छत्तीसगढ़ » रायपुर

एटीएम में कार्ड रीडर, कैमरा लगाने वाले मुंबई के दो गिरफ्तार

Posted Date : 12-Oct-2017

क्लोन बनाकर खाते से रकम पार करते थे
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 12 अक्टूबर। तात्यापारा स्थित पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम में कार्ड रीडर और कैमरा लगाने वाले मुबंई निवासी दो आरोपियों को मौदहपारा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पूछताछ में पता चला है कि ये लोग मुंबई में एटीएम कार्ड का क्लोन बनाकर खातेधारियों  के खाते से रकम पार कर देते हैं। दोनों के गिरफ्तार होने से राजधानी में कई लोग ठगी का शिकार होने से बच गए। 
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार देर रात जयराम कॉम्पलेक्स के पीछे पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम में कार्ड रीडर एवं कैमरा लगा दिया गया था। यहां पर दो संदिग्ध लोगों को देखा गया। दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ करने का बड़ा खुलासा हुआ है। मुंबई निवासी महबर हनीफ (34) और शहनवाज (28) को मौदहपारा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एटीएम लगाए गए कार्ड रीडर और कैमरा भी इनके पास से जब्त कर लिया गया है। 
मौदहापारा थाने के एसआई और प्रभारी उत्तम साहू ने बताया कि दोनों से पूछताछ में पता चला है कि ये लोग मुंबई में एटीएम का क्लोन बनाकर लोगों के खाते से रकम पार कर दते हैं। बताया गया कि एटीएम में कार्ड रीडर और कैमरा लगाकर ये लोग एटीएम में रकम निकालने पहुंचने वाले खाताधारियों की रिकॉर्डिग कर लेते थे। उसमें इन्हें एटीएम का पासवर्ड भी मिल जाता है। इस मेमोरी को वे मुबंई ले जाते हैं वहां टेक्नीकल एक्सपर्ड से मिलकर एटीएम का क्लोन बना लेते हैं। 
एटीएम का क्लोन बनाकर फिर पासवर्ड की मदद से ये लोग खातेधारियों के खाते से रकम पार कर देते हैं। बताया गया कि दो दिन पहले ही दोनों मुंबई से रायपुर पहुंचे थे। खबर है कि ये लोग किसी होटल में ठहरे थे। दोनों से पूछताछ में पुलिस को कई महत्वपूर्ण जानकारी मिली है। दोनों को गुरूवार को न्यायालय में पेश किया गया। 
शहर में एटीएम के क्लोन से कई लोगों से लाखों रूपए की ठगी  की जा चुकी है। इस तरह के ठगी के कई मामले शहर के अलग-अलग थानों में दर्ज हैं। पुलिस ने पहली बार इस मामले में मुंबई निवासी दो लोगों को गिरफ्तार किया है। इस गिरोह के सदस्य रायपुर के अलावा क्या दूसरे शहरों में भी काम कर रहे हैं। इस बारे में आरोपियों से पूछताछ की गई है। 




Related Post

Comments

विशेष रिपोर्ट