कारोबार

2000 के नोट कालाधन बन गए?

Posted Date : 16-Apr-2018



नई दिल्ली, 16 अप्रैल । साल 2016 में नोटबंदी के बाद जारी 2000 रुपये के नोट के कालेधन में तब्दील होने की आशंका पैदा हो गई है। खबर के मुताबिक बैंक शाखाओं और करेंसी चेस्ट में आने वाली रकम में इसकी संख्या में लगातार कमी आ रही है। मार्च, 2018 में बैंकों की करेंसी चेस्ट की बैलेंसशीट के मुताबिक 2000 रुपये के नोटों की संख्या कुल जमा रकम की केवल 10 फीसदी रह गई है। 
यह स्थिति इनके कुल जारी करेंसी में हिस्सेदारी करीब 50 फीसदी होने के बाद की है। 
बताया जाता है कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने करीब सात लाख करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के 2000 रुपये के नोट जारी किए हैं। जुलाई, 2017 तक बैंकों में जमा रकम में इनकी हिस्सेदारी 35 फीसदी थी। इसके बाद नवंबर, 2017 में यह घटकर 25 फीसदी रह गई थी।(सत्याग्रह)




Related Post

Comments