मनोरंजन

एक महिला के तौर पर हमें एक-दूसरे की आलोचना करनी बंद करनी चाहिए- ऐश्वर्या

Posted Date : 16-May-2018



ऐश्वर्या राय बच्चन ने कहा कि समाज को इस पूर्वधारणा से ऊपर उठने की जरूरत है कि जो महिलाएं सजती-धजती हैं, उनके पास दिमाग नहीं होता। अभिनेत्री ने कहा कि किसी को यह धारणा भी नहीं बना लेनी चाहिए कि जो महिला नहीं सजती-धजती है , उसकी दिलचस्पी रंगों में नहीं है या फिर वह लोगों में दिलचस्पी नहीं रखती है।
कान से वीडियो के जरिए मीडिया से बातचीत करने वाली अभिनेत्री ने कहा  कि एक महिला के तौर पर हमें एक-दूसरे की आलोचना करना बंद कर देनी चाहिए। अगर आप मेकअप लगाती हैं तो इसका मतलब यह नहीं है कि आप के पास दिमाग नहीं है या आप में वास्तविकता की कमी है। इसका यह भी मतलब नहीं है कि कि आप संवेदनशील नहीं हैं या दयालु नहीं हैं। 
ऐश्वर्या ने कहा कि ठीक इसी तरह आप मेकअप नहीं करते हैं तो इसका यह मतलब नहीं है कि आपकी दिलचस्पी लोगों या रंगों में नहीं है। या आपके पास बहुत दिमाग है क्योंकि आप मेकअप नहीं लगाती हैं। ( एजेंसी )




Related Post

Comments