दन्तेवाड़ा

बारिश से क्षति का हो आंंकलन-कलेक्टर
24-Nov-2021 9:22 PM (69)
बारिश से क्षति का हो आंंकलन-कलेक्टर

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दंतेवाड़ा, 24 नवम्बर।
जिला कार्यालय के सभाकक्ष में समय सीमा की बैठक हुई। कलेक्टर दीपक सोनी ने राजस्व अमले से मुख्यालय में अपनी उपस्थिति सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने पिछले दिनों असामयिक वर्षा से हुई क्षति का शीघ्र आकलन कर प्रस्ताव दिए जाने के निर्देश तहसीलदार को दिए।
 
श्री सोनी ने कहा कि जिन किसानों की फसल वर्षा के कारण क्षतिग्रस्त हुई है, उन्हें सूचीबद्ध कर बीज उपलब्ध कराया जाना है। समीक्षा बैठक में कृषि विभाग को निर्देशित किया गया कि वे किसानों को उतेरा फसलों के लिए अन्य बीज भी उपलब्ध कराए। कलेक्टर ने कहा कि सरसों बीज के अलावा उड़द, मसूर, तिल, तिवरा और अलसी के बीज भी किसानों को उपलब्ध कराए जायेंगे। जिसकी डिमांड बीज निगम से की गई है। ज्ञातव्य है कि जिले के चारों विकासखण्डों में 15 च्ंिटल बीज बांटा जाना है। एवं लगभग दो हजार किसानों को उतेरा फसलों के लिए तैयार करने और उन्हें प्रोत्साहित करने की कार्य योजना बनाई गई है।
बैठक में विगत दिनों छिन्दनार में सम्पन्न जनसमस्या निवारण शिविर में प्राप्त किये गए आवेदनों की विभागवार समीक्षा की गई।

श्री सोनी ने सभी विभाग प्रमुखों को निर्देश दिए कि वे एक सप्ताह के भीतर प्राथमिकता के आधार पर इसका निराकरण करें। बैठक में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को निर्देशित किया गया कि वे ढाई वर्ष से अधिक समय से पदस्थ पटवारी की सूची तैयार करें,जिससे आगे की कार्यवाही की जा सके। बैठक में जिले में टीकाकरण की स्थिति की समीक्षा की गई। टीकाकरण की धीमी रफ्तार पर कलेक्टर ने नाराजगी प्रकट की। नगरीय निकाय क्षेत्रों में वनाधिकार पट्टे के वितरण की समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने कहा कि सभी नगर पालिका अधिकारी नगरीय क्षेत्र में आ रहे बड़े-छोटे पेड़ के जंगल व वन भूमि का आंकलन कर उसके अनुसार वार्ड समिति का शीघ्र गठन करें और जितने पात्र हितग्राही पाये जाने पर उन्हें वनाधिकार पट्टा वितरित किया जायेगा।

श्री सोनी ने कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास को निर्देशित किया कि यूनिसेफ द्वारा बापी कार्यक्रम के लिए उपलब्ध कराये गए 29 लाख के बजट की कार्ययोजना तैयार कर प्रस्तुत करें। बैठक में आश्रम, स्कूल एवं आंगनबाड़ी भवनों में रनिंग वाटर उपलब्ध कराये जाने आवश्यक निर्देश दिए गए। साप्ताहिक समय-सीमा की इस बैठक में कलेक्टर ने सभी विभागों को निर्देशित किया कि हितग्राहीमूलक योजनाओं के लिए पात्र हितग्राहियों का चयन पूर्व से ही करके रखें। बैठक में हितग्राही मूलक योजनाओं का प्रचार-प्रसार किए जाने हेतु स्थानीय भाषा में छोटी-छोटी विडियों क्लिीपिंग्स बनाकर इसका व्यापक प्रचार-प्रसार विभिन्न माध्यमों से किए जाने हेतु निर्देशित किया गया।

परिवहन विभाग को निर्देश दिए गए कि जनसमस्या निवारण शिविर में प्राप्त ड्राईविंग लाईसेंस के आवेदनों के निराकरण हेतु क्षेत्र में कैम्प के माध्यम से इसका निराकरण करें। समीक्षा बैठक में विभिन्न विभागीय कार्यालयों के लंबित विद्युत देयकों के भुगतान पर भी चर्चा की गई एवं इस हेतु आवश्यक निर्देश दिया गया। बैठक में सीईओ जिला पंचायत आकाश छिकारा और अपर कलेक्टर संजय कन्नौजे प्रमुख रूप से मौजूद थे।

अन्य पोस्ट

Comments