राजनांदगांव

देशभक्ति और राष्ट्र सुरक्षा का एनसीसी कैडेटों ने सीखा गुर
28-Nov-2021 1:44 PM (48)
देशभक्ति और राष्ट्र सुरक्षा का एनसीसी कैडेटों ने सीखा गुर

 

एनसीसी डे पर विविध आयोजन, बेस्ट कैडेट हुए सम्मानित

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 28 नवंबर।
नेशनल कैडेट कॉप्र्स (एनसीसी) के 73वें दिवस पर कैडेटों को देशभक्ति और राष्ट्रीय सुरक्षा के गुर सिखाते हुए पूर्व एनसीसी कैडेट रहे अफसरों ने युवाओं से राष्ट्रीय भावना के साथ  देश के विकास में भागीदार बनने की अपील की। स्थानीय स्टेट हाईस्कूल में पिछले तीन दिनों से एनसीसी-डे के अवसर पर विविध आयोजन किए गए। जिसमें मेहंदी, रंगोली, डे्रस वियरिंग, स्पून रेस तथा निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

एनसीसी कैडेटों को अनुशासित रहने की सीख देते हुए देश के साथ कदम से कदम मिलाने के लिए भी अफसरों ने आह्वान किया। अफसरों का मानना है कि एनसीसी देश की सुरक्षा में तैनात सेना और दूसरे सुरक्षा दस्तों की एक पहली कड़ी है, यानी एनसीसी कैडेट एक तरह से स्कूलों और कॉलेज में ही देश की रक्षा के महत्व से जुड़े शिक्षा हासिल करते हैं। इससे पहले स्थानीय हाईस्कूल में सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया।

विशेष अतिथि के तौर पर म्युनिसिपल स्कूल के पूर्व छात्र व राजनांदगांव पुलिस महकमे के एएसपी जयप्रकाश बढ़ई मौजूद थे। उन्होंने अपने संक्षिप्त संबोधन में कहा कि एनसीसी कैडेटों को राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसियों के अलावा अन्य दूसरे सर्विस में विशेष प्राथमिकता के साथ काम करने का मौका मिलता है। एनसीसी कैडेट स्कूल से लेकर कॉलेज की शिक्षा में ही देशभावना के प्रति अपनी समझ बढ़ा लेते हैं। इधर एनसीसी कैडेट के अध्यक्ष अमित चंद्रवंशी ने भी अपने संबोधन में कहा कि वर्तमान में कैडेटों की भूमिका बढ़ गई है। देश की सुरक्षा का प्रारंभिक नींव कैडेटों के जरिये ही होता है।

एनसीसी-डे के अवसर पर उत्कृष्ठ कैडेटों को अतिथियों के हाथों से सम्मानित भी किया गया।  कार्यक्रम में पूर्व एनसीसी अधिकारी जीडी वैष्णव, सेवानिवृत्त शिक्षक राजेन्द्र यादव, ईश्वर मेश्राम, प्रकाश साठिया, सुनील भागवत, हितेश ठाकुर व पूर्व कैडेटगण आशीष डोंगरे, राहुल देवांगन, संदीप जायसवाल, दीपक समेत अन्य लोग शामिल थे।

अन्य पोस्ट

Comments