कोण्डागांव

प्रदेश के साथ-साथ देश के मानचित्र में मिड वे रिसोर्ट अलग पहचान बनाएगा- संतराम
26-Oct-2021 8:46 PM (36)
प्रदेश के साथ-साथ देश के मानचित्र में मिड वे रिसोर्ट अलग पहचान बनाएगा- संतराम

100 एकड़ में 7 करोड़ से बनेगा, निरीक्षण करने पहुंचे विधायक

प्रकाश नाग

केशकाल, 26 अक्टूबर (‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता)। केशकाल विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत खालेमुरवेंड में पर्यटन की दृष्टि से क्षेत्र को विकसित करने के उद्देश्य से केशकाल विधायक संतराम नेताम के प्रयासों से मुख्यमंत्री द्वारा स्वीकृत किये गए मिड-वे प्रोजेक्ट में जिला प्रशासन द्वारा लगभग 100 एकड़ की जमीन में 7 करोड़ रुपए की लागत से मिड वे रिसोर्ट का निर्माण करवाया जा रहा है।

मंगलवार को क्षेत्रीय विधायक संतराम नेताम इस रिसोर्ट का निरीक्षण करने पहुंचे थे, जहां उन्होंने विभागीय अधिकारियों के साथ पूरे क्षेत्र का भ्रमण किया। उन्होंने कहा कि  प्रदेश के साथ साथ पूरे देश के मानचित्र में यह मिड वे रिसोर्ट अपनी अलग पहचान बनाएगा।

उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से मेरे विधानसभा क्षेत्र के ग्राम खालेमुरवेंड में मुख्यमंत्री ने पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की सौगात दी है, निश्चित तौर पर इसके माध्यम से स्थानीय बेरोजगार युवक-युवतियों एवं स्व सहायता समूह की महिलाओं को रोजगार मिलेगा। साथ ही पर्यटन की दृष्टि से ग्राम खालेमुरवेंड का नाम पूरे देश और विश्व मे प्रसिद्ध होने की बात कही है। साथ ही भविष्य में इस रिसोर्ट में और भी अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से 10 करोड़ रुपए की मांग करने की बात कही है।

 कोंडागांव कलेक्टर पुष्पेंद्र कुमार मीणा के मार्गदर्शन में आरईएस विभाग के द्वारा खालेमुरवेण्ड के निकट एनएच 30 पर प्राकृतिक मनोरम दृश्यों के बीच यात्रा करने वाले लोगों के लिए विश्राम स्थान लिमदरहा मिडवे का निर्माण किया जा रहा है। यहां पर खाने पीने की व्यवस्था के साथ रिसोर्ट एवं रेस्टोरेंट के साथ वोटिंग एवं वाटर स्पोर्ट भी किए जा सकेंगे। इस स्थान पर बर्ड सेंचुरी के साथ वन्यजीवों को भी निकट से देखा जा सकेगा। लिमदरहा में स्टॉप डैम का निर्माण कर वाटर रिजर्वायर तैयार करते हुए प्राकृतिक रिजर्वायर को समृद्ध किया गया है।

इस संबंध में विधायक संतराम नेताम ने कहा, मैं बहुत ही सौभाग्यशाली हूं कि मुझे प्राकृतिक सौंदर्यता से परिपूर्ण इस केशकाल विधानसभा क्षेत्र का विधायक बनने का अवसर मिला है। मुख्यमंत्री जब ग्राम कोंगरा में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने आए थे, तब हमने उनके समक्ष खालेमुरवेंड में मिड वे रिसोर्ट के रूप में उत्कृष्ट पर्यटन स्थल का निर्माण करवाने के लिए प्रस्ताव दिया था। जिसे गम्भीरतापूर्वक लेते हुए मुख्यमंत्री ने 7 करोड़ रुपए की स्वीकृति दे दी है। यहां निरीक्षण करने पर हमने देखा कि प्रशासन एवं विभागीय अधिकारियों द्वारा बहुत ही बेहतरीन तरीके से सभी निर्माण कार्य करवाए जा रहे हैं।

 विधायक संतराम नेताम ने बताया कि इस रिसोर्ट के प्रवेश द्वार के दोनों ओर दर्जनों दुकाने बनवाई गयी है, जिसके माध्यम से स्थानीय स्व सहायता समूह की महिलाओं एवं स्थानीय बेरोजगार युवक-युवतियों को रोजगार मिलेगा। इसके पश्चात सैलानियों को वाहन पार्किंग के लिए 5 एकड़ की भूमि आरक्षित रखी गयी है। इसके पश्चात बच्चों के खेलकूद के लिए किंडर गार्डन, फव्वारा एवं पार्क बनवाया जा रहा है। ठीक इसी प्रकार से 20 एकड़ के क्षेत्र में फैले जलाशय में बोटिंग एवं साइड सीन की व्यवस्था की जाएगी। जिस प्रकार से जिला प्रशासन द्वारा ग्राम खालेमुरवेंड को जिस प्रकार से पर्यटन के दृष्टिकोण से विकसित करने का भरसक प्रयास किया जा रहा है, निश्चित तौर पर आने वाले समय में समूचे क्षेत्रवासियों को इसका लाभ मिलेगा।

इस दौरान पीसीसी सचिव सग़ीर अहमद कुरैशी, विधायक प्रतिनिधि अरुण अग्निहोत्री, रवि गोयल, अरमान मेमन एवं सम्बंधित विभागीय अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।

अन्य पोस्ट

Comments