विशेष रिपोर्ट

मकान-नौकरी के लिए ओलंपियन लगा रही दौड़, छग की पहली ओलंपियन की भूपेश-रमन से गुहार
मकान-नौकरी के लिए ओलंपियन लगा रही दौड़, छग की पहली ओलंपियन की भूपेश-रमन से गुहार
Date : 31-Aug-2019

मकान-नौकरी के लिए ओलंपियन लगा रही दौड़, छग की पहली ओलंपियन की भूपेश-रमन से गुहार

प्रदीप मेश्राम
राजनांदगांव, 31 अगस्त(छत्तीसगढ़)।
साल 2016 में रियो ओलंपिक में भारतीय महिला हॉकी टीम की खिलाड़ी के रूप में मैदान में उतरकर छत्तीसगढ़ की पहली ओलंपियन बनी रेणुका यादव पूर्ववर्ती भाजपा सरकार द्वारा मकान और डीएसपी की नौकरी दिए जाने की घोषणा के पूरी नहीं होने से परेशानी के दौर से गुजर रही हैं। अब यह अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी मकान-नौकरी को लेकर राजनेताओं और अफसरों की दहलीज के चक्कर लगा रही है। 

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने पिछले कार्यकाल में रेणुका को आशियाना और नौकरी देने का ऐलान किया था। खेल के जरिए छत्तीसगढ़ को पहचान दिलाने के बाद रेणुका को जल्द ही सरकार की घोषणा से मांग के पूरी होने की उम्मीद थी। रियो ओलंपिक में चयन के बाद रेणुका को प्रदेश में यूथ-टैलेंट का प्रतीक माना गया। मुफलिसी के बाद भी रेणुका ने खेल में अपनी दमखम से खुद को भारतीय महिला हॉकी टीम में स्थापित किया। वर्तमान में रेणुका 2020 में टोक्यो में प्रस्तावित ओलंपिक की तैयारी भी कर रही हैं। 

बताया जाता है कि करीब तीन साल से रेणुका छत्तीसगढ़ सरकार के अलग-अलग राजनेताओं और अफसरों से अपनी व्यथा को जाहिर कर चुकी हंै। प्रदेश के नामचीन खिलाडिय़ों को 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर सरकार द्वारा सम्मान समारोह में शामिल हुईं रेणुका ने मौजूदा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से पूर्ववर्ती सरकार के वादों से अवगत कराया। बताया जाता है कि ओलंपियन यादव नई सरकार से उम्मीद लगाए बैठी हंै। 

गौरतलब है कि रेणुका की पारिवारिक जिंदगी किसी फिल्मी स्टोरी से कम नहीं है। बेहद ही निर्धन परिवार की रेणुका में उत्कृष्ट हॉकी खिलाड़ी बनने की जिद थी। इसलिए वह अपने पिता और माता के साथ दूध का कारोबार करने के बाद खेल के लिए वक्त निकालती थी। यह बताना भी लाजिमी है कि रेणुका के खेल को निखारने के लिए मध्यप्रदेश के ग्वालियर स्थित अकादमी ने हाथ आगे बढ़ाया। तमाम चुनौती को पार करते हुए रेणुका राष्ट्रीय टीम का हिस्सा बनीं।

 इस संबंध में रेणुका यादव ने ‘छत्तीसगढ़’ से चर्चा में कहा कि पुरानी सरकार ने घर और डीएसपी की नौकरी देने का ऐलान किया था। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. सिंह से मिलकर मदद की गुजारिश की है। रेणुका ने बताया कि मौजूदा सीएम भूपेश बघेल से भेंटकर मांग पूरा करने का आग्रह किया है। 

गौरतलब है कि राज्य की ही पूर्व अंतरराष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी सबा अंजुम को सरकार ने सीधे डीएसपी नियुक्त किया है। जबकि ओलंपिक जैसे खेल के महाकुंभ का हिस्सा बन चुकी रेणुका को लेकर सरकार ने सुध नहीं ली है।

 

 

Related Post

Comments