खेल

खुद भूखे-प्यासे रहकर प्रवासी मजदूरों की सेवा कर रहे सरफराज
खुद भूखे-प्यासे रहकर प्रवासी मजदूरों की सेवा कर रहे सरफराज
23-May-2020

आजमगढ़, 23 मई । कोरोनावायरस के कारण पूरे देश में खेल गतिविधियों को रोक दिया गया है।  ऐसे में खिलाड़ी अपने घरों में रहकर परिवार वालों के साथ समय बिता रहे हैं।  वहीं, दूसरी ओर क्रिकेटर इस मुश्किल भरे समय में गरीबों की मदद भी करते हुए नजर आ रहे हैं।  ऐसे में 22 साल के युवा क्रिकेटर सरफराज खान भी गरीबों की मदद करने के लिए आगे आए हैं।  सरफराज अपने गांव उत्तर प्रदेश के आज़मगढ़ में प्रवासी मजदूरों की मदद कर रहे हैं।  सरफराज अपने गांव से गुजरने वाले मजदूरों को खाना बांट रहे हैं।  गौरतलब है कि सरफराज लॉकडाउन के दौरान अपने गांव में अपने परिवार वालों के साथ रह रहे हैं। 

हाल ही में सरफ़राज ने रणजी ट्रॉफी में मुंबई की ओर से खेलते हुए इस सीजन में तिहरा शतक जमाने का कमाल किया था।  बता दें कि सरफराज इस साल आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से खेलने वाले हैं।  सरफराज ने प्रवासी मजदूरों को लेकर बात की और कहा कि इस समय रमजान का पाक महीना चल रहा है, ऐसे में हम लोग खुद भूखे प्यासे रह रहे हैं।  एक दफा हम मार्केट गए थे तो हमने प्रवासी मजदूरों को भूखे-प्यासे जाते हुए देखा था।  उसके बाद ही मेरे मन में ख्याल आया कि इनके लिए कुछ करना चाहिए।  इस काम में मेरे पिता मेरे साथ हैं और मजदूरों के लिए जितना संभव है हम मदद कर रहे हैं।

इसके साथ-साथ सरफराज ने कहा कि अपनी फिटनेस के लिए वो घर पर ही खूब मेहनत कर रहे हैं। आईपीएल को लेकर भी सरफराज ने बात की और कहा कि उन्हें भी आईपीएल के शुरू होने का इंतजार है लेकिन इस समय पूरा फोकस कोरोना को लेकर है कि यह बीमारी जल्द से जल्द खत्म हो जाए।  सरफराज ने विराट कोहली और एबी डिविलियर्स को लेकर भी बात की और कहा कि उनके साथ गुजारा समय काफी खास रहा है।  कोहली से उन्होंने खूब मेहनत करना सीखा है तो वहीं एबी से उन्होंने प्रैक्टिस के दौरान अपनी बल्लेबाजी पर खूब मेहनत करने की बात सीखा है।

सरफराज को उम्मीद है कि वह एक बार फिर अच्छा परफॉर्मेंस पर चयनकर्ताओं का ध्यान अपनी ओर खिंचने में सफल रहेंगे।  वैसे उन्होंने कहा कि वो सिर्फ मेहनत करना चाहते हैं और आगे भविष्य के बारे में कुछ नहीं सोचते हैं।  इसके साथ- साथ सरफराज ने मुंबई टीम के साथी क्रिकेटर सूर्य कुमार यादव की जमकर तारीफ की और कहा कि उनसे काफी कुछ सीखने को मिला है। (एनडीटीवी)

अन्य खबरें

Comments