रायपुर

प्रधानमंत्री आवास योजना के नाम पर वसूली के लिए रैकेट काम कर रहा...
25-Nov-2021 6:38 PM (51)
  प्रधानमंत्री आवास योजना के नाम पर वसूली के लिए रैकेट काम कर रहा...

सामान्य सभा में सत्यनारायण शर्मा बरसे

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

रायपुर, 25 नवम्बर। नगर निगम सामान्य सभा की बैठक में गुरूवार को पूर्व मंत्री सत्यनारायण शर्मा ने मच्छरों के प्रकोप पर चिंता जताई, और कहा कि जन स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए इस पर नियंत्रण पाना जरूरी है। यही नहीं, उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना में जोन कमिश्नर के फर्जी हस्ताक्षर कर करोड़ों का घोटाले के मामले में पुलिस में प्रकरण दर्ज होने के बावजूद अब तक क्या कार्रवाई हुई, इसकी कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि बकायदा एक रैकेट काम कर रहा है। सभा में  श्रद्धांजलि योजना की राशि के भुगतान में देरी पर सभापति प्रमोद दुबे ने निगम अफसरों को फटकार लगाई।

नगर निगम की सामान्य सभा में दो विधायक सत्यनारायण शर्मा, और विकास उपाध्याय भी उपस्थित थे। सत्यनारायण शर्मा ने कहा कि स्वच्छता  के क्षेत्र में नगर निगम को पुरस्कार मिला है, लेकिन इसमें संतोष नहीं करना है। और बेहतर काम करने की जरूरत है। सत्यनारायण शर्मा ने कहा कि उनके विधानसभा क्षेत्र में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बहुत बड़ा घपला हुआ था। जोन अधिकारी के फर्जी हस्ताक्षर कर करोड़ों रूपए की वसूली हुई है।

उन्होंने कहा कि पुलिस में एफआईआर होने के बाद ठंडे बैठ गए हैं।  श्री शर्मा ने निगम आयुक्त से कहा कि इस पूरे मामले में अब तक क्या कार्रवाई हुई है। इसकी समीक्षा की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए वसूली के लिए एक बड़ा रैकेट काम कर रहा है।

सामान्य सभा में राज्य को मिले स्वच्छता पुरस्कार को लेकर विवाद की स्थिति निर्मित हो गई। विपक्ष का कहना था कि प्रदेश में सरकार स्वच्छता को लेकर और प्रयास करती तो शायद आज छत्तीसगढ़ को स्वच्छता में प्रथम पुरस्कार प्राप्त होने की संभावनाएं थी।

विपक्षी पार्षदों का कहना था कि प्रदेश में कांग्रेस कार्यकाल में कोताही बरतने का नतीजा है कि वह आज तीसरे स्थान पर है। इसके जवाब में महापौर एजाज ढेबर ने सभा के समक्ष अपनी बात रखी, और कहा कि प्रदेश को स्वच्छता पुरस्कार मिलना एक गौरवपूर्ण पल है। जिसमें पूरे 70 वार्डों के पार्षदों का विशेष योगदान रहा। उन्होंने कहा कि स्वच्छता पुरस्कार को प्रदेश की जनता को समर्पित किया, और कहा कि शहर के सफाई कर्मी पुरस्कार के उचित हकदार हैं।

 उन्होंने कहा कि रायपुर शहर के यातायात को देखते हुए वर्तमान समय में मल्टी स्टोरी पार्किंग की व्यवस्था, और बस स्टैण्ड को भाटागांव में स्थानांतरित किया। जिससे शहर में लगभग 40 प्रतिशत यातायात की समस्या का निवारण हुआ। शहर के बिल्डर एवं डेवलर्पस को शहर में खाली पड़ी भूखण्डों में शासकीय योजनाओं के तहत निर्माण करने की अनुमति प्रदान की। साथ ही स्लम स्वास्थ्य सेवा के अंतर्गत तीन लाख लोगों को लाभ पहुंचाने की बात कही।

समान्य सभा के प्रश्नकाल के दौरान विपक्ष के पार्षदों ने नगरीय स्वच्छता, और वार्डों में वर्षा जल भराव और उद्यान उन्नयन, प्रधानमंत्री आवास योजना, मोर जमीन मोर मकान के अंतर्गत लाभार्थियों को पूर्ण लाभ न मिलने पर सदन में अपनी बात रखी। साथ ही श्रद्धांजलि योजना में मिलने वाली राशि 2 हजार रूपए को बढ़ाकर 5 हजार करने की मांग की। विपक्ष के द्वारा श्रद्धांजलि योजना की राशि के भुगतान में विलंब होने की बात को लेकर सभापति ने अधिकारियों को फटकार लगाई, और इसका शीघ्र अतिशीघ्र भुगतान करने को कहा।

अन्य पोस्ट

Comments