कारोबार

इस्पात नगरी में कॉमर्स महत्ता की जगाई अलख-डॉ. राय

Posted Date : 09-Feb-2019



छत्तीसगढ़ संवाददाता

भिलाई नगर, 9 फरवरी। कामर्स गुरू डॉ. संतोष राय का मानना है कि आज के औद्योगिक एवं ग्लोबलाइजेशन के समय कॉमर्स शिक्षा की लोकप्रियता निरंतर बढ़ती जा रही है। तृतीय श्रेणी का समझा जाने वाला यह विषय किसी भी देश की अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ एवं लचर बनाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

पहले सीए/सीएस/सीएमए जैसे कोर्स को करने वाले इस्पात नगरी में गिने चुने लोग हुआ करते थे और यहाँ एक बेहतर कोचिंग का आभाव होता था, ज्यादातर लोग मुम्बई, कोलकाता, दिल्ली जैसे मेट्रो शहरों में जाकर अपनी पढ़ाई करते थे, परंतु बदलते परिवेश में इस्पात नगरी में आज से लगभग 20 वर्ष पूर्व जब सिर्फ  यहाँ हर घर का बच्चा डॉक्टर और इंजीनियर बनने की ख्वाहिश रखता था, उन्होंने कॉमर्स विषय को लेकर लोगों में अलख जगाई। डॉ. राय ने महसूस किया कि टाउनशिप क्षेत्र में प्लांट से निकलते धुएँ और सेक्टर-9 अस्पताल के बीच में भी कुछ है और वो कॉमर्स है। 1994 में प्रोफेशनल कैरियर (पीसी) कॉमर्स की संस्था की स्थापना की गई जहाँ 11वीं, 12वीं, बीकॉम, सीए/सीएस/सीएमए जैसे कोर्स संचालित किये जाते रहे। जोनल मार्केट सेक्टर-10 में संचालित इस संस्था में साइकोलॉजिस्ट मिठ्टू, सीए केतन ठक्कर, प्रवीण बाफना, दिव्या रत्नानी, पीयूश जोशी, प्रियंका शर्मा, अभिषेक राय, नेहा वर्मा जैसे सशक्त प्रोफेशनल्स की टीम विद्यार्थियों को प्रशिक्षित करती रही और इस वर्ष तो सीए ब्रांच को देश का सर्वश्रेष्ठ ब्रांच का पुरस्कार भी हासिल किया।  डॉ.संतोष राय ने कहा कि संस्था निरंतर कुछ नया करने का जज्बा रखती है, इसी आधार पर उनका नाम गिनिज बुक वल्र्ड रिकॉर्ड, लिमका बुक, इंडिया बुक, गोल्डन बुक में दर्ज है। डॉ. राय ने कहा कि निरंतर नये विचारों का प्रवाह होना चाहिए, बहता पानी स्वच्छ रहता है और रूका हुआ पानी सड़ जाता है। संस्था में शिक्षकों को अपग्रेड करने के लिए विदेशी शिक्षा से भी उन्हें अवगत कराया जाता है ताकि विद्यार्थी मल्टीनेशनल कंपनी में कार्य करने योग्य बनें।




Related Post

Comments