गैजेट्स

जिओ का 'सबसे अच्छा और दुनिया का सबसे बड़ा नेटवर्कÓ होने का दावा भ्रामक है- एएससीआई

Posted Date : 11-Jun-2018



नई दिल्ली, 11 जून। भारत में विज्ञापनों के मानकों पर निगाह रखने वाली संस्था एडवर्टाइजिंग स्टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया (एएससीआई) ने रिलायंस जिओ के सबसे अच्छे और दुनिया के सबसे बड़े नेटवर्क होने के दावे को भ्रामक बताया है। उसने दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल की ओर से 25 मई को दर्ज कराई गई शिकायत पर सुनवाई करने के बाद अपने आदेश में यह टिप्पणी की है। 
सात जून को आए आदेश में एएससीआई के फास्ट ट्रेक कंप्लेंट्स पैनल (एफटीसीपी) ने कहा, सर्वश्रेष्ठ और दुनिया का सबसे बड़ा नेटवर्क का दावा अपनी अस्पष्टता और मंशा की वजह से भ्रामक है, क्योंकि इसमें केवल डेटा की खपत का जिक्र किया गया है, जबकि नेटवर्क के विस्तार और बुनियादी ढांचे की कोई जानकारी नहीं दी गई है।
रिपोर्ट के मुताबिक एफटीसीपी ने सबसे ज्यादा डेटा पहुंचाने के रिलायंस जिओ दावे को सही माना है। लेकिन उसने यह भी कहा है कि केवल डेटा की खपत दुनिया का सबसे बड़ा नेटवर्क रखने के दावे का आधार नहीं हो सकता है। एफटीसीपी ने सबसे बड़े नेटवर्क के लिए बुनियादी ढांचे के विस्तार और उपभोक्ताओं की संख्या प्रमुख पैमाना बताया। भारती एयरटेल की ओर से पेश सबूतों का हवाला देते हुए उसने यह भी कहा कि इस समय चाइना मोबाइल के पास सबसे ज्यादा 4जी मोबाइल बेस स्टेशन और उपभोक्ता हैं।
वहीं, एएससीआई के इस आदेश पर रिलायंस जिओ के एक प्रवक्ता ने बताया है कि उनकी कंपनी इस मामले में एएससीआई से बात कर रही है। रिलायंस जियो का यह भी कहना है कि नेटवर्क संबंधी उसके दावों के खिलाफ भारती एयरटेल के आरोप पूरी तरह से बेबुनियाद हैं और दूसरों का ध्यान भटकाने के लिए लगाए गए हैं। (इंडियन एक्सप्रेस)




Related Post

Comments