खेल

 दिग्गजों ने बताया-कौन होंगी विश्व कप सेफा की 4 टीमें
दिग्गजों ने बताया-कौन होंगी विश्व कप सेफा की 4 टीमें
Date : 03-Jun-2019
नई दिल्ली, 3 जून । रविवार को लॉर्ड्स (लंदन) में आयोजित सलाम क्रिकेट के सेशन द लीग ऑफ चैंपियंस में पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर, पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और 1992 वल्र्ड कप विजेता टीम के सदस्य वसीम अकरम, ऑस्ट्रेलिया के 2015 वल्र्ड कप विजेता कप्तान माइकल क्लार्क, पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मिस्बाह उल हक, इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन और वेस्टइंडीज के पूर्व महान बल्लेबाज और 1975, 1979 वल्र्ड कप विजेता टीम के सदस्य विवियन रिचर्ड्स शामिल हुए।
ऑस्ट्रेलिया के 2015 वल्र्ड कप विजेता कप्तान माइकल क्लार्क ने कहा कि मेरे हिसाब से ऑस्ट्रेलियन टीम सबसे मजबूत है। वॉर्नर और स्मिथ के टीम में शामिल होने के बाद मैं कह सकता हूं कि टीम ट्रॉफी उठा सकती है। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने कहा कि इंग्लैंड की टीम अभी तक सबसे मजबूत टीम है। वेस्टइंडीज के पूर्व महान बल्लेबाज विवियन रिचर्ड्स ने वेस्टइंडीज को सबसे मजबूत टीम बताया। उनके अलावा वसीम अकरम और मिस्बाह ने इंग्लैंड और इंडिया को प्रबल दावेदार बताया। भारत के पूर्व कप्तान गावस्कर ने इंग्लैंड को वल्र्ड कप का मजबूत दावेदार बताया।
विवियन रिचर्ड्स ने कहा, हम सभी इंग्लैंड को वल्र्ड कप का दावेदार बता रहे हैं। उनके पास कागजों पर एक बहुत अच्छी टीम है। लेकिन, क्रिकेट  कागज पर नहीं खेला जाता है। वसीम अकरम ने कहा, 1992 के वल्र्ड कप में शुरुआत अच्छी नहीं थी, हम वेस्टइंडीज के खिलाफ हार गए। लेकिन कप्तान इमरान खान ने कहा कि हम इस वल्र्ड कप को जीतेंगे। उन्होंने उस विश्वास को हममें पैदा किया। मुझे याद है कि फाइनल मैच से पहले मुझे हल्का महसूस हुआ, किसी तरह का दबाव महसूस नहीं हुआ। मुझे बहुत हल्का महसूस हुआ और मैंने सोचा कि यह चाल चल गई।
सुनील गावस्कर ने कहा, उम्मीदों का कोई दबाव बड़ी भूमिका नहीं निभाता है। यह 1983 के विश्व कप में हमारे साथ हुआ था। हमारे लिए, बस कुछ खास होना चाहिए था। लेकिन हमने यह भी माना कि हमने लीग चरण में वेस्टइंडीज को हराया था, अगर हम उन्हें एक बार हरा सकते हैं, तो हम इसे फिर से कर सकते हैं। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान वसीम अकरम ने कहा कि किसी ने भी जीतने की संभावित टीमों में पाकिस्तान का नाम नहीं लिया, यह निराशाजनक है लेकिन पाकिस्तान कभी फेवरेट रही भी नहीं। तब भी जब उसने चैम्पियंस ट्रॉफी में जीत हासिल की और उससे पहले भी। वहीं, पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मिस्बाह उल हक ने कहा कि पाकिस्तान को इस बात की जानकारी नहीं है कि उसकी बेस्ट इलेवन क्या है। वर्ल्ड कप से पहले हमने कई सारे बदलाव किए और कई एक्सपेरिमेंट किए जो कि टीम के लिए नुकसानदेह साबित हुए। यही कारण है कि टीम संघर्ष कर रही है। नासिर हुसैन ने कहा, कई टीम महान खिलाडिय़ों के बिना वर्ल्ड कप नहीं जीत सकते। वेस्टइंडीज के पास विव, भारत के पास 2011 में एमएस धोनी थे। आपको लाइन में लगने के लिए महानता की जरूरत है। जिसके पक्ष में महानता होगी वह टीम इस साल वर्ल्ड कप जीतेगी। माइकल क्लार्क ने कहा, विराट कोहली लंबे समय तक स्टैंडआउट बल्लेबाज रहे हैं। विराट अभी अपने कमरे में बैठे होंगे और वर्ल्ड कप फाइनल में बल्लेबाजी करने के लिए बाहर जाने की प्रार्थना कर रहे होंगे। अगर भारत फाइनल में 250 रनों का पीछा करता है, तो वह उसमें से 200 स्कोर करना चाहेंगें।
विव रिचर्ड्स ने कहा, विराट के अलावा मेरा मानना है कि इंग्लैंड के पास कुछ खिलाड़ी हैं जो नुकसान पहुंचा सकते हैं। जोस बटलर की तरह, मैं उनका बहुत बड़ा प्रशंसक हूं। लोग इयोन मॉर्गन को भी पसंद करते हैं। वसीम अकरम ने कहा, मुझे लगता है कि डेविड वॉर्नर एक्स-फैक्टर होंगे। वह एक साल बाद वापस आए हैं और उनके पास साबित करने के लिए एक मौका है।
सुनील गावस्कर : भारत, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज
विव रिचर्ड्स :  वेस्टइंडीज, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और भारत
वसीम अकरम : भारत, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज  
नासिर हुसैन : इंग्लैंड, भारत, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया 
माइकल क्लार्क : ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, भारत और वेस्टइंडीज 
मिस्बाह उल हक : भारत, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान  (आजतक)
 
 
 
 

Related Post

Comments