बस्तर

श्रमिक पंजीयन की गति बढ़ाने पर जोर
22-Oct-2021 9:47 PM (75)
श्रमिक पंजीयन की गति बढ़ाने पर जोर

जगदलपुर, 22 अक्टूबर। छत्तीसगढ़ शासन द्वारा श्रमिकों के कल्याण के लिए संचालित योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक मजदूरों को दिलाने के लिए श्रमिक पंजीयन पर जोर दिया गया।

शुक्रवार को नगर निगम के सभाकक्ष में आयोजित बैठक में छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार मंडल के अध्यक्ष सुशील सन्नी अग्रवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल प्रदेश के गांव, गरीब, किसान और मजदूरों के कल्याण के लिए निरंतर कार्य कर रहे हैं। प्रदेश में मजदूरों के कल्याण के लिए मुख्यमंत्री सायकल सहायता योजना, मुख्यमंत्री सिलाई मशीन सहायता योजना, मुख्यमंत्री श्रमिक औजार सहायता योजना, मुख्यमंत्री निर्माण मजदूर सुरक्षा उपकरण सहायता योजना, नौनिहाल छात्रवृत्ति योजना, मेधावी छात्र-छात्रा शिक्षा प्रोत्साहन योजना, विशेष सहायता योजना, भगिनी प्रसुता सहायता योजना, सिलिकोसिस से पीडि़त निर्माण श्रमिकों के लिए आर्थिक सहायता एवं पुनर्वास सहायता योजना, दुर्घटना चिकित्सा सहायता योजना, मुख्यमंत्री अटल पेंशन योजना, निर्माण श्रमिक ई-रिक्शा सहायता योजना, मुख्यमंत्री निर्माण मजदूर कौशल विकास एवं परिवार सशक्तिकरण योजना, बंधक निर्माझ मजदूर पुनर्वास सहायता योजना, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, मोबाईल रजिस्ट्रेशन वेन योजना, निर्माण श्रमिकों के बच्चों के लिए उत्कृष्ट खेल प्रोत्साहन योजना, शहीद वीर नारायण सिंह श्रम अन्न योजना, श्रम मित्र योजना, मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक मृत्यु एवं दिव्यांग सहायता योजना, मुख्यमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, निर्माण मजदूर जीवन ज्योति योजना आदि योजनाएं संचालित की जा रही हैं। इन योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए मजदूरों का पंजीयन आवश्यक है।

संसदीय सचिव रेखचंद जैन ने श्रम विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित करने करने के लिए बड़ा लक्ष्य रखने की बात कही। उन्होंने कहा कि इन शासन की इन जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए श्रमिकों को पंजीयन हेतु प्रोत्साहित करना आवश्यक है। उन्होंने प्रत्येक वार्ड में कम से कम दो सौ लोगों के पंजीयन का लक्ष्य निर्धारित करते हुए कार्य करने की अपील की।

इस अवसर पर महापौर सफीरा साहू, नगर निगम अध्यक्ष कविता साहू, छत्तीसगढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार मंडल के सदस्य बलराम मौर्य ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर एमआईसी के सदस्यगण, पार्षदगण, जनप्रतिनिधि एवं नगर निगम के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

अन्य पोस्ट

Comments