कवर्धा

वनांचल संघर्ष समिति की बैठक में सडक़ निर्माण पर चर्चा
29-Nov-2021 5:49 PM (48)
वनांचल संघर्ष समिति की बैठक में सडक़ निर्माण पर चर्चा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बोड़ला,29 नवंबर। 
बोड़ला विकासखंड में रेंगाखार कला के वन विभाग की लागिन हॉल परिसर में वनांचल संघर्ष समिति की बैठक की गई। बैठक में वनांचल संघर्ष समिति के बैनर तले जुड़े सभी ग्राम पंचायत से लोग पहुंचे थे, सभी लोगों ने वनांचल क्षेत्र की प्रमुख समस्या  साल्हेवारा, रेंगाखार, समनापुर, झलमला चिल्फी सडक़ निर्माण कार्य पर विस्तार से चर्चा की।

गौरतलब है कि हाईकोर्ट में नितिन संघवी के द्वारा अभ्यारण का हवाला देकर लगाए हुए जनहित याचिका के चलते इस मार्ग के कुछ किलोमीटर जिनमे समनापुर से चिल्फी तक बिलासपुर हाइकोर्ट ने रोक लगा दी है, हालांकि साल्हेवारा से समनापुर तक सडक़ निर्माण का कार्य लगभग हो गया है, लेकिन समनापुर से चिल्फी तक सडक़ की स्थिति अत्यंत जर्जर हो गई है । अत: रेंगाखार क्षेत्र के लोग जिनमे समस्त ग्राम पंचायत जिला पंचायत जनपद पंचायत क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों  द्वारा जनहित याचिका के विरोध में बैठक की गई।

उक्त बैठक में वनांचल क्षेत्र के समस्त पंचायतों के जनमान्य लोगो की राय पर सरपंचों ने अपने ग्राम पंचायतों में लिखित प्रस्ताव में मांग कर सर्वदलीय जनप्रतिनिधि व पदाधिकारी, सर्व सरपंच संघ के द्वारा प्रस्ताव लाकर उच्च न्यायालय बिलासपुर में सडक़ निर्माण के  खिलाफ लगाए गए जनहित याचिका की विरोध में याचिका लगाने की तैयारी की जा रही है। इसी परिपेक्ष्य में वनांचल रेंगाखार कला की लॉगन हॉल परिसर में बैठक रखी गई।

बैठक में रेंगाखार, समनापुर झलमला सहित आसपास क्षेत्र के समस्त पंचायतों के गांव से जनप्रतिनिधियों व लोग उपस्थित होकर एक राय से हाईकोर्ट में जनहित याचिका के विरोध में याचिका लगाने की तैयारी में जुट गए हैं।

लोग  पिछले कई वर्षों से जर्जर रोड में चलकर हताश हो गए हैं  पहले तो सरकारी लेटलतीफी, फिर लगाई गई याचिका के चलते यह सडक़ वर्षों से नहीं बन रही है, जबकि इस सडक़ पर  रेंगाखार वनांचल के दर्जनों से अधिक पंचायतों के हजारों से अधिक लोगों का आना-जाना चिल्फी बोड़ला व कवर्धा में होता है। खराब सडक़ के चलते क्षेत्र  के लोगों का जीना दूभर हो गया है। लोगों को स्वास्थ्य सुविधा से लेकर हर प्रकार की सुविधा के लिए परेशानी उठानी पड़ रही है। दर्जनों से अधिक पंचायतों के लोगों को वर्षों से समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। कार्यालयीन कार्यों को लेकर व स्वास्थ्य सेवा,बाजार आदि के लिये लोगों को काफी जद्दोजहद करना पड़ता है। उन्हें लंबी दूरी तय करके कार्यालयीन कार्य के लिए बोड़ला कवर्धा आना पड़ रहा है जिससे क्षेत्र के ग्रामीण त्रस्त हो गए  हैं।

हाईकोर्ट के आदेश के चलते जनप्रतिनिधि भी लाचार हैं।  इस तरह वनांचल संघर्ष समिति ने हाईकोर्ट में लगे सडक़ निर्माण के विरोध याचिका की विरोध में याचिका लगाने की तैयारी में बैठक रखी गई।
कार्यक्रम में वनांचल के समस्त जनप्रतिनिधि सहित समस्त दल व नागरिक समिति के  सैकडों लोग उपस्थित रहे।
 

अन्य पोस्ट

Comments