी (2960&1440) रिजॉल्यूशन सुपर एमोलेड डिस्प्ले दिया गया है। इसके गोरिल्ला ग्लास डिस्प्ले की सबसे बड़ी खूबी यह है कि एक साथ इस पर दो एप्लिकेशन चलाए जा सकते हैं।
    कैमरा: नोट 8 डुअल रियर कैमरा सेटअप वाला सैमसंग का पहला स्मार्टफोन है। डुअल कैमरे 12 मेगापिक्सल के हैं तो फ्रंट कैमरा 8 मेगापिक्सल का है।
    एस-पेन: नोट सिरीज के एस-पेन जिससे ग्राहकों को शिकायत रहती थी उसे भी पहले से बेहतर बनाया गया है। कंपनी ने इस बार इंटेलिजेंट एस-पेन उतारा है। जिसे काफी बेहतर बनाया गया है और इसके प्रेशर की सेंसिटिविटी में भी सुधार किया गया है।
    बिक्सबी: नोट 8 में वॉयस असिस्टेंट बिक्सबी है जो पलक झपकते ही आपके आदेश का पालन करता है। यह अनुवाद भी करता है।
    वॉटर रेसिस्टेंस: कंपनी का दावा है कि नोट 8 को आधे घंटे तक डेढ़ मीटर गहरे पानी में रखने पर उसे नुकसान नहीं होगा। 
    सुरक्षा फीचर्स: फिंगर प्रिंट सेंसर और फेस रिकग्निशन के साथ ही नोट 8 में आइरिस स्कैनर भी है।
    सिम कार्ड: हाइब्रिड। एक नैनो सिम और नैनो सिम या माइक्रोएसडी (256 जीबी तक) के लिए जगह।
    बैटरी: 3300 एमएएच बैटरी के साथ ही वायरलेस चार्जिंग।  (बीबीसी)

    ...
  •  


  • नई दिल्ली, 13 सितंबर। एप्पल आईफोन एक्स लॉन्च की 10वीं सालगिरह पर आईफोन के अपग्रेड वर्जन से पर्दा उठाने जा रहा है। एप्पल 12 सिंतबर को आईफोन और अन्य मॉडल लॉन्च करेगा।
    आईफोन एक्स में कई आधुनिक फीचर्स होने की बात कही जा रही है। हालांकि, इसके लॉन्च से पहले हर महीने कोई न कोई अफवाह सामने आती रही है। माना जा रहा है कि एप्पल पहली बार अपने तीन फोन लॉन्च करेगा। इनमें आईफोन एक्स के साथ आईफोन 7 और आईफोन 7 प्लस के अपग्रेड वर्जन होने की भी उम्मीद है। इन्हें आईफोन 8 और आईफोन 8 प्लस नाम दिया गया है। आईफोन8 को लेकर लंबे समय का इंतजार आज खत्म हो सकता है।
    इसके साथ ही एक प्रीमियम मॉडल लॉन्च किया जाएगा जिसका नाम आईफोन एक्स है जिसके नाम को आईफोन लॉन्च की 10वीं सालगिरह की तरफ ईशारा भी माना जा रहा है। कंपनी का यह इवेंट स्पेसशिप कैंपस में बने स्टीव जॉब्स ऑडिटोरियम में होगा।
    आईफोन एक्स में पतले बेजल के साथ एज-टू-एज डिस्प्ले और पीछे की ओर एक वर्टिकल डुअल कैमरा सेटअप होने की संभावना है। इसमें टच आईडी की बजाए फेस आईडी का फीचर होगा। फेस आईडी की खासियत ये है कि वो अंधेरे में भी काम कर सकती है। साथ ही आईफोन एक्स में ओलेड स्क्रीन होने की भी उम्मीद है। वहीं, आईफोन 8 और आईफोन 8 प्लस में अब भी एलसीडी स्क्रीन हो सकती है।
    तीनों आईफोन में ग्लास रियर होगा जो वायरलेस चार्जिंग सुविधा देगा। इसे मेटल के बजाए ग्लास और प्लास्टिक से चार्ज किया जाएगा। इस नए फीचर के बाद फोन चार्ज करने के लिए चार्जर की जरुरत को खत्म हो जाएगी।
    उम्मीद है कि आईफोन 8 और आईफोन 8 प्लस लॉन्च के तुरंत बाद लोगों को उपलब्ध करा दिए जाएंगे लेकिन आईफोन एक्स में कुछ समय लगेगा।
    आईफोन के अपग्रेडेड वर्जन लॉन्च होने से पहले ही उसके फीचर्स लीक होने की अफवाह फैल गई थी। खबरें थीं कि आईफोन 8 के 11 फीचर्स लीक हो गए हैं। साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि एप्पल तीन साल में पहली बार आईफोन का डिजाइन बदलेगा। साथ ही एप्पल आईफोन पर लंबे समय से दिए जा रहे सामने के बटन को भी बदल सकता है। इसके बदल वर्चुअल होम बटन दिया जा सकता है।
    हाल ही में सामने आई खबर में आईओएस डेवलपर स्टीवन ट्रॉह्टन ने बताया था कि आईफोन एक्स कंपनी का अब तक का प्रीमियम मॉडल होगा। जिसमें कई नए फीचर्स होंगे। हालांकि, डिजाइन में बदलाव के साथ फीचर्स में क्या बदलेगा इसे लेकर लॉन्च के बाद ही सब स्पष्ट हो पाएगा। (बीबीसी)

    ...
  •  


  • सैमसंग ने मंगलवार को नई दिल्ली में आयोजित एक इवेंट में नया गैलेक्सी नोट 8 स्मार्टफोन लॉन्च कर दिया। यह स्मार्टफोन कंपनी की गैलेक्सी नोट फैबलेट सीरीज़ का लेटेस्ट फ्लैगशिप है। और इसमें एक 6.3 इंच इनफिनिटी डिस्प्ले है जो 18.5:9 आस्पेक्ट रेशियो के साथ आता है। एक तरह से यह सैमसंग गैलेक्सी एस8+ का बड़ा वेरिएंट है। Samsung Galaxy Note 8 एस पेन स्टायलस के साथ आता है। बता दें कि डुअल रियर कैमरा सेटअप वाला दक्षिण कोरियाई कंपनी का यह पहला स्मार्टफोन है। और यह फोन आईपी68 सर्टिफिकेट के साथ आता है यानी यह डस्ट और वाटर रेसिस्टेंस है। और 30 मिनट तक 1.5 मीटर गहरे पानी में रहने पर फोन को नुकसान नहीं होगा। इसके साथ ही फोन में आइरिस स्कैनर और फेस रिकग्निशन फ़ीचर है। कंपनी ने लॉन्च इवेंट में स्मार्टफोन की भारत में कीमत और उपलब्धता का खुलासा कर दिया।

    सैमसंग गैलेक्सी नोट 8 की कीमत, लॉन्च ऑफर और उपलब्धता
    सैमसंग गैलेक्सी नोट 8 की भारत में कीमत 67,900 रुपये है। और स्मार्टफोन को 64 जीबी इनबिल्ट स्टोरेज वेरिएंट में लॉन्च किया गया है। इस स्मार्टफोन की बिक्री देश में 21 सिंतबर से शुरू होगी और अमेज़न इंडिया, सैमसंग इंडिया के ऑनलाइन व ऑफलाइन स्टोर पर मिलेगा। अमेज़न इंडिया व सैमसंग इंडिया साइट पर प्री-बुकिंग अभी कराई जा सकती है। फोन मैपल गोल्ड और मिडनाइट ब्लैक कलर वेरिएंट में मिलेगा।

    लॉन्च ऑफर की बात करें तो, फोन के साथ एक पारदर्शी कवर और एकेजी हेडफोन मिलेंगे। कंपनी, नोट 8 खरीदने वाले यूज़र को एक वायरलेस चार्जर के अलावा एक बार के लिए स्क्रीन रीप्लेसमेंट वारंटी दे रही है। वहीं एचडीएफसी क्रेडिट कार्ड से खरीदारी करने वाले ग्राहकों को 4,000 रुपये का कैशबैक भी मिलेगा। वहीं गैलेक्सी नोट 8 खरीदने वाले जियो यूज़र को 448 जीबी 4जी डेटा भी मिलेगा। सैमसंग ने गैलेक्सी नोट 2, नोट 3, नोट 4 और नोट 5 स्मार्टफोन यूज़र के लिए अपग्रेड प्रोग्राम का भी ऐलान किया।
    सैमसंग गैलेक्सी नोट 8 स्पेसिफिकेशन
    डुअल-सिम (नैनो सिम) सपोर्ट वाला गैलेक्सी नोट 8 एंड्रॉयड 7.1.1 नूगा पर चलता है। 6.3 इंच क्वाडएचडी+ (1440x2960 पिक्सल्स) सुपर एमोलेड डिस्प्ले की पिक्सल डेनसिटी 521 पीपीआई है। गौर करने वाली बात है कि डिस्प्ले का डिफॉल्ट रिज़ॉल्यूशन फुलएचडी+ रहता है लेकिन इसे क्वाडएचडी+ में सेटिंग के जरिए बदला जा सकता है। इस फोन में  एक सैमसंग एक्सीनॉस 8895 प्रोसेसर है। इस फोन में 6 जीबी एलपीडीडीआर4 रैम है।

    गैलेक्सी नोट 8 उन चुनिंदा हैंडसेट में से है जो ब्लूटूथ 5.0 सपोर्ट के साथ आता है। अब बात Samsung Galaxy Note 8 के सबसे अहम डुअल रियर कैमरा सेटअप की। पिछले हिस्से पर 12 मेगापिक्सल के दो सेंसर दिए गए हैं जो ऑप्टिकल इमेज स्टेबलाइजेशन को सपोर्ट करते हैं। फ्रंट पैनल पर सेल्फी के लिए एफ/1.7 अपर्चर वाला 8 मेगापिक्सल का कैमरा दिया गया है।

    सैमसंग गैलेक्सी नोट 8 में 64 जीबी इनबिल्ट स्टोरेज है और आपको 256 जीबी तक के माइक्रोएसडी कार्ड का भी सपोर्ट मिलेगा। फोन हाइब्रिड डुअल सिम सपोर्ट करता है। कनेक्टिविटी की बात करें तो 4जी वीओएलटीई, डुअल-बैंड, वाई-फाई 802.11एसी, ब्लूटूथ 5.0,यूएसबी टाइप-सी, एनफएफसी, जीपीएस/ए-जीपीएस और एमएसटी जैसे फ़ीचर हैं। सैमसंग गैलेक्सी नोट 8 में एक्सीलेरोमीटर, एम्बियंट लाइट सेंसर, बैरोमीटर, डिजिटल कंपास, जायरोस्कोर, हार्ट रेट सेंसर, आइरिस सेंसर और प्रॉक्सिमिटी सेंसर हैं। स्मार्टफोन में तीन बायोमीट्रिक अनलॉकिंग फ़ीचर- फिंगरप्रिंट स्कैनर, फेशियल रिकग्निशन और आइरिस स्कैनर दिए गए हैं।
    गैलेक्सी नोट 7.1.1 नूगा पर चलेगा। डिवाइस की बैटरी 3,300 एमएएच की है। यह फोन वायरलेस चार्जिंग को सपोर्ट करेगा। बैटरी क्विक चार्ज 2.0 तकनीक सपोर्ट करती है। कंपनी ने बैटरी की सुरक्षा के बारे में कई तरह के दावे किए हैं। बता दें कि पिछली साल आए नोट 7 में बैटरी की ख़ामी की वज़ह से विस्फोट हुए थे और बाद में इस प्रोडक्ट को बंद कर दिया गया। फोन का डाइमेंशन 162.5x74.8x8.6 मिलीमीटर और वज़न 195 ग्राम है। एस पेन स्टायललस आईपी-68 सर्टिफाइड है और 30 मिनट तक 1.5 मीटर गहरे पानी में रहने पर फोन को नुकसान नहीं होगा।

    ...
  •  


  •  भारत टेलीकॉम कंपनी Airtel, मोबाइल सर्विस के साथ अब मोबाइल फोन लाने की भी तैयारी में है. अटकलें लगाई जा रही हैं कि एयरटेल जल्द ही बाजार में 2500 से लेकर 2700 तक के 4G स्मार्टफोन बाजार में उतार सकती है. एयरटेल के ये सस्ते स्मार्टफ़ोन दिवाली तक बाजार में नजर आ सकते हैं. बाज़ार में फ्री डाटा और कॉल प्लान्स के चलते सभी टेलीकॉम कंपनियों सस्ते डाटा पैक और कई किफायती ऑफर पेश करके लगातार एक दूसरे को टक्कर दे रहे हैं.

    जानकारी के मुताबिक एयरटेल के सस्ते स्मार्टफोन को डुअल सिम और 4 इंच डिस्प्ले मॉडल के साथ बाजार में उतारा जा सकता है. इसके साथ ही इस फोन में 1GB की रैम होगी. फ़िलहाल एयरटेल की तरफ से इस पर कोई ऑफिशियल जानकारी सामने नहीं आई है कि इस फोन की बुकिंग कब शुरू होगी.

    जिओ ने अपनी बुकिंग 24 अगस्त से शुरू की थी, जिसमें अब तक लाखों यूज़र्स रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं, जिन्हें जल्द ही उनका 4G फोन होम डेलीवरी के जरिए मिल सकेगा. पिछले साल सितंबर में आने वाली जिओ ने बाजार अब तक 125 मिलियन से अधिक यूज़र्स जोड़े हैं. (न्यूज 18)

    ...
  •  


  • नई दिल्ली, 10 सितंबर। मान लीजिए आप कहीं जाने के लिए सुबह उठे और आपके मोबाइल की बैट्री खत्म है, आप मोबाइल चार्ज पर लगाते हैं लेकिन बिजली भी गुल है। ऐसे हालात में महज खुद से नाराज होने या बिजली विभाग पर गुस्सा उतारने के अलावा आप क्या करेंगे?
    या फिर आप कहीं पहाड़ों में खूबसूरत वादियों की सैर पर निकले हैं। दूर-दूर तक फैले शानदार मनोहरी दृश्यों को जैसे ही आप अपने मोबाइल में कैद करने की सोचते हैं तो पाते हैं कि मोबाइल तो स्विच ऑफ होने वाला है, इस हालात में भी आप अपनी किस्मत को ही कोसेंगे। तो चलिए हम आपको बताते हैं तीन आसान स्टेप जिन्हें अपना कर आप बिना बिजली के अपने फोन की बैट्री चार्ज कर सकते हैं।
    आपको चाहिए एक कार यूएसबी अडैप्टर (कार सिगरैट लाइटर), फोन को चार्ज करने वाली तार (यूएसबी केबल), 9 वोल्ट की बैटरी, धातु की एक चिप और एक पेन स्प्रिंग या पेंच टाइट करने के वाला पाना।
    अब आपको बैट्री से बिजली पैदा कर मोबाइल तक पहुंचानी है। इसके लिए आपको एक कम तीव्रता वाला छोटा सा इलेक्ट्रिकल फील्ड तैयार करना होगा जिसकी मदद से मोबाइल चार्ज किया जा सके।
    पहला स्टेप: मेटल चिप को खोलिए और उसे बैट्री के एक पोल पर लगाइए, सभी बैट्रियों में दो टर्मिनल होते हैं। एक तरफ पॉजिटिव और दूसरी तरफ निगेटिव पोल। जब इन दोनों पोल को तार से जोड़ा जाता है तो इनके बीच तेजी से इलेक्ट्रोंस का प्रवाह होने लगता है। हमें सबसे पहले बैट्री के निगेटिव पोल की तरफ चिप को जोडऩा होगा।
    दूसरा स्टेप: कार एडैप्टर को बैट्री के पॉजिटिव पोल पर लगाइए, कार अडैप्टर को बैट्री के दूसरे टर्मिनल मतलब पॉजिटिव पोल की तरफ लगाइए। अब हम इलेक्ट्रिक फील्ड बना सकते हैं।
    तीसरा स्टेप: एडैप्टर के धातु वाले हिस्से की तरफ वाले चिप के एक सिरे को दबाएं, अब हमें चिप के सिरे और एडैप्टर के धातु वाले हिस्से का आपस में संपर्क करवाना है। ऐसा करने से बैट्री के भीतर मौजूद इलेक्ट्रोंस में तेजी से प्रवाह होने लगेगा जिससे बिजली बनने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।
    सभी बैट्रियों में इलेक्ट्रोलाइट और रासायनिक तत्व होते हैं। इनके बीच प्रतिक्रिया होने पर इलेक्ट्रोंस में तेज प्रवाह होता है जिससे बिजली पैदा होने लगती है।
    अब आपका बिना बिजली का चार्जर तैयार है, सिर्फ आपको अपने मोबाइल को यूएसबी सॉकेट से जोडऩा है और ऐसा करने के बाद आप अपने फोन को इमरजेंसी जरूरत के लिए चार्ज कर सकते हैं।  (बीबीसी)

    ...
  •  


  • अमरीका, 10 सितंबर। फेसबुक एक ऐसा फीचर पर टेस्टिंग कर रहा है जिसमें यह नए दोस्त बनाने में मदद करेगा।  इस फीचर से फेसबुक ऐसे लोगों से दोस्ती करने का सजेशन देगा जो आपकी तरह हों। टेक क्रंच की रिपोर्ट में कहा गया कि इस फीचर से यूजर्स को कई सारे कनेक्शन की लिस्ट एक बटन गेट टू क्नॉ फ्रेंड्स पर क्लिक करने से मिलेगी। इसमें ऐसे लोगों के लिस्ट सामने आएगी जिसमें की आप दोनों में कुछ कॉमन बातें हो। इस लिस्ट में आपके दोस्तों के दोस्तों के नाम भी मौजूद होंगे।
    यह ऑप्शन फिलहाल सभी यूजर्स के लिए उपलब्ध नहीं है। इससे पहले फेसबुक में ना सिर्फ संभावित दोस्तों की लिस्ट दी जाती है, बल्कि कौन से इंवेट को दोनों पसंद करते हैं, किन-किन पेजों को उन्होंने लाइक किया है और कहां काम करते हैं, जैसी जानकारी मौजूद होती हैं। फेसबुक एक और नए फीचर पर काम कर रहा है, जो फेसबुक मैसेंजर ऐप के लिए होगा। इस फीचर के जरिए यूजर्स एक दूसरे से मिलने के लिए समय तय करने का सजेशन देगा। इसी साल की शुरुआत में फेसबुक ने डिस्कवर पीपुल्स नाम का फीचर शुरू किया था, जो यूजर्स को ग्रुप और इवेंट्स के जरिए से नए दोस्त बनाने में मदद करता है।
    इससे पहले फेसबुक ने फेक न्यूज और झूठी सूचनाओं पर लगाम लगाने के की बात कही थी। इसमें फेसबुक ने ऐसे पेज की कमाई रोकने के लिए विज्ञापन देना बंद करने का फैसला किया है, जो लगातार फर्जी खबरें शेयर करते हैं। (न्यूज 18)

     

    ...
  •  


  • सैमसंग ने गैलेक्सी सीरीज़ में अपना गैलेक्सी सी8 स्मार्टफोन चीन में लॉन्च कर दिया है। सैमसंग गैलेक्सी सी8 स्मार्टफोन की कीमत और उपलब्धता की जानकारी कंपनी ने अभी नहीं दी है। यह स्मार्टफोन ब्लैक, गोल्ड और रोज़ गोल्ड कलर वेरिएंट में मिलेगा। कंपनी ने Samsung Galaxy C8 को चीन में अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर लिस्ट कर दिया है। सैमसंग गैलेक्सी सी8 की सबसे अहम ख़ासियत है इसमें दिया गया डुअल रियर कैमरा, जो एक ऐसे मोड के साथ आता है जिससे तस्वीर लेने के बाद, फोकस को बाद में एडजस्ट किया जा सकता है।

    सबसे पहले बात करते हैं सैमसंग गैलेक्सी सी8 के कैमरे की। पहला सेंसर 13 मेगापिक्सल का है जो अपर्चर एफ/1.7 के साथ आता है जबकि दूसरा सेंसर अपर्चर एफ/1.9 के साथ 5 मेगापिक्सल सेंसर से लैस है। कैमरा ऑटोफोकस और फ्लैश के साथ आता है। वहीं सेल्फी और वीडियो चैट के लिए फ्रंट फ्लैश व अपर्चर एफ/1.9 के साथ 16 मेगापिक्सल का रियर कैमरा है।

    सैमसंग गैलेक्सी सी8 में एक 5.5 इंच फुल एचडी (1080 x 1920) सुपर एमोलेड डिस्प्ले है। कंपनी ने अभी प्रोसेसर की जानकारी साझा नहीं की है। फोन 3 जीबी रैम/32 जीबी स्टोरेज और 4 जीबी रैम/64 जीबी स्टोरेज के दो वेरिएंट में मिलेगा। स्टोरेज को माइक्रोएसडी कार्ड के जरिए 256 जीबी तक बढ़ाया जा सकता है। फोन हाइब्रिड सिम स्लॉट के साथ आता है। स्मार्टफोन में फिंगरप्रिंट सेंसर और फेशियल रिकग्निशन जैसे फ़ीचर हैं।

    कनेक्टिविटी की बात करें सैमसंग गैलेक्सी सी8 में 4जी एलटीई, वाई-फाई 802.11 बी/जी/एन, ब्लूटूथ 4.2, जीपीए,, ग्लोनास, माइक्रो-यूएसबी 2.0 और 3.5 एमएम हेडफोन जैक जैसे फ़ीचर हैं। इसके अलावा स्मार्टफोन में एक्सीलेरोमीटर, जायरो सेंसर, जियोमैग्नेटिक सेंसर, आरजीबी सेंसर और प्रॉक्सिमिटी सेंसर दिए गए हैं। गैलेक्सी सी8 को पावर देने के लिए 3000 एमएएच की बैटरी दी गई है जिससे 90 घंटे तक का स्टैंडबाय टाइम मिलने का दावा किया गया है। फोन का डाइमेंशन 152.4 x 74.7 x 7.9 मिलीमीटर है और वज़न 180 ग्राम है। (एनडीटीवी)

    ...
  •  


  • Vivo ने आज भारत में अपने पोर्टफोलियो को विस्तार देते हुए अपने नए फ्लैगशिप स्मार्टफोन V7+ को लॉन्च कर दिया है. इस स्मार्टफोन की खासियत इसका फ्रंट कैमरा और फुल व्यू डिस्प्ले है. कंपनी ने इसकी कीमत 21,990 रुपये रखी है और ग्राहकों के लिए ये 15 सितंबर से उपलब्ध रहेगा. साथ ही इसे 7 सितंबर से फ्लिपकार्ट और अमेजन इंडिया की वेबसाइट से प्री-बुक किया जा सकता है. लॉन्च के दौरान भारत में कंपनी के ब्रांड एम्बेसडर और मशहूर अभिनेता रणवीर सिंह भी इवेंट में मौजूद रहे. 

    Vivo V7+ में 15.21 cm (5.99) HD फुल व्यू डिस्प्ले दिया गया है और ये Funtouch OS 3.2 बेस्ड एंड्रायड 7.1 नूगट पर चलता है. इसमें 4GB रैम के साथ 64GB का इंटरनल स्टोरेज दिया गया है जिसे कार्ड की मदद से 256GB तक बढ़ाया जा सकता है. इसमें ऑक्टा-कोर क्वॉलकॉम स्नैपड्रैगन 450 प्रोसेसर दिया गया है. इसकी बैटरी 3225 mAh की दी गई है.

    इसके मेजर सेक्शन कैमरे की बात करें तो ग्राहकों को इसके रियर में f/2.0 अपर्चर और डुअल LED फ्लैश के साथ 16 मेगापिक्सल का कैमरा मिलेगा, वहीं सेल्फी के लिए इस स्मार्टफोन को खास बनाते हुए कंपनी ने इसके फ्रंट में f/2.0 अपर्चर के साथ 24MP HD का कैमरा दिया है. कंपनी ने जानकारी दी कि इसमें एंडवांस्ड Bokeh मोड दिया गया है, जिससे यूजर्स क्लियर बैकग्राउंड ब्लर प्राप्त कर सकते हैं. साथ ही गेमिंग एक्सपिरियंस को खास बनाने के लिए कंपनी के गेम के दौरान इनकंमिंग कॉल और मैसेज को कैंसल करने का ऑप्शन दिया है.

    कुछ और बेहतरीन फीचर्स की बात करें तो इसमें फेशियल रिक्गनिशन से फोन अनलॉक करने के लिए फेस एक्सेस दिया गया है, साथ ही स्मार्ट स्क्रिन स्प्लिट, आई प्रोटेक्शन मोड और ऐप क्लोन दिया गया है. इसकी मदद से यूजर्स एक ऐप में ही दो अलग-अलग अकाउंट बना सकते हैं. कनेक्टिविटी के लिए इसमें 4G VoLTE, Wi-Fi, Bluetooth v4.2, GPS/ A-GPS, Micro-USB, 3.5mm ऑडियो जैक और FM रेडियो मौजूद है. इस स्मार्टफोन को शैंपेन गोल्ड और मैट ब्लैक कलर ऑप्शन में पेश किया गया है. (आज तक)

    ...
  •  


  • ग्लोबल स्मार्टफोन बिक्री में चीनी स्मार्टफोन कंपनी Huawei ने ऐपल को पछाड़ दिया है. यह पहली बार है जब ह्यूवेई ने ऐपल को पछाड़ा है. ह्यूवेई ने जून और जुलाई के दौरान हुए वैश्विक बिक्री के मामले में ऐपल को पीछे छोड़ा है. बता दें कि ऐपल 12 सितंबर को अपना फ्लैगशिप डिवाइस iPhone 8 लॉन्च करने जा रहा है.
    वहीं, दक्षिण कोरिया की मोबाइल कंपनी सैमसंग ग्लोबल सेल में नंबर वन पर है. जबकि ह्यूवेई का दूसरा नंबर है. Counterpoint के एसोसिएट डायरेक्टर तरुण पाठक का कहना है कि ग्लोबल सप्लाई चेन में चीनी वेंडरों का महत्व बढ़ रहा है. चीनी स्मार्टफोन कंपनियां सैमसंग और ऐपल को कड़ी टक्कर दे रही हैं. बिक्री के साथ ही चीनी मोबाइल कंपनियों का मार्केट शेयर भी बढ़ रहा है.
    तरुण का कहना है कि मोबाइल इकोसिस्टम में चीनी ब्रांड को किसी भी हालत में इन्नोर नहीं किया जा सकता है.  चीनी कंपनियां ना सिर्फ मैन्यूफेक्चरिंग बल्कि मोबाइल फोन में बेहतरीन फीचर्स देने के मामले में भी तेजी से ग्रोथ कर रही हैं.(न्यूज 18)

    ...
  •  


  • Opera ने भारत में iphone यूजर्स के लिए लॉन्च किया ओपेरा मिनी का नया वर्जन अंग्रेजी के अलावा भारतीय यूजर्स के लिए गुजराती, हिंदी, तमिल में न्यूज फीड उपलब्ध होंगे.
    ग्लोबल टेक्नोलॉजी फर्म ओपेरा सॉफ्टवेयर ने भारत में iphone और iPad यूजर्स के लिए अपने मोबाइल ब्राउजर ऐप ओपेरा मिनी का नया वर्जन लॉन्च किया है. इसमें आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (AI) पावर्ड न्यूज फीड है. अंग्रेजी के अलावा भारतीय यूजर्स के लिए गुजराती, हिंदी, तमिल में न्यूज फीड उपलब्ध होंगे.

    पिछले वर्जन के मुकाबले चार गुना तेज
    iOS के लिए ओपेरा मिनी का रिवैम्पड UI आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस बेस्ड न्यूज फीड को इसके स्टार्ट पेज पर फीचर करता है. कंपनी का दावा है कि रेंडर्स न्यूज पिछले वर्जन के मुकाबले चार गुना तेज है. न्यूज फीड ग्रेडिएंट बूस्टिंग डिसीजन ट्रीज (GBDT) मशीन लर्निंग एल्गोरिदम और डीप न्यूरल नेटवर्क लर्निंग से पावर्ड है.
    ओपेरा ने एक बयान में कहा है, ‘एक बार जब यूजर न्यूज कंटेट के साथ इंगेज होना शुरू होता है. यह एक यूनीक यूजर प्रोफाइल डिफाइन करना शुरू कर देगा. न्यूज इंजन डीप लर्निंग मॉडल के जरिए यूजर की दिलचस्पी का विश्लेषण करता है और इस बात को समझता है कि यूजर का रुझान किस तरह की न्यूज की ओर है. यूजर न्यूजफीड के साथ जितना ज्यादा इंगेज होता है, उसके लिए फॉर यू सेक्शन के तहत उसके हिसाब से कंटेंट आता है.’

    न्यूज फीड को कस्टमाइज करने की सहूलियत
    यह ऐप यूजर्स को इंटरनेशनल न्यूज सोर्सेज के साथ न्यूज फीड को कस्टमाइज करने की सहूलियत देगा. इसमें यूजर अपनी पसंद के मुताबिक लोकेशन और कैटेगरीज को सेट कर सकेंगे. यह फीचर घाना, केन्या, इंडोनेशिया, नाइजीरिया, दक्षिण अफ्रीका और युनाइटेड स्टेट जैसे चुनिंदा देशों में उपलब्ध है. कंपनी इसका दायरा रूस, पाकिस्तान और बांग्लादेश तक बढ़ाना चाहती है. (न्यूज 18)

    ...
  •  


  • सरकारी टेलीकॉम ऑपरेटर भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) ने एक नया वॉयस और डेटा प्लान पेश किया है। 90 दिनों की वैधता के साथ आने वाले 429 रुपये के इस प्लान में कंपनी अनलिमिटेड वॉयस और 1 जीबी डेटा मिलता है। बीएसएनएल का यह ऑफर सिर्फ प्रीपेड ग्राहकों के लिए है।

    कंपनी ने मंगलवार को नई दिल्ली में कहा, इस प्लान के तहत किसी भी नेटवर्क पर मुफ्त वॉयस (लोकल/एसटीडी) कॉल मिलती है। इसके अलावा 90 दिनों तक 90 जीबी डेटा (1 जीबी प्रतिदिन) का ऑफर है जो केरल सर्किल के अलावा देशभर में मिलेगा।

    बीएसएनएल बोर्ड के निदेशक आर.के. मित्तल ने कहा, ''वॉयस और डेटा प्लान 429 रुपये में उपलब्ध है, यानी हर महीने आपको 143 रुपये प्रति महीने की प्रभावी कीमत होगी। बाज़ार में मौज़ूद यह अभी तक का सबसे किफ़ायती प्लान है।''

    पिछले महीने ही, बीएसएनएल ने मोबिक्विक के साथ एक मोबाइल वॉलेट लॉन्च किया। उस समय, टेलीकॉम ऑपरेटर ने बताया था कि इस वॉलेट के जरिए कंपनी के मौज़ूद 10 करोड़ ग्राहक ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर भुगतना और लेनदेन कर पाएंगे।

    इस वॉलेट के माध्यम से तेजी से ऑनलाइन रिचार्ज, बिलों का भुगतान, खरीदारी, बस की बुकिंग जैसे कई काम किए जा सकते हैं। बीएसएनएल के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक अनुपम श्रीवास्वत ने कहा, "बीएसएनएल और मोबिक्विक के बीच इस रणनीतिक भागीदारी से देश को कैशलेश समाज बनाने में मदद मिलेगी, जोकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विजन है।"
    (गैजेट्स 360)

    ...
  •  




Previous1234Next