खेल

बल्लेबाजी में विफलता के कारण पिछड़ रही केकेआर
22-Oct-2020 5:29 PM 38
बल्लेबाजी में विफलता के कारण पिछड़ रही केकेआर

अबू धाबी, 22 अक्टूबर | दो बार की चैंपियन कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) आईपीएल के मौजूदा 13वें सीजन में अंकतालिका में अब तक एक बार भी शीर्ष-दो में नहीं पहुंच पाई है और इसका सबसे बड़ा कारण उसके बल्लेबाजों की विफलता है।

केकेआर की टीम अंकतालिका में अभी भी चौथे नंबर पर है और बुधवार रात ही रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ खेले गए मुकाबले में टीम निर्धारित 20 ओवरों में आठ विकेट पर 84 रन ही बना सकी थी तथा उसे आठ विकेट से हार का सामना करना पड़ा।

केकेआर की टीम अपने बल्लेबाजों के विफलता के कारण पिछले चार मैचों में केवल एक बार ही 150 रन के आंकड़े को पार कर सकी है।

सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल पर टीम बहुत निर्भर है, लेकिन वह अब तक 10 मैचों में केवल दो ही अर्धशतक लगा पाए हैं। पिछले कुछ मैचों से उनका स्ट्राइक रेट भी 100 से कम रहा है, जिसके कारण उन्हें अपनी विकेट गंवानी पड़ रही है।

कप्तान इयोन मोर्गन ने पिछले 10 मैचों में 40 की औसत से केवल एक ही अर्धशतक बनाया है। दिनेश कार्तिक का औसत 16 से ऊपर है और उन्होंने 10 मैचों में अब तक 145 रन ही बनाए हैं।

सबसे बुरा हाल तो आलराउंडर आंद्रे रसेल का रहा है, जो पिछले साल मैन ऑफ द टूर्नामेंट रहे थे। उन्होंने पिछले 510 रन बनाए थे और सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में टॉप पांच में शामिल थे। लेकिन केवल 11.5 का औसत है।

कोलकाता नाइट राइडर्स के कोच ब्रैंडन मैकुलम ने बेंगलोर के खिलाफ मैच के बाद माना कि बल्लेबाली उम्मीदों के अनुरूप नहीं रही है।

मैकुलम ने कहा, "मुझे लगता है कि वह (मोहम्मद सिराज) तेज गेंदबाजी करने में सक्षम थे और हमसे कुछ सवाल पूछ रहे थे। ये ऐसे सवाल थे, जिनका कि अतीत में हमने बेहतर तरीके से जवाब दिया है।"

उन्होंने कहा, "मैच से पहले हमने शीर्षक्रम से बेहतरीन प्रदर्शन दिखाने की इच्छा के बारे में बात की थी और हमारे पास इच्छा की कमी थी। यह कुछ ऐसा है, जिस्का हम हल करने की कोशिश कर रहे हैं। आपको अपने आप को खेल में लाने के लिए रचनात्मक होना होगा। आप 40 रन पर छह विकेट खोकर ज्यादा मैच नहीं जीत सकते।"

--आईएएनएस

अन्य पोस्ट

Comments