कांकेर

शिक्षा के बिना मानव जीवन व्यर्थ- मंडावी
06-Sep-2021 8:36 PM (71)
 शिक्षा के बिना मानव जीवन व्यर्थ- मंडावी

मुख्यमंत्री शिक्षा गौरव अलंकरण से जिले के 38 शिक्षक सम्मानित

कांकेर, 6 सितंबर। मुख्यमंत्री शिक्षा गौरव अलंकरण कार्यक्रम जिला पंचायत के सभाकक्ष में मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ विधानसभा के उपाध्यक्ष एवं भानुप्रतापपुर विधायक मनोज सिंह मण्डावी, संसदीय सचिव शिशुपाल शोरी की अध्यक्षता में आयोजित की गई।

विधानसभा के उपाध्यक्ष श्री मंडावी ने संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षक राष्ट्र एवं समाज निर्माता के रूप में कार्य करते हैं, मैं उन्हें सम्मान करता हूं। गुरूजनों के द्वारा दी गई शिक्षा के बदौलत आज हम शिक्षित होकर उच्च मुकाम हासिल किये हैं। शिक्षा के बिना मानव जीवन व्यर्थ है, इसलिए बच्चों को स्कूल भेजकर शिक्षित बनाने का योगदान दें। शिक्षक मोमबती के समान होते हैं, जो दूसरों को प्रकाश देते हैं। पूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्म दिवस के अवसर पर देश में शिक्षक दिवस के रूप में गुरूजनों को सम्मानित करने का एक अच्छा अवसर है। मंै अपने गुरूजनों को याद करते हुए नमन एवं सम्मान करता हूं।

संसदीय सचिव एवं कांकेर विधायक शिशुपाल शोरी ने शिक्षक दिवस के अवसर पर कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षक राष्ट्र निर्माता और समाज का निर्माण करने में अहम भूमिका निभाते हैं, जिसके कारण पूरे राष्ट्र को शिक्षित करने में शिक्षकों का विशेश योगदान रहा है। समाज को आगे बढ़ाने शिक्षा जगत पुण्य का काम करते हुए अपने कर्तव्य का सही निवर्हन करते हंै, निश्चित रूप से शिक्षकों का कार्य प्रशंसनीय एवं सराहनीय है।

कार्यक्रम को जिला पंचायत के अध्यक्ष हेमंत कुमार ध्रुव, अनुसूचित जनजाति आयोग सदस्य नितिन पोटाई, बस्तर विकास प्राधिकरण के सदस्य बिरेश ठाकुर, नगर पालिका अध्यक्ष सरोज जितेन्द्र ठाकुर, कलेक्टर चन्दन कुमार ने भी संबोधित किया।

मुख्यमंत्री शिक्षा गौरव अलंकरण कार्यक्रम में शिक्षकों को शाल, श्रीफल और 7 हजार रूपये का चेक प्रदान कर 21 शिक्षकों को शिक्षादूत, 3 शिक्षकों को ज्ञानदीप और माध्यमिक तथा प्राथमिक स्तर के 14 उत्कृष्ट प्रधानपाठक को पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया गया।

      इस अवसर पर छत्तीसगढ़ पर्यटन बोर्ड के सदस्य नरेश ठाकुर, जिपं के उपाध्यक्ष हेमनारायण गलबल्ला, जिपं के पूर्व अध्यक्ष सुभद्रा सलाम, सदस्य नरोत्तम पडोटी, सुनील गोस्वामी, कश्णा टेकाम, मीरा साहू, दीपिका श्रीवास्तव, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. संजय कन्नौजे, जिला शिक्षा अधिकारी लक्ष्मण कावड़े, राजीव गांधी शिक्षा मिशन समन्वयक आनंद गुप्ता, जनप्रतिनिधि, पार्षदगण सहित अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

अन्य पोस्ट

Comments