सेहत-फिटनेस

कोरोना काल में ऐसे बढ़ाएं अपने फेफड़ों की कैपसिटी, शरीर में ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई रहेगी बेहतर
15-Jun-2021 9:30 AM (262)
कोरोना काल में ऐसे बढ़ाएं अपने फेफड़ों की कैपसिटी, शरीर में ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई रहेगी बेहतर

 

कोरोना महामारी के दौर में हर कोई फेफड़ों को मजबूत बनाने की सलाह ले रहा है. फेफड़ा हमारे शरीर को शुद्ध ऑक्सीजन से भरता है और इसी पर शरीर की प्रत्येक गतिविधियां निर्भर करती हैं. ऐसे में अगर व्यायाम की मदद से हम इन्‍हें मजबूत रखें तो कोरोना संक्रमण के बाद भी शरीर में ऑक्सीजन के बेहतर आपूर्ति के लिए फेफड़े पहले से तैयार रहेंगे. इसके लिए आप ब्रीदिंग एक्सरसाइज, कार्डियो एक्सरसाइज आदि कर इसकी कैपेसिटी को बढ़ा सकते हैं और लाइफस्टाइल में बदलाव लाकर अपने फेफड़ों को सपोर्ट दे सकते हैं. तो आइए जानते हैं कि हम अपने फेफड़ों की कैपेसिटी को बढ़ाने के लिए  डेली रुटीन में किन गतिविधियों को शामिल करें.

इस तरह करें ब्रीदिंग एक्‍सरसाइज

एक हाथ अपनी छाती पर और दूसरा पेट पर रखें. नाक से सांस लेते समय फेफड़ों में हवा खींचे और ध्यान दें कि इस समय पेट फूलता जाए.  इसके बाद, सांस को छाती में भर लें. इसे 5 से 20 सेकंड तक होल्ड करें और फिर पेट संकुचित होने तक मुंह से धीरे-धीरे सांस छोड़ते जाए. इसे पांच बार रिपीट करें. इससे आपको पता चलेगा कि एक बार में आप कितनी हवा खींच सकते हैं. इससे ज्यादा गहरी सांसे भरना सीखने में भी मदद मिलेगी. रोज सांस रोकने की समय सीमा को बढ़ाते जाएं.

कार्डियोवास्कुलर एक्सरसाइज करें

दिन में कम से कम 30 मिनट तक कार्डियो एक्सरसाइज करें. ऐसी कार्डियो चुनें जो आपकी हार्ट रेट बढ़ा दे और जिससे सांस तेजी से चलने लगें. कार्डियो, हार्ट को मजबूती देते हुए फेफड़ों के फंक्शन को सुधार देता है. एक स्ट्रोंग हेल्दी हार्ट रक्त को ज्यादा बेहतर तरीके से पंप कर सकता है और ऑक्सीजन को पूरे शरीर में ले जा सकता है. इसके लिए आप एरोबिक्स, साइकिलिंग, दौड़ें, डांस करें वॉटर एरोबिक्स करें और जम्पिंग जैक और लेग लिफ्ट्स करें.

हंसें और गाएं

हेल्‍दी फेफड़ों के लिए जोर जोर से हंसना और गाना जरूरी है. ये आपके फेफड़ों की क्षमता तो बढ़ाते ही हैं आपके शरीर में ज्यादा से ज्यादा फ्रेश एयर जाती है. गाना गाने से डायाफ्राम की मांसपेशियां काम करती है, जिससे फेफड़ों की कैपिसिटी बढ़ती है.

फूंकने वाला इंस्ट्रूमेंट बजाएं

विंड इंस्ट्रूमेंट्स मनोरंजन तो करता ही है आपके फेफड़ों की नियमित एक्सरसाइज भी कराता है. लकड़ी की बांसुरी या बांस के इंस्ट्रूमेंट का इस्तेमाल करें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.) (news18.com)

अन्य पोस्ट

Comments