गरियाबंद

गरियाबंद, फसल अवशेष जलाने पर कड़ी कार्रवाई जारी रखें-कलेक्टर
गरियाबंद, फसल अवशेष जलाने पर कड़ी कार्रवाई जारी रखें-कलेक्टर
Date : 12-Jun-2019

फसल अवशेष जलाने पर कड़ी कार्रवाई जारी रखें-कलेक्टर

छत्तीसगढ़ संवाददाता 
गरियाबंद, 12 जून।
कलेक्टर श्याम धावड़े ने राजस्व अधिकारियों को कहा है कि वे नवनिर्मित गौठानों में कैम्प कोर्ट (विशेष शिविर) लगाकर राजस्व प्रकरणों का निराकरण करें। उन्होंने कहा कि शिविर में जाति, आय, निवास, बी-1 खसरा, नामांतरण, बंटवारा का मौंके पर ही निपटारा करें। उन्होंने कहा कि इन शिविरों में बी-1 का वाचन भी करें। 
श्री धावड़े ने मंगलवार दोपहर 12 बजे जिला कार्यालय के सभाकक्ष में राजस्व अधिकारियों की बैठक में उक्त निर्देश दिये। कलेक्टर श्री धावड़े ने कहा कि रबी फसल के पश्चात बचे अवशेष को जलाने पर कड़ी कार्यवाही जारी रखें तथा अर्थदण्ड रोपित करें। उन्होंने राजिम अनुविभागीय अधिकारी जी डी. वाहिले द्वारा की गई कार्यवाही की सराहना की, साथ ही सभी राजस्व अधिकारियों को राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण के तहत कार्यवाही करने के निर्देश दिये। 

कलेक्टर ने बैठक में कहा कि स्कूली बच्चों को जाति प्रमाण पत्र के लिए भटकना न पड़े इसलिए कक्षा पहली से ही जाति व निवास प्रमाण पत्र जारी करें। इसके लिए शिक्षा विभाग से समन्वय कर कार्यवाही सुनिश्चित करें। बैठक में अपर कलेक्टर के.के. बेहार, संयुक्त कलेक्टर  जे.आर. चैरसिया एवं  अमृत लाल ध्रुव, अनुविभागीय अधिकारी, आदिवासी विकास, शिक्षा विभाग के अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, जनपद सीईओ, सीएमओ मौजूद थे। 

श्री धावड़े ने समीक्षा के दौरान लोक प्रयोजनों के स्थल, श्मशानघाट, तालाब व हॉट-बाजारों में अतिक्रमण हटाने के लिए कार्यवाही करने के भी निर्देश दिये। साथ ही कहा कि स्कूल, आंगनबाड़ी, स्वास्थ्य केन्द्र इत्यादि जगहों पर अतिक्रमण रोकना सुनिश्चित करें। ऐसे स्थानों पर पैरा एकत्र नहीं करने के भी निर्देश दिये। कलेक्टर ने राजस्व विभाग अंतर्गत पटवारी, राजस्व निरीक्षक, कोटवार, लिपिक, वाहन चालक तथा ग्राम पटेलों के रिक्त पदों की नियुक्ति शीघ्र करने के लिए संयुक्त कलेक्टर को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। बैठक में विवादित एवं अविवादित नामांतरण, खाता विभाजन, सीमाकंन, बटवारा आदि का एक महीने के भीतर निराकरण करने के निर्देश दिये हैं। 

साथ ही शहर के आसपास अवैध कालोनियों के निर्माण पर रोक लगाकर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश संबंधित सीईओ एवं सीएमओ को दिये हैं।

Related Post

Comments