मनोरंजन

 'बॉलीवुड' पर बरसीं कंगना, 'पैसा और नाम तो दाऊद ने भी कमाया, मगर इज़्ज़त...'
'बॉलीवुड' पर बरसीं कंगना, 'पैसा और नाम तो दाऊद ने भी कमाया, मगर इज़्ज़त...'
16-Sep-2020 9:57 AM

नई दिल्ली, जेएनएन। कंगना रनोट ने एक बार फिर बॉलीवुड पर निशाना साधा है और इस बार बेहद तीखे शब्दों में इंडस्ट्री पर वार किया है। कंगना ने कहा कि दुनियाभर में इस इंडस्ट्री का मज़ाक उड़ाया जाता है। कंटेंट के नाम पर यहां अधिकतर वाहियात फ़िल्में बनती हैं।

उन्होंने दाऊद की मिसाल देते हुए कहा कि पैसा तो अंडरवर्ल्ड डॉन ने भी कमाया, लेकिन इज़्ज़त कमाने के लिए कोशिश करनी पड़ती है। इस हमले में कंगना करण जौहर को भी नहीं भूलीं। उन्होंने कहा कि इंडस्ट्री सिर्फ़ करण या उके पापा ने खड़ी नहीं की है। कंगना ने यह सब ट्वीट फ़िल्म एक्टर से निर्माता बने निखिल द्विवेदी से नोकझोंक में किये।

कंगना ने एक ट्वीट के जवाब में लिखा- ''इंडस्ट्री सिर्फ़ करण जौहर/उसके पापा ने नहीं बनाई। बाबा साहेब फाल्के (दादा साहेब फाल्के)  से लेकर हर कलाकार और मजदूर ने बनाई है। उस फौजी ने, जिसने सीमाओं को बचाया। उस नेता ने, जिसने संविधान की रक्षा की। उस नागरिक ने, जिसने टिकट ख़रीदा और दर्शक का किरदार निभाया। इंडस्ट्री करोड़ों भारतवासियों ने बनाई है।''

कंगना के इस ट्वीट के जवाब में निखिल द्विवेदी ने लिखा- ''इस तर्क से फ़िल्म जगत के भी एक-एक व्यक्ति ने सारे भारतवर्ष का निर्माण किया है। हर चीज में हमारा भी उसी तरह योगदान है। आपको बनाने में भी। आपकी फिल्मों कि टिकट भी हमने खरीदे हैं। मगर कल को आप कुछ गलत करें या सही तो हम सम्पूर्ण फिल्मजगत को ना तो दोषी ठहरा सकते हैं। ना दाद दे सकते हैं।''

निखिल के इस जवाब पर कंगना ने बॉलीवुड को आड़े हाथों लेते हुए लिखा- ''क्या निर्माण किया? आइटम नम्बर्ज़ का? अधिकतर वाहियात फ़िल्मों का? ड्रग्स कल्चर का? देशद्रोह और टेररिज़्म का? बॉलीवुड पर दुनिया हंसती है, देश का हर जगह मखौल बनाया जाता है, पैसे और नाम तो दाऊद ने भी कमाया है, मगर इज़्ज़त चाहिए तो उसे कमाने की कोशिश करो काली करतूतें छुपाने की नहीं।''

निखिल ने फिर सवाल उठाया- ''अगर यह इतनी ही वाहियात जगह थी तो आपको यहां किस चीज ने आकर्षित किया कि आप इतना सब छोड़ कर इतनी मुसीबतें सहने के बाद भी यहां डटी रहीं? कुछ तो सही देखा होगा ना आपने भी? वही सही हमें भी दिखता है। काली करतूतों को ज़रूर उजागर कीजिये जैसे कि हर उद्योग की होनी चाहिए। हम आपका समर्थन करेंगे।''

इसका जवाब कंगना ने यूं दिया- ''जी मैं आकर्षित हुई, क्योंकि जो माफिया यहां लोगों पर अत्याचार और जुल्म कर रही है, उसकी पोल एक दिन खुलनी थी और खुल गयी।'' 

इस पर निखिल ने लिखा- ''आप भी जानती हैं, यह सत्य नहीं है। आप यहां उन्हीं अच्छी चीज़ों से आकर्षित हुईं, जिनसे हम सब होते हैं। मैं भी आप ही की तरह बाहर से आया था, मगर आप जितनी सफलता नहीं मिली। आप में टैलेंट और मेहनत का जज़्बा मुझसे ज्यादा था/है। मगर ना मुझे सफल होने से किसी ने रोका था, ना आपको। तभी आप इतनी हुईं।

इस पर कंगना ने निखिल की बात से सहमित जताते हुए उन्हें दोहराया- ''आप सच कह रहे हैं, हम सब अपने लिए ही जीते हैं। जो भी करते हैं, अपने लिए ही करते हैं, मगर कभी-कभी हम में से कुछ एक को ज़िंदगी इतना सताती है कि वो हर ख़ौफ़ से आज़ाद हो जाते हैं, ज़िंदगी के मायने बदल जाते हैं। मक़सद बदल जाते हैं, ऐसा भी होता है, यह भी एक सच है।''

जया के वीडियो पर भड़कीं कंगना रनोट

दरअसल, मंगलवार को राज्यसभा में वेटरन एक्ट्रेस जया बच्चन ने अपनी स्पीच में फ़िल्म इंडस्ट्री की ड्रग्स को लेकर मज़म्मत करने के लिए सांसद रवि किशन को आड़े हाथों लिया था। जया का यह वीडियो इंटरनेट पर ख़ूब वायरल हुआ।

इस वीडियो को रीट्वीट करते हुए कंगना ने ट्वीट किया था कि अगर कंगना की जगह जया की बेटी श्वेता बच्चन को कम उम्र में पीटा और मॉलेस्ट किया गया होता तो भी क्या वही बात कहतीं। अगर अभिषेक ने हैरासमेंट की शिकायत की होती और एक दिन फंदे पर झूलते हुए पाये जाते तो भी क्या वही बात कहतीं। हमारे लिए भी कुछ दया दिखाइए। 

कंगना के इस ट्वीट पर समाजवादी पार्टी से जुड़े एक शख़्स ने लिखा था- ''कंगना जी, आप संघर्षों को गाली देकर, तुच्छ बताकर, सबके ऊपर निशाना साधकर आगे बढ़ना चाहती हैं? करण जौहर हों या अन्य फ़िल्म निर्माता, सभी लोगों की सामूहिक मेहनत से यह भारतीय फ़िल्म इंडस्ट्री खड़ी हुई है। कोई भी इंडस्ट्री आपकी तरह सबको गाली देकर 1-2 दिन में खड़ी नहीं हो जाती।''(jagran)

अन्य पोस्ट

Comments