सरगुजा

संभाग स्तरीय आदिवासी लोकनृत्य प्रतियोगिता में जशपुर बना सिरमौर
20-Oct-2021 8:42 PM (29)
संभाग स्तरीय आदिवासी लोकनृत्य प्रतियोगिता में जशपुर बना सिरमौर

सरगुजा ने हासिल किया दूसरा स्थान

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

अम्बिकापुर, 20 अक्टूबर। आदिवासी विकास विभाग द्वारा बुधवार को पीजी कॉलेज ग्राउंड में संभाग स्तरीय आदिवासी लोकनृत्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जशपुर जिले के फरसाबहार तहसील के आदिवासी उरांव करमा पारम्परिक नृत्य दल बनगांव ने पहला स्थान प्राप्त कर प्रतियोगिता में सिरमौर बना।

सरगुजा जिले के ग्राम पंचायत रामपुर के करमा नर्तक दल ने दूसरा स्थान हासिल किया, वहीं सूरजपुर जिले के आदिवासी लोककला संगम को तीसरे स्थान पर रहा। प्रतियोगिता में संभाग भर से आए 17 आदिवासी लोक नर्तक दलों ने आकर्षक परिधान में करमा, शैला, सुगा आदि विधाओं में जोशीला एवं मनमोहक लोककला का प्रदर्शन किया।

सहायक आयुक्त आदिवासी विकास जे.आर. नागवंशी ने बताया कि संभाग स्तरीय आदिवासी लोकनृत्य प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त नर्तक दलों को नगद राशि व प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। उन्होंने बताया कि संभाग स्तरीय प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त नर्तक दल को ‘राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव-2021’ प्रतियोगिता रायपुर में भाग लेने का अवसर मिलेगा, वहीं द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त दलों को महोत्सव में लोक कला का प्रदर्शन करने का मौका मिलेगा।

 

 

 

 

अन्य पोस्ट

Comments