छत्तीसगढ़ » रायपुर

युवा उत्सव में शास्त्रीय नृत्य संग बिखरे लोक रंग

Posted Date : 12-Oct-2017

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 12 अक्टूबर। पं. रविशंकर विश्वविद्यालय में आयोजित महाविद्यालयीन युवा उत्सव चयन स्पर्धा के दूसरी कड़ी में गुरुवार को एक ओर जहां शास्त्रीय नृत्य की गरिमामयी प्रस्तुति दी गई वहीं लोकनृत्यों के माध्यम से छात्र-छात्राओं ने लोक संस्कृति की छटा बिखेरी। कला प्रतियोगिता में रंगोली, पेंटिंग, पोस्टर मेकिंग जैसी स्पर्धाओं के जरिए विद्यार्थियों ने अपनी अनुभूतियों को अभिव्यक्त किया। 
शास्त्रीय नृत्य और लोक नृत्य स्पर्धा में युवाओं की उत्साहजनक भागीदारी रही। आंचलिक परिधान और आभूषण से अलंकृत छात्र-छात्राओं द्वारा करमा ददरिया सहित लोकशैली में नृत्य की मनमोहक प्रस्तुति दी गई। रायपुर डिग्री गल्र्स कॉलेज की छात्राओं द्वारा लोकनृत्य की सुंदर प्रस्तुति दी गई। पीले परिधान में सजी धजी दिशा कॉलेज की छात्राओं ने अपनी प्रस्तुति से लोकरंग की छटा बिखेरी। धमतरी से आए युवाओं ने करमा ददरिया से युक्त लोक नृत्य से दर्शकों का मन मोह लिया। शास्त्रीय नृत्य में डिग्री गल्र्स कॉलेज की शेफाली सोनी ने देवी वंदना से कत्थक की शुरुआत की। कृष्ण से संदर्भित प्रसंग की शेफाली ने भावप्रवण प्रस्तुति दी। 
शास्त्रीय नृत्य की कड़ी में नेताजी सुभाष कॉलेज अभनपुर की अनिता साहू, पं. रविवि की के. दीप्ति और राधिका धमतरी की सिमरन बुधवानी और दिशा कॉलेज की कल्याणी त्रिपाठी ने शास्त्रीय नृत्य की प्रस्तुति दी। मूलत: केरल की रहने वाली राधिका ने युवा उत्सव के अवसर पर भरत नाट्यम की प्रस्तुति दी। 
युवा उत्सव चयन स्पर्धा के तहत फाइन आटर््स स्पर्धा के तहत पोस्टर मेकिंग, रंगोली, कार्टून, पेंटिंग स्पर्धा आयोजित की गई। स्मार्ट फोन, पेड़ एक जिंदगी विषय पर केंद्रित कार्टून प्रतियोगिता में शामिल प्रतिभागियों ने हल्के फुल्के अंदाज में अपनी भावनाओं को अभिव्यक्त किया। नदी की स्वच्छता और इको फेंडली विषय पर केंद्रित पोस्टर मेकिंग के जरिए युवाओं ने प्रभावी ढंग से अपने विचार को अभिव्यक्त किया। रंगोली स्पर्धा लोकरंगों में घुली रही। प्रतिभागियों ने रंगों के कलात्मक संयोजन से संस्कृति को उकेरा। 




Related Post

Comments

विशेष रिपोर्ट