छत्तीसगढ़ » बालोद

बांग्लादेश अंतरराष्ट्रीय योग स्पर्धा में बालोद के छात्र का चयन, जाने को पैसे नहीं

Posted Date : 30-Oct-2017

शिव जायसवाल

 बालोद, 30 अक्टूबर । जिले के सोरर गांव के शासकीय स्कूल के एक छात्र का चयन बांग्लादेश में होने वाली अंतरराष्ट्रीय योग प्रतियोगिता के लिए हुआ है लेकिन परिवार की कमजोर आर्थिक स्थिति के चलते वह इसमें भाग लेने में खुद को असमर्थ पा रहा है। इससे पहले भी उसका और उसके भाई का चयन नेपाल में हुई अंतरराष्ट्रीय स्पर्धा के लिए हुआ था लेकिन पैसों की व्यवस्था नहीं होने के कारण वे नहीं जा पाए। शासन-प्रशासन सेे भी इन्हें किसी तरह की कोई मदद नहीं मिली।
सोरर गांव के सरकारी स्कूल के करीब 15 बच्चे राज्य व राष्ट्रीय स्तर पर अपनी योग कला का प्रदर्शन कर चुके हैं। जिसमें इन्हें कई मैडल भी मिले हैं। इनमें से दो भाइयों गजेंद्र कुमार और दिलेश्वर कुमार का चयन नेपाल में हुई अंतरराष्ट्रीय योग प्रतियोगिता के लिए हुआ था लेकिन घर की आर्थिक हालत ठीक नहीं होने के कारण ये बच्चे अपने कौशल का प्रदर्शन अन्तराष्ट्रीय स्तर पर नहीं कर पाए। इन बच्चों को शासन-प्रशासन की ओर से किसी तरह की कोई मदद नहीं मिली।
अब एक बार फिर दिलेश्वर कुमार का चयन बांग्लादेश में होने वाली अंतरराष्ट्रीय योग प्रतियोगिता के लिए हुआ है लेकिन वह इसमें भी शायद ही भाग ले पाए। क्योंकि आर्थिक स्थितियां उसकी राह में आज भी रुकावट है। वह प्रयासरत है कि उसे सरकार की तरफ से आर्थिक मदद मिल जाए, ताकि वह इस प्रतियोगिता में भाग लेकर अपने गांव, जिले और प्रदेश के साथ ही देश का नाम रोशन कर सके।
शासकीय स्कूल सोरर के प्राचार्य बीआर ठाकुर भी मानते हैं कि इन बच्चों की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के चलते ये अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं। उनका कहना है कि स्कूल के पास इतना फंड नहीं है कि वह इन बच्चों की मदद कर पाए। श्री ठाकुर का कहना है कि वे कोशिश करेंगे कि जनसहयोग से राशि एकत्र कर बच्चे को अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में भेजा सके।(छत्तीसगढ़)




Related Post

Comments