बीजापुर

जेईई मेंस निकालने वाले छात्रों की बढ़ी मुश्किलें
25-Sep-2021 8:50 PM (71)
   जेईई मेंस निकालने वाले छात्रों की बढ़ी मुश्किलें

1 अक्टूबर को होना है एडवांस एग्जामिनेशन, कोचिंग की नहीं हुई व्यवस्था

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 25 सितंबर। बीते दिनों बीजापुर स्थित छू लो आसमान संस्थान से 7 छात्रों द्वारा जेईई मेंस क्वालीफाई किये जाने पर जिले के कलेक्टर रितेश अग्रवाल सहित बीजापुर विधायक विक्रम मण्डावी ने छात्रों के उज्जवल भविष्य की कामनाओं के साथ बधाई दी थी, पर शिक्षक नहीं होने से छात्रों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। 

छात्रों ने बताया कि आगामी 1 अक्टूबर को एडवांस एग्जामिनेशन है, पर छूलो आसमान  संस्थान में बीते एक माह से कोचिंग देने वाले शिक्षक नहीं हैं, अभी सिर्फ हॉस्टल ही संचालित हो रहा है।संस्था में कार्यरत रहे भौतिकी के शिक्षक वर्मा ने बताया कि कोरोना काल में सेवा देने के बाद हमें निकाल दिया गया है। अब तक पूरे 8 शिक्षकों को बाहर कर दिया गया है। अभी किसी दूसरी एजेंसी से कोचिंग दिलाने की योजना है।

इधर इस मामले में छू लो आसमान कोचिंग सेंटर के प्राचार्य अंगनपल्ली बसमैया ने बताया कि अभी ऑनलाईन और गणित शिक्षक के माध्यम से जेईई एडवांस की तैयारियां की जा रही है।

बीते साल राष्ट्रीय स्तर पर होने वाले नीट एग्जाम में 5 छात्रों ने क्वॉलीफाई किया था, पर अच्छी रैंकिंग न होने के कारण सरकारी मेडिकल कॉलेज में दाखिले से वंचित रहे थे। हालांकि प्राइवेट कॉलेजों में डोनेशन पर एडमिशन के अवसर आए थे पर आर्थिक कारणों से ये छात्र प्राइवेट कॉलेज में भी दाखिला नहीं ले पाए।

  वहीं मद्देड़ निवासी छात्र हरीश हेगड़े बताते हैं कि हमें नीट क्वालीफाई  की सूचना दी गई, पर एडमिशन के लिए किसी ने गाइड नहीं किया। हरीश हेगड़े की माने तो छूलो आसमान कोचिंग सेंटर में ड्रापर छात्रों के लिए भी एक अवसर दिया जाना चाहिए, जिससे क्षेत्र के बच्चों को आगे आने का अवसर मिलेगा।

अन्य पोस्ट

Comments