कांकेर

कांकेर में मेडिकल कॉलेज की स्थापना बड़ी उपलब्धि, डॉक्टरों की कमी नहीं होने दी जाएगी-भूपेश
25-Apr-2022 9:53 PM
कांकेर में मेडिकल कॉलेज की स्थापना बड़ी उपलब्धि, डॉक्टरों की कमी नहीं होने दी जाएगी-भूपेश

सीएम ने किया 183 करोड़ के विकास कार्यों लोकार्पण-भूमिपूजन

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
कांकेर, 25 अप्रैल।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कांकेर जिले के तहसील मुख्यालय चारामा में आयोजित राजीव मितान क्लब सदस्य एवं महिला शक्ति सम्मेलन में शामिल हुए। इस अवसर पर उनके द्वारा 183 करोड़ 6 लाख रूपये के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया गया, इनमें 64 करोड़ 22 लाख रूपये के 35 विकास कार्यों का भूमिपूजन तथा 118 करोड़ 84 लाख रूपये के 40 कार्यों का लोकार्पण शामिल हैं।

राजीव मितान क्लब सदस्य एवं महिला शक्ति सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार नागरिकों को सभी मूलभूत सुविधाएं- सडक़, बिजली, पानी, स्वास्थ्य, शिक्षा इत्यादि मुहैया कराने के लिए गंभीरता से कार्य कर रही है। कुपोषण दूर करने के लिए बच्चों एवं माताओं को गर्म भोजन प्रदान किया जा रहा है। मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना से हाट-बाजारों में मरीजों को उपचार मिल रहा है, इसकी शुरूआत बस्तर संभाग से हुई थी, जिसे पूरे राज्य में क्रियान्वित किया गया है। मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के भी सार्थक परिणाम मिले हैं, इससे उल्टी-दस्त, मलेरिया के प्रकरण में उल्लेखनीय कमी पाई गई है।

उन्होंने कहा कि नागरिकों को सस्ते दर पर ब्रान्डेड दवाई उपलब्ध कराने के लिए श्री धन्वंतरी मेडिकल स्टोर्स खोला गया है। शिक्षा के क्षेत्र में भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है। सभी विकासखण्डों में स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम विद्यालय खोले गये हैं, अब जिलों में उत्कृष्ट हिन्दी माध्यम विद्यालय खोले जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांकेर में मेडिकल कॉलेज की स्थापना बड़ी उपलब्धि है, यहां डॉक्टरों की कमी नहीं होने दी जाएगी।
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि हमारी सरकार किसान हितैषी है, किसानों के कर्ज माफ किये गये, 25 सौ रूपये क्विंटल में धान की खरीदी की गई। कोदो-कुटकी के भी समर्थन मूल्य 3 हजार रूपये प्रति क्विंटल घोषित किये गये हैं। राजीव गांधी किसान न्याय योजनांतर्गत किसानों को लाभान्वित किया जा रहा है। गोधन न्याय योजना के तहत 2 रूपये किलो में गोबर की खरीदी की जा रही है, इस योजना को देश के अन्य राज्य भी अपना रहे हैं।
 उन्होंने कहा कि गोबर से वर्मी कम्पोस्ट बनाये जा रहे हैं, जो रासायनिक खाद का विकल्प बनेगा। उन्होंने कहा कि इस साल 20 लाख मीट्रिक टन वर्मी कम्पोस्ट तैयार करने का लक्ष्य रखा गया है।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि इन योजनाओं के क्रियान्वयन से छत्तीसगढ़ के किसान आर्थिक रूप से मजबूत हुए हैं। उन्हांने कहा कि राजीव मितान क्लब को प्रत्येक साल 1 लाख रूपये की सहायता प्रदान किया जा रहा है, इन क्लबों के माध्यम से खेलकूद] तीज-त्यौहार इत्यादि गतिविधियों का आयोजन कर संस्कृति के संरक्षण का कार्य किया जाएगा, क्लब को शासकीय योजनाओं एवं रोजगार से संबंधित जानकारी भी दी जाएगी।

मुख्यमंत्री श्री  बघेल ने कार्यक्रम में चारामा विकासखण्ड के ग्राम तारसगांव के ईश्वरी स्व-सहायता समूह एवं ग्राम उडक़ुड़ा जोगी स्व-सहायता समूह को कचरा कलेक्शन एवं पृथककरण हेतु ई-रिक्शा का चाबी सौंपी। नारी जागरण महिला स्व-सहायता समूह गोटीटोला एवं अन्नपूर्णा महिला स्व-सहायता समूह कुर्रूभाट को किराना व्यवसाय हेतु 1-1 लाख रूपये का चेक प्रदान किया गया।

लखनपुरी को उप तहसील का दर्जा
चारामा में आयोजित राजीव मितान क्लब सदस्य एवं महिला शक्ति सम्मेलन में मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल द्वारा चारामा तहसील के ग्राम लखनपुरी को उप तहसील का दर्जा प्रदान करने की घोषणा की गई। उनके द्वारा भानुप्रतापपुर, दुर्गूकोंदल एवं चारामा विकासखण्ड में कुल 14 नग खाद गोदाम भवन निर्माण के लिए 2 करोड़ 80 लाख रूपये तथा उक्त तीनों विकासखण्डों में 62 देवगुड़ी निर्माण हेतु 3 करोड़ 41 लाख रूपये एवं 24 घोटुल निर्माण के लिए 2 करोड़ 64 लाख रूपये, 25 रंगमंच निर्माण के लिए 1 करोड़ 25 लाख रूपये, 73 सामुदायिक भवन निर्माण हेतु 3 करोड़ 65 लाख रूपये और चारामा के सरार तालाब का जीर्णोद्धार एवं सौंदर्यीकरण हेतु 01 लाख रूपये तथा स्वामी आत्मानंद इग्लिश मीडियम स्कूल चारामा में सीसी सडक़, मंच एवं गेट निर्माण के लिए 34 लाख रूपये स्वीकृत करने की घोषणा की।

कार्यक्रम को छत्तीसगढ़ विधानसभा के उपाध्यक्ष मनोज मण्डावी ने भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार गांव, गरीब एवं किसानों के हित में कार्य कर रही है। यहां के संस्कृति के संरक्षण के लिए कार्य किये जा रहे हैं, नरवा, गरवा, घुरूवा, बाड़ी के माध्यम से ग्रामीणों को आर्थिक रूप से मजबूत करने का कार्य किया जा रहा है्र साथ ही जल संरक्षण पर भी ध्यान दिया जा रहा है। आदिवासियों के संस्कृति के संरक्षण के लिए बस्तर संभाग में घोटुल और देवगुड़ी का निर्माण किया जा रहा है।

 जिले की प्रभारी मंत्री अनिला भेडिय़ा ने कहा कि छत्तीसगढ़ में महिला, दीदी अच्छा कार्य कर रही हैं, सरकार द्वारा उन्हें स्व-रोजगार के लिए सहायता भी प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ का हर व्यक्ति, युवा शिक्षित हों तथा शिक्षा ग्रहण कर काम का सृजन करें, ताकि आने वाली पीढ़ी को काम की कोई कमी न हो।

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा अनेक योजनाएं संचालित की जा रही है, जिसका लाभ लोगों को मिल रहा है।   कार्यक्रम को संसदीय सचिव एवं कांकेर विधायक शिशुपाल शोरी, अंतागढ़ विधायक अनूप नाग, गौ-सेवा आयोग के सदस्य  नरेन्द्र यादव ने भी संबोधित किया।

अन्य पोस्ट

Comments

chhattisgarh news

cg news

english newspaper in raipur

hindi newspaper in raipur
hindi news