राष्ट्रीय

'Sorry पापा मुझे माफ कर देना' लिखकर 11वीं की छात्रा ने की सुसाइड की कोशिश, छेड़खानी से थी परेशान
08-Dec-2021 6:23 PM (91)
'Sorry पापा मुझे माफ कर देना' लिखकर 11वीं की छात्रा ने की सुसाइड की कोशिश, छेड़खानी से थी परेशान

जबलपुर. जबलपुर में लड़कों की छेड़खानी औऱ पुलिस के सहयोग न करने से परेशान 11 वीं क्लास की एक छात्रा ने खुद को आग लगा ली. छात्रा अब गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती है. उसने सुसाइड अटैम्प्ट करने से पहले उसने एक नोट छोड़ा है जिसमें उसने आरोपियों के नाम और पुलिस के रवैये का जिक्र किया है.

शोहदों के आतंक से परेशान 11वीं कक्षा की एक छात्रा ने खुद को आग के हवाले कर आत्महत्या करने की कोशिश की. उसके बाद उसे गंभीर हालत में मेडिकल अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

सॉरी पापा….
ये घटना जबलपुर के रांझी इलाके की है. यहां रहने वाली एक नाबालिग छात्रा ने आग लगाकर अपनी जान देने की कोशिश की. उससे पहले उसने एक सुसाइड नोट लिखा. उसमें कुछ युवकों और लड़कियों के नाम का जिक्र किया है. लड़की ने लिखा कि इन लोगों से परेशान होकर वो आत्महत्या कर रही है. उसने लिखा -” मैं आत्महत्या करने जा रही हूं और मेरी मौत के जिम्मेदार यह लोग हैं. इन लोगों ने मेरी जिंदगी बर्बाद कर दी है. मेरा घर से निकलना मुश्किल कर दिया है. मेरे घर के चारों तरफ लड़के घूमते रहते हैं. मैंने रांझी थाने में कंप्लेंट डाली. लेकिन मेरी कहीं सुनवाई नहीं हुई. मेरी वजह से मेरी बहनों की जिंदगी बर्बाद ना हो इसलिए मैं आत्महत्या करने जा रही हूं. सॉरी पाप मुझे माफ कर देना.”

आरोपी गिरफ्तार
छात्रा आग में बुरी तरह झुलस गयी. परिवार के लोग उसे 108 एंबुलेंस से मेडिकल अस्पताल पहुंचे. उसकी हालत नाजुक बनी हुई है. रांझी क्षेत्र के मस्ताना चौक में रहने वाली 11 वी कक्षा की छात्रा अपनी शिकायत लेकर इसके पहले रांझी थाने गई थी. सुसाइड नोट के सामने आ जाने के बाद पुलिस की कार्यशैली पर प्रश्नचिन्ह खड़ा हो रहा है. जो इस नाबालिग छात्रा के साथ हो रही छेड़खानी या अन्य वारदात से खुद को बेखबर रखे हुए थे. जबकि छात्रा ने पुलिस को सूचना दी थी. पुलिस ने सुसाइड नोट में जिन लोगों का जिक्र है उन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. (news18.com)

अन्य पोस्ट

Comments