कोण्डागांव

कोण्डागांव, 2 मासूम बेटे की हत्या पिता को उम्र कैद
कोण्डागांव, 2 मासूम बेटे की हत्या पिता को उम्र कैद
23-May-2020

'छत्तीसगढ़' संवाददाता
कोण्डागांव, 23 मई।
अपने ही दो मासूम बच्चों की हत्या का आरोप साबित होने पर कोण्डागांव के अपर सत्र न्यायाधीश केपी सिंह भदोरिया न्यायालय ने पिता को आजीवन कारावास और अर्थदंड की सजा सुनाई है। ज्ञात हो कि मामला विश्रामपुरी थाना अंतर्गत कोसमी गांव में 19 जनवरी 2018 की रात घटी थी, जिसके बाद से मामला न्यायालय में विचाराधीन था।

अपर लोक अभियोजक हेमंत गोस्वामी ने बताया, कि फूलचंद सलाम (38) विश्रामपुरी थाना के कोसमी गांव में पत्नी सनताबाई, दो बेटे भूपेन्द्र (12) व भूनेष (10) के साथ रहता था। घटना वाले 19 जनवरी 2018 की रात फूलचंद सलाम व सनताबाई दोनों पति-पत्नी के बीच शराब पीने के नाम से विवाद होने लगा। ऐसे में सनताबाई पति के विवाद से डरकर अपनी जेठानी पीलाबाई के घर सोने चली गई। यहां से जब वह लौटी तो उसके दोनों मासूम बच्चे मृत हालत में बिस्तर में खुन से सने हुए पड़े थे। फूलचंद सलाम ने भूपेन्द्र व भूनेष धारदार हथियार से हत्या कर दिया था। 

परिजनों की शिकायत पर विश्रामपुरी थाना पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेष किया। कोण्डागांव जिले के अपर सत्र न्यायाधीश केपी सिंह भदौरिया ने प्रकरण का विचारण कर आरोपी को आजीवन सश्रम कारावास और अर्थदण्ड का सजा सुनाया है।

 

 

 

 

 

 

 

 

अन्य खबरें

Comments