गरियाबंद

नवापारा-राजिम,  तीर्थयात्रा से लौटे यात्रियों को गांव के बाहर ही रोका
नवापारा-राजिम, तीर्थयात्रा से लौटे यात्रियों को गांव के बाहर ही रोका
Date : 23-Mar-2020

तीर्थयात्रा से लौटे यात्रियों को गांव के बाहर ही रोका
कहा - पहले स्वास्थ्य परीक्षण कराओ 
छत्तीसगढ़ संवाददाता 
नवापारा-राजिम, 23 मार्च।
समीपस्थ ग्राम डोंगीतराई में ग्रामीणों ने तीर्थयात्रा कर लौटे गांव के लोगों को गांव के बाहर ही रोक दिया। गांव के सरपंच एवं ग्रामीणों ने तीर्थयात्रियों से कहा कि पहले अपना स्वास्थ्य परीक्षण करवाओ उसके बाद ही गांव में प्रवेश करना। तीर्थयात्रियों में महिला, पुरूष, बुजुर्ग एवं छोटे बच्चे भी हैं।

जानकारी के मुताबिक 15 मार्च की रात्रि पंचायत को जानकारी दिये बिना सभी बस से तीर्थ यात्रा करने ओडिशा, गंगासागर, कलकत्ता के लिये निकले थे। रविवार को जैसे ही उनकी बस गांव पहुंची ग्राम सरपंच और कोतवाल ने गांव के बाहर इनकी गाड़ी को रोककर इन्हें स्वास्थ्य जांच कराने नवापारा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे। घटों इंतजार के बाद उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। जांच में सभी स्वस्थ पाये गये फिर भी डॉक्टर द्वारा 15 दिनों तक अपने-अपने घर के कमरों में रहने की हिदायत दी गई। जरूरत पडऩे पर तत्काल खबर करने कहा गया है। स्वास्थ्य विभाग ने हिदायत दी कि 14 दिनों तक आपका ईलाज स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी करते रहेगें, ज्यादा तकलीफ लगती है तो तत्काल सूचित करें।

स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एके शर्मा (सीएचसी) ने बताया कि यह सभी तीर्थयात्री गंगासागर, कलकत्ता, ओडिशा गये थे। आज जब वे वापस आये तो गांव वालों ने उन्हे गांव के अंदर घुसने से मना कर दिया। गांववालों ने कहा कि पहले स्वास्थ्य परीक्षण कराकर आये उसके बाद आप लोग को अंदर आने दिया जायेगा। तब वे लोग स्वास्थ्य परीक्षण के लिये नवापारा सामुदायिक चिकित्सालय आये थे। वहां उनका परीक्षण किया गया और सभी स्वस्थ मिले। उनको हिदायद दी गई कि सभी अपने-अपने कमरे में रहे किसी भी प्रकार की तकलीफ हुई तो मोबाईल से संपर्क करें।

 

Related Post

Comments