सोशल मीडिया

माल्या ने यह भी कमाल का काम कर दिया कि लोग पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आई तेजी को भूल गए हैं!

Posted Date : 14-Sep-2018



विजय माल्या के देश छोड़ने से पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात करने वाले बयान पर सोशल मीडिया में कल से ही हंगामा मचा हुआ है. इस मसले पर यहां एक बड़े तबके ने अरुण जेटली, भाजपा की अगुवाई वाली केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जमकर घेरा है. वहीं कांग्रेस ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जेटली से इस्तीफे की मांग की है. फेसबुक और ट्विटर पर इसकी भी चर्चा है. इस पर मनु पंवार का तंजभरा ट्वीट है, ‘वैसे जेटली को इस्तीफ़ा नहीं देना चाहिए. किसी भटके हुए (माल्या) को ‘रास्ता दिखाना’ कोई गुनाह थोड़े ही है.’
वहीं कांग्रेस के हमले पर भाजपा ने पलटवार किया है. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने आरोप लगाया है कि यूपीए सरकार ने नियम विरुद्ध जाकर विजय माल्या और उसकी कंपनी को कर्ज दिलवाया था. सोशल मीडिया में इस हवाले कांग्रेस को भी घेरा जा रहा है.
मीडिया में आई खबरों के मुताबिक सीबीआई ने माल्या के खिलाफ एक लुक आउट नोटिस जारी किया था ताकि वह देश छोड़कर न भाग सके. लेकिन बाद में इस लुक आउट नोटिस में ढील दे दी गई जिसके चलते उसे भागने का मौका मिल गया. यह घटना फरवरी, 2016 की है और सोशल मीडिया पर कई लोगों ने इसका जिक्र करते हुए भी मोदी सरकार पर सवाल उठाए हैं.
विजय माल्या के बयान से जुड़े ताजा विवाद पर सोशल मीडिया में आई कुछ और प्रतिक्रियाएं :
राजदीप सरदेसाई-यह समझने में मेरी मदद की जाए : भाजपा कहती है कि उसके पास राहुल गांधी के परिवार और किंगफिशर के बीच हवाला के जरिए हुए लेनदेन के सबूत हैं... मेरा मामूली सा सवाल है : फिर इन्हें गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया, यहां तक कि एफआईआर भी दर्ज नहीं हुई? इन्हें क्यों बचाया जा रहा है और कौन बचा रहा है? क्या भाजपा अभी सत्ता में नहीं है?
द मंक-इतना महंगा पेट्रोल है, कितनी दूर भागेगा.
निशांत चतुर्वेदी-भला हो विजय माल्या का कि सब लोग पेट्रोल-डीजल की कीमतों में तेजी को भूल गए हैं... हालांकि माल्या ने पेट्रोल डालकर देश की राजनीति में आग जरूर भड़का दी है.
बैटी-जेटली ने माल्या को एयरपोर्ट पर छोड़ते हुए कौन सा गाना गाया था?
जवाब – हमको हमीं से चुरा लो...
रोशन राय-कोई भी और कुछ भी, चाहे वो माल्या हो, नौकरियां हों या आर्थिक संपन्नता हो, अरुण जेटली से मिलने के बाद देश छोड़ देती है.
तजिंदर पाल सिंह बग्गा-अरुण जेटली जी नेशनल हेराल्ड घोटाले के आरोपित से मिलते हुए.(सत्याग्रह)

 




Related Post

Comments