छत्तीसगढ़ » राजनांदगांव

प्रताडऩा का आरोप, धरना-प्रदर्शन

Posted Date : 07-Dec-2017


लैंको के मजदूरों ने लगाया प्रबंधन पर 
जिला पंचायत उपाध्यक्ष सुरेन्द्र दास मौजूद रहे
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
राजनांदगांव, 7 दिसंबर। महरूमखुर्द में संचालित लैंकों कंपनी के मजदूरों ने प्रबंधन की तानाशाही को लेकर प्रशासन और मुख्यमंत्री तथा जिला पंचायत उपाध्यक्ष सुरेन्द्र दास वैष्णव से कंपनी के खिलाफ शिकायत की। 
कंपनी के मजदूरों ने जिपं उपाध्यक्ष श्री वैष्णव से कहा कि हम लगभग 2011 से इस कंपनी में कार्यरत हैं। प्रबंधन द्वारा हमें शुरू से प्रताडि़त किया जा रहा है। शासन के सहयोग से लैंकों ने स्थानीय लोगों को रोजगार देने का वादा कर यहां प्लांट स्थापित किया था। इस प्लांट की कुल लागत 3 हजार करोड़ रुपए हैै। यह हैदराबाद स्थित लैंको ग्रुप की सोलर इकाई है। जिसकी स्थापना राजनांदगांव जिले में सौर सेल वी निर्माण संयंत्र के रूप में की गयी है। यहां कच्चे माल धातु के सीलिकॉन संयंत्र का आयात किया जाएगा, ऐसा कहकर लैंको संयंत्र पर कार्य शुरूआत की गयी थी, लेकिन कंपनी प्रबंधन ने स्थानीय लोगों को शुरूआत में लंबे चौड़े वादे किए थे, लेकिन हम मजदूरों को लगातार प्रताडि़त होना पड़ रहा है। 
इस दौरान वहां उपस्थित जिला पंचायत उपाध्यक्ष सुरेन्द्र दास वैष्णव ने सुबह 11 बजे से भूख प्यासे बैठे मजदूरों को समर्थन देते उनकी मांगों को जायज ठहराया। श्री दास ने उनके साथ वहां बैठकर उनकी परेशानियां जानी और कंपनी प्रबंधन को गेट पर उपस्थित होने कहा। श्री दास ने कंपनी प्रबंधन को फटकार लगाते कहा कि मजदूरों को उनका पूरा हक मिलना चाहिए और इनको वापस कार्य में रखा जाए। अगर आपका कहना यह है कि कंपनी के पास कार्य नहीं है तो आप कंपनी ही बंद कर दीजिए। आप हमारे स्थानीय मजदूरों को झूठा आश्वासन देकर उनकी जगह को खरीद लिया और सरकार से करोड़ों रुपए का अनुदान प्राप्त किया और करोड़ों रुपए डगारने के बाद आज इन मजदूरों का भविष्य अंधकारमय कर दिया। आज इनको भूखे मरने की नौबत आन पड़ी है। 
श्री दास ने कहा कि इन मजदूरों का जब तक हक नहीं मिलेगा, तब तक हम यहीं धरने पर बैठे रहेंगे। शाम को कंपनी के जिम्मेदार अधिकारी चंद्रकांत शर्मा वहां पहुंचे और मजदूरों एवं श्री दास को कहा कि कल जिला कार्यालय परिसर में शाम 4 बजे अपर कलेक्टर के माध्यम से लैंको प्रबंधन की बैठक रखी गयी है, जहां इन मजदूरों की मांगों को लेकर चर्चा की जाएगी।
 यह सुनकर श्री दास और मजदूरों ने कंपनी प्रबंधन को एक दिन का समय दिया। अब पूरा फैसला कल बैठक में नजर आयेगा। 
धरना प्रदर्शन के दौरान जिला पंचायत उपाध्यक्ष सुरेन्द्र दास वैष्णव के साथ जनपद उपाध्यक्ष अंगेश्वर देशमुख, जनपद सदस्य जितेन्द्र साहू, जनपद सदस्य दिलीप वर्मा, चंद्रेश वर्मा, अमिन खान एवं बड़ी संख्या में कांग्रेसी और ग्रामीण मौजूद थे। मौके पर तहसीलदास प्रतिमा ठाकरे, घुमका टीआई मनीष शर्मा भी उपस्थित थे।




Related Post

Comments