बलरामपुर

 सनावल पुलिस ने झारखंड के 90 मजदूरों को भिजवाया, बलरामपुर जिले के 60 मजदूर क्वॉरंटीन
सनावल पुलिस ने झारखंड के 90 मजदूरों को भिजवाया, बलरामपुर जिले के 60 मजदूर क्वॉरंटीन
22-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
रामानुजगंज, 22 मई।
बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के सुदूर उत्तर प्रदेश सीमा के नजदीक सनावल पुलिस ने उत्तर प्रदेश मिर्जापुर से बड़ी संख्या में पैदल चलकर आ रहे मजदूरों के जत्था को छत्तीसगढ़ सीमा में पहुंचने पर भोजन पानी व अन्य राज्यों में भेजने के लिए संसाधन उपलब्ध कराया। 

सनावल थाना प्रभारी ने सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक तिलक राम कोसीमा को जानकारी दी। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर स्थानीय लोगों की मदद से झारखंड के 90 मजदूरों को व छत्तीसगढ़ के 60 मजदूरों के लिए भोजन पानी की व्यवस्था रात में ही की गई। सुबह झारखंड के मजदूरों को गढ़वा जिला भेजने की व्यवस्था की गई और छत्तीसगढ़ के मजदूरों को क्वॉरंटीन कराया गया।

 प्राप्त जानकारी के अनुसार सनावल थाना प्रभारी अमित बघेल को रात में 12 बजे के करीब सूचना मिली कि बड़ी संख्या में मजदूर उत्तर प्रदेश मिर्जापुर से छत्तीसगढ़ की सीमा की ओर आ रहे हैं। सूचना मिलते ही अमित बघेल ने इसकी सूचना पुलिस अधीक्षक तिलकराम कोसीमा को दी जिसके बाद उनके निर्देश पर दो ट्रकों के साथ पुलिस बल छत्तीसगढ़ एवं उत्तर प्रदेश की सीमा पर पहुंच झारखंड के लगभग 90 मजदूर एवं छत्तीसगढ़ के लगभग 60 मजदूरों को सनावल थाना लाया गया। उनके लिए देर रात ही भोजन पानी की व्यवस्था की गई। बलरामपुर- रामानुजगंज जिले के मजदूरों को देर रात क्वॉरंटीन कराया गया तो वहीं सुबह झारखंड के मजदूरों को गढ़वा जिला भेजने की व्यवस्था की गई।

पुलिस को मिला ग्रामीणों का भी साथ
देर रात पुलिस के द्वारा जिस प्रकार तत्परता के साथ ग्रामीणों की मदद की वहीं स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीणों का भी पुलिस को साथ मिला।ग्रामीण एवं जनप्रतिनिधि भी पुलिस के साथ मिलकर भोजन पानी की व्यवस्था एवं अन्य व्यवस्थाओं में जुटे रहे।

 

 

अन्य खबरें

Comments