विचार / लेख

40 जवानों की शहादत पर खुश
17-Jan-2021 6:06 PM 48
40 जवानों की शहादत पर खुश

-कृष्ण कांत

‘अगर बीजेपी सत्ता में आ गई तो TRAI की पॉवर खत्म हो जाएगी क्योंकि इसने 'AS' को नाराज कर दिया है।’

लोकसभा चुनाव 2019 से पहले अर्नब गोस्वामी ने पार्थो दासगुप्ता को ये मैसेज भेजा था। इससे आप समझ सकते हैं कि पूरा कुनबा मिलकर हर एक संस्थान को कैसे खत्म करने पर तुला हुआ है। अर्नब गोस्वामी अपने चैट में सूचना प्रसारण मंत्री को हटवाने की बात करते हैं। चैट में कहते हैं, ‘उन्हें सूचना प्रसारण मंत्रालय छोड़ देना चाहिए, वे छोड़ रहे हैं, मैंने पीएमओ से मुलाकात की है।’

आप सोचिए मजबूत सरकार के बारे में, जो ईमानदार भी है, कि एक पत्रकार अपने निजी फायदे के लिए मंत्री बदलवा रहा है।

गोस्वामी और पार्थो दासगुप्ता आपस में बात करते हैं कि जनता के पैसे से चलने वाले दूरदर्शन से रिपब्लिक टीवी को फायदा पहुंचाया जाए। अपनी चैट में अर्नब ने कहा, ‘पीएमओ के माध्यम से ऐसा करवा लेंगे।’

टीआरपी घोटाले के मामले में सामने आई अर्नब गोस्वामी और क्च्रक्रष्ट के पूर्व सीईओ पार्थो की चैट्स से नित नए कारनामे सामने आ रहे हैं।

अर्नबगेट, नीरा राडिया टेप कांड से बहुत बड़ा है लेकिन राष्ट्रवादी लोग कान में रुई डालकर मस्त हैं। विपक्ष की मूर्छा भी टूटने से रही।

चैट से पता चलता है कि अर्नब बार्क की गतिविधियों के बारे में पीएमओ को खबर पहुंचाते रहते हैं। सवाल है कि  टीवी चैनलों की रेटिंग के बारे में पीएमओ क्यों रुचि ले रहा है और गोस्वामी को उसने अपना खबरची क्यों बनाया है? ये सब सिर्फ रिपब्लिक को स्थापित करने के लिए था?

अगर यूपीए सरकार होती तो विपक्षी बीजेपी ने अब तक गदर मचा दिया होता। लेकिन यहां विपक्ष में ले-देकर एक ट्विटरिया चेहरा है जो अभी नानी के यहां के से लौटा है। अब बेचारे से क्या उम्मीद करें?

जो करेगी वो जनता करेगी। जनता का ही ये जानना जरूरी है कि अर्नब गोस्वामी कथित मजबूत सरकार में  सबसे मजबूत पावर ब्रोकर हैं। पावर ब्रोकर समझते हैं न? सत्ता का दलाल। जिसे आप राष्ट्रवादी समझते हैं लेकिन वह 40 जवानों की शहादत पर खुश होकर कहता है, 'This Attack We Won Like Crazy.'

अन्य पोस्ट

Comments