जान्जगीर-चाम्पा

जर्जर सडक़ में उड़ रहे धूल से परेशान नगरवासी समस्या से निजात दिलाने नपाध्यक्ष ने की हस्तांतरित करने की मांग
16-Oct-2021 4:17 PM (86)
जर्जर सडक़ में उड़ रहे धूल से परेशान नगरवासी समस्या से निजात दिलाने नपाध्यक्ष ने की हस्तांतरित करने की मांग

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
सक्ती, 16 अक्टूबर।
नगर पालिका सीमा क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 1 से लेकर हरेठी पुल तक करीब 2 किलोमीटर के आवासीय क्षेत्र में जर्जर हो चुके सडक़ पर उड़ती धूल से  नागरिक परेशान हंै।
इस आवासीय क्षेत्र में करीब दर्जनभर स्कूल व्यापारिक प्रतिष्ठान आवासीय मकान मंदिर तालाब सभी प्रमुख शासकीय कार्यालय सडक़ मार्ग से लगे हुए हैं, जिसके कारण यह सडक़ मार्ग बहुत ही व्यस्ततम सडक़ मार्गो में से एक माना जाता है। जहां प्रत्येक मिनट यहां धूल के गुब्बार 30 से 40 फीट ऊंचाई तक उड़ते रहते हैं। वही इससे प्रभावित नागरिक अब इस समस्या से निजात पाने जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों से गुहार लगाने लगे हैं।

ज्ञात हो कि इसी सडक़ मार्ग में कई स्थान पर निकासी की पर्याप्त व्यवस्था नहीं होने के कारण बारिश के पानी का जमाव हो जाता था, जिसके कारण बड़े-बड़े गड्ढे सडक़ों पर दिखाई देते हैं। इन गड्ढों से जहां दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। वही बारिश के दिनों में पूरा सडक़ मार्ग कीचड़ एवं गंदे पानी से सराबोर रहता था। नागरिकों ने इस सडक़ मार्ग के जल्द निर्माण की मांग की है।

ज्ञात हो कि राष्ट्रीय राजमार्ग में बाईपास सडक़ निर्माण से पहले इसी आवासीय क्षेत्र के व्यस्ततम सडक़ मार्ग से भारी वाहनों का आना जाना होता था। अब जबकि बाईपास सडक़ मार्ग का निर्माण हो चुका है। इस कारण नगर पालिका प्रशासन उक्त सडक़ मार्ग को नगर पालिका के प्रबंध में देने लंबे समय से राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग से मांग कर रही है।

बताया जाता है कि इस सडक़ मार्ग में सडक़ का निर्माण राष्ट्रीय राजमार्ग के द्वारा ही किया जाएगा, लेकिन उनके द्वारा सडक़ निर्माण में विलंब करने के कारण नगर पालिका प्रशासन इस सडक़ मार्ग को स्वयं से बनाने मांग कर रही है, लेकिन विभागीय अड़चनों के कारण ऐसा नहीं हो पा रहा है, जहां जल्द सडक़ निर्माण के लिए जनप्रतिनिधियों को एकजुटता दिखाकर इस पर अमल करना चाहिए वहीं विभागीय अधिकारियों को भी सडक़ निर्माण में विलंब नहीं कर जल्द ही इस सडक़ मार्ग का निर्माण किया जाना चाहिए।

स्कूल लगने एवं छुट्टी होने के समय बढ़ जाती है समस्या
इस सडक़ मार्ग में दर्जनों स्कूल होने के कारण जब स्कूल लगने का समय होता है एवं स्कूल की छुट्टी होती है। उस समय जहां सडक़ में भारी भीड़ देखने को मिलता है। वही धूल उडऩे के कारण स्कूली छात्र-छात्राओं एवं बच्चों को धूल से परेशानी का सामना करना पड़ता है।
राष्ट्रीय राजमार्ग में वार्ड 1 से बाराद्वार सडक़ मार्ग तक सडक़ के जर्जर होने के कारण धूल उड़ रही है। जिस पर सुषमा जायसवाल अध्यक्ष नगरपालिका सक्ती का कहना है कि पालिका प्रशासन द्वारा लंबे समय से सडक़ को नगर पालिका के प्रबंध में दिए जाने मांग की जा रही है, लेकिन उनके द्वारा केवल सांत्वना ही मिल रहा है। एनएच विभाग अगर पालिका प्रशासन को सडक़ हस्तांतरित कर देती है, तो नगर पालिका प्रशासन द्वारा सडक़ जल्द बनाने प्रयास किया जाएगा।
 

अन्य पोस्ट

Comments