राजनांदगांव

सुरक्षित ढंग से कार्य करने के दिए टिप्स
22-Oct-2021 5:25 PM (25)
सुरक्षित ढंग से कार्य करने के दिए  टिप्स

लाइनकर्मियों की सुरक्षा को लेकर सेमीनार आयोजित

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 22 अक्टूबर। 
छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड द्वारा सुरक्षा उपायों को लेकर खैरागढ़ संभाग में एक दिवसीय सुरक्षा सेमीनार का आयोजन कर लाइन कर्मियों को सतत् विद्युत व्यवस्था के मद्देनजर अपने-अपने फील्ड में सुरक्षित ढंग से कार्य करने के टिप्स दिए गए। सुरक्षा सेमीनार के तहत आयोजित इस प्रशिक्षण कार्यशाला में विद्युत कर्मियों को विद्युत सुरक्षा एवं दुर्घटना से बचाव के विभिन्न उपायों को सुझाया।

डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड के अधिकारियों ने सेमीनार में बताया कि लाइन में कार्य करते समय कर्मियों को हमेशा अपनी सुरक्षा का ध्यान रखना चाहिए। थोड़ी सी चूक या लापरवाही खतरनाक हो सकती है। कार्य करते समय सुरक्षा उपकरणों का उपयोग अवश्य करें। कंपनी के लिए आपकी सुरक्षा सर्वोपरि है, इसलिए स्वयं तथा अपने साथी कर्मचारियों की सुरक्षा आपकी पहली प्राथमिकता होनी चाहिए।

पॉवर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी खैरागढ़ में आयोजित कार्यशाला में अधिकारियों ने कहा कि सुरक्षा का मूलमंत्र है कि एक सेफ्टी जोन बनाकर कार्य करें। विद्युत लाइनों पर कार्य करने के पूर्व विधिवत परमिट लेकर सुरक्षा उपकरणों का प्रयोग करते एबी स्वीच को ओपन कर लाइन को डिस्चार्ज कर लें और यह भी सुनिश्चित करें कि किसी अन्य उपकेंद्र से इस लाइन पर विद्युत प्रदाय तो नहीं किया जा रहा है। यदि ऐसा है तो उसे दूसरे छोर से भी नो बैकफीड परमिट अवश्य लें तथा लाइन को बंद करावें।  मोबाइल के माध्यम से कदापि परमिट न लें।

समस्त तकनीकी कर्मचारियों को सुरक्षा उपकरणों एवं उपायों का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विद्युत सुरक्षा के बुनियादी सिद्धांतों को समझकर और पालन करके ही विद्युतीय दुर्घटनाएं रोकी जा सकती हैं। विद्युत कनेक्शन में सही अर्थिंग बहुत महत्वपूर्ण है। ये बात सभी उपभोक्ताओं को बताएं और स्वयं भी इसकी जांच करें। सुरक्षा उपकरणों की नियमित तौर से जांच करें और खराब होने पर तत्काल बदलें।

अधिकारियों ने विद्युत कर्मियों से सुरक्षा उपकरण जैसे डिस्चार्ज राड,  सेफ्टी बेल्ट, हेलमेट, टेस्टर, दस्तानों आदि के सुरक्षात्मक उपयोग के बारे में विस्तार से बताते कर्मचारियों द्वारा किस प्रकार इनका उपयोग करना है, इनको प्रायोगिक तौर से दिखाया गया। इस दौरान तकनीकी कर्मचारियों द्वारा भी अपने सुरक्षा संबंधित अनुभव एवं कार्य के दौरान आने वाले परेशानियों को भी साझा किया गया। इस दौरान कार्यपालन अभियंता छगन शर्मा, सहायक अभियंता संदीप सोनी, किरण जांगड़े एवं अन्य अधिकारी तथा कर्मचारी उपस्थित रहे।
 

अन्य पोस्ट

Comments