छत्तीसगढ़ » बालोद

एटीएम फ्राड के अंतरराज्यीय गिरोह के 4 बंदी

Posted Date : 08-Dec-2017

कार्ड बदल कर ठगी करते थे
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
बालोद, 8 दिसंबर। बालोद पुलिस ने एटीएम फ्रॉड के अंतरराज्यीय गिरोह को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए चारो आरोपी हरियाणा के रहने वाले हंै। ये गिरोह छत्तीसगढ़ सहित देश के 6 अन्य राज्यों में एटीएम फ्रॉड से लाखों की ठगी की है। पुलिस इन आरोपियों से और पूछताछ कर रही है। पूछताछ में और बड़ी खुलासा होने की आशंका व्यक्त की है। आरोपियों के पास से एक कार, साढ़े 4 लाख रुपये नगद व 20 एटीएम व मोबाइल फोन बरामद किया है।
 एसपी दीपक झा ने बताया कि जिले ले गुरुर ब्लॉक अंतर्गत ग्राम कनेरी के अब्दुल रमजान खान ने 15 नवंबर को गुरुर स्थित स्टेट बैंक एटीएम से किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा उनकी एटीएम बदलकर उनके खाते से 2 लाख 12 हजार रुपये निकाल लिए थे। जिसकी शिकायत पर पुलिस ने इन अज्ञात लोगों को पकडऩे की कार्रवाई की। मुखबिर से सूचना मिली की हरियाणा पासिंग की गाड़ी घूम रही है। 
 शिकायत मिलने के बाद आरोपी को पकडऩे के लिए मिखबिर लगा दिए थे। जिसके बाद गुरुवार 7 दिसम्बर को मुखबिर से सूचना मिला की नेशनल हाइवे में हरियाणा पासिंग की कार घूम रही है। जिसके बाद तत्काल गुरुर पुलिस ने नेशनल हाइवे पर नाकाबन्दी की तभी ये चारो अपने कार से आ रहे थे। पुलिस ने इन्हें रोका और पूछताछ किए पर आरोपियों ने पहले तो कुछ नहीं बताया फिर कड़ाई से पूछताछ करने पर बताया कि वे यहां लोगों को एटीएम से ठगी करने के लिए आए हंै।  पुलिस ने तत्काल गिरफ्तार कर थाने लाया जहां पूछताछ की गई तो अपना गुनाह भी काबूल किया।
इस तरह करते थे ठगी
पकड़े गए आरोपी बीते एक सालों से लोगों को एटीएम से पैसा निकालने के बहाने ठगी करने का काम कर रहे थे। ये लोग पहले तो एटीएम के पास देखते थे की किसको एटीएम चलाने नही आते। जिसके बाद चारों में से कोई भी उस व्यक्ति के पीछे एटीएम के लाइन में खड़े हो जाते। जब पैसा निकालने के लिए वह एटीएम में अपना एटीएम कार्ड डालते हैं और उसे एटीएम से पैसा निकालने नहीं आता तो उसके एटीएम को पकड़कर उनका सहयोग करने लगता और एटीएम का पिन नंबर पूछकर एटीएम से पैसा निकालकर देदेता। उसी दौरान वह बड़ी चालाकी से एटीएम को बदल देता। जब तक सामने वाले को पता चलता तब तक उनके खाते से लाखों हजारों रुपये निकल जाता था। ये आरोपी अन्य एटीएम में जाकर उस एटीएम से पैसा निकाल लेते थे।
पकडे गए आरोपियों में संदीप कुमार, प्रवीण कुमार ग्राम बलवारा जिला हिसरा हरियाणा, सूरजमल ग्राम बलवारा तथा रणधीर सिंह ग्राम जरखोली झारखण्ड हैं।
एसपी ने बताया कि ये आरोपी लोगों को चकमा देने के लिये अपने कार का दो नम्बर प्लेट बनाकर रखा था। अगर कोई नम्बर प्लेट से नम्बर देख ले तो तत्काल नंबर प्लेट भी बदल देते थे। जानकारी के मुताबिक आरोपी बड़े होटलों में रहने खाने के आदि थे। 
आकाशवाणी जगदलपुर में प्रसारण 11 तक बंद 
जगदलपुर, 8 दिसम्बर। कार्यक्रम प्रमुख अधिकारी बलबीर सिंह कच्छ ने बताया कि नया डिजीटल ट्रांसमीटर स्थापित करने की कार्रवाई चलने एवं एक्सेपटेन्स टेस्ट एवं इंडोरेंस टेस्ट के कारण 6 से 11 दिसम्बर संध्या 5 बजे तक आकाशवाणी जगदलपुर का प्रसारण बंद रहेगा। 




Related Post

Comments