सरगुजा

मैं प्रभारी मंत्री हूं मेरे आने का अनावश्यक मतलब न निकाला जाए- डहरिया
18-Oct-2021 7:46 PM (43)
मैं प्रभारी मंत्री हूं मेरे आने का अनावश्यक मतलब न निकाला जाए- डहरिया

कहा मेडिकल कॉलेज अस्पताल भवन बहुत जल्दी बन जाएगा, शीघ्र ही ठीक होगी व्यवस्था

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अम्बिकापुर, 18 अक्टूबर। सरगुजा संभाग मुख्यालय अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में 6 नवजात शिशुओं की मौत के मामले में अंबिकापुर पहुंचे सरगुजा जिले के प्रभारी मंत्री ने सोमवार को राजीव भवन में पत्रकारों से वार्ता की।

वार्ता के दौरान पत्रकारों के प्रश्न की इसके पूर्व आप कभी अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल नहीं गए और बलरामपुर जिले में पंडो जनजाति के लोगों की मौत व पत्थलगांव में हिट एंड रन मामले के बाद भी प्रदेश के किसी बड़े जिम्मेदार मंत्री का नहीं पहुंचना एवं अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में हुई मौत की खबर के बाद सारे कार्यक्रम को रद्द कर टी एस सिंह देव जब अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज पहुंच गए थे और वह स्वयं स्वास्थ्य विभाग के मंत्री भी हैं, ऐसे में आपका आना किसी मतभेद की ओर इशारा करता है?

पत्रकारों के पूछे गए प्रश्न पर प्रभारी मंत्री श्री डहरिया ने कहा कि मैं सरगुजा जिले का प्रभारी मंत्री हूं मेरे आने का अनावश्यक मतलब न निकाला जाए, हमारी पार्टी में सारे लोग एक हैं, मतभेद नहीं है।

 नगरीय प्रशासन विकास एवं श्रम मंत्री व प्रभारी मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया ने कहा कि सभी जगह जाना संभव नहीं होता है, लेकिन स्थानीय जनप्रतिनिधि व प्रशासन के लोग जाते हैं। बलरामपुर जिले में पूरा जिला प्रशासन लगी है व जशपुर के पत्थलगांव में प्रभारी मंत्री उपलब्ध नहीं थे, जिस कारण वह नहीं जा पाए, उनकी जगह चिंतामणी महाराज व स्थानीय जनप्रतिनिधि पहुंचे हुए थे। श्री डहरिया ने कहा कि सरकार का प्रयास रहता है कि तत्परता से कार्रवाई हो, इसलिए हम लोग आते हैं। मैं प्रभारी मंत्री हूं मेरी भी जिम्मेदारी है।

अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में नवजात शिशुओं की मौत को लेकर श्री डहरिया ने कहा कि कमेटी गठित की गई है रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

प्रभारी मंत्री ने कहा कि मेडिकल कॉलेज में 30 बेड के एसएनसीयू की व्यवस्था अच्छी है, कुछ अव्यवस्था है, उसके लिए वह अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। ओपीडी और इंडोर की व्यवस्था एक ही जगह है, जिससे कुछ अव्यवस्था हो जाती है। अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में प्रतिदिन 1000 लोग आते हैं। अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि इनके बैठने की व्यवस्था, पेयजल व चिकित्सा की अच्छी व्यवस्था होनी चाहिए। जिले में भी चिकित्सा की व्यवस्था ठीक हो, इसके लिए भी निर्देश दिए गए हैं।  

  श्री डहरिया ने कहा कि मुख्यमंत्री मोबाइल मेडिकल यूनिट अब नगर पंचायत व ग्राम पंचायत में भी चालू करने की योजना है, इसके कारण लोड कम पड़ेगा। एंबुलेंस की संख्या अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में दो है, अधीक्षक को निर्देश दिए हैं कि और एंबुलेंस की मांग कीजिए। लाइफ सपोर्ट सिस्टम एंबुलेंस भी होनी चाहिए जिससे रेफर मरीजों को लाभ मिलेगा।श्री डहरिया ने कहा कि मेडिकल कालेज भवन बहुत जल्दी बन जाएगा, शीघ्र ही व्यवस्था ठीक हो जाएगी।

नियम व्यवस्था कांग्रेसियों के लिए भी, बिना टेंडर के काम देना संभव नहीं

प्रेस वार्ता के दौरान पत्रकारों द्वारा पूछे गए प्रश्न की कांग्रेस के कार्यकर्ता काफी नाराज चल रहे हैं और उन्हें किसी प्रकार का काम नहीं मिल रहा है?, के संदर्भ में प्रभारी मंत्री ने कहा कि नियम व्यवस्था कांग्रेसियों के लिए भी है। बिना टेंडर के काम देना संभव नहीं है। कांग्रेसी कार्यकर्ता भी नियमानुसार टेंडर भरे और काम करें। खराब सडक़ों के प्रश्न पर श्री डहरिया ने कहा कि स्टीमेट बनवा रहे हैं, मरम्मत का कार्य शीघ्र प्रारंभ होगा।

बलरामपुर जिले में नायब तहसीलदार के ऊपर रेत माफियाओं द्वारा हमला करने के प्रश्न पर प्रभारी मंत्री ने कहा कि अपराधियों के विरुद्ध कार्रवाई की गई है, कुछ लोगों की गिरफ्तारी हुई है। प्रशासन लचर नहीं है, कार्रवाई हो रही है।

बलरामपुर डीएफओ लक्ष्मण सिंह द्वारा वन ठेकेदार संघ के अध्यक्ष व पदाधिकारियों के साथ अभद्र व्यवहार व विभिन्न कार्यों में अनियमितता के प्रश्न पर प्रभारी मंत्री ने कहा कि मेरे संज्ञान में नहीं आया था, मैं इसे दिखाता हूं।

प्रेस वार्ता के दौरान कैबिनेट मंत्री अमरजीत भगत,कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त वरिष्ठ कांग्रेसी नेता बालकृष्ण पाठक,श्रम कल्याण मंडल के अध्यक्ष शफी अहमद,अजय अग्रवाल, विधायक डॉ प्रीतम राम,सरगुजा जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राकेश गुप्ता,वरिष्ठ कांग्रेसी नेता जेपी श्रीवास्तव सहित अन्य मौजूद थे।

अन्य पोस्ट

Comments