दन्तेवाड़ा

शिक्षा के स्तर को बनाएं बेहतर
05-Aug-2022 9:39 PM
शिक्षा के स्तर को बनाएं बेहतर

दंतेवाड़ा 5 अगस्त। शैक्षणिक गुणवत्ता में सुधार लाने  दंतेवाड़ा द्वारा विनीत नंदनवार द्वारा विशेष प्रयास किए जा रहे हैं।  इनमें स्कूली छात्र-छात्राओं से परीक्षा सम्बंधी संवाद किया जा रहा है। जिला कार्यालय के डंकनी सभा कक्ष में कलेक्टर ने स्कूल शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने स्कूलों में दी जा रही शिक्षण व्यवस्था, लर्निंग आउटकम के बारे में विस्तृत चर्चा की। उन्होंने कहा कि लर्निंग आउटकम से बच्चों में लिखने, पढऩे, समझने और बोलने की क्षमता का विकास करें। जिससे बच्चों में विषय के प्रति बेहतर समझ बनेगी। इसका उद्देश्य गुणवत्तायुक्त शिक्षा और शिक्षा के स्तर को बेहतर करना है।

उन्होंने कहा कि बच्चों को पढ़ाने हेतु शिक्षकों में उत्साह होना चाहिए। उन्होंने कहा कि बच्चों को किसी भी माध्यम से पढ़ाये लेकिन बच्चों को उनके स्तर का लर्निंग आउटकम आना चाहिए। स्कूल और आश्रम छात्रावासों में असेसमेंट का तरीका भी इसी लर्निंग आउटकम के आधार पर केंद्रित होना चाहिए।

उन्होंने सभी शिक्षकों से कहा कि प्रत्येक माह, सप्ताह में निर्धारित पाठ्यक्रम अनुसार बच्चों का टेस्ट ले। टेस्ट से बच्चों के ज्ञान के स्तर का मूल्यांकन होगा साथ ही बच्चों का आंकलन कर कम स्तर वाले बच्चों का क्षमता वृद्धि में सुधार लाने कार्ययोजना बनाकर कर बच्चों को लक्ष्य तक पहुंचाने की कोशिश करें। इसके साथ ही बच्चों के अभिभावकों को भी जागरूक करें जिससे वे बच्चे के शैक्षणिक स्तर का आंकलन कर सकें। स्कूलों में अनियमित एवं अनुपस्थित बच्चों को नियमित आने के लिए बच्चों के अभिभावकों को समझाएं।

विनीत ने शालाओं का निरीक्षण कर बच्चों से उनके पाठ्यक्रम के आधार पर लर्निंग आउटकम की जानकारी ली जायेगी। साथ ही प्रत्येक माह विकासखंडवार संकुल समन्वयकों की बैठक ली जाएगी। उन्होंने सभी संकुल समन्वयकों को अपने  दायित्वों के अनुसार टीम भावना से कार्य करने को कहा। बैठक में जिला पंचायत सीईओ आकाश छिकारा, जिला शिक्षा अधिकारी राजेश कर्मा, जिला मिशन समन्वयक श्यामलाल सोरी, सहायक परियोजना समन्वयक, खंड शिक्षा अधिकारी, सहायक खंड शिक्षा अधिकारी, खंड स्रोत समन्वयक, सभी संकुल समन्वयक मौजूद थे।

अन्य पोस्ट

Comments

chhattisgarh news

cg news

english newspaper in raipur

hindi newspaper in raipur
hindi news