खेल

Posted Date : 19-Jan-2018
  • भारतीय सलामी बल्लेबाज शुभम गिल और हार्विक देसाई के नाबाद 155 रनों की साझेदारी के दम पर आईसीसी अंडर-19 विश्व कप के ग्रुप बी मुकाबले में भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट हरा दिया है। 155 रनों का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने धमाकेदार शुरुआत की। पहले ही ओवर से भारतीय बल्लेबाज जिम्बाब्वे के गेंदबाजों पर हावी नजर आए। शुभम गिल  ने महज 59 गेंदों में ताबड़तोड़ 90 रनों की पारी खेली तो वहीं हार्विक देसाई 56 रन बनाकर उनका बखूबी साथ दिया। पहले दस ओवर में ही टीम ने 60 से ऊपर का स्कोर बना लिया था। शुभम गिल और हार्विक देसाई ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर टीम को जल्द से जल्द जीत दिलाने का काम कर रहे थे।

    इससे पहले जिम्बाब्वे ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था। 48.1 ओवर में ही पूरी जिम्बाब्वे टीम महज 154 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। इस मैच में भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया। भारत को इस मैच में भी जीत की लय को बरकरार रखना होगा। भारत की तरफ से अनुकूल रॉय ने सबसे अधिक चार विकेट अपने नाम किए।
    -पराग और शिवम मावी को एक-एक सफलता मिली। गिल को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया। उल्लेखनीय है कि भारत ने पहले ही क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है।
    -155 रनों का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की ठोस शुरुआत। शुभम गिल और हार्विक देसाई जिम्बाब्वे के गेंदबाजों को आउट करने का कोई मौका नहीं दे रहे हैं। भारत का स्कोर- 74/0 (11)
    -आईसीसी अंडर-19 विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में पहले ही प्रवेश हासिल कर चुकी भारतीय टीम जिम्बाब्वे के खिलाफ भी हावी नजर आ रही है। 155 रनों का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने धमाकेदार शुरुआत की है।
    -नुकूल रॉय के अलावा अभिषेक शर्मा और अर्शदीप सिंह ने भी दो-दो विकेट हासिल किए। वहीं जिम्बाब्वे की तरफ से मिल्टन शुम्बा सबसे अधिक 36 रन बनाने में कामयाब रहे। भारतीय बल्लेबाज इस लक्ष्य को आसानी से हासिल कर सकती है।
    -जिम्बाब्वे के बल्लेबाज धीरे धीरे पारी को आगे ले जाने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं भारतीय गेंदबाज जल्द से जल्द विकेट झटकर उन्हें ऑल आउट करना चाहेगी। जिम्बाब्वे की कोशिश भारत के सामने कम से कम 200 से ज्यादा का स्कोर बनाने की होगी। भारत के पास मजबूत बैटिंग लाइन अप है जो किसी भी टोटल को आसानी से चेज करने में सक्षम है।  जिम्बाब्वे का स्कोर 154/10 (48.1)
    – एसिल्टर फ्रोस्ट टीम के रनों की गति बढ़ाने के चक्कर में आउट हो गए। जिम्बाब्वे की आखिरी उम्मीद भी अब खत्म हो चुकी है। जिम्बाब्वे का स्कोर 147/8 (43)
    -अनुकूल ने इस मैच में शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन किया है। कप्तान रोची को आउट कर उन्होंने जिम्बाब्वे की कमर तोड़ दी है। रन बनाने के लिए संघर्ष कर रही जिम्बाब्वे की टीम ने अपना छठा विकेट खो दिया है। जिम्बाब्वे का स्कोर 130/6 (38)
    -पिछले आठ ओवर से जिम्बाब्वे के बल्लेबाज कोई बाउंड्री नहीं लगा पा रहे हैं। लिएम एक छोर से पारी को संभालने का काम कर रहे हैं तो दूसरी तरफ बल्लेबाज लगातार अपना विकेट गंवा रहे हैं।  जिम्बाब्वे का स्कोर 116/5 (33)
    -ग्रुप-बी में भारत का सामना जिम्बाब्वे से होगा। तीन बार इस टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम कर चुकी भारतीय टीम ने ग्रुप स्तर पर खेले गए पहले मैच में आस्ट्रेलिया को 100 रनों से और दूसरे मैच में पापुआ न्यू गिनी को 10 विकेट से हराया था।
    -इन दोनों मैचों में भारत की अंडर-19 टीम के कप्तान पृथ्वी शॉ ने अहम भूमिका निभाई है, लेकिन मुश्किल परिस्थितियों में उनकी प्रतिभा की परख बाकी है।
    -भारतीय टीम की गेंदबाजी परिपक्व है। इसमें कमलेश नागरकोटी और शिवम मावी जैसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने अपनी शानदार गेंदबाजी से सभी को हैरान कर रखा है।
    -उल्लेखनीय है कि विदर्भ के गेंदबाज आदित्य ठाकरे को चोटिल ईशान पोरेल के स्थान पर भारतीय अंडर-19 टीम में शामिल किया गया है।
    -पोरेल को पैर में चोट लगी थी और इस कारण पीएनजी के खिलाफ दूसरे मैच में अर्शदीप सिंह ने उनका स्थान लिया था। भारत की स्पिन गेंदबाजी अंकुल रॉय ने संभाल रखी है। उन्होंने पीएनजी की पारी को समेटने में अहम भूमिका निभाई थी। भारतीय टीम ने जिम्बाब्वे के खिलाफ पिछले किसी भी मैच में हार का सामना नहीं किया है।
    भारतीय टीम : पृथ्वी शॉ (कप्तान), शुभम गिल, आर्यन जुयाल, अभिषेक शर्मा, अर्शदीप सिंह, हार्विक देसाई, मनजोत कालरा, कमलेश नागकोटी, पंकज यादव, रियान पराग, हिमांशु राणा, अनुकूल रॉय, शिवम मावी और शिवा सिंह।
    जिम्बाब्वे टीम : लियाम रोचे (कप्तान), रॉबर्ट चिमहिनया, जोनाथन कोनोले, एलिस्टर फोर्स्ट, टॉन हेरिसन, वेस्ले मधेवेरे, तानुर्वा माकोनी, डोनाल्ड मलाम्बो, तिनाशा नेनहुन्जी, कोसिलातु नुनु, किरान रोबिनसन, जायेदन शादेनडोर्फ और मिल्टन शुम्बा। (जनसत्ता)

    ...
  •  


Posted Date : 19-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 19 जनवरी. विराट कोहली एंड कंपनी दक्षिण अफ्रीका में चल रही टेस्ट सीरीज में चाहे जैसा भी प्रदर्शन कर रही हो, लेकिन भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) भारती टीम हर उस तरह की मदद प्रदान कर रहा है, जो भी टीम मैनेजमेंट मांग कर रहा है. इसी के तहत सेलेक्टरों ने दो और युवा तेज गेंदबाजों को नेट अभ्यास के लिए तीसरे टेस्ट से पहले दक्षिण अफ्रीका भेजने का फैसला किया है. दोनों जल्द ही दक्षिण अफ्रीका के लिए रवाना होंगे. 
     
    आपको ध्यान दिला दें कि इससे पहले बीसीसीआई ने टीम मैनेजमेंट की मांग को  मानते हुए दौरा शुरू होने से पहले ही चार गेंदबाजों को नेट अभ्यास कराने के लिए टीम के साथ दक्षिण अफ्रीका भेजने की सहमति दे दी थी. इसके तहत सेलेक्टरों ने मोहम्मद सिराज, मध्य प्रदेश के आवेश खान, दिल्ली के नवदीप सैनी और दिल्ली और केरल के यॉर्कर विशेषज्ञ बासिल थंपी का चयन किया था. इनमें से कुछ पहले से ही भारतीय बल्लेबाजों को जमकर नेट अभ्यास करा रहे हैं. 

    अब सेलेक्टरों कोशिश की है कि तीसरे और आखिरी टेस्ट से पहले भारतीय बल्लेबाजों को और ज्यादा से ज्यादा तेज गेंदबाजी के खिलाफ नेट अभ्यास मिल सके, जिससे सीरीज में 3-0 से सफाए की शर्मिंदगी से बचा जा सके. विराट कोहली एंड कंपनी के लिए अच्छी बात यह है कि तीसरा टेस्ट अब जबकि 24 से शुरू हो रहा है, तो उनके पास अभ्यास के लिए अच्छा खासा समय है. ऐसे में विराट कोहली को छोड़कर कागजी शेर ही साबित हुए बाकी बल्लेबाज 'इस सेवा' का अच्छा फायदा उठा सकते हैं.

    दिल्ली के नवदीप सैनी और महाराष्ट्रट के दाएं हत्था और दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए वनडे टीम में शामिल शार्दुल ठाकुर जल्द ही तीसरे टेस्ट से पहले नेट अभ्यास बॉलर के रूप में भारतीय टीम के साथ जुड़ जाएंगे. भारतीय बल्लेबाज कितना फायदा उठा पाते हैं, इसका पता तीसरे टेस्ट के बाद ही चलेगा. (एनडीटीवी)

    ...
  •  


Posted Date : 18-Jan-2018
  • दुबई, 18 जनवरी (जनसत्ता)। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने 2017 के अवार्ड्स का ऐलान कर दिया है। भारत के कप्तान विराट कोहली को 2017 का वनडे क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुना गया है। पिछले साल उन्होंने 76.84 के औसत से रन बटोरे। वनडे में उनका कॅरियर औसत अब 55.74 है जो विश्व में सर्वाधिक है। इसके अलावा टी20 फॉरमेट में भारत के युवा स्पिनर युजवेंद्र चहल का दबदबा रहा। बेंगलुरु में इंग्लैंड के खिलाफ उनके प्रदर्शन को आईसीसी परफॉर्मेंस ऑफ द ईयर चुना गया। सीरीज के निर्णायक मैच में चहल ने 25 रन देकर 6 विकेट लिए और अपने दम पर मैच भारत के पक्ष में मोड़ दिया। इन दो भारतीय खिलाडिय़ों के अलावा ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज स्टीव स्मिथ को टेस्ट क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुना गया। 2017 में स्मिथ ने 16 टेस्ट में 78.12 के औसत से 1875 रन बनाए। इसमें 8 शतक और 5 अर्द्धशतक शामिल हैं।
    विराट कोहली को आईसीसी ने सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी से भी नवाजा है। पुरस्कार पाकर खुश कोहली ने कहा, आईसीसी के साल के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी बनकर सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी जीतना और आईसीसी में वनडे के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी की उपलब्धि हासिल करना काफी मायने रखता है। कोहली ने कहा, मैंने वनडे के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार 2012 में जीता था, लेकिन सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी पाने का सौभाग्य पहली बार हासिल हुआ है। मेरे लिए यह बड़े सम्मान की बात है। कोहली ने 2017 में 77.80 के औसत से 2203 टेस्ट रन बनाए, इस दौरान उन्होंने 8 शतक लगाए। वहीं वनडे में उनका औसत 82.63 का रहा और इस फॉरमेट में उन्होंने 7 शतक लगाए। वहीं टी20 में 153 के स्ट्राइक रेट से कोहली ने 299 रन बनाए हैं।
    साल के उभरते हुए खिलाड़ी का खिताब पाकिस्तान के हसन अली को मिला। चैंपियंस ट्रॉफी में हसन अली ने 13 विकेट लिए थे। अफगानिस्तान के युवा खिलाड़ी राशिद खान को आईसीसी एसोसिएट क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुना गया। उन्होंने 2017 में एसोसिएट खिलाड़ी के तौर पर 60 विकेट लिए, जो कि एक रिकॉर्ड है। राशिद ने वनडे में 43 विकेट लेकर भी नया रिकॉर्ड बनाया। चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल में पाकिस्?तान के हाथों भारत की हार को फैंस मोमेंट ऑफ द ईयर चुना गया है।
    विराट कोहली को आईसीसी ने टेस्ट और वनडे टीम का कप्तान भी बनाया है। टेस्ट टीम में कोहली के अलावा चेतेश्वर पुजारा और रविचंद्रन अश्विन अन्य भारतीय खिलाड़ी हैं। आईसीसी की वनडे टीम में रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह को जगह मिली है। मैरिस इरासमस को अंपायर ऑफ द ईयर चुना गया। उन्होंने लगातार दूसरे साल यह अवार्ड जीता है।
    आईसीसी 'टेस्ट टीम ऑफ द ईयर' : विराट कोहली (कप्तान), डीन एल्गर, डेविड वॉर्नर, स्टीव स्मिथ, चेतेश्वर पुजारा, बेन स्टोक्स, क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, मिशेल स्टॉर्क, कगीसो रबादा और जेम्स एंडरसन।
    आईसीसी 'वनडे टीम ऑफ द ईयर' : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, डेविड वॉर्नर, बाबर आजम, अब्राहम डिविलियर्स, क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), बेन स्टोक्स, ट्रेंट बाउल्ट, हसन अली, राशिद खान और जसप्रीत बुमराह।

    ...
  •  


Posted Date : 18-Jan-2018
  • दुबई, 18 जनवरी। भारतीय कप्तान विराट कोहली को आईसीसी की साल की टेस्ट और वनडे टीमों का कप्तान चुना गया, जिसमें 4 अन्य भारतीयों को भी जगह मिली है। कोहली ने आईसीसी टेस्ट टीम की कप्तानी की दौड़ में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ को पछाड़ा, जिनकी अगुआई में ऑस्ट्रेलिया ने घरेलू सरजमीं पर एशेज में इंग्लैंड को 4-0 से शिकस्त दी। 
    टेस्ट टीम में भारत के चेतेश्वर पुजारा और रविचंद्रन अश्विन को भी जगह मिली है। पुजारा ने इस दौरान 19 मैचों में 7 शतक और 9 अर्धशतक की मदद से 63.80 की औसत से 1914 रन बनाए, जबकि अश्विन ने 25.87 की औसत से 111 विकेट चटकाए। इसमें उन्होंने पारी में 8 बार 5 या इससे अधिक, जबकि मैच में 3 बार 10 या इससे अधिक विकेट चटकाए। अश्विन ने इस दौरान 5 अर्धशतक से 25.66 के औसत के साथ 616 रन भी बनाए। 
    टेस्ट टीम में इसके अलावा 3 ऑस्ट्रेलियाई (स्मिथ, सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर और तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क) और 3 दक्षिण अफ्रीकी (सलामी बल्लेबाज डीन एल्गर, विकेटकीपर क्विंटन डि कॉक और तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा) खिलाड़ियों को भी जगह मिली। इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन और ऑलराउंडर बेन स्टोक्स को भी टेस्ट टीम में शामिल किया गया। 
    वनडे टीम में कौन-कौन? 
    कोहली को आईसीसी की वनडे टीम की अगुआई के लिए भी चुना गया, जिसमें रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह को भी जगह मिली। आईसीसी के बयान के अनुसार कोहली ने इस दौरान वनडे में 31 मैचों में 7 शतक और 9 अर्धशतक की बदौलत 82.63 के औसत से 1818 रन बनाए। रोहित के लिए भी सत्र शानदार रहा जिसमें उन्होंने 26 मैचों में 6 शतक और इतने ही अर्धशतक की मदद से 61.56 के औसत से 1416 रन जुटाए। 
    बुमराह 2017 में सर्वश्रेष्ठ डेथ ओवरों के गेंदबाज में से एक के रूप में उभरे और इस दौरान 27 मैचों में 25.68 के औसत से 45 विकेट चटकाए और 5 बार पारी में 5 या इससे अधिक विकेट लेने में सफल रहे। वॉर्नर, स्टोक्स और डि कॉक को भी जगह मिली। इसके अलावा दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान एबी डि विलियर्स, न्यू जीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट, अफगानिस्तान के लेग स्पिनर राशिद खान के अलावा 2 पाकिस्तानी क्रिकेटरों हसन अली और बाबर आजम को भी शामिल किया गया। (भाषा)

     

    ...
  •  


Posted Date : 18-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 18 जनवरी । क्रिकेटर गौतम गंभीर ने आरोप लगाया है कि दिल्ली का एक बार चेन उनके नाम का इस्तेमाल अपनी टैगलाइन के तौर पर कर रहा है। गंभीर ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर पब मालिक को ऐसा करने से रोकने की मांग की है।
    कोर्ट ने इस नोटिस में पब के मालिक से टैगलाइन की जगह गौतम गंभीर के नाम का इस्तेमाल किए जाने को लेकर जवाब मांगा है। पश्चिमी दिल्ली के पंजाबी बाग इलाके में हवालात और घुंघरू नाम से दो पब चला रहे हैं जिनकी टैगलाइन में गौतम गंभीर का नाम जुड़ा है। यह इत्तेफाक ही है कि पब के मालिक का नाम भी गौतम गंभीर ही है। इस मामले की सुनवाई 20 मार्च को होगी।  क्रिकेटर गौतम गंभीर ने इससे पहले यह याचिका सिंगल बेंच के सामने दायर की थी। बीते साल 31 दिसंबर को इसे खारिज कर दिया गया था।
     बेंच ने कहा था कि ऐसा कोई सबूत नहीं मिला, जिससे ऐसा लगे कि गौतम गंभीर नाम की टैगलाइन का इस्तेमाल पब चलाने के लिए हो रहा है और इससे क्रिकेटर की प्रतिष्ठा को कोई नुकसान पहुंच रहा है। क्रिकेटर ने इसी आदेश को चुनौती दी है और कहा है कि गौतम गंभीर नाम का जिक्र आते ही लोग उसे उनके नाम से जोड़कर देखने लगते हैं। गंभीर के वकील राजीव नायर ने कहा कि क्रिकेटर को नवंबर 2016 में इसकी जानकारी मिली थी। उन्हें पता चला था कि पब मालिक गौतम गंभीर की टैगलाइन का इस्तेमाल कर अपना रेस्त्रां चला रहे हैं। क्रिकेटर का उस पब से कोई लेना-देना नहीं है। याचिकाकर्ता के मुताबिक, टैगलाइन की वजह से लोगों में कन्फ्यूजन पैदा हो जाता है। (नवभारत टाईम्स)

     

    ...
  •  


Posted Date : 17-Jan-2018

  • ब्राजील। ब्राजील के विश्व कप विजेता फुटबॉलर रोनाल्डिन्हो ने फुटबॉल को अलविदा कहने का ऐलान कर दिया है।
     वह आखिरी बार दो साल पहले पेशेवर फुटबॉल खेले थे। पेरिस सेंट जर्मेन और बार्सिलोना के पूर्व स्टार रोनाल्डिन्हो 2002 विश्व कप जीतने वाली टीम के अहम सदस्य थे। उन्होंने आखिरी बार 2015 में फ्लूमाइनेंसे के लिए खेला था। उनके भाई और एजेंट राबर्टो एसिस ने कहा कि वह अब दोबारा नहीं खेलेंगे। रोनाल्डिन्हो ने पोर्टो अलेग्रे में अपने कैरियर का आगाज ग्रेमियो के साथ किया लेकिन फ्रांस के पीएसजी के साथ खेलते हुए उन्हें ख्याति मिली।
    इसके बाद 2003 से 2008 के बीच वह बार्सिलोना के लिए खेले। उन्हें 2005 में फीफा का वर्ष का सर्वश्रेष्ठ फुटबॉलर चुना गया था। वह 2008 से 2011 के बीच एसी मिलान के लिए खेले जिसके बाद ब्राजील लौटकर फ्लामेंगो और एटलेटिको माइनेइरो के लिए खेले। ब्राजील के लिए उन्होंने 97 मैच खेलकर 33 गोल दागे जिनमें दो विश्व कप 2002 में किए थे। (भाषा)

    ...
  •  


Posted Date : 17-Jan-2018

  • सेंचुरियन। घरेलू मैदानों पर रनों का अंबार लगाने वाले भारतीय बल्लेबाज दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विदेशी मैदानों पर मेमने साबित हुई. केपटाउन टेस्ट के बाद सेंचुरियन टेस्ट में भी भारतीय बल्?लेबाजों के कमजोर प्रदर्शन के कारण टीम इंडिया को 135 रन की हार का सामना करना पड़ा है. मैच के पांचवें दिन भारतीय टीम के सामने जीत के लिए 287 रन का लक्ष्य था लेकिन पूरी टीम पहले सेशन में ही 50.2  ओवर में 151  रन बनाकर शर्मनाक तरीके से आउट हो गई. भारतीय टीम ने आज सुबह जब, चौथे दिन के स्कोर 3 विकेट पर 35 रन से आगे खेलना प्रारंभ किया तो हर किसी को उम्मीद थी कि भारतीय टीम भले ही मैच न जीत पाए लेकिन उसके बल्लेबाज संघर्ष का जज्बा तो दिखाएंगे, लेकिन ऐसा नहीं हो सका. चेतेश्वर पुजारा के साथ भारतीय विकेट गिरने के जो सिलसिला प्रारंभ हुआ वह आखिरी विकेट के रूप में जसप्रीत बुमराह के आउट होने के साथ ही रुका. सेंचुरियन टेस्ट में मिली इस हार के साथ ही भारतीय टीम ने टेस्?ट सीरीज गंवा दी है. तीन टेस्ट की सीरीज में भारतीय टीम अब 0-2 से पीछे है. ऐसे में तीसरे टेस्ट का चाहे जो भी परिणाम हो, उसका सीरीज हारना तय है. वैसे भी, शुरुआती दो टेस्ट में मिल हार के बाद टीम इंडिया के सामने अब क्लीन स्वीप से बचने की चुनौती होगी.
    भारतीय बल्लेबाजी के लिहाज से देखें तो सेंचुरियन में विराट कोहली का पहली पारी का शतक (153 रन) ही खास रहा. अन्य बल्लेबाजों ने विकेट पर रुकने की इच्?छाशक्ति दिखाए बिना ही दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाजों के सामने शर्मनाक समर्पण कर दिया. अपने टेस्?ट करियर का आगाज करने वाले दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज लुंगी एंगिडी  ने दूसरी पारी में सर्वाधिक छह विकेट लिए.
    पांचवें दिन का पहला ओवर कागिसो रबाडा ने फेंका जिसमें तीन रन बने. वर्नोन फिलेंडर की ओर से फेंके गए अगले ओवर की पहली ही गेंद पर पुजारा ने चौका लगाया. इस ओवर में छह रन बने. दिन के चौथे ही ओवर में भारतीय टीम को चौथा झटका चेतेश्वर पुजारा (19रन, 47 गेंद, दो चौके) के रन आउट होने से लगा. पुजारा पहली पारी में भी बिना कोई रन बनाए रन आउट हुए थे. पुजारा के स्?थान पर रोहित शर्मा बैटिंग के लिए आए. रोहित अभी विकेट पर ठीक से सेट हो भी नहीं पाए थे कि पार्थिव पटेल (19 रन, 49 गेंद, दो चौके) भी रबाडा की गेंद पर आउट हो गए. उनका कैच मोर्ने मोर्केल ने फाइन लेग पर लपका. टीम इंडिया को छठा विकेट हार्दिक पंड्या (6) के रूप में गिरा जिन्हें लुंगी एंगिडी ने विकेटकीपर डिकॉक से कैच कराया.रविचंद्रन अश्विन (3) भी ज्?यादा देर नहीं टिके. तेज गेंदबाज एंगिडी की गेंद पर उनका कैच विकेटकीपर क्विंटन डिकॉक ने लपका. अश्विन टीम इंडिया के सातवें बल्लेबाज के रूप में आउट हुए.

    ...
  •  


Posted Date : 16-Jan-2018
  • सेंचुरियन, 16 जनवरी: तेज गेंदबाजों की तिकड़ी मोहम्‍मद शमी, जसप्रीत बुमराह और ईशांत शर्मा के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारतीय टीम आज यहां सेंचुरियन टेस्‍ट मैच में दक्षिण अफ्रीका की दूसरी पारी को 258 रन पर आउट करने में सफल हो गई. चायकाल के बाद दक्षिण अफ्रीकी पारी 91.3 ओवर में 258  रन पर सिमटी. पहली पारी के आधार पर मेजबान टीम को मिली 28 रन की बढ़त मिलाने के बाद मैच में टीम इंडिया के सामने जीत के लिए 287 रन का लक्ष्‍य है. दक्षिण अफ्रीका की दूसरी पारी में एबी डिविलियर्स के 80, डीन एल्‍गर के 61 और कप्‍तान फाफ डु प्‍लेसिस के 48 रन उल्‍लेखनीय रहे. भारतीय टीम के लिए मोहम्‍मद शमी ने सर्वाधिक 4, जसप्रीत बुमराह ने तीन और ईशांत शर्मा ने दो विकेट लिए. अश्विन को एक विकेट मिला. जवाब में तीन ओवर के बाद भारतीय टीम की दूसरी पारी का स्‍कोर बिना विकेट खोए 5 रन है. मुरली विजय 4 और केएल राहुल 1 रन बनाकर क्रीज पर हैं.
    पहला सेशन: दक्षिण अफ्रीका के तीन विकेट गिरा
    चौथे दिन भारतीय गेंदबाजी की शुरुआत ईशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह ने की. बुमराह की ओर से फेंके गए पारी के दूसरे ओवर में ही डिविलियर्स ने चौका जमा दिया. पहले घंटे में दक्षिण अफ्रीकी बल्‍लेबाजों ने तेज गति से रन बनाए. जल्‍द ही डीन एल्‍गर ने अपना अर्धशतक 93 गेंदों पर छह चौकों और एक छक्‍के की मदद से पूरा किया. भारत को दिन की पहली कामयाबी शमी ने एबी डिविलियर्स (80 रन, 121 गेंद, 10चौके) को आउट करके दिलाई. कैच पार्थिव पटेल ने लपका. जल्‍द ही शमी टीम के लिए एक और सफलता लेकर आए. उन्‍होंने डीन एल्‍गर (61रन, 121 गेंद, आठ चौके, एक छक्‍का) को केएल राहुल से कैच कराया. अगले ही ओवर में टीम इंडिया को डु प्‍लेसिस का विकेट भी मिल सकता था लेकिन इस बार राहुल लेग कैच नहीं पकड़ सके.पारी के 48वें ओवर में क्विंटन डिकॉक और मोहम्‍मद शमी के बीच अच्‍छा मुकाबला देखने को मिला. डिकॉक ने इस ओवर की लगातार तीन गेंदों पर चौके जमाए लेकिन शमी ने चौथी गेंद पर उन्‍हें आउट कर हिसाब चुकता कर दिया. डिकॉक ने पांच गेंदों पर तीन चौकों की मदद से 12 रन बनाए. एक समय दो विकेट पर 144 रन बनाते हुए अच्‍छी स्थिति में नजर आ रही मेजबान टीम के 163 रन तक पहुंचते-पहुंचते पांच विकेट गिर चुके थे.लंच के समय दक्षिण अफ्रीका का स्‍कोर पांच विकेट खोकर 173 रन था. इस समय तक दक्षिण अफ्रीका की बढ़त 201 रन पर पहुंच चुकी थी.
    दूसरा सेशन: ईशांत ने हासिल किए दो विकेट
    दूसरे सेशन में भारत के लिए जसप्रीत बुमराह और आर. अश्विन ने गेंदबाजी की शुरुआत की. इस दौरान फाफ डु प्‍लेसिस और फिलेंडर ने संभलकर बल्‍लेबाजी करते हुए टीम के स्‍कोर को बढ़ाना जारी रखा. विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीकी की दूसरी पारी में पहली बार हरफनमौला हार्दिक पंड्या को गेंदबाजी के लिए बुलाया. इस सेशन के पहले घंटे के खेल में दक्षिण अफ्रीका ने हालांकि कोई विकेट तो नहीं गंवाया लेकिन उसके रनों की रफ्तार बेहद धीमी रही, इस दौरान 15 ओवर में टीम के खाते में महज 33 रन जुड़े.डु प्‍लेसिस और फिलेंडर की इस साझेदारी को ईशांत शर्मा ने तोड़ा. उन्‍होंने वेर्नोन फिलेंडर (26 रन, 85 गेंद, दो चौके) को स्‍क्‍वेयर लेग में विजय से कैच कराया. इसके बाद ईशांत ने अपने अगले ही ओवर में केशव महाराज (6 रन, 8 गेंद) को विकेटकीपर पार्थिव पटेल से कैच कराकर मेजबान टीम को दोहरा झटका दिया.चाय के समय दक्षिण अफ्रीका का स्‍कोर 82 ओवर में 7 विकेट खोकर  230 रन था.
    258 रन पर सिमटी दक्षिण अफ्रीकी पारी, शमी ने लिए 4 विकेट
    चाय के बाद भारत के लिए पहला ओवर आर. अश्‍विन ने फेंका जो मेडन रहा.आखिरी सेशन में शमी ने कागिसो रबाडा (4रन, 29 गेंद, एक चौका) को आउट करके भारत को 8वीं सफलता दिलाई. रबाडा का कैच कप्‍तान विराट कोहली ने लपका. दक्षिण अफ्रीका का 8वां विकेट 245 के स्‍कोर पर गिरा. इसी स्‍कोर पर दक्षिण अफ्रीकी टीम का 9वां विकेट भी गिर गया. आउट होने वाले बल्‍लेबाज दक्षिण अफ्रीकी कप्‍तान फाफ डु प्‍लेसिस (48) रहे, जिन्‍हें बुमराह ने अपनी ही गेंद पर कैच किया. आखिरी विकेट के रूप में लुंगी एंडिगी ऑफ स्पिनर आर. अश्विन के शिकार बने. उनका कैच विजय ने लपका.भारतीय टीम के लिए मोहम्‍मद शमी ने सर्वाधिक 4, जसप्रीत बुमराह ने तीन और ईशांत शर्मा ने दो विकेट लिए. अश्विन को एक विकेट मिला.
    विकेट पतन: 1-1 (मार्कराम, 1.2), 3-2 (अमला, 5.3), 144-3 (डिविलियर्स, 41.1),151-4 (एल्‍गर, 45.5), ,163-5 (डिकॉक, 47.4), 209-6 (फिलेंडर, 73.4), 215-7 (महाराज, 75.6) ,245-8 (रबाडा, 87.2), 245-9 (डु प्‍लेसिस, 88.4), ,258-10 (एंगिडी, 91.3)
    इससे पहले मैच के तीसरे दिन कल दक्षिण अफ्रीका की दूसरी पारी की शुरुआत खराब रही और पारी के दूसरे ही ओवर में उसे एडेन मार्कराम (1 रन, सात गेंद) का विकेट गंवाना पड़ा. उन्‍हें जसप्रीत बुमराह ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया. उनकी गेंदबाजी के आगे दक्षिण अफ्रीकी असहज नजर आ रहे थे. जल्‍द ही हाशिम अमला (1) के रूप में दक्षिण अफ्रीका को एक और झटका लग गया, उन्‍हें भी बुमराह ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया.बारिश की बाधा के बाद खराब रोशनी के कारण भी खेल रोकना पड़ा. दक्षिण अफ्रीका का स्‍कोर जब दो विकेट पर 90 रन था तब अम्‍पायरों ने कम रोशनी के कारण खेल समाप्‍त घोषित कर दिया.दक्षिण अफ्रीका ने पहली पारी में 335 रन का स्‍कोर किया था, जिसके जवाब में विराट कोहली के 153 रन की मदद से भारतीय टीम ने अपनी पहली पारी में 307 रन बनाए थे.
    वैसे, दक्षिण अफ्रीका अगर सीरीज में क्‍लीन स्‍वीप करने में सफल होता है तो भी भारत की नंबर वन टेस्ट रैंकिंग पर असर नहीं पड़ेगा लेकिन भारतीय टीम को अपने देश में काफी आलोचना का सामना करना पड़ेगा.
    दक्षिण अफ्रीका में भारत का रिकॉर्ड काफी खराब है जहां उसने छह में से पांच सीरीज गंवाई हैं जबकि एक ड्रॉ रही. भारत ने 1992 से दक्षिण अफ्रीका की सरजमीं पर खेले 17 टेस्ट में से सिर्फ दो में जीत दर्ज की है. टीम ने एक जीत 2006-07 में राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में जबकि एक 2010-11 में महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में दर्ज की. भारत ने हालांकि पिछले दो दौरों पर दक्षिण अफ्रीका में बेहतर प्रदर्शन किया है. टीम ने 2010-11 में सीरीज ड्रॉ कराई जबकि 2013-14 में उसे कड़ी टक्कर देने के बावजूद हार का सामना करना पड़ा.
    दक्षिण अफ्रीका: फाफ डु प्लेसिस ( कप्तान ), डीन एल्गर, एडेन मार्कराम, हाशिम अमला, एबी डि‍विलियर्स, क्विंटन डिकॉक, केशव महाराज, मोर्ने मोर्कल, वेर्नोन फिलेंडर, कागिसो रबाडा, एंडिले पी, लुंगी एंगिडि.
    भारत: विराट कोहली ( कप्तान) , लोकेश राहुल, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, रोहित शर्मा, पार्थिव पटेल, हार्दिक पंड्या, आर.अश्विन, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह.

    ...
  •  


Posted Date : 16-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 16 जनवरी: भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीसरा टेस्ट मैच जोहानेसबर्ग में 24 जनवरी  से खेला जाएगा, लेकिन टीम मैनेजमेंट ने पार्थिव पटेल को अभी से अपने प्लान से बाहर कर दिया है! सेंचुरियन में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट के तीरे दिन का खेल खत्म के बाद टीम मैनेजमेंट ने चयन समिति से दिनेश कार्तिक को टीम में शामिल करने का अनुरोध किया, जिसे मान लिया गया है. दिनेश कार्तिक जल्द ही दक्षिण अफ्रीका के लिए रवाना होंगे. दरअसल पार्थिव पटेल ने तीसरे दिन एक ऐसी गलती की, जिसने विराट कोहली बहुत ही ज्यादा खफा कर दिया और उन्होंने मैदान पर ही यह फैसला ले लिया कि तीसरे टेस्ट में विकेटकीपर कोई और ही होगा. 
    पार्थिव पटेल ने 19 रन बनाए थे, लेकिन विकेट के पीछे उनके पैर चलते दिखाई नहीं पड़ रहे हैं. मैच प्रैक्टिस का अभाव साफ तौर पर उनकी कीपिंग में झलका. ऐसा लगा कि पार्थिव ने मानो पिछले काफी लंबे समय से अभ्यास नहीं किया. लेकिन मैच के तीसरे दिन पार्थिव से एक गलती क्या हुई कि दूसरी स्लिप में खड़े विराट कोहली बहुत ज्यादा गुस्से में बुदबुदाते हुए देखा गया.
    दरअसल जसप्रीत बुमराह के भारतीय पारी के फैंके 25वें ओवर में पार्थिव पटेल ने डीन एल्गर के आसान कैच को जाने दिया. पार्थिव पटेल  न ही कैच पकड़ सके और न ही अपने इर्द-गिर्द क्षेत्ररक्षण स्थिति का ही उन्हें अंदाजा रहा. नतीजा यह रहा कि डीन एल्गर का यह कैच पार्थिव और पहली स्लिप में खड़े चेतेश्वर पुजारा के बीच से निकल गया. और इसी का खामियाजा अब पार्थिव पटेल को भुगतना पड़ा है. (ndtv)

    ...
  •  


Posted Date : 16-Jan-2018
  • अमरीका, 16 जनवरी । चार बार ओलंपिक चैंपियन रहीं सिमोन बाइल्स ने कहा है कि टीम के डॉक्टर लैरी नस्सार ने उनका यौन शोषण किया था। रियो र्ओंपिक्स की स्टार ने एक जज्बाती बयान में बाइल्स में कहा कि वो नस्सार को अपना सुखचैन नहीं चुराने देंगी।
    बीस साल की सिमोन बाइल्स ने कहा, मैं जानती हूं कि ये भयानक अनुभव मुझे परिभाषित नहीं करता, मुझमें इससे कहीं अधिक ताकत है। बाइल्स ने यौन शोषण की बात ट्वीट कर सार्वजनिक की है।
    नस्सार को बच्चों की यौन शोषण की तस्वीरें रखने के लिए साठ साल की सजा सुनाई गई है। उन्होंने ये भी स्वीकार किया था वो जिमनास्टों से मारपीट करते थे। गैबी डगलस समेत तीन भूतपर्व अमरीकी ओलंपिक खिलाडिय़ों ने नस्सार पर इलाज करने का बहाने यौन शोषण करने की बात की है। नस्सार को इस महीने महिला जिमनास्टों को पीटने वाले मामले में सजा सुनाई जाएगी।
    54 वर्षीय लैरी नस्सार को दिसंबर में अपने कंप्यूटर पर बच्चों के साथ 

    यौन शोषण की तस्वीरें रखने के तीन मामलों में सजा सुनाई गई थी। नस्सार के वकीलों ने बताया कि वो सिमोन बाइल्स के बयान पर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे।
    रियो ओलंपिक खेलों में चार स्वर्ण पदक और एक कांस्य पदक जीतने वाली सिमोन बाइल्स ने ट्वीट कर लैरी नस्सार पर यौन शोषण के आरोप लगाए हैं।
    उन्होंने ट्वीट किया, मैं उन कई पीडि़तों में से एक हूं जिनका नस्सार ने यौन शोषण किया। आप में से अधिकतर मुझे एक हंसमुख, खुश और ऊर्जा से भरी लड़की के तौर पर जानते हैं। लेकिन हाल के दिनों में, मैं टूट-सी गई हूं। मैं जितना अपनी आवाज दबान की कोशिश करती हूं उतना मेरा दिमाग चीखने को कहता है। मैं अब अपनी कहानी कहने से डरूंगी नहीं।
    वो आगे कहती हैं, 2020 में टोक्यो ओलंपिक की तैयारी करते हुए मेरे लिए उस अनुभव के साथ रहना असंभव सा लग रहा है। मैं ठीक उन्हीं जगहों पर तैयारी करने जाऊंगी जहां मेरा यौन शोषण हुआ था। मैं इस खेल से बहुत प्यार करती हूं। और मैंने कभी हार नहीं मानी है। मैं एक मर्द और उसकी मदद करने वालों को अपना प्यार और उल्लास नहीं चुराने दूंगी।
    लैरी नस्सार 1980 के दशक से जुलाई 2015 में नौकरी से निकाले जाने के वक्त तक यूएस जिमनास्टिक्स से जुड़े रहे थे। उनके खिलाफ 130 महिलाओं ने शोषण के मुकदमे दायर किए हैं। ओलंपिक में गोल्ड मैडल जीतन वाली एली रेजमैन और मैककायला मरोनी जैसे खिलाड़ी भी नस्सार के खिलाफ सामने आए हैं।(बीबीसी)

    ...
  •  


Posted Date : 16-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 16 जनवरी। आईसीसी अंडर-19 विश्व कप में भारत-पापुआ न्यू गिनी (पीएनजी) के बीच मुकाबला खेला गया, जिसमें टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए पीएनजी महज 21.5 ओवर में 64 रन पर ढेर हो गई। मामूली टारगेट का पीछा करते हुए भारत ने महज 8 ओवर में ही 10 विकेट से जीत दर्ज कर ली। पृथ्वी शॉ ने कप्तानी पारी खेलते हुए 39 गेंदों में 57 रन बनाए। भारत ने शुरुआती मैच भी जीता था। अपने अभियान की शुरुआत जीत के साथ करने वाली टीम इंडिया ने इस मैच में भी लय को बरकरार रखा। पहले मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 100 रनों से हराकर विजयी शुरुआत की थी। वहीं पीएनजी के लिए टूर्नामेंट की शुरुआत अच्छी नहीं हुई। उसे अपने पहले ही मैच में जिम्बाब्वे के खिलाफ 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था।
    पृथ्वी शॉ ने चौके के साथ अपना अर्धशतक पूरा किया। भारत ने 8 ओवर में बगैर किसी नुकसान के जीत हासिल कर ली है। पृथ्वी शॉ ने कप्तानी पारी खेलते हुए 39 गेंदों में नाबाद 57 रन बनाए। वहीं मनजोत कालरा भी 9 रन बनाकर नाबाद रहे।
    भारत ने तेज खेल दिखाते हुए महज 3.4 ओवर में 25 रन बना लिए हैं। पृथ्वी शॉ 19, जबकि मनजोत 5 रन बनाकर खेल रहे हैं। पीएनजी बेहद बेबस नजर आ रही है। भारतीय टीम की ओर से पृथ्वी शॉ और मनजोत कालरा मैदान पर आ चुके हैं। पृथ्वी शॉ पिछले मैच में 94 रन बनाकर आउट हुए थे। इस मैच में भी उनसे शानदार खेल दिखाने की उम्मीद की जा रही है।
    पीएनजी महज 21.5 ओवर में 64 रन पर सिमट चुकी है। भारत इस मैच को आसानी से जीत सकता है। देखना होगा कि भारत कितने ओवर शेष रहते मैच को अपने नाम करने में सफल रह पाता है।
    भारतीय टीम को आठवीं सफलता हाथ लग चुकी है। जेम्स ताउ 0 रन बनाकर अनुकूल रॉय की गेंद पर बोल्ड हो गए। पीएनजी तेजी से अपने विकेट खो रहा है। ऐसा लग रहा है मानो उनकी पारी 3-4 ओवर के अंदर सिमट सकती है। 
    पापुआ न्यू गिनी को लेके मोरिया के रूप में सातवां झटका लग चुका है। मोरिया खाता खोले बगैर ही नगरकोटी की गेंद पर बोल्ड हुए। भारत मैच में पूरी तरह से हावी नजर आ रहा है। 
    15.2 ओवर में शिनाका अरुआ 12 रन बनाकर अनुकूल रॉय की गेंद पर क्लीन बोल्ड हुए। शिनाका ने अपनी पारी में 19 गेंदों का सामना करते हुए महज 1 चौका जड़ा था। इसके कुछ देर बाद ही ओविया सैम (15) भी चलते बने।
    पीएनजी अपने चार विकेट खो चुका है। भारत की ओर से शिवम मावी को 2, जबकि अर्शदीप सिंह को 1 सफलतता हासिल हुई। वहीं सिमोन अताई (13) रन आउट हुए।
    पापुआ न्यू गिनी की तरफ से सलामी जोड़ी के रूप में अताई और महूरू मैदान पर उतर चुके हैं। टीम इंडिया की ओर से शुरुआती ओवर मावी को सौंपा गया। 
    भारतीय कप्तान पृथ्वी शॉ ने पापुआ न्यू गिनी के खिलाफ टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया है। पीएनजी की बल्लेबाजी पहले मैच में बेहद खराब रही थी। भारत के खिलाफ उसे सतर्क रहना होगा। (जनसत्ता)

    ...
  •  


Posted Date : 15-Jan-2018
  • Ind vs SA: भारत-साउथ अफ्रीका के बीच खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने शतक जड़ा। इसी के साथ विराट कोहली साउथ अफ्रीका में टेस्ट सेंचुरी जड़ने वाले दूसरे भारतीय कप्तान बन चुके हैं। कोहली से पहले ये इतिहास सचिन तेंदुलकर ने रचा था। इतना ही नहीं सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट शतक लगाने वाले एशिया के अकेले दो कप्तान भी हैं। विराट कोहली ने अब तक 33 टेस्ट मैचों में कप्तानी की है, जिसमें से 20 में जीत और सिर्फ 4 में हार नसीब हुई है। वहीं 9 मुकाबले ड्रॉ रहे। इसी के साथ कोहली ने सबसे तेज 21वीं टेस्ट सेंचुरी जड़ने के मामले में भी सचिन को पछाड़ दिया है।
    विराट कोहली ने सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ा, किया यह रिकॉर्ड अपने नाम
    कप्तान विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में साहसिक कप्तानी पारी खेलते हुए भारतीय पारी को संभाले रखा है। भारत ने सुपरस्पोर्ट पार्क पर खेले जा रहे इस मैच में दूसरे दिन का अंत 61 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 183 रनों के साथ किया था। वहीं तीसरे दिन छठे ओवर में ही हार्दिक पांड्या (15) का विकेट भी गंवा दिया।
    अपनी पहली पारी खेलने उतरी भारत को लोकेश राहुल के (10) के रूप में पहला झटका लगा। राहुल को मोर्ने मोर्कल ने 28 के कुल स्कोर पर अपनी ही गेंद पर कैच किया। अगली ही गेंद पर चेतेश्वर पुजारा बिना खाता खोले दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से रन आउट हो गए।
    इसके बाद विजय और कोहली ने टीम को संभाला और टीम को 107 रनों तक पहुंचा दिया। विजय अपने अर्धशतक से चार रन दूर थे तभी केशव महाराज की गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर विकेटकीपर क्विंटन डी कॉक के हाथों में जा समाई।
    रोहित शर्मा 10 रनों का ही योगदान दे सके। वह 132 के कुल स्कोर पर कागिसो रबाडा की गेंद पर पगबाधा करार दे दिए गए। पार्थिव पटेल को इस मैच में पदार्पण कर रहे लुंगी नगिडी ने अपना पहला शिकार बनाया। नगिडी की एक गेंद पार्थिव के बल्ले का बाहरी किनारा लेकर विकेटकीपर के हाथों में गई। इससे पहले मेजबान साउथ अफ्रीका शानदार शुरुआत के बावजूद आखिरी दो सेशन में खराब प्रदर्शन करते हुए 335 रन पर सिमट गई थी। (जनसत्ता)

    ...
  •  


Posted Date : 15-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 15 जनवरी। भारत और दक्षिण अफ्रीका की क्रिकेट टीमों के बीच जारी तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा मैच इस वक्त सेंचुरियन के सुपरस्पोर्ट पार्क में खेला जा रहा है। रविवार को दूसरे टेस्ट का दूसरा दिन था। फिलहाल टीम इंडिया बल्लेबाजी कर रही है। भारत की तरफ से कप्तान विराट कोहली और ऑल-राउंडर क्रिकेटर हार्दिक पंड्या क्रीज पर जमे हुए हैं। दूसरे दिन के अंत तक भारत ने 61 ओवरों में 5 विकेट के नुकसान पर 183 रन बना लिए हैं। भारत की कोशिश होगी कि वह तीसरे दिन यानी आज ज्यादा विकेट ना खोते हुए मैच पर पकड़ बना ले। वहीं दूसरे दिन के मैच में हार्दिक पंड्या को स्विंग करती हुई गेंद काफी परेशान कर रही थी।
    60वें ओवर में कोहली जब बल्लेबाजी कर रहे थे तब वरनान फिलांडर स्विंग डाल रहे थे। उस दौरान दूसरी छोर पर खड़े पंड्या और कोहली के बीच बातें हुईं। दोनों के बीच स्विंग को कैसे संभालना है, इसे लेकर कुछ बातें हुईं। दोनों की बातें स्टम्प माइक में रिकॉर्ड हो गईं। वहीं दूसरे वीडियो में जहां फिलांडर इन स्विंग और आउट स्विंग गेंदें डालकर पंड्या को परेशान कर रहे थे, उस वक्त कप्तान कोहली ने उनकी मदद की। कोहली फुटवर्क के जरिए पंड्या को निर्देश देते दिखे।
    पंड्या मैं बताऊं आपको?
    कोहली- नहीं, नहीं.. मुझे दिखा, मैं बता रहा हूं
    दक्षिण अफ्रीका की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 335 रन बनाए। पहले दिन के मैच में अफ्रीका ने 6 विकेट के नुकसान पर 269 रन बनाए थे, लेकिन दूसरे दिन टीम ने 335 रन बना लिए। वहीं बल्लेबाजी कर रही टीम इंडिया की ओर से कोहली और पंड्या अभी मैदान पर मौजूद हैं। कोहली ने अभी तक 130 गेंदों पर 85 रन बनाए हैं तो वहीं पंड्या ने 29 गेंदों पर 11 रन बना लिए हैं।  (जनसत्ता)

    ...
  •  


Posted Date : 15-Jan-2018
  • भारत और दक्षिण अफ्रीका की क्रिकेट टीमों के बीच जारी तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा मैच इस वक्त सेंचुरियन के सुपरस्पोर्ट पार्क में खेला जा रहा है। रविवार को दूसरे टेस्ट का दूसरा दिन था। फिलहाल टीम इंडिया बल्लेबाजी कर रही है। भारत की तरफ से कप्तान विराट कोहली और ऑल-राउंडर क्रिकेटर हार्दिक पंड्या क्रीज पर जमे हुए हैं। दूसरे दिन के अंत तक भारत ने 61 ओवरों में 5 विकेट के नुकसान पर 183 रन बना लिए हैं। भारत की कोशिश होगी कि वह तीसरे दिन यानी आज ज्यादा विकेट ना खोते हुए मैच पर पकड़ बना ले। वहीं दूसरे दिन के मैच में हार्दिक पंड्या को स्विंग करती हुई गेंद काफी परेशान कर रही थी।
    60वें ओवर में कोहली जब बल्लेबाजी कर रहे थे तब वरनान फिलांडर स्विंग डाल रहे थे। उस दौरान दूसरी छोर पर खड़े पंड्या और कोहली के बीच बातें हुईं। दोनों के बीच स्विंग को कैसे संभालना है, इसे लेकर कुछ बातें हुईं। दोनों की बातें स्टम्प माइक में रिकॉर्ड हो गईं। वहीं दूसरे वीडियो में जहां फिलांडर इन स्विंग और आउट स्विंग गेंदें डालकर पंड्या को परेशान कर रहे थे, उस वक्त कप्तान कोहली ने उनकी मदद की। कोहली फुटवर्क के जरिए पंड्या को निर्दश देते दिखे।
    दक्षिण अफ्रीका की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 335 रन बनाए। पहले दिन के मैच में अफ्रीका ने 6 विकेट के नुकसान पर 269 रन बनाए थे, लेकिन दूसरे दिन टीम ने 335 रन बना लिए। वहीं बल्लेबाजी कर रही टीम इंडिया की ओर से कोहली और पंड्या अभी मैदान पर मौजूद हैं। कोहली ने अभी तक 130 गेंदों पर 85 रन बनाए हैं तो वहीं पंड्या ने 29 गेंदों पर 11 रन बना लिए हैं। (जनसत्ता)

    ...
  •  


Posted Date : 14-Jan-2018
  • माउंट मौंगानुई, 14 जनवरी। कप्तान पृथ्वी शॉ(94 रन), मनजोत कालरा (86) की बल्लेबाज़ी और शिवम मावी, नगरकोटी की बेहतरीन गेंदबाज़ी की मदद से भारत ने अंडर-19 विश्वकप का विजयी आगाज़ कर दिया है. ऑस्ट्रेलिया के साथ हुई टूर्नामेंट की अपनी पहली टक्कर में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया पर इक्कीस साबित हुई और 100 रनों की बड़ी जीत दर्ज की.

    टीम इंडिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करते हुए ऑस्ट्रेलिया के सामने 328 रनों का विशाल लक्ष्य खड़ा किया. अंडर19 क्रिकेट विश्वकप में ये ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किसी भी टीम का सबसे बड़ा स्कोर है.

    लेकिन 328 रनों के जवाब में बल्लेबाज़ी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम किसी भी क्षण लक्ष्य का पीछा करती नज़र नहीं आई. ऑस्ट्रेलियाई टीम को उनके ओपनर एडवर्ड्स और ब्रायन्ट ने 57 रनों की ओपनिंग साझेदारी दी. लेकिन इसके बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम लगातार अंतराल में विकेट गंवाती रही. भारतीय टीम के लिए शिवम मावी और इशान पोरेल ने गेंदबाज़ी में बेहतरीन शुरूआत दी.

    पूरी ऑस्ट्रेलियाई टीम महज़ 228 रन बनाकर ऑल-आउट हो गई. उनके लिए ओपनर एडवर्ड्स ने सबसे ज्यादा 73 रन बनाए. भारत के लिए मावी ने बेहतरीन गेंदबाज़ी करते हुए 8.5 ओवर में 43 रन देकर 3 विकेट चटकाए. इसके अलावा नगरकोटी ने भी शानदार गेंदबाज़ी करते हुए 7 ओवरों में 29 रन खर्चते हुए 3 विकेट चटका लिए.

    इन दोनों के अलावा अभिषेक और रॉय को भी एक-एक विकेट मिला.

    इससे पहले भारतीय टीम ने कप्तान पृथ्वी शॉ और मनजोत कालरा के बीच 180 रन की साझेदारी से आस्ट्रेलिया के खिलाफ सात विकेट पर 328 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया था.

    शॉ और कालरा के आउट होने के बाद भी आस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को जरा भी टीम इंडिया नहीं डगमगाई और बाद में शुभम गिल की तूफानी 63 रनों की पारी की मदद से भारतीय टीम ने बड़ा स्कोर खड़ा किया.

    भारतीय टीम के कप्तान अपना शतक बनाने से चूक गए. उन्होंने 100 गेंदों में आठ चौके और दो छक्के जमाये.

    अंत में भारत के लिए अभिषेक शर्मा ने भी अहम योगदान दिया. उन्होंने आठ गेंदों में 23 रन की पारी खेली और टीम के स्कोर को 300 रनों के पार पहुंचा दिया.

    आस्ट्रेलिया के लिए मध्यम गति के गेंदबाज जैक एडवड्र्स ने चार विकेट हासिल किये. (एबीपी न्यूज)

    ...
  •  


Posted Date : 14-Jan-2018
  • दूसरे दिन दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी 335 रन पर सिमट गई है

    अश्विन ने सर्वाधिक चार विकेट लिए.
    सेंचुरियन, 14 जनवरी: ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारतीय टीम आज यहां दूसरे टेस्‍ट के दूसरे दिन दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी को 335 रन पर समेटने में सफल हो गई. दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी लंच से पहले 113.5 ओवर में 335 रन पर आउट हुई. मेजबान टीम के लिए ओपनर एडेन मार्कराम ने 94, हाशिम अमला ने 82 और कप्‍तान फाफ डु प्‍लेसिस ने 63 रन की पारी खेली. भारत के लिए अश्‍विन सबसे सफल गेंदबाज रहे, जिन्‍होंने 113 रन देकर चार विकेट लिए. भुवनेश्‍वर के स्‍थान पर टीम में जगह पाने वाले ईशांत शर्मा ने 46 रन देकर तीन विकेट लिए.लंच के बाद भारत की पहली पारी का स्‍कोर 8 ओवर में बिना विकेट खोए 28 रन है. मुरली विजय 18 और केएल राहुल 10 रन बनाकर क्रीज पर हैं.

    पहले सेशन में दक्षिण अफ्रीका के लिए शुरुआती ओवर स्पिनर केशव महाराज ने फेंका, जिसमें मुरली विजय ने पहली की गेंद पर चौका जमाया. लंच के बाद पारी का दूसरा ओवर मोर्ने मोर्केल ने फेंका जिसमें राहुल ने चौका लगाया.लंच से पहले दक्षिण अफ्रीका के लिए पहला ओवर स्पिनर केशव महाराजा ने फेंका, जिसमें मुरली विजय ने पहली की गेंद पर चौका जमाया. लंच के बाद पारी का दूसरा ओवर मोर्ने मोर्केल ने फेंका जिसमें राहुल ने चौका लगाया. पारी के 8वें ओवर में विजय और राहुल, दोनों ने मोर्केल को एक-एक चौका जमाया. इस ओवर में 9 रन बने.

    भारत के लिए अश्विन ने चार, ईशांत ने तीन विकेट लिए 
    दूसरे दिन भारतीय गेंदबाजी की शुरुआत ईशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह ने की. शुरुआती दो ओवर में एक-एक रन बना. दिन के 9वें ओवर में तेज गेंदबाज मोहम्‍मद शमी भारत के लिए पहली कामयाबी लेकर आए. उन्‍होंने केशव महाराज (18रन, 54 गेंद, तीन चौके) को विकेटकीपर पार्थिव पटेल से कैच कराया. शमी के टेस्‍ट करियर का यह 100वां विकेट रहा. इसके अगले ही ओवर में कप्‍तान कोहली ने रविचंद्रन अश्विन को गेंदबाजी के लिए उतारा. भारतीय टीम को जल्‍द ही कागिसो रबाडा का विकेट भी मिल सकता था लेकिन अश्विन के ओवर में लगातार दो गेंदों पर पहले विराट कोहली और फिर हार्दिक पंड्या उनका कैच नहीं लपक पाए.जल्‍द ही डु प्‍लेसिस ने अपना अर्धशतक 127 गेंदों पर सात चौकों की मदद से पूरा किया. दक्षिण अफ्रीका का 8वां विकेट कागिसो रबाडा के रूप में गिरा, उन्‍हें 11 रन के स्‍कोर पर ईशांत शर्मा ने हार्दिक पंड्या से कैच कराया.दक्षिण अफ्रीका के अगले दो विकेट कप्‍तान फाफ डु प्‍लेसिस (63) और मोर्ने मोर्केल (6)के रूप में गिरे. डु प्‍लेसिस को ईशांत और मोर्केल को अश्विन ने आउट किया. भारत के लिए अश्विन ने चार और ईशांत ने तीन विकेट लिए.

    विकेट पतन: 85-1 (एल्‍गर, 29.3),148-2 (मार्कराम, 47.3),199-3 (डिविलियर्स, 62.4), 246-4 (अमला, 80.5), 250-5 (डिकॉक, 81.1), 251-6 (फिलेंडर, 83), ,282-7 (केशव महाराज, 98.5), 324-8 (रबाडा, 110.3), 333-9 (डु प्‍लेसिस, 112.4), 335-10 (मोर्केल, 113.5)

    मैच में दक्षिण अफ्रीका की टीम के कप्‍तान फाफ डु प्‍लेसिस ने टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी करने का फैसला लिया था. दक्षिण अफ्रीका की ओपनर जोड़ी डीन एल्‍गर और एडेन मार्कगर ने टीम को जोरदार शुरुआत दी. इन दोनों ने पहले विकेट के लिए 85 रन जोड़े. लंच के समय दक्षिण अफ्रीका का स्‍कोर 27 ओवर में बिना विकेट खोए 78 रन था. मार्कराम 51 और एल्‍गर 26 रन बनाकर क्रीज पर थे. मेजबान टीम के लिए ओपनर एडेन मार्कराम ने 94 और हाशिम अमला ने 82 की शानदार पारी खेली.चाय के समय दक्षिण अफ्रीका का स्‍कोर दो विकेट खोकर 182 रन था. लेकिन आखिरी सेशन में भारतीय टीम ने चार विकेट हासिल करते हुए मैच में एक हद तक वापसी कर ली.

    भारतीय टीम ने अपनी प्‍लेइंग इलेवन में तीन बदलाव किए. चोटिल ऋद्धिमान साहा की जगह पार्थिव पटेल, भुवनेश्‍वर कुमार की जगह ईशांत शर्मा और शिखर धवन की जगह केएल राहुल को टीम में स्‍थान दिया गया. वैसे, दक्षिण अफ्रीका अगर सीरीज में क्‍लीन स्‍वीप करने में सफल होता है तो भी भारत की नंबर वन टेस्ट रैंकिंग पर असर नहीं पड़ेगा लेकिन भारतीय टीम को अपने देश में काफी आलोचना का सामना करना पड़ेगा.

    दक्षिण अफ्रीका में भारत का रिकॉर्ड काफी खराब है जहां उसने छह में से पांच सीरीज गंवाई हैं जबकि एक ड्रॉ रही. भारत ने 1992 से दक्षिण अफ्रीका की सरजमीं पर खेले 17 टेस्ट में से सिर्फ दो में जीत दर्ज की है. टीम ने एक जीत 2006-07 में राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में जबकि एक 2010-11 में महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में दर्ज की. भारत ने हालांकि पिछले दो दौरों पर दक्षिण अफ्रीका में बेहतर प्रदर्शन किया है. टीम ने 2010-11 में सीरीज ड्रॉ कराई जबकि 2013-14 में उसे कड़ी टक्कर देने के बावजूद हार का सामना करना पड़ा.

    दोनों टीमें इस प्रकार हैं...
    दक्षिण अफ्रीका: फाफ डु प्लेसिस ( कप्तान ), डीन एल्गर, एडेन मार्कराम, हाशिम अमला, एबी डि‍विलियर्स, क्विंटन डिकॉक, केशव महाराज, मोर्ने मोर्कल, वेर्नोन फिलेंडर, कागिसो रबाडा, एंडिले पी, लुंगी एंगिडि.

    भारत: विराट कोहली ( कप्तान) , लोकेश राहुल, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, रोहित शर्मा, पार्थिव पटेल, हार्दिक पंड्या, आर.अश्विन, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह. (ndtv)

    ...
  •  


Posted Date : 14-Jan-2018
  • नई दिल्ली: दक्षिण अफ्रीका दौरे में टेस्ट सीरीज के बाद खेली जाने वाले वनडे सीरीज के लिए अनदेखा किए गए और पिछले काफी लंबे समय से आउट ऑफ फॉर्म चल रहे दिल्ली के युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत ने रविवार को सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लीग मुकाबले में हिमाचल प्रदेश के खिलाफ अपने चिरपरिचित अंदाज में 'बम' फोड़ा. ऋषभ ने ऐसी मार हिमाचल के गेंदबाजों को लगाई कि मैच करीब-करीब आधे ही ओवरों में खत्म हो गया. और दिल्ली ने 11.4 ओवरों में ही जीत का 145 रन का लक्ष्य हासिल कर लिया. नाबाद 116 रन बनाने के साथ ही ऋषभ ने एक बड़ा रिकॉर्ड भी अपने खाते में जमा कर लिया. 
    दिल्ली से पहले बैटिंग की दावत पाते हुए हिमाचल प्रदेश ने तय 20 ओवरों में 8 विकेट पर 144 रन बनाए.  उसकी तरफ से निखिल गंगटा ने सबसे ज्यादा 40 रन बनाए. जवाब में हिमाचल प्रदेश ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि ऋषभ पंत उसके गेंदबाजों पर इतनी बुरी तरह कहर बनकर टूटेंगे. ऋषभ पंत की मार का हाल ऐसा रहा जहां उन्होंने नाबाद शतक जड़ डाला, तो दूसरे ओपनर गौतम गंभीर दूसरे छोर पर नाबाद 30 रन ही बना सके. ऋषभ पंत ने सिर्फ 38 गेंदों पर ही बिना आउट हुए 116 रन बनाए. और उनकी इस पारी की बदौलत दिल्ली ने 11.4 ओवरों में ही मैच अपनी झोली में डालते हुए मैच में हिमाचल को पूरे दस विकेट से रौंद दिया.  
    ऋषभ के इस नाबाद शतक में सबसे बड़ा धमाका उनके चौकों से ज्यादा छक्कों का होना रहा. जहां उन्होंने 8 चौके जड़े, तो वहीं उन्होंने 12 छक्के अपनी झोली में डाले. एक ऐसी मार, जो लंबे समय तक हिमाचल के खिलाड़ियों को याद रहेगी. इस पारी के साथ ही ऋषभ घरेलू टी-20 में सबसे तेज शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए. ऋषभ ने सिर्फ 32 गेंदों में ही इस कारनामे को अंजाम दे डाला. (एनडीटीवी)

    ...
  •  


Posted Date : 14-Jan-2018
  • सेंचुरियन, 13 Jan : दक्षिण अफ्रीका और भारत के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा मैच सेंचुरियन में खेला जा रहा है। दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग का फैसला लिया। इस दौरान दक्षिण अफ्रीका ने पहले दिन का खेल खत्म होने तक 6 विकेट खोकर 269 रन बनाये। दक्षिण अफ्रीका की ओर से मार्करम ने 92 रन और हाशिम अमला ने 82 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली। भारत की ओर से रविचन्द्नन अश्विन ने 3 अहम विकेट झटके।
    दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी :
    टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरे दक्षिण अफ्रीका के ओपनर बल्लेबाजों ने टीम को अच्छी शुरुआत दी। इस दौरान डीन एल्गर 31 रन बनाकर रविचन्द्नन अश्विन की गेंद पर मुरली विजय को कैच थमा बैठे। वहीं एडिन मार्करम शतक बनाने से चूके। वो 94 रन के निजी स्कोर पर अश्विन की गेंद पर आउट हुए। उन्हें पार्थिव पटेल ने कैच किया। टीम का तीसरा विकेट एबी डी विलियर्स के रूप में गिरा। डीविलियर्स 20 रन बनाकर ईशांत शर्मा की गेंद पर आउट हुए। 
    इसके बाद अमल और फाफ डू प्लेसी के बीच साझेदारी बन रही थी। लेकिन फिर अमला 82 रन बनाकर आउट हो गये। उन्होंने हार्दिक पांड्या ने रन आउट कर दिया। क्विंटन डी कॉक भी बेहद लापरवाही से बिना रन बनाये रविचन्द्रन अश्विन की गेंद पर आउट हुए। वर्नोन फिलैंडर भी बिना रन बनाये रन आउट हो हुए।
    भारतीय गेंदबाजी :
    टीम के बेहतरीन स्पिन गेंदबाज रविचन्द्नन अश्विन 3 महत्वपूर्ण विकेट झटके। उन्होंने 31 ओवर में 90 रन दिये और 8 मेडन ओवर निकाले। दूसरे टेस्ट मैच में भुवनेश्वर कुमार की जगह ईशांत को शामिल किया गया। उन्होेंने 1 विकेट लिया। वहीं हार्दिक पांड्या का भी बेहतरीन प्रदर्शन देखने को मिला। पांड्या ने अमला और फिलैंडर को रन आउट किया। इनके अलावा किसी भी भारतीय गेंदबाज को सफलता नहीं मिली।
    भारत को 2018-19 में विदेशी धरती पर 12 टेस्ट खेलने हैं और यह उनमें से दूसरा ही टेस्ट है। भारत को सीरीज में बने रहने के लिए यह टेस्ट हर हालत में जीतना होगा। दक्षिण अफ्रीका अगर 2-0 की बढ़त बना भी लेता है तो भारत की नंबर वन टेस्ट रैंकिंग पर असर नहीं पड़ेगा। 
    प्लेइंग इलेवन-
    भारत : मुरली विजय, लोकेश राहुल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, पार्थिव पटेल (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, रविचंद्रन अश्विन, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा 
    साउथ अफ्रीका : डीन एल्गर, एडिन मार्करम, हाशिम आमला, एबी डी विलियर्स, फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर),वानोर्न फिलेंडर, केशव महाराज, कगीसो रबादा, लुंगिसनी नगिड़ी, मॉर्ने मोर्कल
    (लाइव हिन्दुस्तान)

    ...
  •  


Posted Date : 13-Jan-2018
  • नई दिल्ली, 13 जनवरी । आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स की कप्तानी कर चुके युवा भारतीय खिलाड़ी करुण नायर फॉर्म में लौट आए हैं। सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी में उन्होंने तमिलनाडु के खिलाफ तूफानी शतक जड़ एक बार फिर सबका ध्यान अपनी तरफ खींच लिया है। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी वीरेंद्र सहवाग के बाद करुण नायर ही इकलौते ऐसे भारतीय बल्लेबाज हैं जिन्होंने टेस्ट मैच में तिहरा शतक लगाया है। करुण नायर के फॉर्म पर पिछले कुछ समय से सवालिया निशान लगाए जा रहे थे, आईपीएल में भी अभी तक वो अपनी छाप छोडऩे में नाकाम रहे हैं। शायद यही एक वजह रही होगी कि दिल्ली की टीम ने उन्हें रिटेन करना सही नहीं समझा। करुण नायर ने कर्नाटक की तरफ से खेलते हुए 111 रनों की धमाकेदार पारी खेलकर अपनी टीम को एक अहम जीत दिलाई। सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी में कर्नाटक और तमिलनाडु के बीच खेले गए मैच में करुण नायर की पारी की बदौलत कर्नाटक जीतने में सफल रही।
    तमिलनाडु को 78 रनों से हराकर कर्नाटक ने इस लीग में एक अहम जीत हासिल की। नायर ने विस्फोटक अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 48 गेंदों में अपना सौ रन पूरा किया। उन्होंने 213.46 की स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करते हुए 111 रन बनाए। कर्नाटक की पूरी टीम 20 ओवर में 9 विकेट खोकर 179 रन बनाने में कामयाब रही।
    लक्ष्य का पीछा करने उतरी तमिलनाडु की शुरुआत खराब रही और पूरी टीम महज 101 रन पर ही ऑलआउट हो गई। करुण नायर की इस पारी को देखते हुए फ्रेंचाइजियों की नजर एक बार फिर इस युवा बल्लेबाज पर आकर ठहर गई होगी। नायर अगर टूर्नामेंट के बचे हुए मैचों में भी इसी तरह का प्रदर्शन जारी रखते हैं तो आईपीएल नीलामी के दौरान उन पर बड़ी बोली लगाई जा सकती है। (जनसत्ता)

     

    ...
  •  


Posted Date : 13-Jan-2018
  • मुंबई, 13 जनवरी । महाराष्ट्र के सांगली जिले में हुई एक सड़क दुर्घटना में 6 लोगों की मौत और पांच लोग घायल हो गए हैं। मृतकों में 4 पहलवान शामिल हैं। बताया जा रहा है ये सभी पुणे में आयोजित एक प्रतियोगिता में हिस्सा लेकर वापस लौट रहे थे। जिस चार पहिया वाहन में ये लोग सवार थे वह सामने आ रहे एक ट्रक से टकरा गया। टक्कर इतनी तेज थी कि गाड़ी के परखच्चे उड़ गए। (एनडीटीवी)

     

    ...
  •