राजनांदगांव

मां के साथ दोस्त के भाई के अवैध संबंध का शक , मारी गोली
28-Sep-2022 2:47 PM
मां के साथ दोस्त के भाई के अवैध संबंध का शक , मारी गोली

स्कूटी पर बिठाकर नदी में फेंका शव, एक नाबालिग संग 4 गिरफ्तार

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 28 सितंबर।
आदित्य उर्फ गोविंदा सौदागर हत्याकांड की पुलिस ने गुत्थी सुलझाते हुए एक नाबालिग समेत 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। सभी आरोपी मृतक के दोस्त थे। जिसमें एक आरोपी के बड़े भाई का मृतक की मां से अवैध संबंध का शक  होना वारदात की वजह बना।

रोजाना मृतक आरोपी को बड़े भाई को देख लेने की धमकी देने लगा। जिसके चलते मास्टर माईंड आरोपी ने अपने साथियों के संग योजनाबद्ध गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने प्रकरण में 3 आरोपी एवं एक नाबालिग बालक को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही घटना में प्रयुक्त पिस्तौल एवं 5 नग जिंदा कारतूस व एक नग खाली खोखा व स्कूटी को भी बरामद कर लिया है।

घटना का खुलासा करते एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि 24 सितंबर को मुखबिर व मोहारा के ग्रामीणों से जानकारी मिली कि एक अज्ञात युवक का शव मोहारा शिवनाथ नदी में पड़ा है। सूचना पर बसंतपुर पुलिस स्टॉफ मौके पर पहुंचकर शव को बाहर निकाला।  उसके माथा एवं सिर के पीछे भाग में चोट होना एवं मृतक के बांये पैर का जूता घिस गया था और पैर के 4 अंगूली के नाखून पूरी तरह से घिस कर निकल गए थे। जिससे प्रथम दृष्टया मृतक की हत्या कर अन्य जगह से लाकर पानी में फेंकना प्रतीत हो रहा था। घटना की गंभीरता को देखते एसपी के निर्देश पर संयुक्त टीम गठित कर मामले का खुलासा करने निर्देशित किया गया।

शव की शिनाख्ती आदित्य सौदागर उर्फ गोंविंदा  निवासी दिवानटोला मोतीपुर राजनंादगांव के रूप में हुई, जिसे तत्काल मेडिकल कॉलेज में रखा गया, जहां मृतक के परिजन ने बिना नंबरी मर्ग एंटीमेशन दर्ज कराया तथा शव का पंचनामा पश्चात पीएम किया गया और हत्या की आशंका जाहिर की।

पुलिस ने बताया कि मृतक घटना दिनांक को आरोपियों के साथ बाईक में घूमते देखा गया एवं मुखबिर के अनुसार रमेश उर्फ पिंटू खपट्टा एवं जावेद खान द्वारा स्कूटी में उसके शव को फेंकने गए थे, जिस आधार पर आरोपियों के घर जाकर पता किया, जो नहंी मिले। लगातार आरोपियों की पतासाजी की गई।

संदेह के आधार पर घटना के अन्य आरोपी युवराज उर्फ दीपसिंह राजपूत को भी पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ किया गया। मुख्य आरोपी रमेश उर्फ पिंटू खपट्टा एवं जावेद खान को पकड़ा गया। जिनसे अलग-अलग पूछताछ करने पर घटना का पर्दाफाश हो गया।

आरोपियों एवं अपचारी बालक ने बताया कि मृतक आदित्य उर्फ गोविंदा के घर मुख्य आरोपी रमेश उर्फ पिंटू खपट्टा के भाई मुकेश का आना-जाना था। जिससे मृतक आदित्य मुकेश पर शक करता था कि मां के साथ मुकेश गलत करता है। जिसको आरोपी रमेश को उसके साथी जावेद खान, दीप सिंह राजपूत व अपचारी बालक के सामने मृतक धमकी देता था कि तेरे भाई को समझा देना मेरी मां से दूर रहे वरना जान से मार दूंगा।

रोज-रोज की धमकी से तंग आकर रमेश ने मृतक आदित्य को जान से मारने का मन बना लिया और योजना में अपने अन्य साथी आरोपियों को शामिल कर 23 सितंबर की रात्रि 10.45 बजे मृतक आदित्य को योजना के मुताबिक बख्तावर चाल गली नं. एक में आरोपी रमेश के घर के पास ले जाकर गोली मार दी, फिर रमेश और जावेद दोनों ने मृतक के शव को दीपसिंह की स्कूटी में ले जाकर मोहारा नदी में फेंक दिया और आरोपी दीपसिंह और अपचारी बालक ने घटनास्थल में गिरे खून को पानी डालकर साफ कर नाली में बहा दिया। अपराध सबूत पाए जाने से थाना बसंतपुर में अपराध किया गया।

प्रकरण में 3 आरोपी एवं एक अपचारी बालक को गिरफ्तार कर आरोपियों  की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त पिस्तौल एवं 5 नग जिन्दा कारतूस व एक नग खाली खोखा एवं लाश को ठिकाना लगाने में प्रयुक्त स्कूटी बरामद किया गया।

अन्य पोस्ट

Comments

chhattisgarh news

cg news

english newspaper in raipur

hindi newspaper in raipur
hindi news