सामान्य ज्ञान

सरकारी व्यय क्या होता है?

Posted Date : 11-Feb-2019



सरकार अपने खजाने को कहां और कैसे खर्च करती है, इस बात का विश्लेषण करने से पहल सेंट्रल प्लान को समझने की जरूरत होगी। यह वह योजना है, जिसके बारे में देश के हर स्कूल में बच्चों को पढ़ाया सिखाया जाता है। फर्क सिर्फ इतना है कि उसमें इसे फाइव ईयर प्लान या पंचवर्षीय योजना के नाम से जाना जाता है।

सेंट्रल प्लान सरकार की सालाना व्यय शीट होती है, और इसमें पांच साल का खाका खींचा जाता है। अब सवाल है कि पांच साल में फैली इस विशाल योजना के लिए सरकार को पैसा कहां से मिलता है। सेंट्रल प्लान की यह फंडिंग सरकार को मिलने वाले सपोर्ट (बजट से) और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के आंतरिक और बाहरी बजटीय संसाधनों के बीच विभाजित होती है। सेंट्रल प्लान को सरकार का समर्थन बजट सपोर्ट कहलाता है।

प्लान एक्सपेंडिचर  सेंट्रल प्लान के लिए आवश्यक बजट सपोर्ट होता है। इसमें वह रकम भी शामिल होती है, जो राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की योजनाओं के लिए अलग रखा जाता है। बजट की सभी मदों की तरह यह भी आमदनी और पूंजीगत तत्वों के बीच वर्गीकृत रहता है।

गैर-योजना खर्च-सरकार को राजस्व खर्च मद के तहत जो भी बिल चुकाने पड़ते हैं वे सभी यहां दिए गए हैं। ये ब्याज का भुगतान, सब्सिडी, वेतन, रक्षा और पेंशन हैं। इसकी तुलना में पूंजी का हिस्सा कम है और इसका बड़ा भाग रक्षा को जाता है।




Related Post

Comments