सरगुजा

गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ के 36 माह
30-Nov-2021 8:05 PM (52)
गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ के 36 माह

स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार से पीडि़तों को मिली राहत

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
अम्बिकापुर,30 नवम्बर।
राज्य शासन द्वारा गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की अवधारणा पर करीब 3 वर्ष में जिले में चहुंमुखी विकास की ओर कदम बढ़ाया है। स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार कर जनता को राहतों का पिटारा दिया है। इसमें हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर, नवीन सामुदायिक केंद्र भवन, कीमोथेरपी सेंटर, फिजियोथेरेपी केंद्र दर्द निवारक केंद्र, मानसिक स्वास्थ्य जांच क्लिनिक तथा मेडिकल कॉलेज में भी कई सुविधाओं का विस्तार किया गया है। इसके साथ ही राज्य शासन द्वारा कई स्वास्थ्य सुविधा प्रदान मारने वाली योजनाएं भी संचालित की जा रही है।

स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य सुविधाओं को शहरी तथा ग्रामीण अंचलों में पहुंचने के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र तथा उप स्वास्थ्य केन्द्र को उन्नयन किया जा रहा है। जिले में वर्ष 2020 में हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटरों की संख्या 110 थी, जो वर्ष 2021 में बढक़र 170 हो गई है। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र धौरपुर तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मैनपाट का नवीन भवन का निर्माण कर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान की जा रही है। ग्रामीण क्षेत्रो में स्वास्थ्य सुविधाओं की विस्तार हेतु प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बन्दना तथा शहरी क्षेत्र में 02 नवीन शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र नवागढ़ तथा भगवानपुर में नवीन स्वास्थ्य सुविधा प्रदान की गई। शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र नवापारा में सामान्य सुविधाओं के साथ-साथ विशेषज्ञ स्वास्थ्य सुविधाएं जैसे मानसिक स्वास्थ्य स्पर्श क्लिनिक, नेत्र जांच केन्द्र, फिजियोथेरेपी केन्द्र, कीमोथेरेपी केन्द्र, प्रशामक एवं दर्द निवारक केन्द्र, कीमोथेरेपी केन्द्र मानसिक स्वास्थ्य स्पर्श क्लिनिक फिजियोथेरेपी केन्द्र संचालित की जा रही है।

मेडिकल कॉलेज में स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार
राजमाता श्रीमती देवेन्द्र कुमारी सिंहदेव शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय अम्बिकापुर संभाग वासियों के लिए स्वास्थ्य सुविधा का सबसे बड़ा केन्द्र है। यहां भी स्वास्थ्य सुविधाओं में निरंतर विस्तार किया जा रहा है। यहां गंभीर मरीजों के ईलाज हेतु नवीन गहन चिकित्सा कक्ष का निर्माण, सेन्ट्रालाइज पैथोजॉजी सेन्टर की स्थापना, गंभीर बीमारी के जॉच एवं उपचार हेतु सीटी स्कैन की स्थापना, किडनी के गम्भीर रोगों के ईलाज के लिये जीवन धारा कार्यक्रम के अन्तर्गत डायलिसिस यूनिट की स्थापना, 30 बिस्तरीय एसएनसीयू का भी संचालन किया जा रहा है। इसके साथ ही मेडिकल कालेज संबद्ध जिला चिकित्सालय में 1000, 440 व 330 एलपीएम के तीन पीएसए प्लांट की स्थापना की गई है और सीएचसी उदयपुर में भी 250 एलपीएम पीएसए प्लान्ट स्थापित की गई है।

योजनाओं से मिल रहा लाभ
मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना के तहत स्वास्थ्य टीम कुल 950 बार हाट-बाजारों में पहुंचे जिसमें 38 हजार 352 ग्रामीणों की नि:शुल्क जांच उपचार की गई। डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना के तहत 58 हजार 622 मरीजों को 55 करोड़ 68 लाख रुपये की सहायता प्रदान की गई। मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना के तहत 55 मरीजों को 87 लाख 59 हजार रुपये की सहायता प्रदान की गई।

अन्य पोस्ट

Comments